NDTV Khabar

जीएसटी पर लोकसभा में बहस


'जीएसटी पर लोकसभा में बहस' - 9 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • मुंबई : राहुल गांधी का पीएम मोदी पर हमला, कहा- चोर ही नहीं, डरपोक भी है चौकीदार

    मुंबई : राहुल गांधी का पीएम मोदी पर हमला, कहा- चोर ही नहीं, डरपोक भी है चौकीदार

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को मुंबई में एक जनसभा में पीएम नरेंद्र मोदी को निशाना बनाते हुए कहा कि चौकीदार चोर ही नहीं, डरपोक भी है. उन्होंने कहा कि क्या आपने ‘डरपोक चौकीदार’ को किसी संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए देखा है? मुझसे बहस करवा लो. चैलेंज है देश छोड़कर भाग जाएगा, डरपोक है.

  • जीएसटी को 1 जुलाई से लागू करने की दिशा में बढ़े कदम, चारों विधेयकों को लोकसभा की मंजूरी

    जीएसटी को 1 जुलाई से लागू करने की दिशा में बढ़े कदम, चारों विधेयकों को लोकसभा की मंजूरी

    देश में ऐतिहासिक कर सुधार व्यवस्था ‘जीएसटी’ को लागू करने का मार्ग प्रशस्त करते हुए लोकसभा ने बुधवार को वस्तु एवं सेवा कर से जुड़े चार विधेयकों को मंजूरी दे दी तथा सरकार ने आश्वस्त किया कि नयी कर प्रणाली में उपभोक्ताओं और राज्यों के हितों को पूरी तरह से सुरक्षित रखने के साथ ही कृषि पर कर नहीं लगाया गया है.

  • GST को बीजेपी ने 7-8 साल रोके रखा, 12 लाख करोड़ का नुकसान कराया, कौन भरेगा?

    GST को बीजेपी ने 7-8 साल रोके रखा, 12 लाख करोड़ का नुकसान कराया, कौन भरेगा?

    विपक्षी दल के रूप में भाजपा पर जीएसटी का मार्ग बाधित करने का आरोप लगाते हुए कांग्रेस पार्टी ने आज कहा कि इस महत्वपूर्ण कर सुधार में सात-आठ वर्ष की देरी के कारण 12 लाख करोड़ रूपये का नुकसान हुआ है और इस नुकसाई की भरपाई कौन करेगा ? लोकसभा में जीएसटी संबंधी विधेयकों पर चर्चा में हिस्सा लेते हुए कांग्रेस सदस्य एम वीरप्पा मोइली ने कहा कि राजग सरकार इसे क्रांतिकारी कर सुधार पहल बता रही है लेकिन इन विधेयकों के प्रावधानों से स्पष्ट है कि यह कोई ‘गेम चेंजर’ नहीं बल्कि आगे की ओर एक छोटा सा कदम भर है.

  • जीएसटी से जुड़े चारों बिल लोकसभा में पास - 10 खास बातें

    जीएसटी से जुड़े चारों बिल लोकसभा में पास - 10 खास बातें

    आज़ादी के बाद से अब तक के सबसे बड़े टैक्स सुधार गुड्स एंड सर्विसेज़ टैक्स, यानी जीएसटी से जुड़े चार सहायक बिलों पर लोकसभा में बहस शुरू होने से पहले वित्तमंत्री अरुण जेटली ने NDTV से बातचीत करते हुए कहा कि नई टैक्स व्यवस्था को लागू करने के लिए 1 जुलाई की डेडलाइन 'वास्तविक लगने लगी है...' संसद के निचले सदन में बहस की शुरुआत करते हुए अरुण जेटली ने चारों बिलों के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए जीएसटी को 'भारतीय विधायिका का अनूठा अनुभव' करार दिया. इन बेहद अहम बिलों पर बहस के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी तथा कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी लोकसभा में मौजूद हैं.

  • Live: जीएसटी बिल पर लोकसभा में बहस - केंद्र-राज्यों में मतभेदों से बचने के लिए व्यवस्था पर ज़ोर : अरुण जेटली

    Live: जीएसटी बिल पर लोकसभा में बहस - केंद्र-राज्यों में मतभेदों से बचने के लिए व्यवस्था पर ज़ोर : अरुण जेटली

    संसद के निचले सदन, यानी लोकसभा में बुधवार को गुड्स एंड सर्विसेज़ टैक्स, यानी जीएसटी से जुड़े चार विधेयकों पर बहस शुरू करते हुए वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि उत्पादों तथा सेवाओं के बेहतर तरीके से जनता तक पहुंचाने के उद्देश्य से यह कानून लागू करने का इरादा है, और इससे मिलने वाले राजस्व का बंटवारा केंद्र तथा राज्यों के बीच किया जाएगा.

  • जीएसटी बिल पर बहस से पूर्व बोले अरुण जेटली- GST भारतीय लोकतंत्र के लिए एक नया अनुभव

    जीएसटी बिल पर बहस से पूर्व बोले अरुण जेटली- GST भारतीय लोकतंत्र के लिए एक नया अनुभव

    बुधवार यानी आज लोकसभा में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) विधेयक और इससे जुड़े चार विधेयकों पर बहस की उम्मीद है. इस बाबत एनडीटीवी से खास बातचीत में केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि सबकुछ ठीक रहा तो 1 जुलाई से जीएसटी लागू हो जाएगा.

  • जीएसटी बिल पर लोकसभा में बहस - अरुण जेटली को 'आम सहमति' का भरोसा : 10 खास बातें

    जीएसटी बिल पर लोकसभा में बहस - अरुण जेटली को 'आम सहमति' का भरोसा : 10 खास बातें

    संसद के निचले सदन, यानी लोकसभा में बुधवार को गुड्स एंड सर्विसेज़ टैक्स, यानी जीएसटी से जुड़े चार विधेयकों पर बहस की जानी है, और देश में बहुत-से राज्यीय तथा केंद्रीय करों के बदले लागू होने वाले केंद्रीकृत कर जीएसटी को 1 जुलाई से लागू करने का रास्ता साफ हो सके. बुधवार की बहस के लिए सात घंटे का समय आवंटित किया गया है, और बहस की शुरुआत दोपहर 12 बजे वित्तमंत्री अरुण जेटली के वक्तव्य से होगी. कांग्रेस की ओर से पूर्व केंद्रीय मंत्री वीरप्पा मोइली पहले वक्ता होंगे.

  • संसद का शीत सत्र : कई बिल लंबित पड़े, संसद में DDCA के मसले पर हंगामा जारी

    संसद का शीत सत्र : कई बिल लंबित पड़े, संसद में DDCA के मसले पर हंगामा जारी

    संसद के शीत सत्र में आज के दिन को मिलाकर कुल 3 दिन शेष बचे हैं और यह भी ऐसा लग रहा है कि हंगामे में ही बीत जाएंगे। राज्यसभा में आज यानी सोमवार को राज्यसभा में डीडीसीए के मुद्दे पर हंगामा हुआ। अरुण जेटली ने कहा कि मैं हर बहस के लिए तैयार हूं।

  • संविधान पर आज भी संसद में बहस, पीएम नरेंद्र मोदी राज्‍यसभा में दे सकते हैं जवाब

    संविधान पर आज भी संसद में बहस, पीएम नरेंद्र मोदी राज्‍यसभा में दे सकते हैं जवाब

    संसद में संविधान के मुद्दे पर जारी बहस के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राज्‍यसभा में संविधान पर चल रही बहस पर जवाब दे सकते हैं। पीएम जलवायु परिवर्तन सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेने के बाद आज ही स्‍वदेश लौटे हैं।

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com