NDTV Khabar

टीडीएस


'टीडीएस' - 29 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Mi Superbass वायरलेस हेडफोन भारत में 15 जुलाई को होगा लॉन्च

    Mi Superbass वायरलेस हेडफोन भारत में 15 जुलाई को होगा लॉन्च

    Xiaomi Mi Superbass Wireless Headphones: शाओमी 15 जुलाई को भारत में मी सुपरबास वायरलेस हेडफोन को लॉन्च करने वाली है। जानें इसके बारे में।

  • मुंबई में ट्रक चालकों का संगठन बजट से नाखुश, सरकार पर लगाया कारोबार खत्म करने का आरोप

    मुंबई में ट्रक चालकों का संगठन बजट से नाखुश, सरकार पर लगाया कारोबार खत्म करने का आरोप

    मुंबई में ट्रक आपरेटरों के एक राष्ट्रीय संगठन ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि बजट में डीजल पर शुल्क में वृद्धि और बैंक खाते से एक करोड़ रुपये से अधिक की निकासी पर दो प्रतिशत टीडीएस लगाकर सरकार उनके कारोबार को नष्ट करने की कोशिश कर रही है.

  • जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पलटकर पूछ लिया- 1 करोड़ रुपये कैश में निकाल कर कोई क्या करेगा

    जब वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पलटकर पूछ लिया- 1 करोड़ रुपये कैश में निकाल कर कोई क्या करेगा

    बजट पेश करने के बाद वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मीडिया को सवालों के जवाब दिए. उनसे पूछा गया कि सरकार इतने बड़े बहुमत के साथ आई है लेकिन मीडिल क्लास के उम्मीदों को दरकिनार करते हुए 1 करोड़ रुपये बैंक से निकालने पर 2 फीसदी का टीडीएस लगा दिया साथ ही पेट्रोल-डीजल पर भी एक्साइज ड्यूटी को बढ़ा दिया है. इस पर वित्त मंत्री ने उल्टा सवाल पूछ लिया कि आप 1 करोड़ रुपये कैश निकालकर क्या करोगे मुझे समझ नहीं आ रहा है.

  • बजट 2019: टैक्‍स स्‍लैब नहीं बदला, घर-गाड़ी खरीदने पर छूट की घोषणा

    बजट 2019: टैक्‍स स्‍लैब नहीं बदला, घर-गाड़ी खरीदने पर छूट की घोषणा

    बैंकों से एक साल में एक करोड़ रुपये की अधिक की निकासी पर अब दो फीसदी टीडीएस (टैक्स डिडक्टेड एट सोर्स) लगेगा. यानी, बैंकों से एक करोड़ रुपये से ज्यादा की निकासी करने पर दो फीसदी कर चुकाना पड़ेगा. वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को संसद में मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला पूर्ण बजट पेश करते हुए एक साल में एक करोड़ रुपये से ज्यादा की निकासी पर दो फीसदी टीडीएस लगाने की घोषणा की.

  • पांच लाख रुपये तक की कर योग्य आय वाले वरिष्ठ नागरिक बैंक ब्याज पर ले सकते हैं TDS छूट, ये है तरीका

    पांच लाख रुपये तक की कर योग्य आय वाले वरिष्ठ नागरिक बैंक ब्याज पर ले सकते हैं TDS छूट, ये है तरीका

    पांच लाख रुपये तक की कर योग्य आय वरिष्ठ नागरिक अब बैंकों और डाकघरों में जमा राशि पर मिलने वाली ब्याज आय पर टीडीएस कटौती से छूट के लिये फार्म 15एच को जमा करा सकते हैं.

  • बड़ा तोहफा: 5 लाख रुपए तक सालाना आय वालों को नहीं देना होगा कोई टैक्स

    बड़ा तोहफा: 5 लाख रुपए तक सालाना आय वालों को नहीं देना होगा कोई टैक्स

    वित्त मंत्री ने कहा कि अब पांच लाख रुपए तक की आय वालों को किसी तरह का कोई टैक्स नहीं देना पड़ेगा. इसके साथ ही निवेश करने पर 6.5 लाख रुपए तक कोई टैक्स नहीं देना होगा. तीन करोड़ मध्य वर्ग के लोगों को इससे फायदा मिलेगा. बता दें, आयकर छूट की सीमा बढ़ाने की मांग कई बार से की जा रही थी. लेकिन इस साल लोकसभा चुनाव होने की वजह से आयकर सीमा में छूट बढ़ाने की उम्मीद की जा रही थी. इसके अलावा 40 हजार तक के बैंक ब्याज पर टीडीएस नहीं कटेगा. पहले यह सीमा 10 हजार रुपए तक की थी. आयकर छूट की सीमा बढ़ाने के ऐलान के बाद सेंसेक्स में उछाला आया है.

  • अब ‘नो टीडीएस सर्टिफिकेट’ पाना होगा आसान, वित्त मंत्रालय प्रक्रिया सरल करने के मांगे सुझाव

    अब ‘नो टीडीएस सर्टिफिकेट’ पाना होगा आसान, वित्त मंत्रालय प्रक्रिया सरल करने के मांगे सुझाव

    इनकम टैक्‍स की कोई कटौती नहीं होने या कम होने पर ऑनलाइन सर्टिफिकेट जारी करने की प्रक्रिया को तर्कसंगत बनाने का प्रस्ताव है.

  • टीडीएस 1 अक्टूबर से लागू होगा : सुशील मोदी

    टीडीएस 1 अक्टूबर से लागू होगा : सुशील मोदी

    वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के अंतर्गत आईटी से जुड़े मुद्दों पर गठित मंत्री समूह की बेंगलुरू में शनिवार को आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए बिहार के उपमुख्यमंत्री और मंत्री समूह के अध्यक्ष सुशील कुमार मोदी ने कहा कि बैठक में एक अक्टूबर से टीडीएस लागू करने की अनुशंसा की गई है.

  • आयकर विभाग ने टीडीएस काटने वालों को दी चेतावनी

    आयकर विभाग ने टीडीएस काटने वालों को दी चेतावनी

    आयकर विभाग ने स्रोत पर कर की कटौती यानी टीडीएस काटने वाले नियोक्ताओं को चेताया है कि जनवरी-मार्च तिमाही में काटे गए टीडीएस की जानकारी 31 मई तक फाइल करें. तय तारीख तक टीडीएस की जानकारी देने में नाकाम रहने पर 200 रुपये प्रतिदिन के हिसाब से जुर्माना देना होगा. केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ( सीबीडीटी ) ने इस संबंध में आज समाचार-पत्रों में विज्ञापन जारी किया है.

  • अब स्मार्टफोन ऐप से करें टैक्स का भुगतान, पैन कार्ड के लिए भी दे सकते हैं आवेदन

    अब स्मार्टफोन ऐप से करें टैक्स का भुगतान, पैन कार्ड के लिए भी दे सकते हैं आवेदन

    आयकर विभाग ने सोमवार को एक नए ऐप का शुभारंभ किया जिसके माध्यम से निकाय टीडीएस की जानकारी, कर का भुगतान और पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। यह ऐप लोगों को 12 अंक का अपना आधार क्रमांक पैन कार्ड से जोड़ने में भी मदद करेगा।

  • अब सीबीडीटी मोबाइल ऐप से करें टैक्‍स का भुगतान, पैन के लिए आवेदन भी

    अब सीबीडीटी मोबाइल ऐप से करें टैक्‍स का भुगतान, पैन के लिए आवेदन भी

    आयकर विभाग ने सोमवार को एक ऐप का शुभारंभ किया जिसके माध्यम से निकाय टीडीएस की जानकारी, कर का भुगतान और पैन कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं. यह लोगों को 12 अंक का अपना आधार क्रमांक पैन कार्ड से जोड़ने में भी मदद करेगा.

  • ABVP कार्यकर्ताओं पर टीडीएस बार में तोड़फ़ोड़ का आरोप, केस दर्ज

    ABVP कार्यकर्ताओं पर टीडीएस बार में तोड़फ़ोड़ का आरोप, केस दर्ज

    छत्तीसगढ़ के भिलाई के नेहरू नगर स्थित सूर्यामॉल के टीडीएस पब बार में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं पर जमकर तोडफ़ोड़ करने का आरोप है.

  • GST : एक जुलाई से पहले सभी का रजिस्ट्रेशन मुश्किल, आनन-फानन में सरकार ने दी नियमों में छूट

    GST : एक जुलाई से पहले सभी का रजिस्ट्रेशन मुश्किल, आनन-फानन में सरकार ने दी नियमों में छूट

    वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू करने में अब मात्र चार दिन बचे ही बचे हैं. भारी भीड़ को देखते हुए एक जुलाई से पहले सभी का पंजीकरण होने की संभावना कम है.

  • इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइलिंग : इन जरूरी चीजों की अनदेखी पड़ सकती है भारी....

    इनकम टैक्स रिटर्न (ITR) फाइलिंग : इन जरूरी चीजों की अनदेखी पड़ सकती है भारी....

    31 मार्च बीतते बीतते आपने निवेश आदि से जुड़े सभी कर्म पूरे कर लिए होंगे और आपका कितना टीडीएस कटा, यह सब जानकारी भी आपको मिल गई होगी. 

  • नौकरीपेशा ध्यान दें : नोटिस पीरियड पूरा नहीं किया, सैलरी कटी और टैक्स भी कटा? यह पढ़ें...

    नौकरीपेशा ध्यान दें : नोटिस पीरियड पूरा नहीं किया, सैलरी कटी और टैक्स भी कटा? यह पढ़ें...

    नौकरीपेशा लोगों के लिए यह खबर आपके काम की है. हाल ही में इनकम टैक्स एपलाटे ट्रिब्यूनल की अहमदाबाद बेंच या यूं कहें कि आईटीएटी ने फैसला दिया कि नोटिस पीरियड पूरा ने करने पर कर्मी की सैलरी से जो हिस्सा कटता है उसे करयोग्य आय नहीं माना जा सकता.

  • अगर एम्प्लॉयर को दे रहे हैं टैक्स डिक्लेयरेशन : इन 10 बदलावों का रखें खास ध्यान...

    अगर एम्प्लॉयर को दे रहे हैं टैक्स डिक्लेयरेशन : इन 10 बदलावों का रखें खास ध्यान...

    हर वित्तवर्ष की शुरुआत में हर नौकरीपेशा शख्स अपने नियोक्ता को उस रकम की जानकारी देता है, जो वह इक्विटी लिंक्ड सेविंग स्कीम, बीमा पॉलिसी प्रीमियम, मकान किराया, होम लोन, एजुकेशन लोन या बच्चों की ट्यूशन फीस पर खर्च करने वाला है, और इसी घोषणा के आधार पर नियोक्ता तय करता है कि नौकरी करने वाले शख्स की एनुअल टैक्स लायबिलिटी, यानी वार्षिक कर देनदारी कितनी होगी, और उसे आपके वेतन से कितना टीडीएस (स्रोत पर कर कटौती या टैक्स डिडक्टिड एट सोर्स) काटना होगा. यदि ध्यान से और सोचसमझकर किया जाए, तो यह घोषणा भी आपको सालभर के लिए टैक्स प्लानिंग करने में मददगार साबित हो सकती है... इस साल कुछ नियम बदल गए हैं, सो, जब आप अपने नियोक्ता को अपनी बचत की जानकारी दें, तो 1 अप्रैल, 2017 से बदल चुके इन नियमों का ध्यान रखें...

  • क्या सैलरी से टीडीएस (TDS) ज्यादा कट गया? चिंता नहीं करें, ऐसे ले लें रिफंड : 5 खास बातें

    क्या सैलरी से टीडीएस (TDS) ज्यादा कट गया? चिंता नहीं करें, ऐसे ले लें रिफंड : 5 खास बातें

    31 मार्च बीतने के साथ ही एक वित्तीय वर्ष समाप्त हुआ और 1 अप्रैल से नया लागू हुआ. जिन लोगों ने पिछले सालों के आईटीआर फाइल करने थे, वे कर चुके होंगे. वित्त वर्ष 2016-17 के लिए निवेश संबंधी फैसले लागू कर चुके होंगे. लेकिन हो सकता है कि एक नया तनाव आपके जेहन में पैदा हो गया क्योंकि 31 मार्च को जब सैलरी आई, उसमें टीडीएस, आपके तमाम आकलनों के बाद, ज्यादा कट गया पाया गया. लेकिन इसमें चिंता की कोई बात नहीं है. आप इस 'अधिक कटे हुए टीडीएस' को इनकम टैक्स विभाग से रिफंड के रूप में वापस ले सकते हैं. अधिक टैक्स कटने की वजह आपके द्वारा निवेश संबंधी जरुरी कागजात समय से जमा न करवाना हो सकती है.

  • SAHAJ : इनकम टैक्स रिटर्न फॉर्म हुआ और सरल, 1 अप्रैल से शुरू हो जाएगी ई-फाइलिंग

    SAHAJ : इनकम टैक्स रिटर्न फॉर्म हुआ और सरल, 1 अप्रैल से शुरू हो जाएगी ई-फाइलिंग

    वेतनभोगी तबके के लिए आयकर रिटर्न भरने के वास्ते एक छोटा नया फॉर्म एक अप्रैल से उपलब्ध हो जाएगा. आयकर विभाग ने इस फॉर्म में कुछ बिंदुओं को हटा दिया है जिससे यह छोटा और अधिक सरल बन गया है. वेतन और ब्याज आय वाले व्यक्तिगत करदाताओं के लिए फॉर्म में सूचना भरने के लिए पहले से कम खाने होंगे. आय कटौती के दावों से जुड़े कुछ खानों को आईटीआर-1 फॉर्म में शामिल कर दिया गया है. इस फॉर्म का नाम 'सहज' रखा गया है.