NDTV Khabar

तेलंगाना


'तेलंगाना' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • देश में कोरोना वायरस से मौतों की दर एक प्रतिशत से कम करने का लक्ष्य

    देश में कोरोना वायरस से मौतों की दर एक प्रतिशत से कम करने का लक्ष्य

    India Coronavirus: स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने आज कहा कि देश के राज्य आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु, पंजाब, महाराष्ट्र, गुजरात, यूपी, बिहार और पश्चिम बंगाल में कोरोना वायरस के 80% एक्टिव केस हैं और 81% मौतें रिपोर्ट हुई हैं. उन्होंने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इन राज्यों के मुख्यमंत्रियों से पीएम नरेंद्र मोदी ने बातचीत की है. अभी कोरोना वायरस से देश में मृत्यु दर 1.99% है. पीएम मोदी ने कहा है कि लक्ष्य मृत्यु दर को 1% से कम करना है.

  • CM उद्धव ठाकरे बोले, 'महाराष्‍ट्र में कोरोना का प्रकोप दोबारा न बढ़े, इसके लिए कर रहे पूरी कोशिश

    CM उद्धव ठाकरे बोले, 'महाराष्‍ट्र में कोरोना का प्रकोप दोबारा न बढ़े, इसके लिए कर रहे पूरी कोशिश

    पीएम मोदी ने मंगलवार को गुजरात, महाराष्ट्र, पश्चिम बंगाल, पंजाब, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक, तेलंगाना, तमिलनाडु, बिहार और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्रियों के साथ वीडियो कांफ्रेंस पर बात कर कोविड-19 से निपटने के उपायों की समीक्षा की.बैठक में प्रधानमंत्री ने कोविड-19 से होने वाली मौतों का दर एक प्रतिशत से भी कम करने की जरुरत पर बल दिया.

  • अभिनेता सोनू सूद माता-पिता को खोने वाले तीन बच्चों की मदद को आगे आए

    अभिनेता सोनू सूद माता-पिता को खोने वाले तीन बच्चों की मदद को आगे आए

    तेलंगाना के यादादरी-भुवनगिरी जिले में अपने माता-पिता को खोने वाले तीन बच्चों की मदद के लिये अभिनेता सोनू सदू और राज्य के एक मंत्री आगे आये. लॉकडाउन में फंसे प्रवासी श्रमिकों को घर वापस पहुंचाने और आंध्र प्रदेश में एक गरीब किसान को हाल ही में ट्रैक्टर दान करने को लेकर चर्चा में रहे सूद ने इन बच्चों की जिम्मेदारी उठाने का वादा किया. एक ट्वीट में एक यूजर द्वारा तीनों बच्चों की दशा बयां करने के बाद सूद ने ट्वीट किया, ‘‘वे (तीनों बच्चे) अनाथ नहीं हैं. वे मेरी जिम्मेदारी हैं. ’’

  • PM मोदी के मंत्री का बयान, कोरोना से लड़ने के लिए सभी राज्य फॉलो करें 'दिल्ली मॉडल'

    PM मोदी के मंत्री का बयान, कोरोना से लड़ने के लिए सभी राज्य फॉलो करें 'दिल्ली मॉडल'

    उन्होंने पत्रकारों से कहा, ‘‘मैं राज्य सरकार (तेलंगाना) से जांच, संक्रमितों के संपर्क में आए लोगों का पता लगाने और इलाज पर ध्यान केंद्रित करने का अनुरोध कर रहा हूं. तेलंगाना में जांच की संख्या बढ़ाने की आवश्यकता है. जितनी अधिक संख्या में जांच होगी उतनी ही तेजी से यह बीमारी काबू में आएगी. आप जानते हैं कि केंद्र शासित प्रदेश होने के नाते दिल्ली पर मैं निजी तौर पर नजर रख रहा हूं. दिल्ली में स्वस्थ होने की दर 84 फीसदी है. सभी राज्यों को दिल्ली मॉडल का अनुकरण करना चाहिए.’’

  • BSNL का 1500 जीबी ब्रॉडबैंड प्लान अब इस राज्य में भी उपलब्ध

    BSNL का 1500 जीबी ब्रॉडबैंड प्लान अब इस राज्य में भी उपलब्ध

    जून में, BSNL ने तमिलनाडु के नए शहरों में 1500GB FTTH भारत फाइबर ब्रॉडबैंड प्लान का विस्तार किया। यह प्लान कोलकाता और पुडुचेरी के साथ-साथ ओडिशा के भवानीपटना शहर में भी उपलब्ध है।

  • 24 घंटों में इन 10 राज्यों में सामने आए कोरोना के 81 फीसदी मामले और 90 प्रतिशत लोगों की मौत

    24 घंटों में इन 10 राज्यों में सामने आए कोरोना के 81 फीसदी मामले और 90 प्रतिशत लोगों की मौत

    देश में कोरोनावायरस (Coronavirus India Report) के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. संक्रमितों की संख्या 14 लाख के आंकड़े को पार कर चुकी है. पिछले 24 घंटों में कोरोना (COVID-19) के करीब 50 हजार मामले सामने आए हैं. भारत के वह 10 राज्य, जहां बीते 24 घंटों में 81.13 फीसदी नए मामले और 90 प्रतिशत मौत के मामले सामने आए, वह हैं- महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना, ओडिशा और असम.

  • सोनिया-राहुल गांधी ने की पूर्व PM राव की तारीफ, पोते ने कहा- कांग्रेस को 16 साल क्यों लग गए?

    सोनिया-राहुल गांधी ने की पूर्व PM राव की तारीफ, पोते ने कहा- कांग्रेस को 16 साल क्यों लग गए?

    कांग्रेस को उनके योगदान की तारीफ करने में 16 साल क्यों लग गए'? यह सवाल पूर्व प्रधानमंत्री और कांग्रेस के दिग्गज नेता रहे पीवी नरसिम्हाराव के पोते और अब तेलंगाना बीजेपी के नेता एनवी सुभाष ने पूछा है. दरअसल तेलंगाना में कांग्रेस की ओर से पूर्व प्रधानमंत्री के जन्मशताब्दी पर एक कार्यक्रम आयोजन किया जा रहा है. इसी कड़ी में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह और राहुल गांधी ने उनके कामों की तारीफ की है. लेकिन यह शायद पहला मौका था जब गांधी परिवार के किसी सदस्य ने पहली बार खुलकर पीवी नरसिम्हाराव की तारीफ की हो.  सोनिया गांधी ने भेजे गए अपने संदेश में कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री पीवी नरसिंह राव की अगुवाई में देश कई चुनौतियों को पार पाने में सफल रहा है. कांग्रेस को उनकी उपलब्धियों और योगदान पर गर्व है. 

  • कांग्रेस को याद आए बरसों से बिसराए हुए नरसिम्हा राव, गांधी परिवार ने पत्र लिखकर की प्रशंसा

    कांग्रेस को याद आए बरसों से बिसराए हुए नरसिम्हा राव, गांधी परिवार ने पत्र लिखकर की प्रशंसा

    डॉ मनमोहन सिंह, जो 1991 में वित्त मंत्री थे, उन्होंने आयात शुल्क में कटौती, कम करों, अधिक विदेशी निवेश और अन्य उपायों से भारत की अर्थव्यवस्था को बढ़ावा दिया, जिससे अंततः अर्थव्यवस्था का उदारीकरण हुआ, और उसी के परिणाम सहस्राब्दी के अंत में देखे गए जब देश का विकास आसमान छूने लगा.

  • गलवान में जान कुर्बान करने वाले कर्नल संतोष बाबू की पत्नी को सरकार ने बनाया डिप्टी कलेक्टर

    गलवान में जान कुर्बान करने वाले कर्नल संतोष बाबू की पत्नी को सरकार ने बनाया डिप्टी कलेक्टर

    जून में लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सेना के सैनिकों के साथ भारतीय जवानों की हुई झड़प में अपनी जान गंवाने वाले कर्नल संतोष बाबू की पत्नी की डिप्टी कलेक्टर पद पर नियुक्ति हुई है. तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने उनकी पत्नी संतोषी बाबू को बुधवार को उनका नियुक्ति पत्र दिया.

  • तेलंगाना सचिवालय भवन को गिराने के खिलाफ याचिका पर सुनवाई नहीं करेगा सुप्रीम कोर्ट

    तेलंगाना सचिवालय भवन को गिराने के खिलाफ याचिका पर सुनवाई नहीं करेगा सुप्रीम कोर्ट

    सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने तेलंगाना सरकार के इमारतों को गिराने के फैसले के खिलाफ याचिका पर सुनवाई से इनकार किया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि हाईकोर्ट की रिपोर्ट में माना गया है कि इमारतों में खामियां हैं. 25.5 एकड़ में 10 लाख वर्ग फुट में फैले राज्य सचिवालय भवनों (Telangana Secretariat building) को ढहाने का फैसला तेलंगाना सरकार ने किया है. नए सचिवालय में जनता के 1000 करोड़ रुपये खर्च होंगे.

  • तेलंगाना से अलग है विकास दुबे का एनकाउंटर, पुलिस पर हमले के लिए तैनात थे 80 बदमाश : यूपी सरकार

    तेलंगाना से अलग है विकास दुबे का एनकाउंटर, पुलिस पर हमले के लिए तैनात थे 80 बदमाश : यूपी सरकार

    यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में कहा है कि यह एनकाउंटर तेलंगाना मुठभेड़ से अलग था. वहां आरोपी हार्ड कोर अपराधी नहीं थे, लेकिन विकास दुबे पर 64 आपराधिक मामले दर्ज थे. तेलंगाना में आरोपियों को घटनास्थल पर ले जाया गया लेकिन यहां एक दुर्घटना हुई और इसे साबित करने के लिए सामग्री साक्ष्य उपलब्ध हैं.  वहीं यूपी सरकार ने भी यह कहा कि तेलंगाना ने मजिस्ट्रेट जांच या न्यायिक आयोग का आदेश नहीं दिया लेकिन जहां यूपी ने जांच आयोग का गठन किया है वहीं एसआईटी भी गठित की है. विकास दुबे  ने 80 के आसपास अपराधी छत के ऊपर तैनात  किए थे. उसने आत्मसमर्पण नहीं किया, बल्कि उसे उज्जैन पुलिस ने हिरासत लिया था. 

  • केंद्र सरकार ने कहा, 19 राज्यों में कोरोना से ठीक होने की दर राष्ट्रीय औसत से बेहतर, जानें कौन-कौन से नाम हैं शामिल

    केंद्र सरकार ने कहा, 19 राज्यों में कोरोना से ठीक होने की दर राष्ट्रीय औसत से बेहतर, जानें कौन-कौन से नाम हैं शामिल

    जिन 30 राज्यों और केंद्र शासित क्षेत्रों में कोविड-19 के कारण मृत्यु दर राष्ट्रीय औसत 2.64 प्रतिशत से कम है उनमें लद्दाख, त्रिपुरा, असम, केरल, छत्तीसगढ़, ओडिशा, अरुणाचल प्रदेश, गोवा, मेघालय, झारखंड, बिहार, हिमाचल प्रदेश, तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, पुडुचेरी, उत्तराखंड, तमिलनाडु, हरियाणा, चंडीगढ़, जम्मू-कश्मीर, कर्नाटक, राजस्थान, पंजाब और उत्तर प्रदेश शामिल हैं.

  • BHEL की महिला अफसर के कथित आत्‍महत्‍या मामले में सुप्रीम कोर्ट का तेलंगाना सरकार को नोटिस

    BHEL की महिला अफसर के कथित आत्‍महत्‍या मामले में सुप्रीम कोर्ट का तेलंगाना सरकार को नोटिस

    इस अधिकारी ने कथित तौर पर कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न के कारण खुदकुशी कर ली थी. पीड़ि‍त अधिकारी की मां की ओर से दाखिल याचिका में आरोप लगाया गया है कि उनकी बेटी को पिछले साल अक्टूबर में आत्महत्या करने को मजबूर कर दिया गया.

  • कोरोना वायरस : नहीं थम रहे हैं शवों के साथ बदसलूकी के मामले

    कोरोना वायरस : नहीं थम रहे हैं शवों के साथ बदसलूकी के मामले

    देश में जैसे-जैसे कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़ रही है, वैसे अव्यवस्थाओं में भी सामने आ रही हैं. इस बीमारी से मरने वालों के शवों के साथ जिस तरह के सलूक की खबरें हैं वो काफी परेशान करने वाली हैं. ताजा मामला तेलंगाना से जुड़ा हुआ है. यहां के निजामाबाद सरकारी अस्पताल से कोविड-19 की वजह से जान गंवाने के एक शख्स के शव को इस तरीके से ऑटो के जरिए अंतिम संस्कार के लिए भेजा गया है.

  • Coronavirus Updates: कर्नाटक में कोरोना वायरस के रिकॉर्ड 1,925 नये मामले सामने आए

    Coronavirus Updates: कर्नाटक में कोरोना वायरस के रिकॉर्ड 1,925 नये मामले सामने आए

    Coronavirus Updates: बीते 24 घंटों में भारत में कोरोना वायरस से 613 लोगों की मौत हो चुकी है और 24 हजार से ज्यादा नए केस सामने आए हैं. अब कुल मरीजों की संख्या 6,73,165 तक पहुंच गई है और अब तक 19268 जान गंवा चुके हैं.  रिकवरी रेट 60.77 फीसदी पर आ गया है और वायरस से ठीक होने वालों की संख्या बढ़कर 409083 पर पहुंच गई है. वहीं बात करें पॉजिटिव रेट की तो वह भी बढ़कर 9.98 फीसदी पर पहुंच गया है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक पिछले 72 घंटों में महाराष्ट्र पुलिस के 237 पुलिसकर्मी कोविड-19 पॉज़िटिव मिले हैं. महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 6,364 नए मामले सामने आए हैं. इसके बाद तमिलनाडु में 4329, तेलंगाना में 1892 और कर्नाटक में 1694 नए मामले दर्ज किए गए हैं. उधर 

  • इन 5 राज्यों में कोरोना का संक्रमण सबसे ज्यादा, मृतकों की संख्या भी चिंताजनक

    इन 5 राज्यों में कोरोना का संक्रमण सबसे ज्यादा, मृतकों की संख्या भी चिंताजनक

    राज्यवार तरीके से कोरोना मामलों को देखें तो पिछले पिछले 24 घंटों में महाराष्ट्र में 6364, तमिलनाडु में 4329, दिल्ली में 2520, तेलंगाना में 1892 और कर्नाटक में 1694 नए मामले सामने आए हैं. वहीं पूरे देश में इस दौरान 22,771 नए मामले सामने आए हैं. अब अगर इन पांच राज्यों के मामले जोड़ ले तो इनकी संख्या 16779 हो जाती है. यानि अन्य राज्यों से कुल मामले 5972 हैं. इन आंकड़ों को देखने के बाद राज्यों की गंभीर स्थिति को समझा जा सकता है. 

  • कोविड-19 पर तेलंगाना सरकार की रिपोर्ट से संतुष्ट नहीं हाई कोर्ट, और जानकारी मांगी

    कोविड-19 पर तेलंगाना सरकार की रिपोर्ट से संतुष्ट नहीं हाई कोर्ट, और जानकारी मांगी

    विभिन्न जनहित याचिकाओं पर बुधवार को सुनवाई करते हुये अदालत ने यह जानना चाहा कि राज्य सरकार कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों के संबंध में विस्तृत जानकारी लोगों को उपलब्ध क्यों नहीं करा रही है.

  • कोरोना की 88.94% मौतें इन आठ राज्यों से, सबसे ज्यादा एक्टिव केस भी यहीं से

    कोरोना की 88.94% मौतें इन आठ राज्यों से, सबसे ज्यादा एक्टिव केस भी यहीं से

    गर राज्यवार आंकड़ों पर नजर डालें तो कोरोना से होने वाली मौतों में से 88.94% मौतें देश के आठ राज्यों- महाराष्ट्र, दिल्ली, तमिलनाडु, गुजरात, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश में हुई हैं. वहीं देश में कुल एक्टिव मामलों में से 82.44% एक्टिव मामले भी इन्ही राज्यों में हैं. 

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com