NDTV Khabar

निर्भया गैंगरेप केस News in Hindi


'निर्भया गैंगरेप केस' - 101 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • फंदे पर लटकने से पहले विनय ने अपनी बनाई इस पेंटिंग को घरवालों को देने की जताई थी इच्छा

    फंदे पर लटकने से पहले विनय ने अपनी बनाई इस पेंटिंग को घरवालों को देने की जताई थी इच्छा

    निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्या मामले के चारों दोषियों ने फांसी दिए जाने से पहले कोई आखिरी इच्छा जाहिर नहीं की थी. अधिकारी ने कहा, 'दोषियों ने अधिकारियों के समक्ष कोई आखिरी इच्छा जाहिर नहीं की थी.' फांसी दिए जाने से पहले उनसे उनकी आखिरी इच्छा पूछी गई थी. जेल की नियामवली के अनुसार अधीक्षक और जिला मजिस्ट्रेट या अतिरिक्त जिला मजिस्ट्रेट की उपस्थिति में कैदी की वसीयत सहित किसी भी दस्तावेज पर हस्ताक्षर कराए जा सकते हैं या उसे संलग्न किया जा सकता है. हालांकि मुकेश ने यह बात जरूर कही कि उसकी मौत के बाद अंगदान कर दिए जाएं. वहीं विनय ने बताया कि उसने जो पेंटिंग बनाई से उसके घरवालों को दे दिया जाए. वहीं विनय फांसी से थोड़ी देर पहले गिड़गिड़ाकर कहने लगा कि वह मरना नहीं चाहता है. मुकेश और विनय ने रात में खिचड़ी खाई थी. वहीं पवन और अक्षय रात भर बेचैन रहे.

  • फंदे पर लटकाने से पहले पूछी गई 'आखिरी इच्छा', तो निर्भया के गुनहगारों का था ये रिएक्शन

    फंदे पर लटकाने से पहले पूछी गई 'आखिरी इच्छा', तो निर्भया के गुनहगारों का था ये रिएक्शन

    दिल्ली गैंगरेप मामले में निर्भया के चार दोषियों को शुक्रवार की तड़के सुबह साढ़े पांच बजे तिहाड़ जेल में फांसी दे दी गई. इस फांसी से पहले पिछले सात साल तक निर्भया की मां लगातार कोर्ट में लड़ाई लड़ती रही. दोषियों को फांसी के फंदे तक पहुंचाने के लिए उन्होंने पूरी ताकत झोंक दी. सात साल के लंबे इंतजार के बाद दिल्ली के निर्भया गैंगरेप मामले में चार दोषियों को फांसी के फंदे पर लटकना ही पड़ा.

  • निर्भया गैंगरेप केस : जिस रात सबको 'जगाकर' 'सो 'गई वो

    निर्भया गैंगरेप केस : जिस रात सबको 'जगाकर' 'सो 'गई वो

    16 दिसंबर 2012 को दिल्ली में एक चलती बस के अंदर हुई गैंगरेप की घटना ने पूरे देश को सोचने के लिए मजबूर था कि क्या इस देश में महिलाओं को पर आम अत्याचार अब आम बात हो गई है. घटना के अगले ही दिन पूरे देश में प्रदर्शन हो चुके थे. जिस वीभत्स तरीके से इस घटना को अंजाम दिया गया था, पहले ही दिन से इसके दोषियों को फांसी देने की मांग शुरू हो चुकी थी. यह हाल ही के दिनों में शायद पहला ऐसा मौका था रेप की घटना पर पूरा देश एक साथ खड़ा हो गया था.

  • निर्भया गैंगरेप केस Timeline : वो तारीखें जो कभी उम्मीदें लाईं तो कभी आंसू

    निर्भया गैंगरेप केस Timeline : वो तारीखें जो कभी उम्मीदें लाईं तो कभी आंसू

    आखिरकार 7 साल बाद निर्भया को इंसाफ ही मिल ही गया. आज सुबह 5:30 बजे चारों दोषियों को दिल्ली के तिहाड़ जेल में फांसी पर लटका दिया गया है और 6 बजे उनकी मौत का ऐलान किया जा चुका है. इससे पहले चारों को फांसी से बचाने के लिए रात में एक बार फिर दिल्ली हाईकोर्ट में याचिका लगाई गई. रात में ही इस पर सुनवाई भी हुई लेकिन सभी दलीलों को नकारते हुए उनकी कोर्ट ने उनकी फांसी की सजा को बरकरार रखा. फांसी के बाद निर्भया की मां ने कहा कि बेटों को सिखाना पड़ेगा कि ऐसा करोगे तो ऐसा ही इंसाफ मिलेगा. निर्भया की मां के आंखे नम रही और उन्होंने कहा, ''आज का दिन हमारे बच्चियों के नाम, हमारे महिलाओं के लिए.. देर से ही लेकिन न्याय मिला.. हमारे न्यायिक व्यवस्था, अदालतों को धन्यवाद.''

  • दोषियों को हुई फांसी, तो निर्भया की मां ने बेटी की तस्वीर को गले लगाकर कहा - हमारी बच्ची दुनिया में नहीं लौट सकती, लेकिन...

    दोषियों को हुई फांसी, तो निर्भया की मां ने बेटी की तस्वीर को गले लगाकर कहा - हमारी बच्ची दुनिया में नहीं लौट सकती, लेकिन...

    निर्भया गैंगरेप के चारों दोषियों को 20 मार्च 2020 की सुबह साढ़े पांच बजे तिहाड़ जेल के भीतर फांसी दे दी गई. कानूनी प्रक्रिया से लड़ते-लड़ते सात साल बाद मिले इंसाफ के बाद निर्भया की मां भावुक हो गईं. उन्होंने फांसी के बाद बेटी की तस्वीर को गले लगा लिया.

  • मौत के इंतजार में रातभर नहीं सो पाए निर्भया के चारों दोषी, फांसी से पहले ऐसे बीती रात

    मौत के इंतजार में रातभर नहीं सो पाए निर्भया के चारों दोषी, फांसी से पहले ऐसे बीती रात

    दिल्ली में निर्भया गैंगरेप हत्याकांड के बाद पूरा देश सहम सा गया था. भले ही निर्भया ने जिंदगी के जंग में अपना दम तड़पते हुए तोड़ दिया, लेकिन इंसाफ की लड़ाई में उसे सात साल के बाद 20 मार्च 2020 की सुबह साढ़े पांच बजे न्याय मिला, जब चारों दोषियों को फांसी के फंदे पर लटकाया गया.

  • फांसी के फंदे पर लटके चारों दोषी तो बोलीं निर्भया की मां- बेटों को सिखाना पड़ेगा कि ऐसा करोगे तो ऐसा ही इंसाफ मिलेगा

    फांसी के फंदे पर लटके चारों दोषी तो बोलीं निर्भया की मां- बेटों को सिखाना पड़ेगा कि ऐसा करोगे तो ऐसा ही इंसाफ मिलेगा

    निर्भया गैंगरेप के चारों दोषियों को 20 मार्च की तड़के सुबह साढ़े पांच बजे तिहाड़ जेल के भीतर फांसी दे दी गई. सात साल बाद मिले इंसाफ के बाद निर्भया की मां के आंखे नम रही और उन्होंने कहा, ''आज का दिन हमारे बच्चियों के नाम, हमारे महिलाओं के लिए.. देर से ही लेकिन न्याय मिला.. हमारे न्यायिक व्यवस्था, अदालतों को धन्यवाद.''

  • Nirbhaya Case Update: आखिरकार हुआ इंसाफ, फांसी पर लटकाए गए निर्भया के दोषी

    Nirbhaya Case Update: आखिरकार हुआ इंसाफ, फांसी पर लटकाए गए निर्भया के दोषी

    Nirbhaya Case: निर्भया गैंगरेप और मर्डर के चारों दोषी मुकेश, अक्षय, विनय और पवन को अलसुबह फांसी दे दी गई. सात साल से ज्यादा लंबे समय के बाद आखिरकर निर्भया को इंसाफ मिल गया. कोर्ट की तरफ से मौत की सजा सुनाए जाने के बाद फांसी के लिए कई तारीखें तय हुईं, लेकिन दोषी कोई न कोई तिकड़म अपनाकर बच ही जाते थे.

  • निर्भया केस : देश में पहली बार होने वाली है ऐसी फांसी, दोषियों को फंदे पर लटकाने को तैयार 'जल्लाद'

    निर्भया केस : देश में पहली बार होने वाली है ऐसी फांसी, दोषियों को फंदे पर लटकाने को तैयार 'जल्लाद'

    दिल्ली की तिहाड़ जेल में निर्भया मामले के चार दोषियों को फांसी देने के लिए पवन जल्लाद ने बुधवार को पुतलों को फांसी देकर अभ्यास किया. दोषियों को जेल में शुक्रवार को फांसी दी जानी है. उधर दिल्ली उच्च न्यायालय ने एक दोषी की एक और याचिका को खारिज कर दिया है.  जेल अधिकारियों ने बताया कि पवन मंगलवार को मेरठ से राजधानी पहुंचे और उन्होंने रस्सी से पुतलों को फांसी देकर अभ्यास किया.

  • निर्भया गैंगरेप केस : क्या अब 'तलाक' टलवाएगा 20 मार्च को होने वाली फांसी?

    निर्भया गैंगरेप केस : क्या अब 'तलाक' टलवाएगा 20 मार्च को होने वाली फांसी?

    निर्भया केस गैंगरेप केस के दोषियों के फांसी की सजा 20 मार्च को तय है लेकिन इससे पहले कई और कानूनी पहलू सामने आते दिखाई दे रहे हैं. चारों में दोषियों में से अक्षय ठाकुर की पत्नी ने बिहार की औरंगाबाद जेल में तलाक का मुकदमा दायर कर दिया है. उनका कहना है कि वह अक्षय की विधवा के रूप में नहीं जीना चाहते हैं इसलिए उनको तलाक दिलवाया जाए. हालांकि उनका यह भी दावा है कि उनका पति अक्षय इस मामले में पूरी तरह से निर्दोष है.

  • निर्भया गैंगरेप केस : दोषियों की मौत पर पटियाला हाउस कोर्ट की मुहर, 20 मार्च को सुबह 5.30 बजे होगी फांसी

    निर्भया गैंगरेप केस : दोषियों की मौत पर पटियाला हाउस कोर्ट की मुहर, 20 मार्च को सुबह 5.30 बजे होगी फांसी

    बाकी के तीन आरोपियों की दया याचिका पहले ही खारिज की जा चुकी थी. इसके बाद तिहाड़ जेल प्रशासन फांसी की नई तारीख के लिए पटियाला हाउस कोर्ट पहुंचा. कोर्ट ने गुरुवार को सुनवाई की और दोषियों का नया डेथ वारंट जारी किया. चारों दोषियों को अब 20 मार्च सुबह 5:30 बजे फांसी दी जाएगी.

  • निर्भया गैंगरेप केस: आज चौथी बार जारी हुआ डेथ वारंट, तीन बार टल चुकी है दोषियों की फांसी, 10 बड़ी बातें

    निर्भया गैंगरेप केस: आज चौथी बार जारी हुआ डेथ वारंट, तीन बार टल चुकी है दोषियों की फांसी, 10 बड़ी बातें

    निर्भया गैंगरेप केस के दोषियों की फांसी के लिए दिल्ली के पटियाला कोर्ट ने गुरुवार को नया डेथ वारंट जारी कर दिया है. कोर्ट ने 20 मार्च सुबह 5.30 बजे फांसी से लटकाने का आदेश दिया है. निर्भया के दोषियों के सभी कानूनी विकल्प बुधवार को उस वक्त खत्म हो चुके थे, जब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने चौथे दोषी पवन गुप्ता की दया याचिका खारिज कर दी थी. बाकी के तीन आरोपियों की दया याचिका पहले ही खारिज की जा चुकी थी. इसके बाद तिहाड़ जेल प्रशासन फांसी की नई तारीख के लिए पटियाला हाउस कोर्ट पहुंचा था. तिहाड़ जेल प्रशासन ने कोर्ट को बताया था कि निर्भया के सभी दोषियों के कानूनी विकल्प समाप्त हो चुके हैं. अब किसी दोषी की कोई की याचिका कहीं भी लंबित नहीं है. ऐसे में कोर्ट को नया डेथ वारंट जारी करना चाहिए. दोषियों की फांसी के लिए तीन बार डेथ वारंट जारी किया जा चुका है, लेकिन तीनों बार ही उनकी फांसी टल गई थी. 

  • निर्भया मामला: दोषियों के सभी विकल्प खत्म, फांसी की नई तारीख के लिए तिहाड़ प्रशासन पहुंचा कोर्ट; कल होगी सुनवाई

    निर्भया मामला: दोषियों के सभी विकल्प खत्म, फांसी की नई तारीख के लिए तिहाड़ प्रशासन पहुंचा कोर्ट; कल होगी सुनवाई

    Nirbhaya Case: निर्भया के दोषियों के सभी कानूनी विकल्प अब खत्म हो चुके हैं. राष्ट्रपति से पवन की दया याचिका खारिज होने के बाद तिहाड़ जेल प्रशासन फांसी की नई तारीख के लिए पटियाला हाउस कोर्ट पहुंचा. मामले की सुनवाई गुरुवार दोपहर दो बजे होगी.

  • निर्भया गैंगरेप केस: तिहाड़ जेल में हो गया था पुतलों को फांसी देने का अभ्यास, ऐन वक्त में टल गई सजा

    निर्भया गैंगरेप केस: तिहाड़ जेल में हो गया था पुतलों को फांसी देने का अभ्यास, ऐन वक्त में टल गई सजा

    दिल्ली की तिहाड़ जेल के अधिकारियों ने निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्याकांड के चार दोषियों को फांसी पर लटकाने के लिए सभी जरूरी तैयारियां कर ली थी. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. चारों दोषियों को मंगलवार सुबह फांसी होनी थी हालांकि सोमवार की शाम शहर की एक अदालत ने अगले आदेश तक फांसी पर रोक लगा दी थी.

  • Nirbhaya Case: निर्भया के दोषियों की फांसी की सजा पर अगले आदेश तक रोक, पटियाला हाउस कोर्ट का फैसला

    Nirbhaya Case: निर्भया के दोषियों की फांसी की सजा पर अगले आदेश तक रोक, पटियाला हाउस कोर्ट का फैसला

    Nirbhaya Case: पटियाला हाउस कोर्ट ने निर्भया गैंगरेप मर्डर के सभी दोषियों की कल होने वाली फांसी की सजा पर रोक लगा दी है. कोर्ट ने सभी दोषियों की फांसी पर अगले आदेश तक के लिए रोक लगा दी है. ऐसा तीसरी बार हुआ जब दोषियों की फांसी पर रोक लगी है.

  • निर्भया केस : दोषी पवन गुप्ता की फांसी स्थगित करने की याचिका पर पटियाला हाउस कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

    निर्भया केस : दोषी पवन गुप्ता की फांसी स्थगित करने की याचिका पर पटियाला हाउस कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

    निर्भया गैंगरेप मामले में दोषी पवन गुप्ता की फांसी स्थगित करने की याचिका पर पटियाला हाउस कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा लिया है. उसने पटियाला हाउस कोर्ट में याचिका दायर करके मांग की थी उसकी दया याचिका राष्ट्रपति के पास लंबित है इसलिए उसे कल फांसी नहीं दी जाए. निर्भया गैंगरेप के दोषियों को कल सुबह छह बजे फांसी होनी है. पवन गुप्ता के वकील एपी सिंह ने कहा कि हमने पवन की दया याचिका राष्ट्रपति के पास लगाई है. वकील ने यह दावा किया कि रिटायर्ड जस्टिस काटजू ने उनसे कहा है कि वह फांसी रोकने के लिए राष्ट्रपति से मिलेंगे.

  • निर्भया गैंगरेप केस : चारों दोषियों को कल सुबह 6 बजे होनी है फांसी, अब पवन पहुंचा दया याचिका लेकर राष्ट्रपति के पास

    निर्भया गैंगरेप केस : चारों दोषियों को कल सुबह 6 बजे होनी है फांसी, अब पवन पहुंचा दया याचिका लेकर राष्ट्रपति के पास

    निर्भया गैंगरेप केस के चारों दोषियों को फांसी की सजा पर रोक लगाने से पटियाला हाउस कोर्ट ने इनकार कर दिया है.  कल सुबह 6 बजे इनको फांसी होनी है. वहीं आज ही सुप्रीम कोर्ट ने पवन गुप्ता की क्यूरेटिव और मंगलवार को फांसी रोकने वाली याचिका को खारिज कर दिया है.

  • निर्भया गैंगरेप के दोषियों को अंगदान का विकल्प देने की मांग करने वाली याचिका खारिज

    निर्भया गैंगरेप के दोषियों को अंगदान का विकल्प देने की मांग करने वाली याचिका खारिज

    निर्भया के दोषियों को अंगदान का विकल्प देने की याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है. कोर्ट ने कहा कि  किसी को इस तरह फांसी देना परिवार के लिए दुखद है.   ऐसे में याचिकाकर्ता चाहते हैं कि उनके शरीर के टुकड़े कर दिए जाएं, अंगदान स्वैच्छिक होता है. आपको बता दें कि सेवानिवृत न्यायाधीश माइकल एफ सलदाना और एक अन्य ने यह याचिका दाखिल की थी.. याचिका में कहा गया है कि सरकार और जेल प्रशासन को निर्देश दिया जाए कि वह चारो दोषियों को शरीर और अंग दान का विकल्प दे.

12345»

Advertisement

निर्भया गैंगरेप केस वीडियो

निर्भया गैंगरेप केस से जुड़े अन्य वीडियो »

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com