NDTV Khabar

नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो


'नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो' - 6 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • लिंचिंग के खिलाफ श्याम बेनेगल, अनुराग कश्यप, रामचंद्र गुहा समेत 49 हस्तियों ने PM को लिखा खत

    लिंचिंग के खिलाफ श्याम बेनेगल, अनुराग कश्यप, रामचंद्र गुहा समेत 49 हस्तियों ने PM को लिखा खत

    फिल्मकार श्याम बेनेगल, केतन मेहता, अनुराग कश्यप व मणिरत्नम, अभिनेत्री कोंकणा सेनशर्मा व अपर्णा सेन तथा इतिहासकार रामचंद्र गुहा सहित बहुत-सी जानी-मानी हस्तियों द्वारा हस्ताक्षरित पत्र में कहा गया है, "प्रिय प्रधानमंत्री... मुस्लिमों, दलितों तथा अन्य अल्पसंख्यकों की लिंचिंग तुरंत रोकी जानी चाहिए... हम NCRB (नेशनल क्राइम रिकॉर्ड्स ब्यूरो) की रिपोर्टों से यह जानकर स्तब्ध हैं कि वर्ष 2016 में दलितों के प्रति अत्याचार की कम से कम 840 वारदात दर्ज हुईं, और इनमें दोषी करार दिए जाने में निश्चित रूप से इस दौरान कमी आई..."

  • एक साल में कहां गायब हो गए 63 हजार बच्चे?

    एक साल में कहां गायब हो गए 63 हजार बच्चे?

    नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो की 2016 की रिपोर्ट में मिसिंग चिल्ड्रन के बारे में जो आंकड़े आते हैं उनमें सबसे ज्‍यादा चौंकाने वाला तथ्य यह है कि एक साल में इस सेक्शन के तहत गायब होने वाले बच्चों की संख्या में 63407 बच्चे और जुड़ गए हैं.

  • भोपाल जेल में इतने कम सुरक्षाकर्मी क्यों थे? जवाब भारतीय जेलों की हालत देती है...

    भोपाल जेल में इतने कम सुरक्षाकर्मी क्यों थे? जवाब भारतीय जेलों की हालत देती है...

    भोपाल सेंट्रल जेल में 8 कैदियों ने एक हेड कॉन्‍स्‍टेबल की हत्या की, एक दूसरे कॉन्‍स्‍टेबल को बांध दिया और फ़रार हो गए. सवाल है कि इतनी अहम जेल में इतने कम सुरक्षाकर्मी क्यों थे? जवाब भारतीय जेलों की हालत देती है.

  • एनसीआरबी के आंकड़े : देश में अपराधों में दिल्ली सबसे आगे, मुंबई दूसरे नंबर पर

    एनसीआरबी के आंकड़े : देश में अपराधों में दिल्ली सबसे आगे, मुंबई दूसरे नंबर पर

    देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में क्राइम का ग्राफ तेजी से बढ़ता जा रहा है. बुजुर्ग, महिलाओं और बच्चों को अपराधी निशाना बना रहे हैं. इसके अलावा सायबर क्राइम से जुड़े अपराध 50 फीसदी बढ़े हैं. नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़े इस बात की तस्दीक कर रहे हैं. अपराधों में राजधानी दिल्ली जहां पहले नंबर पर है वहीं दूसरे नंबर पर मुंबई है.

  • विमल मोहन : 'वो किसान था ही नहीं, उसके पास कई बीघा ज़मीन थी.....'

    विमल मोहन : 'वो किसान था ही नहीं, उसके पास कई बीघा ज़मीन थी.....'

    किसानों के आत्महत्या की ख़बरें बदस्तूर आ रही हैं। कभी महाराष्ट्र से, कभी बिहार से, कभी झारखंड से तो कभी राजस्थान से। इन राज्यों के नाम और किसानों के नाम उनकी संख्या से भी बहुत बड़ा फ़र्क पड़ गया हो ऐसा दिल्ली में रहकर महसूस नहीं होता।

  • साइबर अपराधों पर अंकुश के लिए पीपीपी परियोजनाओं के पक्ष में हैं विशेषज्ञ

    साइबर अपराधों पर अंकुश के लिए पीपीपी परियोजनाओं के पक्ष में हैं विशेषज्ञ

    साइबर अपराधों के बढ़ते मामलों के मद्देनजर उद्योग विशेषज्ञों का मानना है कि आंकड़ों की चोरी रोकने के लिए सार्वजनिक निजी भागीदारी (पीपीपी) परियोजनाओं को आगे बढ़ाया जाना चाहिए।

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com