Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

पंजाब विधानसभा चुनाव


'पंजाब विधानसभा चुनाव' - 388 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • क्या AAP में शामिल हो रहे हैं नवजोत सिंह सिद्धू? पार्टी सांसद भगवंत मान ने दिया यह जवाब

    क्या AAP में शामिल हो रहे हैं नवजोत सिंह सिद्धू? पार्टी सांसद भगवंत मान ने दिया यह जवाब

    पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस विधायक नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) को आम आदमी पार्टी (AAP) में शामिल कराने की अटकलों के बीच पार्टी के पंजाब प्रमुख भगवंत मान (Bhagwant Mann) ने कहा कि इस बारे में उनसे अभी कोई 'आधिकारिक स्तर' की वार्ता नहीं हुई है.

  • दिल्ली में 'जीरो' रहने पर बोले कांग्रेस नेता- हम पहले शून्य थे और अब भी शून्य, इसलिए हमारी नहीं BJP की हार है

    दिल्ली में 'जीरो' रहने पर बोले कांग्रेस नेता- हम पहले शून्य थे और अब भी शून्य, इसलिए हमारी नहीं BJP की हार है

    कांग्रेस नेता एवं पंजाब के कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धर्मसोत ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली में उनकी पार्टी हारी नहीं है, क्योंकि उसकी सीटें 2015 की भांति ही शून्य बनी हुई हैं, दरअसल यह तो भाजपा की हार है. उन्होंने दिल्ली विधानसभा चुनाव मतगणना के रुझानों का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘हम पहले शून्य थे, और अब भी शून्य हैं. इसलिए यह हमारी हार नहीं है. यह भाजपा की हार है.’’

  • Delhi Results 2020: कांग्रेस नेता बोले- ये हार BJP की, क्योंकि हम तो पहले भी 'जीरो थे और अब भी...'

    Delhi Results 2020: कांग्रेस नेता बोले- ये हार BJP की, क्योंकि हम तो पहले भी 'जीरो थे और अब भी...'

    कांग्रेस नेता और पंजाब के कैबिनेट मंत्री साधु सिंह धर्मसोत (Sadhu Singh Dharamsot) ने कहा कि दिल्ली में उनकी पार्टी हारी नहीं है, क्योंकि उसकी सीटें 2015 की भांति ही शून्य बनी हुई हैं, दरअसल यह तो भाजपा की हार है.

  • BJP नेता कपिल मिश्रा का केजरीवाल पर निशाना- पहले शाहीन बाग में तंबू लगवाओ, फिर...

    BJP नेता कपिल मिश्रा का केजरीवाल पर निशाना- पहले शाहीन बाग में तंबू लगवाओ, फिर...

    कपिल मिश्रा ने ट्वीट कर कहा है, "पहले शाहीन बाग में तंबू लगवाओ, फिर अपने कार्यकर्ता से उनपर गोली चलवाओ. चंद वोटों के लिए दिल्ली में आग लगवाओ, पंजाब में भी चुनाव से ठीक पहले केजरीवाल खालिस्तानी आंतकवादी के घर रुके थे. देश तोड़ना, आग लगाना यही हैं AAP की राजनीति का सच.

  • दिल्ली में प्रचार कर रहे बीजेपी के मुख्यमंत्रियों से बिजली के रेट पूछ रही जनता : राघव चड्ढा

    दिल्ली में प्रचार कर रहे बीजेपी के मुख्यमंत्रियों से बिजली के रेट पूछ रही जनता : राघव चड्ढा

    आम आदमी पार्टी मुख्यालय में हुई एक प्रेस वार्ता के दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेता राघव चड्ढा ने पत्रकारों से कहा कि भारतीय जनता पार्टी, जिसने पिछले पांच सालों में कभी दिल्ली की जनता की सुध नहीं ली, उसने आज अचानक चुनाव में हार के डर से अपने सैकड़ों सांसदों, कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों सहित पार्टी के शीर्ष नेतृत्व को भी दिल्ली के चुनाव प्रचार में उतार दिया है. ऐसा इसलिए भी है क्योंकि भाजपा के पास दिल्ली में चुनाव लड़ने के लिए कोई मुद्दा नहीं है. भाजपा के यह तमाम सांसद और मुख्यमंत्री अपने चुनाव प्रचार में केवल और केवल अरविंद केजरीवाल पर व्यक्तिगत टिप्पणियां कर रहे हैं. कोई उनकी खांसी का मजाक उड़ा रहा है, कोई उनके कपड़ों का मजाक उड़ा रहा है, तो कोई उनके परिवार पर अभद्र टिप्पणियां कर रहा है.

  • 2022 में BJP-SAD अलग-अलग लड़ेंगी पंजाब विधानसभा चुनाव? सुखबीर सिंह बादल ने दिया ये जवाब...

    2022 में BJP-SAD अलग-अलग लड़ेंगी पंजाब विधानसभा चुनाव? सुखबीर सिंह बादल ने दिया ये जवाब...

    सीएए के मुद्दे पर बादल ने कहा कि उनकी पार्टी इस कानून के पक्ष में है इसलिए उसने उसके पक्ष में वोट दिया लेकिन साथ ही वह यह भी चहती है कि मुसलमानों को भी उसमें शामिल किया जाए. जब भाजपा ने SAD से इस कानून पर अपना रूख बदलने को कहा था तब उसने ऐलान किया था कि वह आगामी दिल्ली चुनाव नहीं लड़ेगा.

  • CM अमरिंदर ने CAA को लेकर अकाली दल को दी NDA छोड़ने की चुनौती, तो SAD ने ऐसे किया पलटवार

    CM अमरिंदर ने CAA को लेकर अकाली दल को दी NDA छोड़ने की चुनौती, तो SAD ने ऐसे किया पलटवार

    पंजाब में कांग्रेस प्रमुख सुनील जाखड़ ने कहा कि दिल्ली में SAD और भाजपा के बीच गठबंधन न होना भाजपा की SAD के मौजूदा नेतृत्व से दूरी बनाने की ‘सोची-समझी रणनीति’ का हिस्सा है. जाखड़ ने आरोप लगाया कि SAD के मौजूदा नेतृत्व से दूरी बरतने की यह भाजपा की सोची समझी रणनीति है, क्योंकि मादक पदार्थों की तस्करी और बेअदबी के दाग के चलते यह उन पर बोझ बन गए हैं.

  • पंजाब के CM अमरिंदर सिंह ने CAA के खिलाफ केरल विधानसभा के प्रस्ताव का किया समर्थन, कहा...

    पंजाब के CM अमरिंदर सिंह ने CAA के खिलाफ केरल विधानसभा के प्रस्ताव का किया समर्थन, कहा...

    पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने नागरिकता कानून को निरस्त करने की मांग संबंधी केरल विधानसभा के प्रस्ताव का शुक्रवार को समर्थन करते हुए कहा कि यह लोगों की आवाज है और केंद्र सरकार को इस पर ध्यान देना चाहिए.

  • Punjab By-Election Results 2019: कांग्रेस ने तीन, अकाली ने एक सीट पर जीत दर्ज की

    Punjab By-Election Results 2019: कांग्रेस ने तीन, अकाली ने एक सीट पर जीत दर्ज की

    पंजाब की चार विधानसभा सीटों के उपचुनाव में सत्तारूढ़ कांग्रेस ने तीन और विपक्षी शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने एक सीट पर जीत दर्ज की. गत 21 अक्टूबर को हुए उपचुनाव के परिणामों की गुरुवार को घोषणा की गई.

  • पंजाब उप चुनाव: कांग्रेस का तीन, शिअद का एक सीट पर जीतना लगभग तय

    पंजाब उप चुनाव: कांग्रेस का तीन, शिअद का एक सीट पर जीतना लगभग तय

    पंजाब में विधानसभा की चार सीटों पर हुए उपचुनावों के लिए जारी मतगणना के ताजा रुझानों में सत्तारूढ़ कांग्रेस दो सीटों पर जीत दर्ज करने के लिए पूरी तरह तैयार है जबकि शिरोमणि अकाली दल (शिअद) भी दाखा सीट पर जीतती दिख रही है. मुकेरियां विधानसभा सीट पर भाजपा और कांग्रेस के बीच करीबी मुकाबला है. अकाली दल का गढ़ माने जाने वाली जलालाबाद सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी रमिंदर आवला शिअद प्रत्याशी राज सिंह दिबीपुरा से 11,252 मतों से आगे चल रहे हैं.

  • कर्ज मुक्त किसान और आत्महत्या मुक्त भारत का सपना कब होगा पूरा?

    कर्ज मुक्त किसान और आत्महत्या मुक्त भारत का सपना कब होगा पूरा?

    कुछ राज्यों में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं जिसमें महाराष्ट्र भी शामिल है. अब चुनाव से पहले बहुत कुछ वादे किए जाएंगे. किसानों की समस्या को लेकर बात होगी. किसानों के लिए कई योजनाओं की घोषणा होगी. चुनाव के बाद यह सब वादे खोखले साबित होंगे क्योंकि अगर राजनैतिक दलों ने अपना वादा पूरा किया होता तो आज किसान आत्महत्या नहीं करता.

  • Election Results 2019: पीएम मोदी ने बीजेपी को दिलाई 2014 से भी बड़ी जीत (बढ़त) - 10 बातें

    Election Results 2019: पीएम मोदी ने बीजेपी को दिलाई 2014 से भी बड़ी जीत (बढ़त) - 10 बातें

    पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में भारतीय जनता पार्टी ने अपने 2014 लोकसभा चुनावों की जीत को और बड़ा कर दिया है. पीएम मोदी वहां भी कामयाब होते दिख रहे हैं जहां दिसंबर 2018 में हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने सरकार बनाई थी. मध्‍यप्रदेश, राजस्‍थान और छत्‍तीसगढ़ में कांग्रेस की जीत हुई थी और उम्‍मीद की जा रही थी कि इसका असर लोकसभा चुनाव में भी होगा लेकिन ऐसा दिख नहीं दिख रहा है. मध्‍यप्रदेश में बीजेपी को फायदा दिख रहा है जबकि राजस्‍थान में स्‍थ‍िति बरकरार है. छत्‍तीसगढ़ में भी बीजेपी 2014 वाली अपनी स्‍थि‍ति को बरकरार रखने में कामयाब होती दिख रही है. कांग्रेस को पंजाब और तमिलनाडु में फायदा दिख रहा है. तमिलनाडु में डीएमके के साथ होने का कांग्रेस को फायदा मिला.

  • Punjab Election Results 2019: पंजाब में फिर दिखा कांग्रेस का दबदबा, 8 सीटों पर हुई जीत

    Punjab Election Results 2019: पंजाब में फिर दिखा कांग्रेस का दबदबा, 8 सीटों पर हुई जीत

    पंजाब में कांग्रेस 8 सीटें मिली हैं. अकाली-बीजेपी गंठबंधन को 4 और आप को सिर्फ 1 सीट मिली हैं. पंजाब में अंतिम दिन 19 मई को एक ही चरण में मतदान हुआ था. पंजाब में 13 लोकसभा सीटें और राज्य में 117 विधानसभा क्षेत्र हैं. साल 2011 की जनगणना के अनुसार, पंजाब की आबादी 27,743,338 करोड़ है जिसमें 14,639,465 पुरुष और 27,743,338 महिलाएं शामिल हैं. सन 2014 के लोकसभा चुनावों (Lok Sabha Elections 2019) में, बीजेपी- शिरोमणि अकाली दल राज्य में 6 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी. अकाली दल ने चार सीटें जीती थीं और बीजेपी ने दो संसदीय सीटें जीती थीं. आम आदमी पार्टी (AAP) ने राज्य में चार सीटों पर जीत हासिल करते हुए तीसरे विकल्प के रूप में शानदार शुरुआत की. कांग्रेस को सिर्फ तीन सीटों पर जीत मिल सकी थी.

  • Lok Sabha Election 2019 Updates : अंतिम चरण में 59 सीटों पर 64 फीसदी मतदान

    Lok Sabha Election 2019 Updates : अंतिम चरण में 59 सीटों पर 64 फीसदी मतदान

    आज लोकसभा चुनावों का सातवां और आख़िरी चरण हो रहा है. 7 राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश की 59 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं. पंजाब की सभी 13, उत्तर प्रदेश की 13,  पश्चिम बंगाल की 9, बिहार और मध्य प्रदेश की 8-8, हिमाचल प्रदेश की 4, झारखंड की 2 सीटों पर मतदान हो रहा है.59 निर्वाचन क्षेत्रों में मतदान में 10 करोड़ से अधिक मतदाता हैं और 918 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं. आज 112993 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. शाम तक तमिलनाडु के वेल्लोर को छोड़कर सभी निर्वाचन क्षेत्रों में चुनाव समाप्त हो जाएगा. धन के अत्यधिक इस्तेमाल के बाद वेल्लोर में मतदान रद्द कर दिया गया था. नई तारीख की घोषणा बाद में होगी. इसके अलावा, गोवा की पणजी विधानसभा सीट पर उपचुनाव भी हो रहा है. यह सीट पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन से रिक्त हुई है. इसके अलावा तमिलनाडु की सुलुर, अरावकुरिची, ओत्तापिदाराम (सुरक्षित) , थिरुपरंकुन्द्रम विधानसभा सीटों पर भी उपचुनाव हो रहा है. बिहार की देहरी विधानसभा सीट पर भी उपचुनाव के लिए वोट डाले जा रहे हैं. उत्तर प्रदेश में, सभी की नजरें वाराणसी सीट पर लगी हुई हैं, जहां से मोदी के अलावा 25 उम्मीदवार मैदान में हैं. प्रधानमंत्री को मुख्य रूप से चुनौती कांग्रेस के अजय राय और सपा-बसपा गठबंधन की प्रत्याशी शालिनी यादव से मिल रही है. 

  • Lok Sabha Election 2019 Phase 7: 10 बड़े चेहरे जिनकी किस्मत आज EVM में हो जाएगी कैद

    Lok Sabha Election 2019 Phase 7: 10 बड़े चेहरे जिनकी किस्मत आज EVM में हो जाएगी कैद

    रविवार यानी आज लोकसभा चुनावों के आखिरी चरण के लिए मतदान शुरू हो गया है. कुल 59 सीटों पर आज मतदान हो रहा है. वोटों की गिनती 23 मई को होगी. खास बात ये है कि आज पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी वोट डाले जा रहे हैं, जहां से पीएम दोबारा उम्मीदवार हैं. आज के मतदान से कई बड़े नेताओं की किस्मत का चुनाव होगा जिनमें पीएम मोदी, शत्रुघ्न सिन्हा, सुखबीर सिंह बादल, मनीष तिवारी, किरण खेर अभिषेक बनर्जी, सनी देओल, मीसा भारती, रविशंकर प्रसाद और रवि किशन प्रमुख हैं. सातवें चरण में पंजाब में 13, उत्तर प्रदेश में 13, पश्चिम बंगाल में नौ, बिहार और मध्य प्रदेश में आठ-आठ, हिमाचल प्रदेश में चार, झारखंड में तीन और चंडीगढ़ की एकमात्र लोकसभा सीट पर मतदान हो रहा है. इस चरण में 918 उम्मीदवार अपने किस्मत आजमा रहे हैं. रविवार को ही पणजी विधानसभा सीट के लिए वोट डाले जा रहे हैं, जो पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद रिक्त हो गई थी. इसके साथ ही तमिलनाडु की चार विधानसभा सीटों-सुलूर, अरवाकुरुचि, ओत्तापिदरम (सुरक्षित) और तिरुपरंकुंद्रम पर भी रविवार को उपचुनाव होगा. यूपी में वाराणसी के अलावा गाजीपुर, मिर्जापुर, महराजगंज, गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, बांसगांव, घोसी, सलेमपुर, बलिया, चंदौली और रॉबर्ट्सगंज सीटों के लिये मतदान शुरू हो चुका है.

  • Lok Sabha Election 2019 Phase 7: 10 करोड़ से ज्यादा वोटर करेंगे 918 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला, जानिए 11 बड़ी बातें

    Lok Sabha Election 2019 Phase 7: 10 करोड़ से ज्यादा वोटर करेंगे 918 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला, जानिए 11 बड़ी बातें

    19 मई यानी आज लोकसभा चुनावों के आखिरी चरण के लिए मतदान शुरू हो गया है. आज का चुनाव इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि आज पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में भी वोट डाले जा रहे हैं, जहां से पीएम दोबारा उम्मीदवार हैं. कुल 59 सीटों पर आज मतदान हो रहा है. वोटों की गिनती 23 मई को होगी. सातवें चरण में पंजाब में 13, उत्तर प्रदेश में 13, पश्चिम बंगाल में 9, बिहार और मध्य प्रदेश में 8-8, हिमाचल प्रदेश में 4, झारखंड में 3 और चंडीगढ़ की एक मात्र लोकसभा सीट पर मतदान हो रहा है. रविवार को ही पणजी विधानसभा सीट के लिए उपचुनाव है जो पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद खाली हो गई थी. आज के मतदान से कई बड़े नेताओं की किस्मत का चुनाव होगा जिनमें केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा, यूपी भाजपा के मुखिया महेंद्र नाथ पांडेय, सुखबीर सिंह बादल, केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल, हरदीप सिंह पुरी, किरण खेर, पवन सिंह बंसल, सनी देओल, शत्रुघ्न सिन्हा और भगवंत मान समेत कई प्रमुख नाम हैं.

  • Lok Sabha Election 2019 का आखिरी चरण आज, पीएम मोदी समेत कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर

    Lok Sabha Election 2019  का आखिरी चरण आज, पीएम मोदी समेत कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर

    Lok Sabha Election 2019: सातवें चरण में पंजाब में 13, उत्तर प्रदेश में 13, पश्चिम बंगाल में नौ, बिहार और मध्य प्रदेश में आठ-आठ, हिमाचल प्रदेश में चार, झारखंड में तीन और चंडीगढ़ की एकमात्र लोकसभा सीट पर मतदान होगा. इस चरण में 10.01 करोड़ से अधिक मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर सकेंगे और वे 918 उम्मीदवारों की चुनावी किस्मत का फैसला करेंगे. निर्वाचन आयोग ने मतदान सुगम तरीके से संपन्न कराने के लिए 1.12 लाख मतदान केंद्र बनाए हैं.

  • 20 दिन से चुप बैठे हैं नवजोत सिंह सिद्धू, नाराजगी ऐसी कि काम-धाम छोड़ चुके हैं, किसी के संपर्क में भी नहीं

    20 दिन से चुप बैठे हैं नवजोत सिंह सिद्धू, नाराजगी ऐसी कि काम-धाम छोड़ चुके हैं, किसी के संपर्क में भी नहीं

    साल 2014 में अमृतसर से अरुण जेटली को उम्मीदवार बनाए जाने के बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने भारतीय जनता पार्टी छोड़ दी थी. सिद्धू ने पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी का हाथ थाम लिया था. बताया जा रहा है कि मोगा में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की रैली में उन्हें बोलने के लिए आमंत्रित नहीं करने पर भी वह नाराज हैं. इसके साथ ही उनके करीबी सूत्रों ने बताया कि वह इस बात से भी नाराज हैं कि वह छत्तीसगढ़ के लिए पार्टी के स्टार प्रचारकों की सूची में नहीं हैं, हालांकि वह देश भर में चुनाव प्रचार की मांग में बने हुए हैं.

Advertisement