NDTV Khabar

पटना पुस्तक मेले


'पटना पुस्तक मेले' - 10 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बिहार पुस्तक मेले का आज सीएम नीतीश करेंगे उद्घाटन, देशभर के 112 प्रकाशक ले रहे हैं हिस्सा

    बिहार पुस्तक मेले का आज सीएम नीतीश करेंगे उद्घाटन, देशभर के 112 प्रकाशक ले रहे हैं हिस्सा

    बिहार की राजधानी पटना के ज्ञानभवन में शनिवार से पुस्तक प्रेमियों की भीड़ उमड़ने लगेगी. यहां 10 दिनों तक बड़ी संख्या में पुस्तक प्रेमियों के शिरकत करने की उम्मीद है

  • पटना बुक फेयर: अंतिम दिन पुरस्कार वितरण व परिचर्चा का दौर चला

    पटना बुक फेयर: अंतिम दिन पुरस्कार वितरण व परिचर्चा का दौर चला

    बिहार की राजधानी के ऐतिहासिक गांधी मैदान में 11 दिन चले पटना पुस्तक मेले के अंतिम दिन पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया और 'प्रेम, सेक्स और साहित्य' विषय पर परिचर्चा हुई. साथ ही राम भगवान सिंह को 'बिहार भारती सम्मान' दिया गया.

  • पटना पुस्तक मेला बना 'सांस्कृतिक महाकुंभ', ऐसा रहा है इसका इतिहास

    पटना पुस्तक मेला बना 'सांस्कृतिक महाकुंभ', ऐसा रहा है इसका इतिहास

    बिहार की राजधानी के ऐतिहासिक गांधी मैदान में चल रहे 11 दिनों के पुस्तक मेले ने अब राज्य के लिए 'सांस्कृतिक महाकुंभ' का रूप ले लिया है. हर साल लगने वाले इस पुस्तक मेले का गौरवशाली इतिहास रहा है.

  • पटना पुस्तक मेले में कथाकार शेखर और मुकुल कुमार की नई किताब का लोकार्पण

    पटना पुस्तक मेले में कथाकार शेखर और मुकुल कुमार की नई किताब का लोकार्पण

    बिहार की राजधानी के ऐतिहासिक गांधी मैदान में चल रहे 11 दिवसीय पटना पुस्तक मेले में शनिवार को आठवें दिन 'मोटिवेशन-शो' का आयोजन किया गया, जिसमें युवाओं ने जाना कि 'मंजिल चलकर आएगी कैसे'. साथ ही कथाकार शेखर और मुकुल कुमार की पुस्तक 'एज ब्वॉयज बिकम मैन' का लोकार्पण किया गया. सेंटर फॉर रीडरशिप डेवलपमेंट (सीआरडी) द्वारा आयोजित 23वें पटना पुस्तक मेले में 'मोटिवेशन-शो' के दौरान युवाओं को बताया गया कि मंजिल चलकर कैसे आएगी. इस मौके पर लक्ष्य को पाने के लिए 'सक्सेस के साइंस' पर भी चर्चा हुई.

  • पटना पुस्तक मेला: बच्चों की भाषणकला ने सबको किया दंग

    पटना पुस्तक मेला: बच्चों की भाषणकला ने सबको किया दंग

    पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में आयोजित 23वें पटना पुस्तक मेले में स्कूली बच्चों की भाषणकला देख अभिभावक और शिक्षक भी दंग रह गए. छठे दिन 'मेनस्ट्रीम मीडिया बनाम अल्टरनेटिव मीडिया' पर परिचर्चा का आयोजन किया गया और कई पुस्तकों का लोकार्पण किया गया

  • पटना पुस्तक मेले में स्कूली बच्चों ने सीखा कथा लेखन

    पटना पुस्तक मेले में स्कूली बच्चों ने सीखा कथा लेखन

    पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में आयोजित 23 वें पटना पुस्तक मेले के चौथे दिन स्कूली छात्र-छात्राओं के लिए कथा लेखन कार्यशाला का आयोजन किया गया, वहीं रंगमंच पर 'मशीन' नाटक का मंचन किया गया. सेंटर फॉर रीडरशिप डेवलपमेंट (सीआरडी) द्वारा आयोजित पटना पुस्तक मेले में भी 18 हजार से ज्यादा पुस्तक प्रेमी पहुंचे और सजी 'किताबों की दुनिया' का आनंद लिया.

  • पटना बुक फेयर में मिल रही है डिजिटल भुगतान की सुविधा

    पटना बुक फेयर में मिल रही है डिजिटल भुगतान की सुविधा

    बिहार की राजधानी पटना के ऐतिहासिक गांधी मैदान में आयोजित 23वें पुस्तक मेले में अगर आप बिना नकद पैसे के साथ भी जा रहें हैं, तो चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है, क्योंकि आप वहां क्रेडिट कार्ड, डेबिट कॉर्ड या पेटीएम से भी भुगतान कर किताबें खरीद सकते हैं. यहीं नहीं कुछ प्रकाशकों ने किताबों की 'होम डिलिवरी' की भी सुविधा प्रदान की है. इन्हीं वजहों से इस साल किताबों की बिक्री भी बढ़ गई है.

  • बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 'कमल' में रंग भरा, सोशल मीडिया पर वायरल

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 'कमल' में रंग भरा, सोशल मीडिया पर वायरल

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को पटना में आयोजित पुस्तक मेले में पद्मश्री बउआ देवी द्वारा कैनवास पर उकेरी गई 'कमल फूल' में कूची उठाकर लाल रंग क्या भरा, यह तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई. नीतीश ने भले ही एक कलाकृति में रंग भरा हो, लेकिन उसे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का चुनाव चिह्न् मानते हुए उसमें उनके द्वारा रंग भरे जाने को लेकर तरह-तरह के कमेंट सोशल मीडिया में आने लगे. मुख्यमंत्री पटना पुस्तक मेला परिसर स्थित 'कलाग्राम' में प्रवेश कर रहे थे, तभी पद्म पुरस्कार से सम्मानित मिथिला पेंटिंग की जानीमानी कलाकार बउआ देवी ने कैनवास पर कमल फूल की तस्वीर बनाई.

  • पटना पुस्तक मेला: मधुशाला हो या गोदान, कायम है पुरानी कृतियों का आकर्षण

    पटना पुस्तक मेला: मधुशाला हो या गोदान, कायम है पुरानी कृतियों का आकर्षण

    'कृतियां कभी नहीं मरतीं, उसके शब्द अमर होते हैं'। रचनाकार भले ही गुजर गए हों, लेकिन उसकी रचनाएं अमर रहती हैं। ऐसा ही कुछ पटना पुस्तक मेले में देखने को मिल रहा है।

  • पुस्तकों की दुनिया में भी 'मास्टर ब्लास्टर' का जादू!

    पुस्तकों की दुनिया में भी 'मास्टर ब्लास्टर' का जादू!

    तेंदुलकर ने अपने क्रिकेट करियर के अंतिम टेस्ट मैच की शुरुआत भले ही मुंबई के मैदान से की है, लेकिन पटना के पुस्तक मेले में भी उनका जादू पुस्तक प्रेमियों के सिर चढ़कर बोल रहा है।