NDTV Khabar

फणीश्वर नाथ रेणु


'फणीश्वर नाथ रेणु' - 4 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • कथाकार फणीश्वर नाथ रेणु के घर चोरी, 'मैला आंचल' समेत कई किताबों का पहला संस्करण ले गए चोर

    कथाकार फणीश्वर नाथ रेणु के घर चोरी, 'मैला आंचल' समेत कई किताबों का पहला संस्करण ले गए चोर

    चोरों ने उनकी कई सारी साहित्य विरासत और पांडुलिपियां चुराकर ले गए .जिसमें रेणु जी के परती परिकथा ,  मैला आंचल और  सत्तर के दशक में चुनाव में हार के बाद अधूरी लिखी काग़ज़ की नांव शामिल हैं . परिवार के सदस्यों की माने तो इसके अलावा कई और किताबें, दुर्लभ चिट्टियां और उनके विधायक रहे पुत्र पद्म प्रयाग रेणु के अहम काग़ज़ात भी शामिल हैं.

  • 'सत्ता को सच, संवेदना व मनुष्यता नहीं, फ़रेब और वोटरों का खून चाहिए', चुनावी तिकड़म पर बोले कुमार विश्वास

    'सत्ता को सच, संवेदना व मनुष्यता नहीं, फ़रेब और वोटरों का खून चाहिए', चुनावी तिकड़म पर बोले कुमार विश्वास

    आस्ट्रेलिया के ला ट्रोब यूनिवर्सिटी के हिन्दी के प्रोफेसर इयान वुल्फोर्ड ने एक ट्वीट किया था, जिसमें साहित्यकार फणीश्वर नाथ रेणु की अक उक्ति का जिक्र किया गया था.

  • बिहार के पानी-पानी होने की कहानी

    बिहार के पानी-पानी होने की कहानी

    गनीमत है कि बगल की गंगा के कारण पटना में पानी नहीं जमा है. आप सोच रहे होंगे कि इस तबाही के बाद पटना गंभीर हो जाएगा तो आप फणीश्वर नाथ रेणु को पढ़िए. बाढ़ पर उससे अच्छी रिपोर्टिंग आपको नहीं मिलेगी. 1975 की बाढ़ का रिपोर्ताज ऋणजल धनजल नाम से प्रकाशित है. उसमें जो पटना दिख रहा है वो आज भी वैसा ही है. समय की सारी अवधारणाओं को ध्वस्त करते हुए अपनी अव्यवस्थाओं से परे पटना के लोग लाचार सरकार की तरफ नहीं

  • किसानी के संग कलम- स्याही करने वाले फणीश्वर नाथ रेणु

    किसानी के संग कलम- स्याही करने वाले फणीश्वर नाथ रेणु

    आज (4 मार्च) मेरे प्रिय लेखक फणीश्वर नाथ रेणु का जन्मदिन है. रेणु अब इस दुनिया में नहीं हैं लेकिन खेत में जब भी फसल की हरियाली देखता हूं तो लगता है कि रेणु हैं, हर खेत के मोड़ पे. उन्हें हम सब आंचलिक कथाकार कहते हैं लेकिन सच यह है कि वे उस फसल की तरह बिखरे हैं जिसमें गांव-शहर सब कुछ समाया हुआ है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com