NDTV Khabar

बनारस चुनाव News in Hindi


'बनारस चुनाव' - 96 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • सपा-बसपा की राह हुई अलग? इन 5 वजहों से टूट गया गठबंधन

    सपा-बसपा की राह हुई अलग? इन 5 वजहों से टूट गया गठबंधन

    समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच लोकसभा चुनाव से पहले हुए गठबंधन का अंत हो गया है. हालांकि इसकी कोई अभी तक औपचारिक घोषणा नहीं हुई है लेकिन मायावती ने 11 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में अकेले दम पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर गठबंधन की स्‍थ‍िति साफ कर दी है. इस मसले पर अभी सपा की ओर से कोई बयान नहीं आया है. सपा-बसपा गठबंधन को पहले भी राजनीतिक विश्‍लेषक बेमेल समझौता बताते आ रहे थे. इस दौरान मायावती की चालाकी का भी जिक्र आया कि कैसे उन्‍होंने अखिलेश यादव के खाते में उन सीटों को दे दिया जिस पर उनकी जीत की कोई गुंजाइश नहीं बन पा रही थी. लखनऊ, गोरखपुर, बनारस, गाजियाबद जैसी लोकसभा सीटें इसके उदाहरण हैं. गठबंधन को लेकर सपा के संस्‍थापक और पूर्व मुख्‍यमंत्री मुलायम सिंह यादव खुश नहीं थे. अपनी नाराजगी उन्‍होंने साफ जाहिर कर दी थी. सपा से अलग होकर शिवपाल सिंह यादव ने अपनी पार्टी बनाई और अपने उम्‍मीदवार सभी सीटों पर उतारे. शिवपाल यादव ने भी इस गठबंधन का मजाक उड़ाया था. गेस्‍ट हाउस कांड का भी जिक्र आया लेकिन कहा गया कि दोनों पार्टियां अब इस हादसे से उबर चुकी हैं. मंच पर मायावती के साथ मुलायम और अखिलेश की कई तस्‍वीरें सामने आईं. हालांकि एक चुनावी भाषण में मायावती यह कहने से नहीं चूकीं कि सपा के कार्यकर्ताओं को बसपा के लोगों से काफी कुछ सीखने की जरूरत है.

  • संजय दत्त की बहन प्रिया दत्त की चुनाव में हुई हार, बॉलीवुड एक्टर ने पीएम नरेंद्र मोदी को किया ये ट्वीट

    संजय दत्त की बहन प्रिया दत्त की चुनाव में हुई हार, बॉलीवुड एक्टर ने पीएम नरेंद्र मोदी को किया ये ट्वीट

    बॉलीवुड एक्टर संजय दत्त (Sanjay Dutt) ने पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को ट्विटर पर बधाई दी है. संजय दत्त की फिल्म 'कलंक (Kalank)' कुछ दिन पहले रिलीज हुई थी.

  • Election Results: चुनाव के नतीजों पर क्या है बनारस के ज्योतिषों की राय, जानें यहां

    Election Results: चुनाव के नतीजों पर क्या है बनारस के ज्योतिषों की राय, जानें यहां

    Election Results 2019: वाराणसी के ज्योतिषियों के अनुसार, ग्रहों की यह स्थिति भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को लोकसभा में सबसे बड़ी पार्टी तो बना सकती है, लेकिन हो सकता है बीजेपी बहुमत तक न पहुंच सके.  पंडित ऋषि द्विवेदी के अनुसार, ग्रहों की स्थिति के कारण लोकतंत्र में अस्थिरता है और यह चुनाव के परिणामों में दिखेगा.

  • बनारस में पीएम मोदी और बीजेपी के लिए मुसीबत बन रहा है ये 27वां 'प्रत्याशी'

    बनारस में पीएम मोदी और बीजेपी के लिए मुसीबत बन रहा है ये 27वां 'प्रत्याशी'

    वाराणसी में विश्वनाथ कॉरिडोर के नाम पर अपने घर गंवाने वालों के अलावा गंगा में क्रूज और जेटी लाने से रोजी रोटी के लिए संघर्ष कर रहा माझी समाज पीएम मोदी से खासा निराश है.

  • Loksabha Elections 2019 : चुनावी महासमर के अंतिम दौर में काशी का युद्ध, प्रचार में जुटेंगे सूरमा

    Loksabha Elections 2019 : चुनावी महासमर के अंतिम दौर में काशी का युद्ध, प्रचार में जुटेंगे सूरमा

    Loksabha Elections 2019 : प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) का रोड शो बीएचयू के पास मालवीय प्रतिमा से शुरू होकर उन्ही रास्तों लंका, अस्सी, शिवाला भदैनी सोनारपुरा मदनपुरा गोदौलिया होते हुए विश्वनाथ मंदिर तक पहुंचेगा जिन रास्तों से प्रधानमंत्री का रोड शो हुआ था. दोनों रोड शो की खास बात यह है कि बनारस (Varanasi) में हिंदुत्व का रंग देने के लिए जहां पीएम मोदी (PM Narendra Modi) दशाश्वमेघ घाट पर गंगा आरती में शामिल होकर शो खत्म किया था तो वहीं प्रियंका गांधी बाबा विश्वनाथ के दरबार में मत्था टेककर अपने रोड शो को खत्म करेंगी.

  • चुनाव न लड़कर भी PM मोदी को मात देने की तैयारी में प्रियंका गांधी, वाराणसी में कैंप कर पूर्वांचल की 13 सीटों को भी देंगी नई धार

    चुनाव न लड़कर भी PM मोदी को मात देने की तैयारी में प्रियंका गांधी, वाराणसी में कैंप कर पूर्वांचल की 13 सीटों को भी देंगी नई धार

    कांग्रेस महासचिव और पूर्वी यूपी की प्रभारी प्रियंका गांधी के बनारस (वाराणसी) से चुनाव लड़ने की खबरें समय-समय पर पूर्वांचल की राजनीति में उफान लाती रहीं लेकिन आखिरी में बनारस से उनके चुनाव न लड़ने के ऐलान के बाद कांग्रेस के हवा का रुख थोड़ा धीमा पड़ गया.

  • तेज बहादुर यादव बोले, मुझे चुनाव लड़ने से रोकने के लिए BJP अपना रही तानाशाही रवैैया, लेकिन...

    तेज बहादुर यादव बोले, मुझे चुनाव लड़ने से रोकने के लिए BJP अपना रही तानाशाही रवैैया, लेकिन...

    तेज बहादुर यादव (Tej Bahadur Yadav) ने दावा किया कि उन्होंने चुनाव अधिकारियों को आवश्यक दस्तावेज सौंपे थे. उन्होंने अफसोस जताते हुए कहा, "मैंने बीएसएफ में रहते हुए उसी बारे में आवाज बुलंद की, जिसे मैंने गलत पाया. मैंने न्याय की उस आवाज को बुलंद करने बनारस आने का फैसला किया था. अगर मेरे नामांकन में कोई समस्या थी तो एक स्वतंत्र उम्मीदवार के रूप में दाखिल करने (मेरे कागजात) के समय उन्होंने मुझे इस बारे में क्यों नहीं बताया.  

  • प्रियंका गांधी क्या वायनाड या अमेठी से लड़ेंगी लोकसभा चुनाव?

    प्रियंका गांधी क्या वायनाड या अमेठी से लड़ेंगी लोकसभा चुनाव?

    प्रियंका गांधी वाड्रा के संसद में पहुंचने की संभावना अभी भी बनी हुई है. उनके बनारस से नहीं लड़ने के पीछे कई तरह के तर्क दिए गए... मायावती की न कहने, बड़े नेताओं के खिलाफ गांधी परिवार के किसी सदस्य के न लड़ने की परंपरा की दुहाई.. जैसी बातें भी कही गईं. यह भी कहा गया कि प्रियंका को अमेठी और मायावती पर ध्यान देने की जरूरत है. मगर इसका मतलब यह नहीं है कि प्रियंका सांसद नहीं बन सकती हैं.

  • बेगूसराय में कैसे जीतेगा कन्हैया कुमार...?

    बेगूसराय में कैसे जीतेगा कन्हैया कुमार...?

    बेगूसराय भी कहीं बनारस साबित न हो, यह डर बिल्कुल निराधार नहीं है. भारत में चुनाव बेशक किसी जश्न से कम नहीं, लेकिन उनको लड़ा किसी जंग की तरह ही जाता है.

  • पीएम मोदी के नामांकन में एनडीए ने दिखाई ताकत, वाराणसी पहुंचे गठबंधन के दिग्गज, 5 बड़ी बातें

    पीएम मोदी के नामांकन में एनडीए ने दिखाई ताकत, वाराणसी पहुंचे गठबंधन के दिग्गज, 5 बड़ी बातें

    उत्तर प्रदेश की वाराणसी संसदीय सीट से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नामांकन दाखिल कर दिया है. गुरुवार को प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी पहुंचे थे और 7 किलोमीटर लंबा रोड शो किया. माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस रोड शोर के जरिए पूर्वांचल की 26 और बिहार की 6 सीटों पर अपना प्रभाव छोड़ना चाहते हैं. उनका यह प्रयोग 2014 के लोकसभा चुनाव में भी रहा है. एनडीए ने वाराणसी से सटी 32 में से 31 सीटें जीत ली थीं. प्रधानमंत्री ने नामांकन से पहले कार्यकर्ताओं को संबोधित किया और काल भैरव के दर्शन किए. पीएम मोदी के नामांकन में हिस्सा लेने के लिए एनडीए के बड़े नेता मौजूद थे. कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, हमें अखबारों और टीवी चैनलों के स्क्रीन ने बड़ा नहीं बनाया है, हमें कार्यकर्ताओं ने बनाया है. पोलिटिकल पंडितों को इस बार फिर से माथापच्ची करनी पड़ेगी, मगर जनता ने मूड बना लिया है'. उन्होंने कृष्ण के गोवर्धन पर्वत  उठाने का संदर्भ देते हुए कहा कि यह चुनाव मोदी नहीं छोटे-छोटे ग्वालों ने अपना हाथ लगाया है, उसके कारण जीतेंगे. पीएम मोदी ने कहा कि कल सोशल मीडिया पर लोगों ने मुझे बहुत डांटा कि रोड शो बंद कर दीजिए, अपनी सुरक्षा का ध्यान रखिए.लेकिन मोदी का कोई ध्यान रखता है तो इस देश की करोड़ों माताएं. वे शक्ति बनकर मेरी सुरक्षाकवच बनती हैं.उन्होंने कहा कि मेरी एक इच्छा है जो मैं गुजरात में भी पूरा नहीं कर पाया. क्या बनारस वाले मेरी वो इच्छा पूरी कर सकते हैं क्या ?मैं चाहता हूं कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं का मतदान 5% ज्यादा होना चाहिए

  • वाराणसी से PM मोदी के खिलाफ क्यों नहीं उतरीं प्रियंका गांधी, जानें क्या है अंदर की कहानी

    वाराणसी से PM मोदी के खिलाफ क्यों नहीं उतरीं प्रियंका गांधी, जानें क्या है अंदर की कहानी

    पूर्वी उत्तरप्रदेश की प्रभारी के तौर पर प्रियंका की यह सोच सही थी मगर राहुल ने मना कर दिया. राहुल का तर्क था कि लोकतंत्र में नेहरू के समय से परंपरा रही है कि दूसरी पार्टियों के नेताओं का भी सम्मान होना चाहिए और चुनाव में उनकी राह में बेवजह रोड़े नहीं अटकाए जाने चाहिए. हालांकि इसका अपवाद भी है कि राजीव गांधी के समय हेमवती नंदन बहुगुणा के सामने अमिताभ बच्चन को कांग्रेस ने मैदान में उतारा था. सोनिया गांधी की यह राय थी कि प्रियंका को बनारस जा कर चुनाव लड़ने की जरूरत नहीं है.

  • Lok Sabha Election Updates: 1 मई को अयोध्या जाएंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, माया बाजार में रैली को करेंगे संबोधित

    Lok Sabha Election Updates: 1 मई को अयोध्या जाएंगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, माया बाजार में रैली को करेंगे संबोधित

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को वाराणसी में रोड शो करेंगे. अगले दिन शुक्रवार को वह लोकसभा चुनाव के लिए पर्चा भरेंगे.

  • ग्राउंड रिपोर्ट: आखिर क्यों बनारस की गलियों में दुकानदारों ने लगाई तख्तियां- 'एक ही भूल कमल का फूल'

    ग्राउंड रिपोर्ट: आखिर क्यों बनारस की गलियों में दुकानदारों ने लगाई तख्तियां- 'एक ही भूल कमल का फूल'

    लोकसभा चुनाव 2019 को लेकर बनारस में विश्वनाथ मंदिर की एक गली इन दिनों चर्चा में है. क्योंकि इस गली के दुकानदारों ने एक तख्ती लगा रखी है.

  • बनारस की राजनीति की गंगा में चंद्रशेखर आजाद भी पहुंचे डुबकी लगाने

    बनारस की राजनीति की गंगा में चंद्रशेखर आजाद भी पहुंचे डुबकी लगाने

    प्रशासन के साथ मीडिया हलकान होने लगा. सबसे बड़ी फ़जीहत तो खुफिया तंत्र की हुई. भीम आर्मी के चीफ चंद्रेशखर वाराणसी के खुफिया तंत्र पर भारी पड़ गए. चंद्रशेखर शहर की सीमा में कैसे दाखिल हुआ, इसे जानने के लिए खुफिया विभाग के अफसर रेलवे स्टेशन से लेकर बाबतपुर एयरपोर्ट तक हांफते रहे, लेकिन कोई खबर नहीं मिली.

  • पीएम मोदी के खिलाफ बनारस से चुनाव लड़ सकते हैं प्रवीण तोगड़िया, सौ सीटों पर पार्टी उतारेगी उम्मीदवार

    पीएम मोदी के खिलाफ बनारस से चुनाव लड़ सकते हैं प्रवीण तोगड़िया, सौ सीटों पर पार्टी उतारेगी उम्मीदवार

    विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) के पूर्व नेता प्रवीण तोगड़िया ने शुक्रवार को कहा कि उनकी नवगठित पार्टी देश भर में करीब 100 लोकसभा सीटों पर चुना लड़ेगी, जिनमें गुजरात की 15 सीटें भी शामिल हैं.

  • Lok Sabha Election Updates: आज BJP जारी कर सकती है उम्मीदवारों की पहली लिस्ट

    Lok Sabha Election Updates: आज BJP जारी कर सकती है उम्मीदवारों की पहली लिस्ट

    प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने प्रयागराज में लेटे हनुमान के दर्शन किए और विधिविधान से गंगा की आरती तथा पूजा करने के बाद क्रूज बोट से अपनी प्रयागराज से बनारस की तीन दिवसीय यात्रा मनैया घाट से सोमवार को शुरुआत की थी. प्रियंका की यह यात्रा छह संसदीय क्षेत्रों प्रयागराज, फूलपुर, भदोही, मिर्जापुर, चंदौली और वाराणसी से होकर गुजरेगी उनकी तीन दिवसीय यात्रा 20 मार्च को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में संपन्न होगी. सोमवार को प्रियंका ने सीतामढ़ी स्थित जानकी मंदिर के गेस्ट हाउस में रात्रि विश्राम किया. वहीं दूसरी ओर मंगलवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) के केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक हो सकती है.

  • प्रियंका गांधी मोटर बोट से करेंगी प्रयागराज से बनारस का सफर, गंगा तीरे की जनता को साधने की तैयारी

    प्रियंका गांधी मोटर बोट से करेंगी प्रयागराज से बनारस का सफर, गंगा तीरे की जनता को साधने की तैयारी

    कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी भी सॉफ्ट हिंदुत्व कार्ड खेलने की तैयारी में हैं. गंगा से बड़ी आबादी की आस्था को ध्यान में रखते हुए प्रियंका गांधी ने लोकसभा चुनाव के मद्देनजर यूपी में नदी तीरे की जनता से रूबरू होने के लिए गंगा यात्रा पर निकलने की तैयारी की है.

  • PM मोदी जब वाराणसी से भर रहे थे पर्चा, तब ये प्रख्यात गायक बने थे प्रस्तावक,अब क्यों हुए नाराज

    PM मोदी जब वाराणसी से भर रहे थे पर्चा, तब ये प्रख्यात गायक बने थे प्रस्तावक,अब क्यों हुए नाराज

    Lok Sabha Polls 2019 : हिंदुस्तानी शास्त्रीय संगीत के प्रख्यात गायक पं. छन्नूलाल मिश्र केंद्र और राज्य की मौजूदा सरकारों की उपेक्षा से काफी व्यथित हैं. 2014 में जब पीएम मोदी वाराणसी से लोकसभा का चुनाव लड़ रहे थे, तब छन्नूलाल मिश्रा उनके प्रस्ताव बने थे.

12345»

Advertisement

 

बनारस चुनाव वीडियो

बनारस चुनाव से जुड़े अन्य वीडियो »