Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

बसपा को मुस्लिम धर्मगुरुओं का समर्थन


'बसपा को मुस्लिम धर्मगुरुओं का समर्थन' - 2 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • यूपी चुनाव परिणाम 2017: बेअसर रही बसपा के पक्ष में मुस्लिम धर्मगुरुओं की अपील, देवबंद जैसी सीट भी गंवाई

    यूपी चुनाव परिणाम 2017: बेअसर रही बसपा के पक्ष में मुस्लिम धर्मगुरुओं की अपील, देवबंद जैसी सीट भी गंवाई

    उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में विभिन्न मुस्लिम संगठनों और धर्मगुरओं का बसपा को समर्थन का ऐलान इस पार्टी के लिए फलदायी होने के बजाय नुकसानदेह साबित हुआ. दिल्ली की जामा मस्जिद के शाही इमाम मौलाना अहमद बुखारी, प्रमुख शिया धर्मगुर और ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के वरिष्ठ सदस्य मौलाना कल्बे जव्वाद और पूर्वांचल के कुछ इलाकों में प्रभावशाली मानी जाने वाली राष्ट्रीय उलेमा काउंसिल समेत कई मुस्लिम संगठनों तथा धर्मगुरुओं ने चुनाव में बसपा को समर्थन का ऐलान करते हुए मुसलमानों से इस पार्टी को वोट देने की अपील की थी.लेकिन सभी दांव फेल हो गए.

  • चुनाव के समय खुलने वाली ‘दुकानों’ की सच्चाई जान चुके हैं मुसलमान : भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा

    चुनाव के समय खुलने वाली ‘दुकानों’ की सच्चाई जान चुके हैं मुसलमान : भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा

    जामा मस्जिद के शाही इमाम सैयद अहमद बुखारी और कुछ अन्य मुस्लिम संगठनों एवं धर्मगुरुओं द्वारा उत्तर प्रदेश में बसपा को समर्थन का ऐलान किए जाने पर कटाक्ष करते हुए भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा ने कहा कि ‘चुनाव के समय खुलने वाली ऐसी दुकानों’ की सच्चाई मुस्लिम समुदाय जान चुका है और आने वाले समय में ऐसी दुकानों पर ताला लग जाएगा. भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के महामंत्री शाकिर हुसैन ने से कहा, ‘‘हर चुनाव में कुछ लोग मुस्लिम वोटों के ठेकेदार बनकर ऐसी दुकानें खोल लेते हैं और किसी न किसी पार्टी के पक्ष में बयान जारी करते हैं. अब मुस्लिम समुदाय इस तरह की दुकानों की सच्चाई जान चुका है. अब लोग इनकी एक भी नहीं सुनने वाले हैं और आने वाले दिनों में ऐसी दुकानों पर ताला लग जाएगा.’’

Advertisement