NDTV Khabar

बारिश


'बारिश' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Howdy Modi से पहले बारिश ने मचाई तबाही! जहां PM Modi देने वाले हैं भाषण, जानें वहां क्या है मौसम का हाल

    Howdy Modi से पहले बारिश ने मचाई तबाही! जहां PM Modi देने वाले हैं भाषण, जानें वहां क्या है मौसम का हाल

    इसके कारण टेक्सास के कई हिस्सों में गवर्नर को आपातकाल घोषित करना पड़ा है. ‘ट्रॉपिकल डिप्रेशन इमेल्डा’ बृहस्पतिवार को टेक्सास पहुंचा जिसके कारण यहां भारी बारिश हुई, बिजली आपूर्ति ठप हो गई और टेक्सास में लोगों को घरों के भीतर रहने की हिदायत दी गई.

  • मध्य प्रदेश के मंदसौर में बाढ़ पीड़ितों पर भड़के मंत्री, कहा- मुआवजा बांटने आया हूं, दूध नहीं, देखें- VIDEO

    मध्य प्रदेश के मंदसौर में बाढ़ पीड़ितों पर भड़के मंत्री, कहा- मुआवजा बांटने आया हूं, दूध नहीं, देखें- VIDEO

    मध्यप्रदेश के मंदसौर (Madhya Pradesh) जिले में बारिश ने भारी तबाही मचाई है. कई लोगों की मौत हुई. मवेशी मारे गये. लोग बेघर हो गये लेकिन इन सबके बीच बाढ़ग्रस्त इलाके में लोगों की तकलीफ बांटने गए जिले के प्रभारी मंत्री का असंवेदनशील बयान सामने आया है, जो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है.

  • Rain Alert : मध्य प्रदेश के 13 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, जानिए अन्य राज्यों के मौसम का हाल

    Rain Alert : मध्य प्रदेश के 13 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी, जानिए अन्य राज्यों के मौसम का हाल

    मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल सहित राज्य के कई हिस्सों में गुरुवार को भी बादल छाए हुए हैं. वहीं मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में राज्य के 13 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. राज्य के अधिकांश हिस्सों में बीते एक सप्ताह से मौसम के मिजाज बदले हुए हैं. कहीं आसमान पर बादलों का डेरा है तो कहीं रुक-रुक कर बारिश हो रही है. मौसम विभाग के अनुसार, कम दबाव का क्षेत्र बनने और द्रोणिका के गुजरने से राज्य के मौसम में बदलाव आया है. बारिश होने और बादलों के छाने से तापमान में भी गिरावट आई है. मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों में सागर, पन्ना, छतरपुर, दमोह, विदिशा समेत 13 जिलों में भारी बारिश होने की चेतावनी देते हुए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

  • भारी बारिश के पूर्वानुमान के बीच थमी मुंबई की रफ्तार, आज बंद रहेंगे स्कूल और कॉलेज

    भारी बारिश के पूर्वानुमान के बीच थमी मुंबई की रफ्तार, आज बंद रहेंगे स्कूल और कॉलेज

    सभी स्कूल और जूनियर कॉलेज आज बंद रहेंगे. सरकार का कहना है कि मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले 48 घंटों तक बहुत तेज बारिश होगी. पीटीआई के मुताबिक एक अधिकारी ने कहा, 'मौसम विभाग ने रेड अलर्ट नोटिस जारी किया है. इससे साफ है कि मुंबई और उसके नजदीकी रायगढ़ में तेज बारिश होगी.' महाराष्ट्र के स्कूल शिक्षा, खेल और युवा कल्याण मंत्री आशीष शेलर ने ट्वीट कर कहा, 'मुंबई, थाने और कोंकन क्षेत्र में भारी बारिश के पूर्वानुमान को देखते हुए सभी स्कूलों और जूनियर कॉलेजों के लिए छुट्टी की घोषणा की गई है. स्थानीय माहौल को देखते हुए महाराष्ट्र के बाकी हिस्सों में डिस्ट्रिक मजिस्ट्रेट यह सुनिश्चित करेंगे.'

  • मध्‍यप्रदेश : बारिश से हुए नुकसान से नाराज लोगों ने सरपंच के पति को सरेआम पीटा

    मध्‍यप्रदेश : बारिश से हुए नुकसान से नाराज लोगों ने सरपंच के पति को सरेआम पीटा

    शनिवार को महागढ़ में बारिश और आंधी की वजह से काफी नुकसान हुआ था. इसके बाद भी सरपंच ने ग्रामीणों की कोई सुध नहीं ली, ना ही मकानों का जायजा लिया. परेशान ग्रामीण रात भर खुले में बैठे रहे. सुबह उठकर उन्होंने सरपंच को बुलाया लेकिन वहां उनके पति पहुंच गये. उसके बाद गांववालों ने कहासुनी के बाद उसकी जमकर पिटाई कर दी.

  • पश्चिमी मध्‍यप्रदेश में बाढ़ से हालात बदतर, हजारों लोगों को बचाया गया

    पश्चिमी मध्‍यप्रदेश में बाढ़ से हालात बदतर, हजारों लोगों को बचाया गया

    2011 बैच के आईएएस अधिकारी, रतलाम जिला कलेक्टर रुचिका चौहान और 2010-बैच के युवा आईपीएस अधिकारी गौरव तिवारी की देखरेख में दो दिनों में NDRF और SDRF कर्मियों ने 10 नौकाओं में रतलाम जिले में और आसपास के 1000 ग्रामीणों को बचाया जिसमें बाजना, आलोट और डोडर गांव शामिल हैं. ग्राउंड जीरो पर तेज़ बहाव के खतरे के बीच रक्षा जैकेट में कलेक्टर रुचिका चौहान और एसपी गौरव तिवारी ने सामने से बचाव दल का नेतृत्व किया.

  • मानसून की दस्तक और वापसी की तारीखों में हो सकता है बदलाव, सरकार कर रही विचार

    मानसून की दस्तक और वापसी की तारीखों में हो सकता है बदलाव, सरकार कर रही विचार

    संपूर्ण भारत में बारिश के मौसम के लिये जिम्मेदार दक्षिण पश्चिम मानसून के सक्रिय होने और इसकी वापसी की तारीखों की समीक्षा के लिये गठित गाडगिल समिति की रिपोर्ट के मुताबिक अगले साल मानसून का कार्यक्रम तय किया जाएगा.

  • राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के कुछ हिस्सों में रविवार सुबह बारिश हुई

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के कुछ हिस्सों में रविवार सुबह बारिश हुई

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के कुछ हिस्सों में रविवार सुबह बारिश हुई, जिससे लोगों को उमस भरे मौसम से कुछ राहत मिली. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि शहर में रविवार सुबह 1.8 मिमी बारिश हुई. उन्होंने बताया कि हालांकि कई स्थानों में बारिश नहीं हुई उनमें वह क्षेत्र भी शामिल हैं जो रिज, पालम और आयानगर मौसम केंद्रों के अंतर्गत आते हैं. उन्होंने बताया कि दिन में बादल छाए रहेंगे और हल्की बारिश होने की संभावना है. न्यूनतम तापमान 27.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो इस मौसम के औसत तापमान से तीन डिग्री सेल्सियस अधिक है. अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस तक रह सकता है. मौसम विभाग के अधिकारी ने बताया कि सापेक्ष आर्द्रता सुबह आठ बजकर 30 मिनट पर 81 फीसदी दर्ज की गई. 

  • दिल्ली-एनसीआर में उमस भरी गर्मी से मिल सकती है लोगों को राहत, रविवार को बारिश की संभावना

    दिल्ली-एनसीआर में उमस भरी गर्मी से मिल सकती है लोगों को राहत, रविवार को बारिश की संभावना

    मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली का अधिकतम तापमान 35.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो इस मौसम में सामान्य से एक डिग्री अधिक है जबकि न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन डिग्री अधिक यानी 27.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. सापेक्षिक आर्द्रता 80 से 63 प्रतिशत के बीच घटती-बढ़ती रही. 

  • NEWS FLASH: IND vs SA 1st T20I: बारिश से धुल गया भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच होने वाला पहला टी20 मुकाबला

    NEWS FLASH: IND vs SA 1st T20I: बारिश से धुल गया भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच होने वाला पहला टी20 मुकाबला

    देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार इसी एक पेज पर जानें...

  • मध्य प्रदेश: आगर मालवा में बारिश बनी आफत, पानी भरने के बाद लोग छतों पर रहने को मजबूर

    मध्य प्रदेश: आगर मालवा में बारिश बनी आफत, पानी भरने के बाद लोग छतों पर रहने को मजबूर

    जानकारी के मुताबिक जिस घर की दीवार गिरी, स्थानीय युवाओं ने दरवाजा तोड़कर दंपत्ति को बाहर निकाला. पुलिस कर्मियों ने बुजुर्ग पति पत्नी को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया. बारिश की वजह से आगर मालवा में न सिर्फ नदियां उफान पर हैं बल्कि नाले भी उफान पर नजर आ रहे हैं. बस्ती इलाकों में पानी भर जाने से करीब 5 हजार लोग प्रभावित हुए हैं.

  • इंदौर में दौड़ेगी मेट्रो, सीएम कमलनाथ ने 7,500.80 करोड़ रुपये की लागत वाली परियोजना की नींव रखी

    इंदौर में दौड़ेगी मेट्रो, सीएम कमलनाथ ने 7,500.80 करोड़ रुपये की लागत वाली परियोजना की नींव रखी

    मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में शहरी लोक परिवहन का एक नया अध्याय जुड़ गया है. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने शनिवार को 7,500.80 करोड़ रुपये की लागत वाली मेट्रो रेल परियोजना की नींव रखी. रिमझिम बारिश और वैदिक मंत्रोच्चार के बीच संपन्न भूमिपूजन कार्यक्रम में कमलनाथ ने शहर के एमआर-10 रोड पर टोल नाके के पास इस बहुप्रतीक्षित परियोजना के निर्माण कार्य की औपचारिक शुरूआत की. इस कार्यक्रम में सूबे के नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्धन सिंह और कुछ अन्य मंत्री तथा स्थानीय जन प्रतिनिधि मौजूद थे. 

  • दिल्लीवासियों को कब मिलेगी उमस से राहत, जानें मौसम का हाल

    दिल्लीवासियों को कब मिलेगी उमस से राहत, जानें मौसम का हाल

    मौसम विभाग के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी के निवासियों को उमस भरे मौसम से हाल फिलहाल कोई राहत मिलती नहीं दिख रही है. हालांकि शुक्रवार को कुछ स्थानों पर हल्की बारिश की संभावना है. मौसम विभाग ने बताया कि दक्षिण पश्चिमी उत्तर प्रदेश में कम दबाव वाले क्षेत्र के कारण सप्ताहांत में शहर में हल्की बारिश की संभावना है.

  • बारिश कराने के लिए पहले कराई मेंढक की शादी, अब रोकने के लिए कराया तलाक

    बारिश कराने के लिए पहले कराई मेंढक की शादी, अब रोकने के लिए कराया तलाक

    मध्यप्रदेश में दो महीने पहले बारिश की दुआ मांगते हुए मेंढक और मेंढकी की शादी कराई गई थी. मध्यप्रदेश में इस बार इतनी बरसात हुई कि बाढ़ के हालात बन गए हैं. अब खतरनाक बारिश को रोकने के लिए दोनों का तलाक करा दिया गया है.

  • मध्यप्रदेश में बारिश और बाढ़ से 202 लोगों की मौत, 32 लोग घायल हुए

    मध्यप्रदेश में बारिश और बाढ़ से 202 लोगों की मौत, 32 लोग घायल हुए

    मध्यप्रदेश में बारिश का कहर जारी है. राज्य सरकार के आंकड़ों के मुताबिक, लगातार हो रही बारिश से 202 लोगों की मौत हो चुकी है, 32 लोग घायल हुए हैं जबकि 631 मवेशियों की भी जान गई है.राज्य में 9816 घरों को आंशिक रूप से नुकसान पहुंचा है, जबकि कुल 231 घर पूरी तरह ध्वस्त हो गए हैं. एनडीआरएफ और एसडीआरएफ टीमों के अलावा स्थानीय प्रशासन राहत और बचाव में जुटा है, 8500 से अधिक लोगों की जान बचाकर उन्हें अस्थायी राहत शिविरों और आश्रयों में पहुंचाया गया है.

  • गुजरात की जिद और मध्यप्रदेश में नर्मदा में डूबता जीवन, ग्रामीण जाएं तो जाएं कहां? देखें - VIDEO

    गुजरात की जिद और मध्यप्रदेश में नर्मदा में डूबता जीवन, ग्रामीण जाएं तो जाएं कहां? देखें - VIDEO

    जैसे-जैसे नर्मदा का जलस्तर बढ़ रहा है, सरदार सरोवर भरता जा रहा है. इसके साथ ही मध्यप्रदेश के कई गांव इतिहास का हिस्सा बनते जा रहे हैं. गुजरात इतनी हड़बड़ी में है कि उसने सरदार सरोवर बांध को भरने के समय की शर्तों का भी उल्लंघन कर दिया. इसको लेकर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने केंद्र सरकार को खत लिखा है. मांग की गई है कि इस संबंध में जल्द से जल्द बैठक बुलाई जाए. NDTV के पास नर्मदा में डूबते गांवों के कुछ ऐसे वीडियो हैं जिनमें गांव और उनमें रहने वाले लोगों की पीड़ा खुद बयां हो रही है. नर्मदा की धाराएं गांवों में घुसकर उन्हें लीलने पर आमादा हैं. नदी की धाराओं और ग्रामीणों की आंखों से बहती अश्रु धाराओं में प्रतिस्पर्धा चल रही है. अपनी जमीन, अपने गांव, अपने घर और अपनी स्मृतियों के डूबने की पीड़ा, अपनी जड़ों से जुदा होने की पीड़ा, सरकार के बेसहारा छोड़ देने की पीड़ा इन ग्रामीणों के लिए असहनीय है.

  • मध्य प्रदेश में बारिश के कहर से नहीं बच सके मंत्रियों के भी बंगले, छतों से टपक रहा पानी

    मध्य प्रदेश में बारिश के कहर से नहीं बच सके मंत्रियों के भी बंगले, छतों से टपक रहा पानी

    मध्य प्रदेश में जारी भारी बारिश के चलते नदी-नाले उफान पर हैं और जनजीवन प्रभावित हो रहा है. लगातार हो रही बारिश ने तो अब प्रदेश के मंत्रियों से लेकर विधायकों को भी परेशान कर दिया है.

  • सोशल मीडिया पर 'डोरियन तूफान' का ये वीडियो 70 लाख के पार, जानिए क्या है इसकी सच्चाई

    सोशल मीडिया पर 'डोरियन तूफान' का ये वीडियो 70 लाख के पार, जानिए क्या है इसकी सच्चाई

    बहामास में आए डोरियन तूफान (Hurricane Dorian) ने खूब तबाही मचाई. अमेरिका के पूर्वी तट पर बड़ी संख्या में लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया. 290 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चली हवाएं चलीं, जिस वजह से तेज बारिश हुई. समुद्र में ऊंची-ऊंची लहरें उठीं. इस प्राकृतिक आपदा की वजह से अभी तक 43 लोगों की जानें जा चुकी हैं. बहामास के प्रधानमंत्री हुबर्ट मिनिस ने भी इस तूफान को अब तक का सबसे भयावह तूफान बताया.

Advertisement