NDTV Khabar

बारिश से तबाही


'बारिश से तबाही' - 143 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • जम्मू कश्मीर: पुंछ जिले में बादल फटने से मची तबाही,कई घर हुए क्षतिग्रस्त तो कई वाहन बारिश में बह गए

    जम्मू कश्मीर: पुंछ जिले में बादल फटने से मची तबाही,कई घर हुए क्षतिग्रस्त तो कई वाहन बारिश में बह गए

    अधिकारियों ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि बादल फटने से डिंगला क्षेत्र का ऊपरी इलाका प्रभावित हुआ जिसके बाद आयी बाढ़ में कुछ घर और सड़कें क्षतिग्रस्त हो गईं. उन्होंने बताया कि बाढ़ में ऊपरी डिंगला के मुख्य संपर्क मार्ग से दो मोटरसाइकिलें और एक कार बह गई. हालांकि, किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है. लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए राहतकर्मी तैनात किये गए हैं. 

  • Cyclone Amphan: पश्चिम बंगाल में अम्फन का कहर, तस्वीरों में देखिए पानी में डूबा एयरपोर्ट और तूफान से प्रभावित इलाके

    Cyclone Amphan: पश्चिम बंगाल में अम्फन का कहर, तस्वीरों में देखिए पानी में डूबा एयरपोर्ट और तूफान से प्रभावित इलाके

    अम्फन की वजह से भारी बारिश हुई और कई इलाकों में भारी मात्रा में जलभराव देखने को मिला. कोलकाता एयरपोर्ट में भी पानी भर गया और तेज हवाओं से एयरपोर्ट का कुछ हिस्सा भी मामूली रूप से क्षतिग्रस्त हुआ है. एयरपोर्ट की सभी सेवाओं को आज सुबह 5 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया था. फिलहाल कार्गों और बचाव संबंधी ऑपरेशन शुरू कर दिए गए हैं.

  • सुपर साइक्‍लोन अम्‍फान के प्रभाव से उठ रही 5 मीटर ऊंची लहरें, इस घंटे से जुड़ीं 5 खास बातें..

    सुपर साइक्‍लोन अम्‍फान के प्रभाव से उठ रही 5 मीटर ऊंची लहरें, इस घंटे से जुड़ीं 5 खास बातें..

    Super Cyclone Amphan Update: चक्रवाती तूफान 'अम्फान' के असर के कारण ओडिशा और बंगाल के कुछ हिस्सों में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है. इस तूफान के बुधवार शाम 4 से 6 बजे के बीच बंगाल से टकराने की संभावना है. प्रचंड चक्रवातीय तूफान ‘अम्फान' के कारण होने वाली तबाही को ध्यान में रखते हुए एनडीआरएफ ने जानमाल की हानि/क्षति रोकने के लक्ष्य से बल की 53 टीमें तैनात की हैं.रिकॉर्ड्स रखे जाने के बाद से यह पूर्वोत्तर हिंद महासागर में बनने वाला यह दूसरा "सुपर साइक्लोन" है और इसे हाल के वर्षों में बंगाल की खाड़ी के सबसे भीषण तूफानों में से एक बताया जा रहा है.

  • Cyclone Amphan पर मौसम विभाग के DG बोले- मचा सकता है भारी तबाही, 1999 के बाद पहली बार समुद्र में सुपर साइक्लोन

    Cyclone Amphan पर मौसम विभाग के DG बोले- मचा सकता है भारी तबाही, 1999 के बाद पहली बार समुद्र में सुपर साइक्लोन

    मोहपात्रा ने बताया, "चक्रवाती तूफान अम्फान से पश्चिम बंगाल के 24 परगना और ईस्ट मिदनापुर में ज़्यादा असर होगा.  कल सुबह यह बांग्लादेश पहुंचेगा. तब तक इसका विंड इमपैट खत्म हो जाएगा पर रेन फॉल इम्पैक्ट रहेगा. इसकी वजह से पश्चिम बंगाल और असम में कल भारी बारिश होगी. आज पश्चिम बंगाल में सबसे ज़्यादा बारिश होगी.

  • कर्नाटक- केरल और तमिलनाडु के कई हिस्सों में भारी बारिश ने बढ़ाई परेशानी, बाढ़ जैसे हालात, पढ़ें 10 बड़ी बातें 

    कर्नाटक- केरल और तमिलनाडु के कई हिस्सों में भारी बारिश ने बढ़ाई परेशानी, बाढ़ जैसे हालात, पढ़ें 10 बड़ी बातें 

    कर्नाटक- केरल और तमिलनाडु के कई इलाकों में भारी बारिश ने एक बार फिर से बाढ़ जैसे हालात बना दिए हैं. भारी बारिश की वजह से कई नदियां उफान पर हैं. सबसे बुरा हाल उत्तरी कर्नाटक और चिकमगलुरु का है. मिली जानकारी के अनुसार बीते कुछ दिनों में उत्तरी कर्नाटक में भारी बारिश ने तबाही मचाई हुई है. इस वजह से कई नदियां, छोटी नदियां और नाले उफान पर हैं, जिससे इस साल अगस्त में आई बाढ़ की यादें ताज़ा हो गई हैं. राज्य के कई प्रभावित जिलों में पानी निचले इलाकों में स्थित घरों और स्कूलों बैंकों समेत सरकारी इमारतों में घुस गया है. बेलगावी दो महीने पहले आई बाढ़ से अब तक उभर भी नहीं पाया था कि एक बार फिर भारी बारिश यहां कहर बनके आई है. मौसम विभाग ने बताया कि बेलगावी में रविवार शाम से सोमवार सुबह तक 58.1 मिमि बारिश दर्ज की गई है. बेलगावी शाहपुर उपनगर में तीन घर ढह गए. वहीं, गांवों को जोड़ने वाली कई सड़कें पानी में डूब गई हैं जिस वजह से यातायात बाधित हो गया है. राष्ट्रीय राजमार्ग चार रविवार रात को बंद दिया गया था. इस वजह से कई गाड़ियां बीच में ही फंस गई हैं. कर्नाटक राष्ट्रीय प्राकृतिक आपदा निगरानी केंद्र के निदेशक जीएस श्रीनिवास रेड्डी ने बताया कि अगले दो-तीन दिनों में कृष्णा और उसकी सहायक नदियों में बारिश का पानी तेजी से बढ़ सकता है. वहीं, केरल के सात जिलों में भारी बारिश की चेतावनी के साथ ‘रेड अलर्ट’ जारी किया गया है. दक्षिणी राज्य के अलग-अलग स्थानों पर अत्यंत भारी बारिश का अनुमान जताया गया है. केरल राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के अनुसार सोमवार को तिरुवनंतपुरम, अलप्पुझा, कोट्टायम, एर्नाकुलम, इडुक्की, त्रिशूर और पलक्कड़ में में रेड अलर्ट जारी किया गया है, जबकि चार जिलों में मंगलवार को जारी किया जाएगा.  मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने लोगों से सतर्क रहने को कहा है. रेड अलर्ट जारी होने के बाद जल्द प्रभावित होने वाले क्षेत्रों से लोगों को निकालकर शिविरों में ले जाया जाता है और लोगों को आपातकालीन किट उपलब्ध कराने समेत कई एहतियाती कदम उठाए जाते हैं. 

  • बिहार के पानी-पानी होने की कहानी

    बिहार के पानी-पानी होने की कहानी

    गनीमत है कि बगल की गंगा के कारण पटना में पानी नहीं जमा है. आप सोच रहे होंगे कि इस तबाही के बाद पटना गंभीर हो जाएगा तो आप फणीश्वर नाथ रेणु को पढ़िए. बाढ़ पर उससे अच्छी रिपोर्टिंग आपको नहीं मिलेगी. 1975 की बाढ़ का रिपोर्ताज ऋणजल धनजल नाम से प्रकाशित है. उसमें जो पटना दिख रहा है वो आज भी वैसा ही है. समय की सारी अवधारणाओं को ध्वस्त करते हुए अपनी अव्यवस्थाओं से परे पटना के लोग लाचार सरकार की तरफ नहीं

  • उत्तर प्रदेश में बारिश ने मचाई तबाही, अभी तक 93 लोगों की मौत

    उत्तर प्रदेश में बारिश ने मचाई तबाही, अभी तक 93 लोगों की मौत

    राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, 'बाढ़ वाले इलाकों से पानी को बाहर निकालने के लिए तत्काल व्यापक इंतजाम किए जाने चाहिए. साथ ही बाढ़ से प्रभावित लोगों को राहत सामग्री मुहैया कराई जानी चाहिए.' इसके साथ ही कहा गया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में खाद्य सामग्री की आपूर्ति को सुनिश्चित करते हुए राहत कार्यों में तेजी लाई जानी चाहिए.

  • Howdy Modi से पहले बारिश ने मचाई तबाही! जहां PM Modi देने वाले हैं भाषण, जानें वहां क्या है मौसम का हाल

    Howdy Modi से पहले बारिश ने मचाई तबाही! जहां PM Modi देने वाले हैं भाषण, जानें वहां क्या है मौसम का हाल

    इसके कारण टेक्सास के कई हिस्सों में गवर्नर को आपातकाल घोषित करना पड़ा है. ‘ट्रॉपिकल डिप्रेशन इमेल्डा’ बृहस्पतिवार को टेक्सास पहुंचा जिसके कारण यहां भारी बारिश हुई, बिजली आपूर्ति ठप हो गई और टेक्सास में लोगों को घरों के भीतर रहने की हिदायत दी गई.

  • सोशल मीडिया पर 'डोरियन तूफान' का ये वीडियो 70 लाख के पार, जानिए क्या है इसकी सच्चाई

    सोशल मीडिया पर 'डोरियन तूफान' का ये वीडियो 70 लाख के पार, जानिए क्या है इसकी सच्चाई

    बहामास में आए डोरियन तूफान (Hurricane Dorian) ने खूब तबाही मचाई. अमेरिका के पूर्वी तट पर बड़ी संख्या में लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया. 290 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चली हवाएं चलीं, जिस वजह से तेज बारिश हुई. समुद्र में ऊंची-ऊंची लहरें उठीं. इस प्राकृतिक आपदा की वजह से अभी तक 43 लोगों की जानें जा चुकी हैं. बहामास के प्रधानमंत्री हुबर्ट मिनिस ने भी इस तूफान को अब तक का सबसे भयावह तूफान बताया.

  • Ganesh Chaturthi: गणेश चतुर्थी की हर तरफ धूम, पीएम मोदी भी ट्वीट कर बोले- गणपति बाप्पा मोरया!

    Ganesh Chaturthi: गणेश चतुर्थी की हर तरफ धूम, पीएम मोदी भी ट्वीट कर बोले- गणपति बाप्पा मोरया!

    पारम्परिक पूजा-अर्चना और 'गणपति बप्पा मोरिया' के नारों के बीच श्रद्धालुओं ने मुम्बई सहित महाराष्ट्र के कई हिस्सों में गणेश उत्सव की शुरुआत की. आर्थिक मंदी के काले बादल और राज्य के कुछ हिस्सों में भारी बारिश के बाद बाढ़ से मची तबाही के बीच इस 10 दिवसीय त्योहार की शुरुआत यहां की गई.

  • केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र में बाढ़ का कहर, 160 से ज्यादा की मौत

    केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र में बाढ़ का कहर, 160 से ज्यादा की मौत

    बाढ़ की वजह से केरल, कर्नाटक और महाराष्ट्र में भीषण तबाही हुई है. केरल में सबसे ज़्यादा लोगों की मौत हुई है. यहां मृतकों का आंकड़ा 85 हो गया है जबकि 53 लोग लापता हैं. राज्य में 13 सौ से ज़्यादा राहत शिविर बनाए गए हैं. जिसमें क़रीब ढाई लाख लोगों ने शरण ली है. राहत शिविरों में प्रशासन लोगों को सभी ज़रूरी चीज़ें मुहैया करवा रहा है. पूरे केरल से राहत और बचाव की कई जज़्बे की तस्वीरें सामने आ रही हैं. लोगों को लगातार सेना, NDRF और SDRF की टीमें बचाने में जुटी हैं. वहीं राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र वायनाड पहुंचे हैं जो बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हैं.  

  • दक्षिण से लेकर पश्चिम भारत तक बाढ़ का कहर, अब तक 183 लोगों की मौत

    दक्षिण से लेकर पश्चिम भारत तक बाढ़ का कहर, अब तक 183 लोगों की मौत

    बारिश से बेहाल दक्षिण और पश्चिम भारत को रविवार को भी कहीं से कोई राहत नहीं मिली और केरल में जहां 72 लोगों की मौत हुई है वहीं कर्नाटक, महाराष्ट्र और गुजरात में बारिश और बाढ़ के कारण 111 लोगों की जान चली गयी है. दक्षिण भारत के राज्य कर्नाटक में सभी नदियां उफान पर हैं.

  • Cyclone Fani: तूफान फानी की वजह से ओडिशा में तीन लोगों की मौत, पुरी के कई इलाके जलमग्न

    Cyclone Fani: तूफान फानी की वजह से ओडिशा में तीन लोगों की मौत, पुरी के कई इलाके जलमग्न

    चक्रवाती तूफान फानी (Cyclone Fani) ने भारी बारिश और 175 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार की प्रचंड हवाओं के साथ शुक्रवार को सुबह ओडिशा तट पर दस्तक दी. तूफान के कारण काफी पेड़ उखड़ गए और झोपड़ियां तबाह हो गईं. अभी तक इसकी वजह से तीन लोगों की मौत होने की खबर है. साथ ही पुरी के कई इलाके जलमग्न हो गए.

  • तेज आंधी-तूफान, बारिश का कहर: मध्य प्रदेश में 16 और राजस्थान में 6 की ली जान, फसल को भारी नुकसान

    तेज आंधी-तूफान, बारिश का कहर: मध्य प्रदेश में 16 और राजस्थान में 6 की ली जान, फसल को भारी नुकसान

    हालांकि न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक 16 लोगों की मौत हुई है. कई जगह पर ओले पड़ने से खेतों में फसल भी खराब हो गई है. खेतों में खड़ी और काट कर रखी फसलों के अलावा मंडियों में खरीद के बाद खुले में रखा सैकड़ों क्विंटल गेहूं और लहसुन भींग गया.

  • भारी बारिश से मची तबाही, बहा ले गई पूरा Bridge, बार-बार देखा जा रहा है दिल दहलानेवाला ये Video

    भारी बारिश से मची तबाही, बहा ले गई पूरा Bridge, बार-बार देखा जा रहा है दिल दहलानेवाला ये Video

    भूकंप हो या फिर बाढ़, जब भी आती है कुछ नहीं बचता. ये प्राकृतिक आपदा अपने साथ सब बहा कर ले जाती हैं. हाल ही में कुदरत का भयानक कहर देखने को मिला. जब एक लंबा-चौड़ा मज़बूत ब्रिज पानी की लहरें अपने साथ बहा कर ले गईं. आप भी देखिए ये सहमा देने वाला वीडियो...

  • 'तितली' तूफान हुआ बेहद विकराल, ओडिशा में स्कूल-कॉलेज बंद, आंध्रप्रदेश में भी अलर्ट, 10 बातें...

    'तितली' तूफान हुआ बेहद विकराल, ओडिशा में स्कूल-कॉलेज बंद, आंध्रप्रदेश में भी अलर्ट, 10 बातें...

    बेहद खतरनाक रूप ले चुके चक्रवाती तूफान 'तितली' (Cyclone Titli) के गुरुवार को बंगाल की खाड़ी पार करने की आशंका को देखते हुए आंध्र प्रदेश के उत्तरी तटीय जिलों में हाईअलर्ट जारी किया गया. तूफान (Cyclone) की रफ्तार 165 किलोमीटर प्रति घंटे तक बढ़ रही है और उसके कारण भारी बारिश और तबाही आने की आशंका है. तूफ़ान ओडिशा और आंध्रप्रदेश के समुद्र तटीय इलाक़ों की ओर बढ़ रहा है. जिसकी वजह से इस पूरे क्षेत्र में भारी बारिश की भी आशंका है. तितली के ख़तरे के मद्देनज़र ओडिशा और आंध्रप्रदेश सरकार ख़ास एहतियात बरत रही है. ओडिशा में चार ज़िलों के सभी स्कूलों और कॉलेजों को बंद रखने का आदेश दिया गया है. ख़तरे की जगहों पर मौजूद लोगों को हटाया जा रहा है. ओडिशा से लगभग 3 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. साथ ही मछुआरों को समुद्र से दूर रहने की हिदायत दी गई है. ओडिशा में इस तूफान के गुरुवार सुबह साढ़े पांच बजे दस्तक देने की आशंका है. ओडिशा सरकार ने पांच तटीय जिलों में लोगों से घरों को खाली कराना शुरू कर दिया है. मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने हालात का जायजा लिया. उन्होंने गंजम, पुरी, खुर्दा, केंद्रपाड़ा और जगतसिंहपुर जिलों के कलेक्टरों से तटीय क्षेत्र में निचले इलाकों में रह रहे लोगों से तुरंत घर खाली कराने के लिए कहा है.

  • Rain Alert : पंजाब से लेकर हिमाचल और उत्तराखंड तक भारी बारिश और बाढ़ का कहर, स्कूल-कॉलेज बंद और सेना अलर्ट पर

    Rain Alert :  पंजाब से लेकर हिमाचल और उत्तराखंड तक भारी बारिश और बाढ़ का कहर, स्कूल-कॉलेज बंद और सेना अलर्ट पर

    हिमाचल और जम्मू कश्मीर में बारिश-बाढ़ ने बड़ी तबाही मचाई है. अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है. हिमाचल के कई इलाक़ों में भारी बारिश के बाद बाढ़ जैसे हालात हैं. चांबा में स्थित चमेरा डैम के गेट खोलने पड़े हैं.

  • केरल के बाद अब उत्तर प्रदेश में भारी बारिश ने मचाई तबाही, अब तक 254 की मौत, 10 बड़ी बातें

    केरल के बाद अब उत्तर प्रदेश में भारी बारिश ने मचाई तबाही, अब तक 254 की मौत, 10 बड़ी बातें

    उत्तर प्रदेश में जानलेवा बनी बारिश की वजह से पिछले 24 घंटे के दौरान 16 की मौत हो गयी है और 12 जख्मी हो गये हैं. ये जानकारी राहत आयुक्त कार्यालय से प्राप्त रिपोर्ट से मिली है. इनमें शाहजहांपुर में सबसे ज्यादा छह लोगों की मौत हो गयी. इसके अलावा सीतापुर में तीन, अमेठी तथा औरैया में दो-दो और लखीमपुर खीरी, रायबरेली एवं उन्नाव में एक-एक व्यक्ति की वर्षाजनित दुर्घटनाओं में मौत हुई है. पूरे प्रदेश में ऐसे हादसों में 12 लोग जख्मी भी हुए हैं. इसके अलावा कुल 461 मकान अथवा झोपड़ियां भी क्षतिग्रस्त हुई हैं.  उत्तर प्रदेश में इस साल मानसून की बारिश में 254 लोगों की मौत हो चुकी है. पूरे देश में मानसून के दौरान 1400 से ज्यादा लोगों की गई जान गई है जिसमें सबसे ज्यादा केरल (488) में लोगों की मौत हुई है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com