NDTV Khabar

बिहार का मुख्यमंत्री


'बिहार का मुख्यमंत्री' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बिहार के तीन बार मुख्यमंत्री रहे जगन्नाथ मिश्र का 82 साल की उम्र में निधन, लंबे समय से चल रहे थे बीमार

    बिहार के तीन बार मुख्यमंत्री रहे जगन्नाथ मिश्र का 82 साल की उम्र में निधन, लंबे समय से चल रहे थे बीमार

    बिहार के तीन बार मुख्यमंत्री रह चुके मिश्र की बचपन से ही राजनीति में रुचि थी. उन्होंने कॉलेज के प्रोफेसर के रूप में अपना करियर प्रारंभ किया लेकिन इसके बाद वे राजनीति में आ गए और कांग्रेस में शामिल हो गए. डॉ. मिश्र केंद्रीय मंत्री का भी दायित्व संभल चुके थे. वे वर्तमान में जनता दल (युनाइटेड) में थे. 

  • जानिए जगन्नाथ मिश्र के प्रोफेसर से लेकर बिहार के मुख्यमंत्री बनने तक का सफर

    जानिए जगन्नाथ मिश्र के प्रोफेसर से लेकर बिहार के मुख्यमंत्री बनने तक का सफर

    बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्र (Ex Bihar CM Jagannath Mishra) का दिल्ली में निधन हो गया. 82 वर्षीय जगन्नाथ मिश्र (Jagannath Mishra) लंबे समय से बीमार थे. उन्हें ब्लड कैंसर था. मिश्र के निधन पर बिहार में 3 दिन के राजकीय शोक का ऐलान किया गया है. मिश्र के निधन पर कई दिग्गज नेताओं ने शोक व्यक्त किया है. जगन्नाथ मिश्र (Jagannath Mishra) का राजनीतिक सफर बेहद दिलचस्प है.

  • नीतीश कुमार का वादा- अगले साल तक बिहार के हर घर को नल का पानी मिलेगा

    नीतीश कुमार का वादा- अगले साल तक बिहार के हर घर को नल का पानी मिलेगा

    बिहार के मुख्यमंत्री अपने तीसरे कार्यकाल में अब हर वर्ष अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड तो जारी नहीं करते लेकिन स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर राजधानी पटना के गांधी मैदान से अपने भाषण में सरकार के कामकाज, खासकर सात निश्चय पर अभी तक हुए कामों का लेखाजोखा जरूर दे देते हैं. बृहस्पतिवार को भी अपने भाषण में चुनाव के एक वर्ष पूर्व नीतीश कुमार ने हर घर में नल का जल अगले साल तक पहुंचाने का वादा किया. नीतीश का कहना है कि अधिकांश वादे पूरे किए जा चुके हैं.

  • खुद को मुख्यमंत्री का ओएसडी बताकर ठगी करने वाला गिरफ्तार 

    खुद को मुख्यमंत्री का ओएसडी बताकर ठगी करने वाला गिरफ्तार 

    वैशाली जिले के भगवानपुर थाना अंतर्गत करहरी गांव निवासी शशिभूषण मुजफ्फरपुर के सदर थाना अंतर्गत खबरा मुहल्ला में किराए के मकान में रह रहा था और उसे स्थानीय पुलिस और आर्थिक अपराध इकाई की टीम ने कुढनी थाना अंतर्गत फकुली चेकपोस्ट पर धर दबोचा.

  • 'कश्मीरी बहू' वाला बयान देकर घिरे हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर, राहुल गांधी ने की निंदा

    'कश्मीरी बहू' वाला बयान देकर घिरे हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर, राहुल गांधी ने की निंदा

    हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर का विवादित बयान आया है. शुक्रवार को एक कार्यक्रम में मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि अब हरियाणा के लोग भी कश्मीरी बहू ला सकते हैं. उन्होंने कहा, 'हमारे मंत्री ओपी धनखड़ कहते थे कि वह बिहार से 'बहू' लाएंगे. आजकल लोग कह रहे हैं कि कश्मीर का रास्ता साफ हो गया है. अब हम कश्मीर से लड़कियां लाएंगे'. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक सीएम खट्टर ने यह बयान फरीदाबाद में आयोजित एक कार्यक्रम में दिया है.  खट्टर ने आगे कहा कि हरियाणा लैंगिक अनुपात को लेकर बदनाम रहा है. लोग कहा करते थे कि बच्चियों को यहां मार दिया जाता है. हमने बच्चियों को बचाने के लिए अभियान चलाया है. पहले 1000 बच्चों पर 850 बेटियां होती थीं लेकिन अब बेटियों की संख्या बढ़कर 933 हो गई है. पीएम मोदी की ओर से बीजेपी नेताओं को दी जा रही अनुशासन की सीख के बीच भी ऐसी बयानबाजी जारी है. 

  • कश्मीर पर आखिर सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को सलाह दे डाली

    कश्मीर पर आखिर सुशील मोदी ने नीतीश कुमार को सलाह दे डाली

    पिछले दो दिनों से बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को आर्टिकल 370 के मुद्दे पर विरोधियों से ज़्यादा अपने सहयोगियों और समर्थकों से सलाह और नसीहत मिल रही हैं. हर मुद्दे पर राजद को कोसने वाले नीतीश कुमार मंत्रिमंडल के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी ने भी इस मुद्दे पर नीतीश कुमार को कुछ सलाह दी है.

  • क्या बिहार में मुस्लिम नेताओं की मजबूरी बनते जा रहे हैं नीतीश कुमार?

    क्या बिहार में मुस्लिम नेताओं की मजबूरी बनते जा रहे हैं नीतीश कुमार?

    इन दिनों बिहार की राजनीति में इस बात पर सबसे ज़्यादा बहस होती है कि क्या बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विपक्षी दलों के मुस्लिम नेताओं की पसंद के साथ मजबूरी बनते जा रहे हैं? दरअसल विपक्षी राजद और कांग्रेस के नेताओं के बीच सार्वजनिक रूप से नीतीश कुमार के कामकाज की तारीफ और फिर उनकी पार्टी में शामिल होने की होड़ लगी है. ऐसे में यह सवाल और भी ज्यादा पूछा जाने लगा है कि भले ही नीतीश कुमार बीजेपी के साथ सरकार चला हैं लेकिन वे क्या बिहार की राजनीति में सक्रिय मुस्लिम नेताओं की पहली पसंद हैं?

  • बिहार में चमकी बुखार से प्रभावित परिवारों को तीन माह में सारी सुविधाएं मिलेंगी

    बिहार में चमकी बुखार से प्रभावित परिवारों को तीन माह में सारी सुविधाएं मिलेंगी

    बिहार सरकार ने चमकी बुखार से प्रभावित 538 परिवारों का सर्वेक्षण करवाने के बाद अब संकल्प लिया है कि सभी प्रभावित परिवारों के छूटे हुए सभी बच्चों का अगले तीन महीने में आंगनबाड़ी केंद्र से पंजीकरण करा लिया जाएगा. इस सर्वेक्षण की विस्तृत रिपोर्ट बुधवार शाम को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के सामने पेश की गई. सर्वे के दौरान यह पाया गया कि 49 प्रतिशत से अधिक बच्चों का आंगनबाड़ी केंद्रों में पंजीकरण नहीं हुआ था.

  • राज्यसभा में तीन तलाक बिल पर नीतीश कुमार ने इस तरह की मोदी सरकार की मदद

    राज्यसभा में तीन तलाक बिल पर नीतीश कुमार ने इस तरह की मोदी सरकार की मदद

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) अगले साल विधानसभा चुनाव बीजेपी (BJP) के साथ गठबंधन में ही लड़ेंगे. इसका संकेत मंगलवार को तीन तलाक (Teen Talaq Bill) के मुद्दे पर राज्यसभा (Rajya Sabha) में जनता दल यूनाइटेड (JDU) के रुख से मिला. जनता दल यूनाइटेड के राज्यसभा सांसदों के बिल के खिलाफ मतदान से यह बिल खतरे में पड़ सकता था. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के निर्देश पर ही पार्टी के सभी सांसदों ने बजाय मतदान में बाग लेने के सदन का बहिष्कार कर दिया. इससे केंद्र सरकार को न केवल राहत मिली बल्कि इस बिल के राज्यसभा में पारित होने का रास्ता भी आसान हो गया.

  • बाढ़ से अब तक 127 की मौत : आखिरकार पीएम मोदी को आई बिहार की सुध, सीएम नीतीश से फोन पर जाना हाल

    बाढ़ से अब तक 127 की मौत : आखिरकार पीएम मोदी को आई बिहार की सुध, सीएम नीतीश से फोन पर जाना हाल

    बिहार बाढ़ की समस्या से पिछले तीन हफ़्ते से जूझ रहा है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को पहली बार इस साल के बाढ़ की समस्या पर राज्य के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी से बातचीत की. प्रधानमंत्री ने बिहार को अब हर संभव सहायता देने का आश्वासन दिया है यह जानकारी उन्होंने सोमवार देर शाम ख़ुद भी ट्वीट कर दी.  दरअसल इस मुद्दे पर जब विधानसभा सत्र चल रहा था तो विपक्ष ने कई बार यह कह कर सरकार को घेरने की कोशिश की कि आखिरकार क्या बात है कि इस बार ना ही प्रधानमंत्री और न ही कोई केंद्रीय मंत्री बाढ़ की स्थिति का जायज़ा लेने के लिए राज्य का दौरा कर रहा है और न ही अभी तक क्षति का आकलन करने के लिए कोई केंद्रीय टीम भेजी गई है.

  • बिहार में बाढ़ का कहर जारी, पीएम मोदी ने की सीएम नीतीश कुमार से बात

    बिहार में बाढ़ का कहर जारी, पीएम मोदी ने की सीएम नीतीश कुमार से बात

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को बिहार में बाढ़ के हालात का जायजा लिया. राज्य में पिछले कुछ दिनों में सैलाब की वजह से 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. पीएम मोदी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी से बात की. उन्होंने ट्वीट किया, 'केंद्र सरकार प्रभावित लोगों की मदद करने के लिए राज्य सरकार के साथ मिलकर काम कर रही है. हम हर संभव जरूरी सहायता देना जारी रखेंगे.'

  • आजम के बचाव में आए बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री, पूछा- मां-बेटे को किस करती है तो क्या यह...? देखें VIDEO

    आजम के बचाव में आए बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री, पूछा- मां-बेटे को किस करती है तो क्या यह...? देखें VIDEO

    संसद में तीन तलाक बिल (Triple Talaq Bill) पर चर्चा के दौरान बीजेपी सांसद रमा देवी (Rama Devi) पर आजम खान के विवादित बयान से सियासी बवाल मचा हुआ है. समाजवादी पार्टी (SP) के सांसद आजम खान (Azam Khan) पर कार्रवाई की मांग हो रही है. इस बीच बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा (HUM) के अध्यक्ष जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने विवादित बयान दे दिया है.

  • दो साल पहले पीएम मोदी के लिए चुनौती बने रहे नीतीश कुमार अब उन्हीं की कृपा पर निर्भर

    दो साल पहले पीएम मोदी के लिए चुनौती बने रहे नीतीश कुमार अब उन्हीं की कृपा पर निर्भर

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का वर्तमान कार्यकाल इसलिए देश के राजनीतिक इतिहास में महत्वपूर्ण माना जाएगा कि उन्होंने जिस दल के साथ मिलकर विरोधी दल को पराजित किया उसी दल के साथ डेढ़ साल में फिर सरकार भी बनाई. दूसरी तरफ चुनाव में सहयोगी रहे दल को विपक्ष में बैठने पर मजबूर किया. शनिवार को बीजेपी के साथ नीतीश कुमार का दो वर्षों का कार्यकाल पूरा हो जाएगा. इन दो वर्षों में राजनीतिक रूप से नीतीश को हुए हानि-लाभ का यदि हिसाब करें तो वे नुकसान में जाते दिखाई देते हैं. दो साल पहले नीतीश कुमार को गैर एनडीए दलों में बहुत मजबूत नेता माना जाता था. यहां तक कि उन्हें प्रधानमंत्री पद के लिए भी प्रबल दावेदार माना जाता था. पीएम नरेंद्र मोदी के लिए चुनौती बने रहने वाले नीतीश कुमार आज उन्हीं के रहमोकरम पर बिहार की सत्ता की नैया खेते नजर आ रहे हैं.

  • नीतीश कुमार ने माना, बाढ़ से जूझ रहे बिहार को और मदद की दरकरार

    नीतीश कुमार ने माना, बाढ़ से जूझ रहे बिहार को और मदद की दरकरार

    बाढ़ से जूझ रही बिहार सरकार को केंद्र से और मदद की दरकार है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को विधान सभा में माना कि केंद्र सरकार से और सहयोग चाहते हैं. हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि अपनी और से निरंतर काम लेते रहेंगे. नीतीश कुमार , आरजेडी के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दीक़ी के सवाल का जवाब दे रहे थे कि आख़िर केंद्र के तरफ़ से कोई बिहार के बाढ़ के बारे में सुध ली गयी है या नहीं.

  • बिहार का चारा घोटाला : भैंस के सींग में तेल लगाने के नाम पर भी 15 लाख रुपये हड़पे गए थे

    बिहार का चारा घोटाला : भैंस के सींग में तेल लगाने के नाम पर भी 15 लाख रुपये हड़पे गए थे

    बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी चारा घोटाले और राजद अध्यक्ष लालू यादव के घोटालों के कारनामे याद दिलाने का कोई मौका नहीं छोड़ते.

  • 'कुछ दिन तो गुजारिए गांव में...', नीतीश कुमार ने कांग्रेस के इस विधायक को दे डाली सलाह

    'कुछ दिन तो गुजारिए गांव में...', नीतीश कुमार ने कांग्रेस के इस विधायक को दे डाली सलाह

    ऐसे ही घटनाक्रम में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कांग्रेस के विधान पार्षद प्रेम चंद मिश्रा को कुछ दिन गांव में गुज़ारने की सलाह दे डाली. दरअसल प्रेम चंद मिश्रा ने कुछ राज्यों का हवाला देते हुए सामाजिक सुरक्षा पेंशन 400 रुपये से बढ़ाकर एक हज़ार रुपये करने की मांग की.

  • बिहार की सियासत में 'एक प्याली चाय' ने मचाया घमासान, जानें- आखिर क्यों बरपा है हंगामा?

    बिहार की सियासत में 'एक प्याली चाय' ने मचाया घमासान, जानें- आखिर क्यों बरपा है हंगामा?

    रविवार को बाढ़ राहत कैम्पों का दौरा करने के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार राजद के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दीक़ी के गांव पहुंच गए, जहां उनका स्वागत एक प्याली चाय से किया गया. लेकिन इसके बाद इस चाय पीने और पिलाने का हर व्यक्ति अपने हिसाब से मायने निकाल रहा है. वहीं, मेजबान सिद्दीकी और मेहमान नीतीश कुमार मौन साधे हुए हैं कि इस चाय पर क्या चर्चा हुई.

  • सुशील मोदी के बयान का अब बिहार की राजनीति में एक ही सच ‘एक बार फिर नीतीश कुमार'

    सुशील मोदी के बयान का अब बिहार की राजनीति में एक ही सच ‘एक बार फिर नीतीश कुमार'

    बिहार के उप मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने सोमवार को यह कहकर कि अगले विधानसभा चुनाव में भी NDA मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में ही चुनाव मैदान में जाएगी एक साथ कई राजनीतिक अटकलों पर विराम लगा दिया है. सुशील मोदी के इस बयान के तुरंत दो अर्थ तत्काल निकाले जा रहे हैं. एक भारतीय जनता पार्टी फ़िलहाल विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार को डंप कर अकेले चुनाव में किसी पिछड़ा ख़ासकर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय को मुख्यमंत्री पद का चेहरा बनाकर चुनाव में नहीं जाना चाहती है.