NDTV Khabar

बिहार चुनाव 2015


'बिहार चुनाव 2015' - 765 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • नीतीश ने राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया, सोमवार को होगा शपथ ग्रहण

    नीतीश ने राज्यपाल से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया, सोमवार को होगा शपथ ग्रहण

    गौरतलब है कि हाल में संपन्न बिहार विधानसभा चुनाव में रोमांचक मुकाबले में राजग गठबंधन को 125 सीटें हासिल हुईं, जबकि विपक्षी महागठबंधन को 110 सीटें मिली हैं. राजग में भाजपा को 74 सीटें, जद (यू) को 43, हम और वीआईपी को चार-चार सीटें मिली हैं. 2015 के विधानसभा चुनावों में जद (यू) को 71 सीटें मिली थीं.

  • बिहार चुनाव : चुनावी रुझानों में BJP ने मारी बाजी? नीतीश कुमार से निकली आगे

    बिहार चुनाव : चुनावी रुझानों में BJP ने मारी बाजी? नीतीश कुमार से निकली आगे

    साल 2015 का चुनाव नीतीश कुमार ने राजद और कांग्रेस के साथ मिलकर लड़ा था. इससे 2 साल पहले नीतीश कुमार ने नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री के तौर पर पेश करने पर लंबे समय से सहयोगी रही बीजेपी से नाता तोड़ लिया था. हालांकि, कांग्रेस और आरजेडी के साथ जेडीयू का यह साथ लंबे समय तक नहीं चल सका. 

  • कोरोना वायरस महामारी के बावजूद बिहार में 2015 से अधिक मतदान हुआ

    कोरोना वायरस महामारी के बावजूद बिहार में 2015 से अधिक मतदान हुआ

    वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण के बावजूद इस बार बिहार विधानसभा चुनाव में वर्ष 2015 की तुलना में अधिक लोगों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया . इस बार प्रदेश में मतदान का प्रतिशत 57.05 रहा . निर्वाचन आयोग के आंकड़ों में यह स्पष्ट हुआ है. आयोग के आंकड़ों के अनुसार बिहार में 2015 में हुए विधानसभा चुनाव में 56.66 फीसदी मतदाताओं ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया था वहीं इस साल कोविड—19 के बावजूद 57.05 प्रतिशत मतदान हुआ.

  • बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे और अंतिम चरण में हुआ 55.22% मतदान

    बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे और अंतिम चरण में हुआ 55.22% मतदान

    Bihar Election 3rd Phase Voting: बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे और अंतिम चरण में 55.22% मतदान हुआ है. चुनाव आयोग ने यह जानकारी दी. 2015 में हुए विधानसभा चुनाव में 56.66 फीसदी मतदान हुआ था. आखिरी चरण की 78 विधानसभा सीटों पर करीब 2.34 करोड़ वोटर हैं, जो अपने मताधिकार का इस्तेमाल कर रहे हैं. सभी की निगाहें राज्य में सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) और विपक्षी महागठबंधन के बीच कांटे के मुकाबले पर टिकी हैं. चुनाव में राजग जहां सरकार विरोधी कारक (एंटी इन्कम्बेंसी फैक्टर) को टालने के लिये पूरा जोर लगा रहा है, वहीं राजद नीत महागठबंधन भी पूरे जोश में है. देखना होगा कि मतदान दूसरे चरण के 55.6 फीसदी से आगे जा पाता है या नहीं.

  • बिहार चुनाव: शिवानंद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा- क्या आपको हार का अहसास हो गया है?

    बिहार चुनाव: शिवानंद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा- क्या आपको हार का अहसास हो गया है?

    Bihar Election 2020: राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के वरिष्ठ नेता और पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी (Shivanand Tivary) ने कहा है कि प्रधानमंत्री जी को बिहार के चुनाव में हार का एहसास हो गया लगता है. इसलिए उनकी भाषा बदल गई है. अब वे भारत माता और जय श्री राम के सहारे चुनाव की वैतरणी पार करना चाहते हैं. यही उनका ब्रह्मास्त्र है. एक बयान में शिवानंद तिवारी ने कहा कि पिछले छह वर्षों से केंद्र में प्रचंड बहुमत के साथ उनकी सरकार है. देश के अधिकांश प्रांतों में प्रधानमंत्री जी की पार्टी की ही सरकार है. लेकिन आज भी सकारात्मक मुद्दों पर चुनाव जीत पाने का आत्मविश्वास वे अपने में पैदा नहीं कर पाए हैं. लेकिन अब बहुत विलंब हो चुका है. बिहार के लोगों ने एक भ्रष्ट और अनैतिक सरकार से मुक्ति पाने का मन बना लिया है.

  • "उम्मीद है अपने वादों को भूल नहीं होंगे आप" : तेजस्वी यादव ने PM मोदी को लिखा खत

    तेजस्वी ने पत्र में लिखा, "उम्मीद करते हैं कि आप बिहारवासियों से किए गए वादों को भूले नहीं होंगे और उन्हें पूरा करेंगे. 2015 के बाद से बिहारवासी लगातार इस इंतजार में हैं कि कब बिहार को विशेष राज्य का दर्जा मिलेगा."

  • चुनाव में अपराधी: बिहार में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन नहीं, 32 फीसदी उम्मीदवार दागी

    चुनाव में अपराधी: बिहार में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पालन नहीं, 32 फीसदी उम्मीदवार दागी

    Bihar Election 2020: बिहार चुनावों में इस बार 2015 के मुकाबले दागी उम्मीदवारों की संख्या ज्यादा है. इस बार बिहार में 32 प्रतिशत उम्मीदवार ऐसे हैं जिनके खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं. मर्डर, रेप और किडनेपिंग जैसे जघन्य अपराधों के मामले 25 प्रतिशत उमीदवारों के खिलाफ दर्ज हैं. जेल में बंद बाहुबली नेता और पूर्व सांसद आनंद मोहन सिंह की पत्नी लवली आनंद और उनके बेटे चेतन आनंद, दोनों ही इस बार चुनाव मैदान में हैं. हालांकि इन चुनावों मैं ऐसे लोग भी बड़ी तादाद में हैं जिनके खिलाफ सीधे आरोप हैं.

  • RJD, कांग्रेस और JDU ने झूठ बोलकर अल्पसंख्यकों का वोट लिया : ओवैसी

    RJD, कांग्रेस और JDU ने झूठ बोलकर अल्पसंख्यकों का वोट लिया : ओवैसी

    AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने शनिवार को कहा कि राजद, कांग्रेस और जदयू ने झूठ बोलकर अल्पसंख्यकों का वोट लिया और बिहार के सीमांचल क्षेत्र पर कोई ध्यान नहीं दिया. अररिया में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, ‘‘ बिहार में 2015 के चुनाव में गठबंधन के नाम पर खासकर अल्पसंख्यकों को राजद, कांग्रेस और जदयू के लोगों ने झूठ बोलकर वोट हासिल किया.’’

  • बिहार चुनाव : रैली में PM मोदी की अयोध्या पर टिप्पणी ने दिलाई नीतीश कुमार के 2015 वाले तंज की याद

    बिहार चुनाव : रैली में PM मोदी की अयोध्या पर टिप्पणी ने दिलाई नीतीश कुमार के 2015 वाले तंज की याद

    मिथिला पहुंचे हुए पीएम ने यहां पर अयोध्या में मंदिर निर्माण को लेकर एक टिप्पणी की है, जिससे लोगों की नीतीश कुमार को लेकर एक पुरानी याद ताजा हो गई है. नीतीश कुमार ने कभी मंदिर निर्माण को लेकर बीजेपी पर तंज कसा था, आज पीएम मोदी की यह टिप्पणी उसी तंज के अंडरटोन में थी. 

  • PM मोदी के बिहार दौरे से पहले तेजस्वी यादव ने 'बेरोजगारी-पलायन-शेलटर होम कांड' समेत पूछे ये 11 सवाल 

    PM मोदी के बिहार दौरे से पहले तेजस्वी यादव ने 'बेरोजगारी-पलायन-शेलटर होम कांड' समेत पूछे ये 11 सवाल 

    Bihar Assembly Election 2020: 2015 के चुनाव में प्रधानमंत्री जी ने कथित सुशासनी सरकार के 33 घोटाले गिनाए थे? उसके बाद हज़ारों करोड़ के सृजन सहित अन्य 27 बड़े घोटाले हुए हैं. सृजन घोटाले के मुख्य आरोपियों को सीबीआई अभी तक पकड़ नहीं पाई है. घोटालों के मास्टरमाइंड खुलेआम एनडीए नेताओं के साथ क्यों घूम रहे है?

  • महागठबंधन में भाकपा माले- कितने अवसर, कितनी चुनौती?

    महागठबंधन में भाकपा माले- कितने अवसर, कितनी चुनौती?

    2015 के विधानसभा चुनावों में भाकपा माले ने लगभग अकेले दम पर तीन सीटें जीती थीं- बलरामपुर, दरौली और तरारी. बेशक, तरारी वाली सीट वह बहुत कम अंतर से जीत पाई थी- शायद मुश्किल से सवा दो सौ या ढाई सौ वोटों से. लेकिन भोजपुर क्षेत्र में उसकी वापसी का मज़बूती भरा इशारा भी थी. सुदामा प्रसाद को पूरे दो दशक बाद यह कामयाबी मिली थी. बेशक, तब वाम मोर्चे के नाम पर जुटे बहुत सारे दलों का गठबंधन उसके साथ था, लेकिन उन चुनावों में भाकपा-माकपा- किसी का खाता नहीं खुल पाया था. जाहिर है, माले की जीत उसकी अपनी थी.

  • बिहार चुनाव: नीतीश कुमार, सुशील मोदी ने किया चुनाव प्रचार, लालू यादव पर बोला हमला

    बिहार चुनाव: नीतीश कुमार, सुशील मोदी ने किया चुनाव प्रचार, लालू यादव पर बोला हमला

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने रविवार को संयुक्त चुनाव प्रचार के दौरान अपने विरोधी एवं प्रदेश की मुख्य विपक्षी पार्टी राजद के प्रमुख लालू प्रसाद पर उनकी पार्टी के शासनकाल के दौरान राज्य में अपराध की स्थिति और विकास कार्य नहीं होने को लेकर जोरदार प्रहार किया.

  • सुशील मोदी का सवाल, 'बिना नौकरी/बिजनेस के तेजस्‍वी के पास लोन देने के लिए करोड़ों रु. कहां से आए'

    सुशील मोदी का सवाल, 'बिना नौकरी/बिजनेस के तेजस्‍वी के पास लोन देने के लिए करोड़ों रु. कहां से आए'

    (Bihar Assmbly Polls: मोदी के अनुसार, तेजस्‍वी ने वर्ष 2015 के एफिडेविट में दिखाया था कि उन्‍होंने एक करोड़ सात लाख रुपये का लोन किसी भारतीय कंपनी को दिया, बिना किसी नौकरी/व्‍यवसाय के उनके पास इतना पैसा कहा से आ गया कि उन्‍होंने किसी को चार करोड़ 10 लाख रुपये का ऋण दे दिया.

  • बिहार में चिराग पासवान के 'सिरदर्द' बनने के लिए बीजेपी क्यों प्रशांत किशोर को दे रही दोष?

    बिहार में चिराग पासवान के 'सिरदर्द' बनने के लिए बीजेपी क्यों प्रशांत किशोर को दे रही दोष?

    Bihar Election: डैमेज कंट्रोल में लगे बीजेपी के थिंकटैंक का मानना है कि प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) इन सब के पीछे हैं. बता दें कि पिछले चुनाव में पीएम नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार के लिए चुनावी सफलता में चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर का भी बड़ा हाथ माना जाता है.

  • कहीं त्रिशंकु न हो जाय बिहार चुनाव के नतीजे? 2005 की कहानी दोहराई तो क्या करेंगे चिराग पासवान?

    कहीं त्रिशंकु न हो जाय बिहार चुनाव के नतीजे? 2005 की कहानी दोहराई तो क्या करेंगे चिराग पासवान?

    2015 के चुनावों में बीजेपी के साथ रहते हुए लोजपा मात्र दो सीटें ही जीत पाई थी और 36 सीटों पर नंबर दो रही थी. इनमें से 20 सीटें ऐसी थीं, जहां उसने जेडीयू उम्मीदवारों को सीधे टक्कर दी थी.

  • बिहार चुनाव: 7 बार से लगातार जीत रही बीजेपी, गया शहर सीट पर नीतीश के मंत्री प्रेम कुमार की बोलती है तूती!

    बिहार चुनाव: 7 बार से लगातार जीत रही बीजेपी, गया शहर सीट पर नीतीश के मंत्री प्रेम कुमार की बोलती है तूती!

    1990 के विधानसभा चुनाव में प्रेम कुमार ने यहां से पहली बार जीत दर्ज की थी, उसके बाद विपक्ष ने उनके खिलाफ हर बार नए-नए उम्मीदवार उतारे लेकिन कोई उन्हें हरा न सका.

  • बिहार चुनाव: लालू-नीतीश का एका भी बाल बांका न कर सका, 25 साल से पटना साहिब से MLA हैं नंदकिशोर यादव

    बिहार चुनाव: लालू-नीतीश का एका भी बाल बांका न कर सका, 25 साल से पटना साहिब से MLA हैं नंदकिशोर यादव

    2015 में उन्होंने बहुत ही कम मतों के अंतर से राजद के संतोष मेहता को पटखनी दी थी. यादव को 88,108 वोट मिले थे जबकि मेहता को 85,316 वोट मिले थे.

  • बिहार चुनाव: दो दशक तक विधायक रहे दिग्गज और पूर्व CM के बीच सियासी दंगल का अखाड़ा बनी इमामगंज सीट

    बिहार चुनाव: दो दशक तक विधायक रहे दिग्गज और पूर्व CM के बीच सियासी दंगल का अखाड़ा बनी इमामगंज सीट

    इमामगंज सीट औरंगाबाद लोकसभा सीट के तहत पड़ता है. 2015 के बाद यहां का सियासी समीकरण बदल चुका है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com