NDTV Khabar

ब्रिटिश सरकार


'ब्रिटिश सरकार' - 96 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • भारतीय मूल के प्रेम सिक्का ब्रिटिश संसद के लिए नामित किए गए

    भारतीय मूल के प्रेम सिक्का ब्रिटिश संसद के लिए नामित किए गए

    भारतीय मूल के अकादमिक प्रेम सिक्का को ब्रिटेन के हाउस ऑफ लॉर्ड्स के लिए चुना गया है. वे इस सदन के 36 नए सदस्यों में से एक हैं. वे उत्तरी इंग्लैंड के शेफील्ड विश्वविद्यालय में अकाउंटिंग के एक एमेरिटस प्रोफेसर हैं. सदन के नए सदस्यों में इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सर इयान बॉथम और ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के छोटे भाई और पूर्व सांसद, जो जॉनसन भी शामिल हैं. सरकार द्वारा नए सदस्यों के नामों की सिफारिश के बाद शुक्रवार को महारानी एलिजाबेथ द्वितीय ने भी सदस्यों के चयन की पुष्टि कर दी है.

  • ब्रिटेन में टेस्‍ट शुरू, कोरोना वायरस का सूंघकर पता लगाएंगे डॉग्‍स!

    ब्रिटेन में टेस्‍ट शुरू, कोरोना वायरस का सूंघकर पता लगाएंगे डॉग्‍स!

    यह परीक्षण यह स्थापित करेंगे कि क्या ये कुत्ते भविष्य में कोरोना वायरस की पहचान के लिये बिना किसी उपकरण के इस्तेमाल के ही शुरुआती चेतावनी प्रणाली हो सकते हैं. ‘‘लंदन स्कूल ऑफ हाइजीन एंड ट्रॉपिकल मेडिसिन’’ (एलएसएचटीएम) में शोधकर्ता पहले चरण में धर्मार्थ ‘‘मेडिकल डिटेक्शन डॉग्स’’ और दरहम विश्वविद्यालय के साथ मिलकर परीक्षण करेंगे.

  • ब्रिटेन ने दाऊद के सहयोगी टाइगर हनीफ के प्रत्यर्पण का भारत का अनुरोध ठुकराया...

    ब्रिटेन ने दाऊद के सहयोगी टाइगर हनीफ के प्रत्यर्पण का भारत का अनुरोध ठुकराया...

    हनीफ को ग्रेटर मैनचेस्टर के बोल्टॉन के एक किराना दुकान में दिखने के बाद स्कॉटलैंड यार्ड ने प्रत्यर्पण वारंट के आधार पर फरवरी 2010 में गिरफ्तार किया था. हनीफ (57) ने उसके बाद ब्रिटेन में रहने का प्रयास करते हुए बार-बार यह कहा है कि भारत भेजे जाने पर वहां उसे प्रताड़ित किया जाएगा.

  • ब्रिटिश सरकार पर अल्पसंख्यकों में कोविड-19 के अधिक खतरे की स्वतंत्र जांच का दबाव बढ़ा

    ब्रिटिश सरकार पर अल्पसंख्यकों में कोविड-19 के अधिक खतरे की स्वतंत्र जांच का दबाव बढ़ा

    ब्रिटेन की सरकार पर भारतीयों सहित विभिन्न जातीय अल्पसंख्यकों में कोविड-19 के अधिक खतरे के पीछे के कारणों की स्वतंत्र जांच कराने को लेकर रविवार को दबाव बढ़ गया. ब्रिटिश अश्वेत, एशियाई और अल्पसंख्यक जताीय समुदाय (बीएएमई) की पृष्ठभूमि वाले करीब 70 प्रमुख हस्तियों ने प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन को लिखे पत्र में कहा कि कोविड-19 ने ब्रिटेन में नस्ली और स्वास्थ्य असमानता को रेखांकित किया है.

  • ब्रिटिश सरकार ने भारत की ओर से 30 लाख पैरासिटामॉल के पैकेट की पहली खेप भेजने के लिए जताया आभार

    ब्रिटिश सरकार ने भारत की ओर से 30 लाख पैरासिटामॉल के पैकेट की पहली खेप भेजने के लिए जताया आभार

    भारत की ओर से भेजे गए 30 लाख पैरासिटामॉल के पैकेट की पहली खेप रविवार को ब्रिटेन पहुंचेगी. ब्रिटिश सरकार ने कोरोनावायरस की महामारी के चलते लागू प्रतिबंध के बावजूद इस महत्वपूर्ण दवा का निर्यात करने पर भारत सरकार का आभार व्यक्त किया. विदेश एवं राष्ट्रमंडल कार्यालय में दक्षिण एशिया और राष्ट्रमंडल मामलों के राज्यमंत्री लॉर्ड तारिक अहमद ने शुक्रवार को कहा कि यह खेप अभूतपूर्व वैश्विक संकट के दौरान दोनों देशों के बीच सहयोग का प्रतीक है. 

  • Coronavirus: भारतीय मूल के इस डॉक्टर के आगे झुकी ब्रिटिश सरकार, सोशल मीडिया पर मुहिम के बाद बदले दिशा निर्देश

    Coronavirus:  भारतीय मूल के इस डॉक्टर के आगे झुकी ब्रिटिश सरकार, सोशल मीडिया पर मुहिम के बाद बदले दिशा निर्देश

    पिछले कई हफ्ते से 31 वर्षीय डॉ.जोशी सोशल मीडिया का इस्तेमाल राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) के अंतर्गत कोरोना वायरस के संक्रमितों का इलाज कर रहे चिकित्सा पेशेवरों के समक्ष पीपीई की कमी का मुद्दा उठाने के लिए कर रहे हैं. वह चिकित्सा कर्मियों के बेहतर सुरक्षा उपकरणों के लिए स्पष्ट दिशा निर्देश देने की मांग कर रहे हैं. 

  • ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने अपने देशवासियों को लिखी चिट्ठी में कहा, 'हालात बेहतर होने से पहले ...'

    ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन ने अपने देशवासियों को लिखी चिट्ठी में कहा, 'हालात बेहतर होने से पहले ...'

    कोरोनावायरस से संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद खुद की इच्छा से अलग रह रहे ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने सभी ब्रिटिश परिवारों को पत्र लिखकर कोरोनावायरस की महामारी से लड़ने के लिए घरों में रहने, सामाजिक मेल मिलाप से दूरी बनाने के नियम का अनुपालन करने का आह्वान किया है. इसके साथ ही उन्होंने चेतावनी दी है कि परिस्थितियां ठीक होने से पहले खराब होंगी. प्रधानमंत्री की लिखी चिट्ठी कोरोनावायरस से लड़ने के लिए सरकार द्वारा जारी परामर्श की पुस्तिका के साथ डाक के जरिये तीन करोड़ घरों को भेजी जा रही है जिस पर करीब 58 लाख पाउंड की लागत आई है. जॉनसन ने कहा कि वह सख्त कदम उठाने से भी नहीं हिचकेंगे.

  • अनुच्छेद 370 हटाने की आलोचना करने वालीं ब्रिटिश सांसद को वापस भेजने पर सरकार का बयान- उन्हें पूरे सम्मान के साथ भेजा था वापस

    अनुच्छेद 370 हटाने की आलोचना करने वालीं ब्रिटिश सांसद को वापस भेजने पर सरकार का बयान- उन्हें पूरे सम्मान के साथ भेजा था वापस

    विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया, 'उनके (डेबी अब्राहम्स) पास वैध वीजा नहीं था. जिसके बाद उन्हें दिल्ली एयरपोर्ट से ही बड़ी इज्जत से वापस भेजा गया. ब्रिटिश सांसद की ओर से भारत के खिलाफ निरंतर अभियान चलाया जाता है. हम मानते हैं कि उनके बयान और उनकी विचारधारा भारत के खिलाफ है.'

  • कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी बोले- ब्रिटिश सांसद को वापस भेजना बहुत जरूरी था, बताई वजह

    कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी बोले- ब्रिटिश सांसद को वापस भेजना बहुत जरूरी था, बताई वजह

    सिंघवी ने ट्वीट कर कहा , 'डेबी अब्राहम्स को भारत द्वारा वापस भेजा जाना वाकई में जरूरी था क्योंकि वह सिर्फ एक सांसद नहीं, बल्कि पाकिस्तान की प्रतिनिधि हैं जो पाक सरकार और आईएसआई के साथ अपनी नजदीकियों के लिए जानी जाती हैं. भारत की संप्रभुता पर हमला करने के हर प्रयास को विफल करना होगा.'

  • J&K से अनुच्छेद 370 हटाने पर मोदी सरकार की आलोचना करने वालीं ब्रिटिश सांसद को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका, वापस भेजा दुबई

    J&K से अनुच्छेद 370 हटाने पर मोदी सरकार की आलोचना करने वालीं ब्रिटिश सांसद को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका, वापस भेजा दुबई

    ब्रिटिश संसद की सदस्य और कश्मीर के लिए ऑल पार्टी पार्लियामेंट्री ग्रुप की प्रेसिडेंट डेबी अब्राहम्स सोमवार को दुबई से भारत पहुंची थीं लेकिन दिल्ली एयरपोर्ट पर ही उन्हें रोक दिया गया. उन्हें बताया गया कि उनका ई-वीजा रद्द कर दिया गया है. जिसके बाद उन्हें वापस दुबई भेज दिया गया.

  • सावरकर के खिलाफ बोले मैग्सेसे पुरस्कार विजेता संदीप पांडे, मामला दर्ज

    सावरकर के खिलाफ बोले मैग्सेसे पुरस्कार विजेता संदीप पांडे, मामला दर्ज

    संदीप पांडेय ने कहा कि देश की गंगा-जमुनी संस्कृति के विपरीत समाज को हिंदू और मुसलमानों में बांटने वाले लोग वही हैं, जिन्होंने ब्रिटिश राज के दौरान भी यही काम किया था और इसके बदले ब्रिटिश हुकूमत से वजीफा पाते थे. ये 'फूट डालो और राज करो' की अंग्रेजों की नीति पर चलने वाले लोग हैं. उन्होंने दावा किया कि नकाबपोश गुंडे, जिसे कुछ दक्षिणपंथी संगठनों ने किराए पर लिया था.

  • भारत के अर्थव्यवस्था को लेकर अब आया हिंदुजा का बयान, मोदी सरकार को दी ये सलाह

    भारत के अर्थव्यवस्था को लेकर अब आया हिंदुजा का बयान, मोदी सरकार को दी ये सलाह

    हिंदुजा समूह के सह-अध्यक्ष गोपीचंद हिंदुजा ने मंगलवार को कहा कि 2024 तक 5,000 अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य हासिल किया जा सकता है लेकिन तेज गति प्राप्त करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार को ब्रिटिश तरीके से काम करने वाली देश की नौकरशाही में बदलाव लाने की जरूरत है. उन्होंने यह भी कहा कि उनकी कंपनी भारत में 20 अरब डॉलर से अधिक निवेश करने को इच्छुक रही है लेकिन वह चाहती है कि इस काम में यहां आने वाली बाधाएं दूर हों और कारोबार की सुगमता हो.

  • भारत में इस समुदाय का हर शख्स रख सकता है बिना लाइसेंस का हथियार, सरकार ने बढ़ाई छूट

    भारत में इस समुदाय का हर शख्स रख सकता है बिना लाइसेंस का हथियार, सरकार ने बढ़ाई छूट

    केंद्र ने कर्नाटक के लड़ाका समुदाय कुर्ग के कोडवाओं को बिना लाइसेंस पिस्तौल, रिवॉल्वर और दोनाली शॉटगन जैसे आग्नेयास्त्र रखने की ब्रिटिश काल से चली आ रही छूट को जारी रखने का फैसला किया है.

  • दिवालिया हुई 178 साल पुरानी ट्रैवल कंपनी थॉमस कुक, पूरी दुनिया में फंसे 1.5 लाख लोग

    दिवालिया हुई 178 साल पुरानी ट्रैवल कंपनी थॉमस कुक, पूरी दुनिया में फंसे 1.5 लाख लोग

    ब्रिटेन की प्रसिद्ध ट्रैवल कंपनी थॉमस कुक सोमवार को दिवालिया हो गई. द गार्जियन के मुताबिक कंपनी की इस हालत की वजह से पूरी दुनिया में उसके लाखों ग्राहक फंस गए हैं. ब्रिटिश सरकार का कहना है कि 178 साल पुरानी इस कंपनी के 1 लाख 50 हजार ग्राहक छुट्टियां बिताने के लिए बाहर गए थे. अब सरकार के सामने यह चुनौती होगी कि सभी लोगों को सुरक्षित अपने देश वापस कैसे लाया जाए. कंपनी ने पहले ही कह दिया था कि ब्रेक्जिट मामले की वजह से बुकिंग कम हो रही हैं और उस पर कर्ज बढ़ता जा रहा है. कंपनी को दिवालिया होने से बचने के लिए 20 करोड़ पाउंड की जरूरत थी.

  • ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन बोले 'नो-डील ब्रेक्जिट' सरकार की विफलता, ब्रिटिश और आयरिश सरकारें जिम्मेदार

    ब्रिटेन के पीएम बोरिस जॉनसन बोले 'नो-डील ब्रेक्जिट' सरकार की विफलता, ब्रिटिश और आयरिश सरकारें जिम्मेदार

    ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि नो-डील ब्रेक्जिट (जानिए क्या है ब्रेक्जिट) विफलता मानी जाएगी और इसके लिए ब्रिटिश व आयरिश सरकारें जिम्मेदार होंगी. उन्होंने दोहराया कि देश के लिए यह जरूरी है कि वह 31 अक्टूबर तक ईयू छोड़ दे. बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक, जॉनसन जुलाई में डाउनिंग स्ट्रीट में जाने के बाद से पहली बार ताओसीच (आयरिश प्रधानमंत्री) लियो वरादकर के साथ मुलाकात के लिए डबलिन में थे.

  • विदेशियों से जबरन शादी कराने में पाकिस्तान सबसे आगे, भारत है इस नंबर पर

    विदेशियों से जबरन शादी कराने में पाकिस्तान सबसे आगे, भारत है इस नंबर पर

    ब्रिटिश नागरिकों से जबरन विवाह से जुड़े मामले में भारत तीसरे नंबर पर पहुंच गया है. ब्रिटेन की सरकार के नए आंकड़े से इसका खुलासा हुआ है. इस तरह के सबसे ज्यादा मामले पाकिस्तान से आते हैं.

  • जलियांवाला बाग हत्‍याकांड : वह जगह, जहां अब भी मौजूद हैं निहत्थों पर बरसाई गई गोलियों के निशां, 10 खास बातें

    जलियांवाला बाग हत्‍याकांड : वह जगह, जहां अब भी मौजूद हैं निहत्थों पर बरसाई गई गोलियों के निशां, 10 खास बातें

    आज जालियांवाला बाग की 100वीं बरसी है. देश जालियांवाला बाग की 100वीं बरसी पर शहीदों को याद कर रहा है. साल 1919 में अमृतसर में हुए इस नरसंहार में हजारों लोग मारे गए थे लेकिन ब्रिटिश सरकार के आंकड़ें में सिर्फ 379 की हत्या दर्ज की गई है. जलियांवाला बाग हत्‍याकांड ब्रिटिश भारत के इतिहास का काला अध्‍याय है. आज से 99 साल पहले 13 अप्रैल, 1919 को अंग्रेज अफसर जनरल डायर ने अमृतसर के जलियांवाला बाग में मौजूद निहत्‍थी भीड़ पर अंधाधुंध गोलियां चलवा दी थीं. इस हत्‍याकांड में 1,000 से ज़्यादा लोग मारे गए थे, जबकि 1,500 से भी ज़्यादा घायल हुए थे. जिस दिन यह क्रूरतम घटना हुई, उस दिन बैसाखी थी. इसी हत्‍याकांड के बाद ब्रिटिश हुकूमत के अंत की शुरुआत हुई. इसी के बाद देश को ऊधम सिंह जैसा क्रांतिकारी मिला और भगत सिंह के दिलों में समेत कई युवाओं में देशभक्ति की लहर दौड़ गई. जानिए, जलियांवाला बाग हत्‍याकांड से जुड़ी 10 खास बातें...

  • पाक सरकार ने सभी हवाई क्षेत्रों को एक बार फिर खोला, भारत के साथ तनाव की वजह से किया गया था बंद

    पाक सरकार ने सभी हवाई क्षेत्रों को एक बार फिर खोला, भारत के साथ तनाव की वजह से किया गया था बंद

    उन्होंने कहा कि प्रक्रिया दोपहर एक बजे तक पूरी कर ली गई. बता दें कि पाकिस्तान का हवाई क्षेत्र बंद होने से यूरोप और दक्षिण एशिया के बीच बड़े हवाई मार्ग बाधित रहे और अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर यात्रियों के फंसे होने की खबरें भी आईं. इससे पाकिस्तान के नंगा पर्वत पर लापता हो गये एक ब्रिटिश और एक इतालवी पर्वतारोही की तलाश की कोशिशों में देरी हुई.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com