Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

भारतीय अर्थव्यवस्था News in Hindi


'भारतीय अर्थव्यवस्था' - 572 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • UPA सरकार के समय भारत की अर्थव्यवस्था अमेरिकी अर्थव्यवस्था को भी चुनौती दे सकती थी : राहुल गांधी

    UPA सरकार के समय भारत की अर्थव्यवस्था अमेरिकी अर्थव्यवस्था को भी चुनौती दे सकती थी : राहुल गांधी

    कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने केंद्र की भाजपा सरकार को अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर पूरी तरह विफल बताते हुए कहा कि यूपीए शासन के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की अर्थव्यवस्था काफी मजबूत, फलने-फूलने वाली थी, जिसकी प्रशंसा समूची दुनिया में होती थी.  रविवार को महाराष्ट्र में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, "यूपीए सरकार के तहत भारतीय अर्थव्यवस्था काफी मजबूत थी और यहां तक कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था को चुनौती दे सकती थी. हमारे वित्तीय प्रबंधन की प्रशंसा समूची दुनिया में होती थी। अब, मौजूदा सरकार में अर्थव्यवस्था का बुरा हाल हो गया है."

  • मूडीज ने भारत की GDP वृद्धि दर का अनुमान घटाया, कहा- आर्थिक नरमी के असर दीर्घकालिक वाले हैं

    मूडीज ने भारत की GDP वृद्धि दर का अनुमान घटाया, कहा- आर्थिक नरमी के असर दीर्घकालिक वाले हैं

    मूडीज का कहना है कि भारतीय अर्थव्यवस्था नरमी से काफी प्रभावित है और इसके कुछ कारक दीर्घकालिक असर वाले हैं. रिजर्व बैंक ने भी हालिया मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक के बाद जीडीपी वृद्धि दर का अनुमान घटाकर 6.10 प्रतिशत कर दिया है. मूडीज ने एक रिपोर्ट में कहा कि नरमी का कारण निवेश में कमी है जो बाद में रोजगार सृजन में नरमी तथा ग्रामीण क्षेत्र में वित्तीय संकट के कारण उपभोग में भी प्रभावी हो गया.

  • दुनिया की 90 फीसदी अर्थव्यवस्थाएं ढलान पर

    दुनिया की 90 फीसदी अर्थव्यवस्थाएं ढलान पर

    अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष की प्रबंध निदेशक क्रिस्टालिना जियॉरजीवा ने कहा है कि दुनिया की अर्थव्यवस्था सुस्ती के दौर में है. वो बढ़ तो रही है, लेकिन बढ़ने की रफ्तार बेहद धीमी है. बल्कि दो साल पहले दुनिया की अर्थव्यवस्था ऊपर की तरफ जा रही थी, लेकिन अब धीमी होने लगी है.

  • घोर आर्थिक असफलता के बाद भी मोदी सरकार की राजनीतिक सफलता शानदार

    घोर आर्थिक असफलता के बाद भी मोदी सरकार की राजनीतिक सफलता शानदार

    भारतीय खाद्य निगम के चरमराने की ख़बरें आने लगी हैं. इसी के ज़रिए भारत सरकार किसानों से अनाज ख़रीदती है. सरकार उसके बदले में निगम को पैसे देती है जिसे हम सब्सिडी बिल के रूप में जानते हैं. 2016 तक तो भारतीय खाद्य निगम को सब्सिडी सरप्लस में मिलती थी. जितना चाहिए होता था उससे अधिक. लेकिन 2016-17 में जब उसे चाहिए था एक लाख 10 हज़ार करोड़ तो मिला 78000 करोड़. बाकी का 32,000 करोड़ नेशनल स्मॉल सेविंग्स फंड (NSSF) से कर्ज़ लिया. जिस तरह से भारत सरकार रिज़र्व बैंक की बचत से पैसे लेने लगी है उसी तरह से निगम यह काम पहले से कर रहा था. जैसे-जैसे ज़रुरत पड़ी NSSF कर्ज़ लेने लगा. नतीजा 2016-17 का वित्त वर्ष समाप्त होते ही NSSF से लिया गया कर्ज़ा 70,000 करोड़ का हो गया.

  • CM योगी ने अर्थव्यवस्था को लेकर मुगलों पर की टिप्पणी तो ओवैसी बोले- उन्हें कुछ पता ही नहीं

    CM योगी ने अर्थव्यवस्था को लेकर मुगलों पर की टिप्पणी तो ओवैसी बोले- उन्हें कुछ पता ही नहीं

    यह सिर्फ उनका सौभाग्य है कि वह देश के सबसे बड़े राज्य के मुख्यमंत्री है. यह हमें इतिहास बताता है, अगर मुख्यमंत्री ने इतिहास पढ़ा हो तो, कि मुगलों के समय में भारतीय अर्थव्यवस्था कितनी तेजी बढ़ी. जहांगीर के शासनकाल में तो विश्व जीडीपी में भारत का योगदान 25 प्रतिशत था.'

  • मंदी की मार : संयुक्त राष्ट्र की ताजा रिपोर्ट में भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए चेतावनी, यह होगा असर

    मंदी की मार : संयुक्त राष्ट्र की ताजा रिपोर्ट में भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए चेतावनी, यह होगा असर

    संयुक्त राष्ट्र ने अपनी ताज़ा रिपोर्ट 'UNCTAD ट्रेड एंड डेवलपमेंट रिपोर्ट 2019' में कहा है कि अंतरराष्ट्रीय अर्थव्यवस्था पर मंदी का साया गहराता जा रहा है और 2020 मंदी का साल होगा. यह खतरा बढ़ता जा रहा है. यह भारत के लिए बुरी खबर है. रिपोर्ट के मुताबिक भारत में आर्थिक विकास की रफ्तार में गिरावट का असर पूरे एशिया की अर्थव्यवस्था पर होगा. कार्पोरेट टैक्स में कटौती और उद्योग जगत को राहत के ऐलान के बाद कुछ दिन स्टाक मार्केट में रिकार्ड उछाल दिखा. लगा कि अर्थव्यवस्था में सुधार की संभावना बढ़ रही है, लेकिन अब यह गलत साबित होता दिख रहा है.

  • अर्थशास्त्री देसारडा मोदी सरकार पर उठाए सवाल, कहा 5 साल पहले अर्थव्यवस्था को मजबूत करने का मौका गंवा दिया

    अर्थशास्त्री देसारडा मोदी सरकार पर उठाए सवाल, कहा 5 साल पहले अर्थव्यवस्था को मजबूत करने का मौका गंवा दिया

    चालू वित्त वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर घटकर पांच प्रतिशत पर आ गई है जो इसका छह साल का निचला स्तर है. यह लगातार पांचवीं तिमाही रही जबकि जीडीपी की वृद्धि दर सुस्त रही है. घरेलू मांग नीचे आई है. निजी उपभोग कम हुआ है जबकि निवेश भी सुस्त हुआ है. 

  • अर्थव्यवस्था को मंदी से बचाने के लिए वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के ये 12 फैसले क्या काफी हैं?

    अर्थव्यवस्था को मंदी से बचाने के लिए वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के ये 12 फैसले क्या काफी हैं?

    देश की अर्थव्यवस्था को मंदी से बचाने के लिए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से कोशिशें जारी हैं. पिछले 2 महीने में वित्तमंत्री की ओर से देश को मंदी की ओर जाने से रोकने के लिए कई ऐलान किए गए हैं. आज हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कारपोरेट टैक्स घटाकर 30 फीसदी से 25.2 फीसदी कर दिया है. उनके इस ऐलान के बाद शेयर बाजार में तगड़ा उछाल आया और सेंसेक्स 1600 अंकों तक पहुंच गया है. गौरतलब है कि इस तिमाही में देश की विकास दर 5 फीसदी पर पहुंच गई है. इसके बाद से मोदी सरकार विपक्ष के निशाने पर आ गई. पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने इसे नोटबंदी और जल्दबाजी में लागू किए जीएसटी को वजह बताया. इसके साथ ही उन्होंने मोदी सरकार को कुछ कदम उठाने की सलाह दी. मंदी का सबसे कारण घरेलू बाजार में मांग की कमी है जिसमें ग्रामीण अर्थव्यवस्था सबसे ज्यादा प्रभावित है. इसका सबसे ज्यादा असर ऑटो सेक्टर पर दिखाई दे रहा है. वहीं मैन्यूफैक्चरिंग और कृषि के हालात भी ठीक नहीं है. सरकार इससे निपटने के लिए पिछले दो महीने में कई बड़े ऐलान कर चुकी है और कई फैसले भी वापस भी लिए हैं जो बजट के दौरान किए गए थे. हालांकि उसकी ओर से अंतरराष्ट्रीय बाजार में मंदी का असर भारत पर बताया जा रहा है. इससे पहले जो ऐलान किए गए थे उसका स्वागत भारतीय वाणिज्य एवं उद्योग महासंघ (फिक्की) ने भी किया है और उम्मीद जताई कि इससे अर्थव्यवस्था में तेजी आएगी.

  • RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास बोले, वैश्विक जोखिम बढ़ने के बावजूद भारतीय अर्थव्यवस्था मजबूत

    RBI के गवर्नर शक्तिकांत दास बोले, वैश्विक जोखिम बढ़ने के बावजूद भारतीय अर्थव्यवस्था मजबूत

    रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास (Shaktikanta Das) ने बृहस्पतिवार को कहा कि वैश्विक जोखिम बढ़ा है पर भारतीय अर्थव्यवस्था मजबूत स्थिति में है. उन्होंने कहा कि इसकी एक प्रमुख वजह कुल कर्ज में विदेशी ऋण का हिस्सा केवल 19.7 प्रतिशत है. उन्होंने यह भी कहा कि सब्सिडी और मुद्रास्फीति का स्तर कम होने से सऊदी अरब के वर्तमान तेल संकट का भी भारत के राजकोषीय घाटे पर असर सीमित रहेगा.

  • अर्थव्यवस्था ढलान पर है, लेकिन क्या ऐसी ख़बरें हिन्दी अख़बारों में छप रही हैं...?

    अर्थव्यवस्था ढलान पर है, लेकिन क्या ऐसी ख़बरें हिन्दी अख़बारों में छप रही हैं...?

    2014 में नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनते ही विदेशी निवेशकों ने भरोसा दिखाना शुरू कर दिया था, जिसके कारण भारत में 45 अरब डॉलर का विदेशी निवेश आया. अब वह भरोसा डगमगाता नज़र आ रहा है. जून महीने के बाद से निवेशकों ने 4.5 अरब डॉलर भारतीय बाज़ार से निकाल लिए हैं. 

  • वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा ऐलान, सस्ते घरों के लिए सरकार देगी 10000 करोड़ की मदद

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा ऐलान, सस्ते घरों के लिए सरकार देगी 10000 करोड़ की मदद

    वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने अर्थव्यवस्था में तेजी लाने के लिए कई कदम उठाए हैं. साथ ही एक बड़ा ऐलान भी किया है. सरकार अब मध्यम आय‌ वर्ग के लोगों के और सस्ते घरों के लिए सरकार 10000 करोड़ रुपये की मदद करेगी. यह आधे-अधूरे बन चुके घरों के लिए होगा. बाकी 10000 करोड़ रुपये की रकम दूसरे निवेशकों की तरफ से आएंगे. प्रोफेशनल्स के जरिए फंड मैनेज किया जाएगा. यह फंड उन्हीं हाउसिंग प्रोजेक्ट्स को मिलेगा जो NPA नहीं हैं और न ही NCLT में हैं.

  • बीजेपी नेताओं के विवादित बयानों पर प्रियंका गांधी ने Video शेयर कर कसा तंज, कहा- सही कैच पकड़ने के लिए...

    बीजेपी नेताओं के विवादित बयानों पर प्रियंका गांधी ने Video शेयर कर कसा तंज, कहा- सही कैच पकड़ने के लिए...

    प्रियंका गांधी ने ट्विटर पर क्रिकेट मैच के एक हिस्से का वीडियो शेयर करते हुए कहा, ‘‘ सही कैच पकड़ने के लिए अंत तक गेंद पर नजर और खेल की सच्ची भावना होना जरुरी है. वरना आप सारा दोष गुरुत्वाकर्षण, गणित, ओला-उबर और इधर-उधर की बातों पर मढ़ते रहेंगे. भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए जनहित में जारी.'

  • तिहाड़ जेल में बंद पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम का मोदी सरकार पर हमला- Tweet कर कही यह बात...

    तिहाड़ जेल में बंद पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम का मोदी सरकार पर हमला- Tweet कर कही यह बात...

    आईएनएक्स मीडिया (INX Media Case) मामले में गिरफ्तार पूर्व वित्त मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम (P Chidambaram) ने अर्थव्यवस्था की स्थिति को लेकर बुधवार को चिंता जताई. उन्होंने सवाल किया कि क्या देश को निराशा के इस दौर से बाहर निकालने की कोई योजना सरकार के पास है.

  • वित्त मंत्री ने मंदी के लिए 'उबर-ओला को बताया जिम्मेदार' तो अभिषेक मनु सिंघवी ने ऐसे ली चुटकी

    वित्त मंत्री ने मंदी के लिए 'उबर-ओला को बताया जिम्मेदार' तो अभिषेक मनु सिंघवी ने ऐसे ली चुटकी

    सिंघवी ने ट्वीट कर कहा, 'मोदीजी के ट्विटर फॉलोअर्स 50 मिलियन को पार कर गए हैं. अर्थव्यवस्था 5 ट्रिलियन (डॉलर) को पार कर जाएगी, लेकिन कैसे? युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है, क्या आप इसके लिए भी विपक्ष को जिम्मेदार ठहराएंगे. उबर, ओला ने सब कुछ बर्बाद कर दिया है बंटधार.'

  • भारत पांच खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनेगा, आर्थिक सुस्ती अस्थाई: वेंकैया नायडू

    भारत पांच खरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनेगा, आर्थिक सुस्ती अस्थाई:  वेंकैया नायडू

    उपराष्ट्रपति ने वैश्विक मामलों की भारतीय परिषद द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि एक अहम अर्थव्यवस्था और विश्व में अहम भूमिका निभाने वाले देश के रूप में भारत का उभरना तथा अफ्रीका की तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था एवं अपना भविष्य खुद निर्धारित करने की उसकी आकांक्षा कुछ ऐसे कारक हैं, जो उनके समकालीन संबंधों को आकार दे रहे हैं.

  • प्रियंका गांधी का हमला-  वित्त मंत्री को 'राजनीति' से ऊपर उठकर सच बोलने की जरूरत...

    प्रियंका गांधी का हमला-  वित्त मंत्री को 'राजनीति' से ऊपर उठकर सच बोलने की जरूरत...

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने मोदी सरकार पर एक बार फिर हमला बोला. प्रियंका गांधी ने 'मंदी' की बात नहीं स्वीकारने को लेकर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें अर्थव्यवस्था की स्थिति के बारे में 'राजनीति' से ऊपर उठने और भारत की जनता से सच बोलने की जरूरत हैं.

  • ग्रामीण क्षेत्रों में मांग घटना चक्रीय नहीं, RBI ने सही आकलन नहीं किया : प्रणव सेन

    ग्रामीण क्षेत्रों में मांग घटना चक्रीय नहीं, RBI ने सही आकलन नहीं किया : प्रणव सेन

    चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही के वृद्धि दर के आंकड़े आ चुके हैं। इस दौरान वृद्धि दर पिछले छह साल में सबसे कम पांच प्रतिशत रही है। यदि एक साल पहले के इसी तिमाही के आंकड़े से इसकी तुलना की जाए तो यह तीन प्रतिशत नीचे आ गई है। इससे पिछले वित्त वर्ष की पहली तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर आठ प्रतिशत थी.

  • महाराष्ट्र के पूर्व सीएम ने कहा- कश्मीर और पाकिस्तान पर ध्यान लगा रही सरकार, अर्थव्यवस्था पर किसी की नजर नहीं

    महाराष्ट्र के पूर्व सीएम ने कहा- कश्मीर और पाकिस्तान पर ध्यान लगा रही सरकार, अर्थव्यवस्था पर किसी की नजर नहीं

    महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चह्वाण ने शनिवार को कहा कि केंद्र कश्मीर, अनुच्छेद 370 और पाकिस्तान पर ध्यान केंद्रित कर रहा है, इसलिए कोई भी अर्थव्यवस्था पर नजर नहीं रख रहा है. उन्होंने केंद्र सरकार से जीडीपी वृद्धि दर के चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में गिरकर पांच फीसदी पर पहुंचने पर पांच ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था बनाने की योजना के बारे में सवाल किया. चह्वाण ने कहा, 'वृद्धि दर गिरकर पांच फीसदी पर पहुंचना हैरान करने वाला है.'

«12345678»

Advertisement

 

भारतीय अर्थव्यवस्था वीडियो

भारतीय अर्थव्यवस्था से जुड़े अन्य वीडियो »