NDTV Khabar

भारतीय राष्ट्रवाद


'भारतीय राष्ट्रवाद' - 17 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • मोदी की ऐतिहासिक जीत को देख खुश हो गया पेट्रोल पंप का मालिक, फ्री में दे रहा है CNG

    मोदी की ऐतिहासिक जीत को देख खुश हो गया पेट्रोल पंप का मालिक, फ्री में दे रहा है CNG

    Election Results 2019: देशभर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi)  की ‘प्रचंड लहर' पर सवार भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रवाद, हिंदू गौरव और ‘नये भारत' के मुद्दों पर लोकसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत दर्ज करके लगातार दूसरी बार केंद्र में सरकार बनाने जा रही है.

  • भाजपा की ऐतिहासिक जीत में इन नेताओं के नाम रही सबसे बड़ी जीत, 'मोदी की आंधी' में उड़ गई कांग्रेस

    भाजपा की ऐतिहासिक जीत में इन नेताओं के नाम रही सबसे बड़ी जीत, 'मोदी की आंधी' में उड़ गई कांग्रेस

    Lok Sabha Election Results 2019: देशभर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi)  की ‘प्रचंड लहर' पर सवार भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रवाद, हिंदू गौरव और ‘नये भारत' के मुद्दों पर लोकसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत दर्ज करके लगातार दूसरी बार केंद्र में सरकार बनाने जा रही है.

  • लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के एक दिन बाद बढ़े पेट्रोल और डीजल के दाम, जानें- आज का भाव

    लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के एक दिन बाद बढ़े पेट्रोल और डीजल के दाम, जानें- आज का भाव

    देशभर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ‘प्रचंड लहर' पर सवार भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रवाद, हिंदू गौरव और ‘नये भारत' के मुद्दों पर लोकसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत दर्ज करके लगातार दूसरी बार केंद्र में सरकार बनाने जा रही है. चुनाव आयोग से मिल रहे नतीजों के मुताबिक बीजेपी अब तक 290 सीटें जीत चुकी है और 13 सीटों पर आगे चल रही है. साल 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को 282 सीटों पर जीत हासिल हुई थी. भाजपा और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) में शामिल उसके सहयोगी लगभग 350 सीटों पर जीत हासिल करते हुए दिख रहे है. एनडीए ने पिछले लोकसभा चुनाव में 336 सीटों पर विजय हासिल की थी.

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी 'अबकी बार 300 पार', जानिए किस राज्य में कितनी सीटें मिली

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में बीजेपी 'अबकी बार 300 पार', जानिए किस राज्य में कितनी सीटें मिली

    देशभर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  की ‘प्रचंड लहर' पर सवार भारतीय जनता पार्टी राष्ट्रवाद, हिंदू गौरव और ‘नये भारत' के मुद्दों पर लोकसभा चुनाव में ऐतिहासिक जीत दर्ज करके लगातार दूसरी बार केंद्र में सरकार बनाने जा रही है. चुनाव आयोग से मिल रहे नतीजों के मुताबिक बीजेपी 303 जीती है.

  • Lok Sabha Election Results : अमेठी से राहुल गांधी लगातार पीछे, 'प्रचंड बहुमत' की ओर बीजेपी, अब तक की 10 बड़ी बातें

    Lok Sabha Election Results : अमेठी से राहुल गांधी लगातार पीछे, 'प्रचंड बहुमत' की ओर बीजेपी, अब तक की 10 बड़ी बातें

    लोकसभा चुनाव की मतगणना के रुझानों में भाजपा की बढ़त 300 सीट तक पहुंच गई है, कांग्रेस 53 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है. निर्वाचन आयोग की ओर से बृहस्पतिवार को जारी मतगणना के रुझानों के अनुसार भाजपा जहां 297 सीटों पर आगे चल रही थी वहीं, कांग्रेस 50 सीटों पर आगे थी. आयोग ने सभी 542 सीटों के रुझान जारी किये हैं. अगर मौजूदा रुझान अंतिम परिणामों में परिवर्तित हुए तो भाजपा 2014 के अपने प्रदर्शन में सुधार कर ज्यादा सीटें जीतती दिख रही है. 2014 में भाजपा ने लोकसभा की 543 सीटों में से 282 सीटें जीती थीं. भाजपा नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) 2014 की 336 सीटों के मुकाबले 343 सीटों पर काबिज होता दिख रहा है. चुनाव रुझानों का बाजार ने भी स्वागत किया है. बीएसएसी सेंसेक्स ने पहली बार 40 हजार की ऊंचाई को छुआ वहीं एनएसई के निफ्टी ने 12 हजार के स्तर को पार किया. अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया भी 14 पैसे मजबूत होकर 69.51 पैसे पर रहा. विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई दी. सुषमा ने ट्वीट किया, ‘‘ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी - भारतीय जनता पार्टी को इतनी बड़ी विजय दिलाने के लिए आपका बहुत बहुत अभिनन्दन. मैं देशवासियों के प्रति हृदय से कृतज्ञता व्यक्त करती हूं. ’’ मतगणना के रुझानों के आधार पर चुनाव परिणामों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता, उनकी सरकार के पिछले पांच साल के कार्यों और चुनाव प्रचार अभियान का नतीजा माना जा रहा है. चुनाव प्रचार राष्ट्रीय सुरक्षा और राष्ट्रवाद के इर्द-गिर्द रहा.

  • नाराज लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को मनाने पहुंचे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह

    नाराज लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी को मनाने पहुंचे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह

    उन्होंने कहा था कि भारतीय लोकतंत्र की खुशबू विविधता और अभिव्यक्ति की आजादी का सम्मान करना है. स्थापना के समय से ही भाजपा ने हमसे राजनीतिक असहमति रखने वालों को कभी भी अपना शत्रु नहीं माना, बल्कि उन्हें सिर्फ अपना प्रतिद्वंद्वी माना. आडवाणी ने कहा था कि इसी तरह हमारी भारतीय राष्ट्रवाद की अवधारणा में हमने उन लोगों को राष्ट्र-विरोधी कभी नहीं माना, जो हमसे राजनीतिक रूप से असहमत थे.

  • Lok Sabha Election 2019: छोटे किसानों और व्यापारियों को पेंशन, BJP ने अपने घोषणापत्र में किये हैं ये नए वादे

    Lok Sabha Election 2019: छोटे किसानों और व्यापारियों को पेंशन, BJP ने अपने घोषणापत्र में किये हैं ये नए वादे

    भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने सोमवार को लोकसभा चुनाव के लिए अपना घोषणापत्र (BJP Manifesto) जारी कर दिया है. पार्टी ने इसे 'संकल्प पत्र' नाम दिया है. घोषणापत्र जारी करने के दौरान खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) मौजूद रहे. उन्होंने कहा कि हमारा संकल्प पत्र, सुशासन पत्र भी है, राष्ट्र की सुरक्षा का पत्र भी है और राष्ट्र की समृद्धि का पत्र भी है. पीएम ने कहा कि संकल्प पत्र में तीन प्रमुख बातों का उल्लेख है. राष्ट्रवाद हमारी प्रेरणा है. अंत्योदय दर्शन है और सुशासन मंत्र है. हमनें वन मिशन, वन डायरेक्शन को लेकर आगे बढ़ने का लक्ष्य रखा है. एक ही डंडे से सबको हांका नहीं जा सकता है, इसलिये सबको समाहित करने की कोशिश की है. पीएम मोदी ने कहा कि हमारी कोशिश मल्टी लेयर यानी सबको एड्रेस करने की है. हमारा लक्ष्य है कि 2047 में देश विकासशील से विकसित बने यह कोशिश है. इसकी नींव अभी रखनी होगी. आपको बता दें कि बीजेपी ने अपने चुनावी घोषणापत्र में राम मंदिर से लेकर धारा 370 और यूनिफॉर्म सिविल कोड जैसे तमाम मसलों को तो समाहित किया ही है, जो पहले भी बीजेपी के चुनावी घोषणा पत्र का हिस्सा रहे हैं. इसके अलावा छोटे व सीमांत किसानों और छोटे दुकानदारों को पेंशन और राष्ट्रीय व्यापार आयोग के गठन जैसे तमाम वादे भी किये हैं, जो पहली बार पार्टी के चुनावी घोषणापत्र का हिस्सा बने हैं. आइये आपको बीजेपी के ऐसे ही नए वादों से रूबरू कराते हैं.

  • सुशील मोदी ने बताया 2019 लोकसभा चुनाव का सियासी गणित, कहा- कितने वोटर NDA के साथ, कितने खिलाफ

    सुशील मोदी ने बताया 2019 लोकसभा चुनाव का सियासी गणित, कहा- कितने वोटर NDA के साथ, कितने खिलाफ

    बिहार के उपमुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि 2019 का लोकसभा चुनाव 65 प्रतिशत बनाम 35 प्रतिशत के बीच लड़ाई है. गया में बिहार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की संपन्न हुई बैठक के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए सुशील कुमार ने कहा कि बिहार के 65 प्रतिशत मतदाता एनडीए के साथ है, इसलिए यहां 2019 में लोकसभा चुनाव के दौरान 65 प्रतिशत बनाम 35 प्रतिशत के बीच लड़ाई है. हम राष्ट्रवाद के वैचारिक अधिष्ठान, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का नेतृत्व, अमित शाह के संगठन कौशल व केन्द्र तथा राज्य सरकार के कामों के आधार पर जनता के बीच जायेंगे.

  • 'सामना' के जरिये शिवसेना का बीजेपी पर हमला, कहा- 'भक्त' और आरएसएस राष्ट्रवाद पर रुख स्पष्ट करें

    'सामना' के जरिये शिवसेना का बीजेपी पर हमला, कहा- 'भक्त' और आरएसएस राष्ट्रवाद पर रुख स्पष्ट करें

    शिवसेना, भारतीय जनता पार्टी पर हमला करने का एक भी मौका नहीं छोड़ना चाहती है. राष्ट्रगान पर उच्चतम न्यायालय के आदेश को लेकर अपने सहयोगी दल भाजपा पर निशाना साधते हुए शिवसेना ने गुरुवार को‘भक्तों’ और आरएसएस से राष्ट्रवाद पर अपना रूख स्पष्ट करने का अनुरोध किया. सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया था कि सिनेमा हॉल में राष्ट्रगान बजाना वैकल्पिक है.

  • गुरमेहर विवाद : किरेन रिजीजू ने वीडियो ट्वीट किया, कहा- हमारे जवान इस तरह बोलने को मजबूर...

    गुरमेहर विवाद : किरेन रिजीजू ने वीडियो ट्वीट किया, कहा- हमारे जवान इस तरह बोलने को मजबूर...

    गुरमेहर के विवाद को लेकर देश के गृह राज्यमंत्री एक कदम आगे बढ़ गए जब उन्होंने राष्ट्रवाद की बहस का स्तर एक पायदान और ऊपर कर दिया. गृह राज्यमंत्री ने भारतीय सेना के एक सर्विंग जवान का वीडियो ट्वीट किया जिसमें वह अफजल और याकूब की तरफदारी करने वालों की आलोचना कर रहा है. मंत्री साहब का कहना है जवान इस तरह बोलने के लिए मजबूर हो रहे हैं.

  • हज़ारों एनआरआई पंजाब में क्‍यों कर रहे हैं 'आप' के लिए प्रचार...

    हज़ारों एनआरआई पंजाब में क्‍यों कर रहे हैं 'आप' के लिए प्रचार...

    आदर्शवाद और अपने देश के प्रति प्यार उन्हें, यानी अप्रवासी भारतीयों को इस 'राष्ट्रीय पुनर्जागरण' में योगदान देने के लिए प्रेरित करता है. यह उनका 'ऋण चुकाने का समय' है. ये लोग सच्चे भारतीय हैं. राष्ट्रवाद उनकी सोच की जड़ों में है.

  • #युद्धकेविरुद्ध : आतंकवाद ही पाकिस्तानी मीडिया का राष्ट्रवाद है...!

    #युद्धकेविरुद्ध : आतंकवाद ही पाकिस्तानी मीडिया का राष्ट्रवाद है...!

    जब पेशावर में स्कूल में बच्चे मारे गए तो पूरा हिन्दुस्तान रोता है. हर चैनल हर अखबार हर पत्रकार रोता है. जब भी वहां धमाके में आम शहरियों की जान जाती है, हम सब रोते हैं. लेकिन पाकिस्तानी मीडिया का एक हिस्सा हिन्दुस्तानियों की मौत को हाफिज़ सईद और मसूद अज़हर जैसे आतंकवादी मंसूबों की जीत समझता है.

  • अगर चुनाव जीतने की कोशिश राष्ट्रीय कर्तव्य है, तो राष्ट्रवाद क्या चुनाव जीत जाना है...?

    अगर चुनाव जीतने की कोशिश राष्ट्रीय कर्तव्य है, तो राष्ट्रवाद क्या चुनाव जीत जाना है...?

    प्रधानमंत्री वास्तविक समय में ही स्वीकार कर रहे हैं कि दलित और पिछड़े उनके लिए चुनौती हैं. वह इस चुनौती से भाग नहीं रहे हैं, बल्कि सामना करने की बात कह रहे हैं. लेकिन उनका यह बयान राजनीति की नई व्याख्या के लिए प्रेरित करता है. दलितों-पिछड़ों के अलावा उनके हिसाब से राष्ट्रवादी कौन है...? क्या वह सवर्णों को राष्ट्रवादी बता रहे हैं...? क्या दलित-पिछड़े राष्ट्रवादी नहीं होते...?

  • हीरा की तमन्ना है कि पन्ना मुझे मिल जाए

    हीरा की तमन्ना है कि पन्ना मुझे मिल जाए

    हीरा कहां हैं? कहां है हीरा? शायद कोहिनूर की टीस होगी तभी हमारे हिन्दी सिनेमा वाले हीरे को लेकर ऐसे संवाद रचते रहे हैं।

  • जाने वाले सिपाही से पूछो, वो कहां जा रहा है...

    जाने वाले सिपाही से पूछो, वो कहां जा रहा है...

    क्या मख़्दूम मोइनुद्दीन की इस रचना से हमारी समझ कुछ बेहतर होती है या फिर हम अभिशप्त हैं 'मेरे देश की धरती सोना उगले, उगले हीरे-मोती...' टाइप ही सुनते रहने के लिए। उगलते रहिए, निगलते रहिए। राष्ट्रवाद के बर्गर को भकोसते रहिए, जो फास्ट फूड हो गया है राष्ट्रभक्त होने का।

  • शिखर धवन भी आए विश्वविद्यालयों में तिरंगा फहराने के समर्थन में, कहा- झंडे के लिए खेलता हूं...

    शिखर धवन भी आए विश्वविद्यालयों में तिरंगा फहराने के समर्थन में, कहा- झंडे के लिए खेलता हूं...

    भारतीय क्रिकेटर शिखर धवन ने छात्रों में राष्ट्रवाद और गर्व की भावना भरने के लिए सभी 46 केंद्रीय विश्वविद्यालयों के परिसर में राष्ट्रीय ध्वज फहराने के केंद्र सरकार के कदम का शुक्रवार को समर्थन किया।

  • जेएनयू मामला : समर्थन और विरोध में बेंगलुरु में भी हुए प्रदर्शन

    जेएनयू मामला : समर्थन और विरोध में बेंगलुरु में भी हुए प्रदर्शन

    जेएनयू विवाद की लौ की लपटें अब दक्षिण भारत में भी दिखने लगी हैं। बेंगलुरु में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (ABVP) से जुड़े छात्रों ने तिरंगा यात्रा निकाली, जिसकी थीम थी 'सबसे पहले राष्ट्रवाद'।