NDTV Khabar

भोपाल जेल


'भोपाल जेल' - 55 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • नौकरी देने के नाम पर घूस लेने वाले पूर्व IPS अधिकारी को हुई 5 साल की जेल

    नौकरी देने के नाम पर घूस लेने वाले पूर्व IPS अधिकारी को हुई 5 साल की जेल

    मध्य प्रदेश के भोपाल में एक स्थानीय विशेष अदालत ने गुरुवार को पूर्व भारतीय पुलिस सेवा (IPS) अधिकारी राजेंद्र चतुर्वेदी को रिश्वत लेने के आरोप में पांच साल की सजा सुनाई है.

  • BSP विधायक का फरार इनामी आरोपी पति विधानसभा में शान से टहलता दिखा

    BSP विधायक का फरार इनामी आरोपी पति विधानसभा में शान से टहलता दिखा

    मध्यप्रदेश में बसपा (BSP) की विधायक रामबाई के पति भले ही पुलिस के रिकॉर्ड में फरार हैं, और उन पर 25000 रुपये का इनाम भी घोषित है लेकिन वे शुक्रवार को भोपाल में विधानसभा भवन में अपनी पत्नी के साथ शान से टहलते हुए दिखाई दिए. कड़ी पुलिस सुरक्षा व्यवस्था के बीच वे विधानसभा परिसर में घूमने के साथ विधायकों से मिलजुल भी रहे थे.

  • कैलाश विजयवर्गीय के बेटे के मामले पर नाराज PM मोदी, कहा- बेटा किसी का हो, मनमानी नहीं चलेगी

    कैलाश विजयवर्गीय के बेटे के मामले पर नाराज PM मोदी, कहा- बेटा किसी का हो, मनमानी नहीं चलेगी

    पिछले सप्ताह आकाश विजयवर्गीय ने नगर निगम के अधिकारी को क्रिकेट के बैट के साथ पिटाई की थी. इसके बाद आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार कर लिया गया था. गिरफ्तारी के बाद भोपाल की विशेष कोर्ट ने उन्हें शनिवार को जमानत दी और रविवार सुबह उन्हें जेल से रिहा किया गया. जेल से रिहा होने के बाद आकाश विजयवर्गीय का भव्य स्वागत किया गया था. घर पहुंचने के बाद उनके माथे पर टीका लगाया गया और मिठाई बांटकर खुशी मनाई गई. इतना ही नहीं, जमानत मिलने के बाद उनके समर्थकों ने इंदौर में भाजपा दफ्तर के बाहर फायरिंग करके भी जश्न मनाया था, जिस पर काफी विवाद हुआ.

  • अधिकारी को बल्ले से पीटने पर कैलाश विजयवर्गीय ने किया बेटे का बचाव, कहा- वह कच्चा खिलाड़ी है

    अधिकारी को बल्ले से पीटने पर कैलाश विजयवर्गीय ने किया बेटे का बचाव, कहा- वह कच्चा खिलाड़ी है

    पिछले सप्ताह आकाश विजयवर्गीय ने नगर निगम के अधिकारी को क्रिकेट के बैट के साथ पिटाई की थी. इसके बाद आकाश विजयवर्गीय को गिरफ्तार कर लिया गया था. गिरफ्तारी के बाद भोपाल की विशेष कोर्ट ने उन्हें शनिवार को जमानत दी और रविवार सुबह उन्हें जेल से रिहा किया गया.

  • आकाश विजयवर्गीय को जमानत मिलने की खुशी में समर्थकों ने BJP दफ्तर के बाहर की फायरिंग, एक नहीं, दो नहीं किए पूरे पांच फायर, देखें VIDEO

    आकाश विजयवर्गीय को जमानत मिलने की खुशी में समर्थकों ने BJP दफ्तर के बाहर की फायरिंग, एक नहीं, दो नहीं किए पूरे पांच फायर, देखें VIDEO

    आकाश को जमानत शनिवार को भोपाल की विशेष अदालत ने दे दी थी, लेकिन 'लॉक-अप' के तय समय तक स्थानीय जेल प्रशासन को उनकी जमानत का अदालती आदेश नहीं मिल पाने के कारण विजयवर्गीय को कारागार में लगातार चौथी रात भी गुजारनी पड़ी. रविवार सुबह 10 बजे उन्हें जेल से रिहा किया जाना था. कार्यकर्ताओं ने इसके लिये जुलूस की योजना बनाई थी, लेकिन जेल और जिला प्रशासन ने कानून व्यवस्था की स्थिति ना बिगड़े इस कारण आकाश को जल्दी छोड़ दिया.

  • अधिकारी को बल्ले से पीटने वाले BJP विधायक आकाश विजयवर्गीय जमानत के बाद हुए रिहा, कहा- जेल में अच्छा समय बीता

    अधिकारी को बल्ले से पीटने वाले BJP विधायक आकाश विजयवर्गीय जमानत के बाद हुए रिहा, कहा- जेल में अच्छा समय बीता

    भोपाल की विशेष अदालत ने भाजपा विधायक आकाश विजयवर्गीय को जमानत शनिवार को ही दे दी थी. लेकिन 'लॉक-अप' के तय समय तक स्थानीय जेल प्रशासन को उनकी जमानत का अदालती आदेश नहीं मिल पाने के कारण विजयवर्गीय को कारागार में लगातार चौथी रात गुजारनी पड़ी. जेल शब्दावली के मुताबिक नियमित गिनती के बाद कैदियों को कारागार के भीतरी परिसर से दोबारा कोठरी में भेजकर बंद किये जाने को 'लॉक-अप' करना कहा जाता है.

  • भोपाल लोकसभा सीट पर प्रज्ञा ठाकुर की राह नहीं है आसान, 8 बड़ी बातें

    भोपाल लोकसभा सीट पर प्रज्ञा ठाकुर की राह नहीं है आसान, 8 बड़ी बातें

    मध्य प्रदेश की भोपाल लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह और बीजेपी की प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर के बीच हो रहे मुकाबले पर अब पूरे देश की नजर है. शुरुआत में ऐसा लग रहा था कि प्रज्ञा ठाकुर के उतरने से दिग्विजय सिंह बैकफुट पर आ गए हैं और उन्होंने मीडिया के सामने पूरी तरह से चुप्पी साध ली थी. लेकिन मुंबई हमले में शहीद पुलिस अधिकारी हेमंत करकरे पर बयान देकर प्रज्ञा ठाकुर ने एक तरह से खुद ही अपना नुकसान कर लिया. जेल में हुए कथित अत्याचार की कहानी बताते-बताते उन्होंने कह दिया कि उन्हीं के श्राप की वजह से हेमंत करकरे की मौत हुई है. उनके उस बयान की लोगों ने कड़ी निंदा करनी शुरू कर दी और बीजेपी बैकफुट में आ गई. नतीजा यह हुआ कि पार्टी के बड़े नेताओं ने जाकर प्रज्ञा ठाकुर को समझाया कि क्या बोलना है और क्या नहीं. हालांकि बीजेपी की ओर से उन्हें इस बात की पूरी छूट दी गई कि वह उनके साथ हुए जेल में कथित अत्याचार की कहानी खूब सुनाएं. आपको बता दें कि भोपाल सीट बीजेपी का गढ़ माना जाता है आखिरी चुनाव कांग्रेस ने यहां पर 1984 में जीता था. लेकिन इस बार प्रज्ञा ठाकुर की राह आसान नहीं है और इसकी सिर्फ एक नहीं कई वजहे हैं.

  • वोटरों को लुभाने के लिए 'हिन्दुत्व कार्ड ' के बाद अब इसका सहारा ले रही हैं साध्वी प्रज्ञा

    वोटरों को लुभाने के लिए 'हिन्दुत्व कार्ड ' के बाद अब इसका सहारा ले रही हैं साध्वी प्रज्ञा

    बीजेपी उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा (Sadhvi Pragya) के प्रचार के लिए कर्नाटक से भी कार्यकर्ता भोपाल पहुंचे हैं. एनडीटीवी ने ऐसे ही कुछ कार्यकर्ताओं से बात की. ऐसे ही एक कार्यकर्ता मदुगिरी मोदी ने बताया कि वह दीदी (प्रज्ञा) के प्रचार के लिए दो हजार किलोमीटर दूर से आए हैं. उन्होंने बताया कि वह प्रज्ञा का प्रचार इसलिए कर रहे हैं क्योंकि धर्म विरोधी लोगों ने साध्वी प्रज्ञा को जेल के अंदर रखा था.

  • जेल में मिली प्रताड़ना से 'राष्ट्रवादी' प्रज्ञा ठाकुर को हुआ कैंसर: बाबा रामदेव

    जेल में मिली प्रताड़ना से 'राष्ट्रवादी' प्रज्ञा ठाकुर को हुआ कैंसर: बाबा रामदेव

    बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के बाद योग गुरु रामदेव (Ramdev) भी भोपाल से लोकसभा चुनाव लड़ रहीं प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Singh Thakur) के समर्थन में आ गए हैं.

  • प्रज्ञा ठाकुर को BJP दफ्तर में चार घंटे की 'क्लास', दी गई यह 'नसीहत'

    प्रज्ञा ठाकुर को BJP दफ्तर में चार घंटे की 'क्लास', दी गई यह 'नसीहत'

    ठाकुर को अभी तक चुनाव आयोग की तरफ से दो नोटिस मिल चुके हैं, लेकिन उन्हें जेल में उनके साथ कथित 'अत्याचार' की कहानी बताने की छूट मिली है. 2008 मालेगांव बम विस्फोट (Malegaon Blast 2008) मामले में मुख्य आरोपियों में से एक ठाकुर का मुकाबला कांग्रेस के दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) से है. भोपाल सीट पर साल 1989 से भारतीय जनता पार्टी जीत दर्ज करती आई है. कईयों ने आरोप लगाया है कि प्रज्ञा ठाकुर को इस सीट से उतारकर भाजपा वोटों का ध्रुवीकरण करने की कोशिश कर रही है.

  • उमर अबदुल्ला बोले- अगर साध्वी प्रज्ञा चुनाव के लिए फिट हैं तो जेल में रहने के लिए भी फिट हैं

    उमर अबदुल्ला बोले- अगर साध्वी प्रज्ञा चुनाव के लिए फिट हैं तो जेल में रहने के लिए भी फिट हैं

    नेशनल कांफ्रेंस के उपाध्यक्ष और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला (Omar Abdullah) ने कहा है कि अगर साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर (Pragya Thakur) चुनाव लड़ने के लिए फिट हैं तो वह जेल में रहने के लिए भी फिट हैं. प्रज्ञा मालेगांव बम विस्फोट मामले में आरोपी हैं और भारतीय जनता पार्टी ने उन्हें मध्यप्रदेश की भोपाल सीट पर कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के मुकाबले चुनाव मैदान में उतारा है. भाजपा ने बुधवार को कहा था कि प्रज्ञा ठाकुर भोपाल लोकसभा सीट से पार्टी की उम्मीदवार होंगी. इस सीट पर उनका कांग्रेस के कद्दावर नेता और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के साथ सीधा मुकाबला होने की उम्मीद है.

  • प्यार के लिए पाकिस्तान से आया था भारत, शादी के बाद हो गया था अरेस्ट, अब 10 साल की जेल काट जाएगा वापस

    प्यार के लिए पाकिस्तान से आया था भारत, शादी के बाद हो गया था अरेस्ट, अब 10 साल की जेल काट जाएगा वापस

    भारत में वारसी की शादी उसके मामा की बेटी से हुई जिससे वह बेहद प्‍यार करता था. इस समय वह दो बेटों का पिता हैं. उसका एक बेटा 13 साल का है, जबकि दूसरा 11 साल का . वे कोलकाता में रहते हैं. इमरान करीब चार साल कोलकाता में रहने के बाद पासपोर्ट एवं वीजा बनाने के लिए वर्ष 2008 में भोपाल आया था और नकली दस्तावेजों के साथ पकड़ा गया था.

  • मध्य प्रदेश : जांच आयोग ने 8 सिमी आतंकियों के एनकाउंटर को जायज ठहराया, पर नहीं मिले इन सवालों के जवाब

    मध्य प्रदेश : जांच आयोग ने 8 सिमी आतंकियों के एनकाउंटर को जायज ठहराया, पर नहीं मिले इन सवालों के जवाब

    राज्य सरकार को सौंपी जांच रिपोर्ट में आयोग ने इस एनकाउंटर को सही ठहराया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि उस हालात में पुलिस द्वारा किया गया एनकाउंटर जायज़ था.

  • मध्य प्रदेश में गायों को लावारिस छोड़ने पर हो सकती है जेल, सरकार बनाने जा रही है कानून

    मध्य प्रदेश में गायों को लावारिस छोड़ने पर हो सकती है जेल, सरकार बनाने जा रही है कानून

    मध्य प्रदेश सरकार उन लोगों को सजा देने का मन बना रही है, जो अपनी पालतू गायों को लावारिस छोड़ देते हैं. हालांकि, इस पर कानून बनने से पहले ही विपक्ष इसे चुनाव से पहले हिन्दुत्व एजेंडा को बढ़ाने के तौर पर देख रही है. वहीं सरकार ये मान रही है कि गोसेवा सबका कर्तव्य है.

  • हमने घर बैठे-बैठे ही, सारा मंज़र देख लिया...

    हमने घर बैठे-बैठे ही, सारा मंज़र देख लिया...

    पिछले दिनों ख्यात व्यंग्यकार हरिशंकर परसाईं की जन्मस्थली जमानी गांव में आयोजित संगोष्ठी में किसी ने कहा था कि परसाईं इस वक्त ऐसा लिख रहे होते, तो जेल में होते, संभवत: दुष्यंत को भी रोज़-ब-रोज़ ट्रोल कर दिया जाता.

  • भोपाल से जुड़े रहे हैं अबू सलेम के काले कारनामों के तार, यहीं रची गई थी विदेश भागने की साजिश

    भोपाल से जुड़े रहे हैं अबू सलेम के काले कारनामों के तार, यहीं रची गई थी विदेश भागने की साजिश

    ये तय हो गया है कि पुर्तगाल से भारत आकर सलेम अब सालों तक जेल में रहेगा. वैसे मुंबई बम धमाकों के बाद उसकी पूरी योजना ज्यूरिख में बसने की थी. इस काम में उसकी मदद की थी, सलेम के पूर्व साथी भोपाल के सैयद अब्दुल जलील यानी शिराज ने.

  • रियल लाइफ में भी ‘मेरा बाप चोर है!’

    रियल लाइफ में भी ‘मेरा बाप चोर है!’

    आपको दीवार फिल्म याद है! दीवार फिल्म का अमिताभ बच्चन यानी ‘विजय’ याद है. आपको विजय के हाथ पर लिखा ‘मेरा बाप चोर है’ याद है? होगा ही… आखिर इसी फिल्म के बलबूते तो सदी के महानायक अमिताभ बच्चन का करियर परवान चढ़ा. अलबत्ता हाथ पर लिखी यह इबारत रील पर सबसे बड़ा ड्रामा साबित हुई.

  • जेल में कैदियों के बच्चों के चेहरों पर सील लगाने का मामला गर्माया, जांच के आदेश

    जेल में कैदियों के बच्चों के चेहरों पर सील लगाने का मामला गर्माया, जांच के आदेश

    भोपाल केंद्रीय जेल में राखी के मौके पर जेल में बंद कैदियों से मुलाकात करने आए दो बच्चों के चेहरों पर कथित रूप से जेल की मुहर (सील) लगाए जाने का मामला तूल पकड़ चुका है. इस मामले में मानवाधिकार आयोग के नोटिस देने के बाद सरकार सक्रिय हो गई है. मध्यप्रदेश की जेल मंत्री कुसुम सिंह महदेले के बयान क मुताबिक सेंट्रल जेल कैदियो के बच्चों के मुंह पर सील लगाने के मामले में जांच के आदेश दे दिए गए हैं.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com