NDTV Khabar

मनमोहन सिंह


'मनमोहन सिंह' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • शीला दीक्षित को अपने अंदाज में दी कुमार विश्वास ने श्रद्धांजलि, लिखा- राजनीति का स्वर्णिम पाठ पढ़ाने के लिए धन्यवाद

    शीला दीक्षित को अपने अंदाज में दी कुमार विश्वास ने श्रद्धांजलि, लिखा- राजनीति का स्वर्णिम पाठ पढ़ाने के लिए धन्यवाद

    दिल्ली की तीन बार की मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का आकास्मिक निधन से राजनीतिक जगत में शोक की लहर है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद समेत देश के तमाम दिग्गज नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी. इसी कड़ी में कुमार विश्वास ने भी शीला दीक्षित के निधन पर शोक व्यक्त किया.

  • शीला दीक्षित के निधन पर पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा- विकास के लिए हमेशा याद की जाएंगी

    शीला दीक्षित के निधन पर पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने कहा- विकास के लिए हमेशा याद की जाएंगी

    सिंह ने अपने शोक संदेश में कहा, "मैं शीला दीक्षित जी के निधन के बारे में सुनकर स्तब्ध हूं. उनके निधन से देश ने एक समर्पित कांग्रेसी जननेता खो दिया है.' उन्होंने कहा कि दिल्ली के लोग उनके मुख्यमंत्री के कार्यकाल के दौरान विकास में उनके योगदान को हमेशा याद करेंगे.'

  • Sheila Dikshit Death: शीला दीक्षित के निधन पर राजनीतिक जगत में शोक, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत दिग्गजों ने व्यक्त की संवेदनाएं

    Sheila Dikshit Death: शीला दीक्षित के निधन पर राजनीतिक जगत में शोक, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत दिग्गजों ने व्यक्त की संवेदनाएं

    15 साल तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं शीला दीक्षित के नाम सबसे ज्यादा वक्त तक दिल्ली की मुख्यमंत्री रहने का रिकॉर्ड दर्ज है. बता दें कि अपने निधन से कुछ दिनों पहले तक वह राजनीति में खासी ऐक्टिव थीं और हाल ही में उन्होंने दिल्ली में नए जिलाध्यक्षों की नियुक्ति भी की थी. पूर्व सीएम के आकास्मिक देहान्त से राजनीतिक जगत में शोक की लहर है.

  • पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भय की राजनीति को लेकर दिया बड़ा बयान, बोले - कहीं ऐसा न हो ....

    पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भय की राजनीति को लेकर दिया बड़ा बयान, बोले - कहीं ऐसा न हो ....

    सिंह ने कहा कि भय की राजनीति उम्मीदों की राजनीति पर हावी नहीं हो, इसके लिये जनता विधायकों पर निर्भर रहती है और यह देश के लिये जरूरी है. पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि प्रबोधन कार्यक्रम के माध्यम से विधायक राज्य के प्रति अपने संसदीय दायित्व को बेहतर तरीके से समझ सकेंगे.

  • कांग्रेस अध्यक्ष बनने की दौड़ में सुशील कुमार शिंदे का भी नाम, यहां जानिए उनसे जुड़ी 10 बड़ी बातें

    कांग्रेस अध्यक्ष बनने की दौड़ में सुशील कुमार शिंदे का भी नाम, यहां जानिए उनसे जुड़ी 10 बड़ी बातें

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने एक ओपन लेटर भी जारी किया है. इस ओपन लेटर में राहुल गांधी ने लिखा, 'कांग्रेस पार्टी के लिए काम करना मेरे लिए सम्मान की बात थी'. उन्होंने पत्र में 2019 के लोकसभा चुनावों में पार्टी को मिली हार का जिक्र करते हुए लिखा 'अध्यक्ष के नाते हार के लिए मैं जिम्मेदार हूं. इसलिये अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे रहा हूं'. उन्होंने आगे लिखा, पार्टी को जहां भी मेरी जरूरत पड़ेगी मैं मौजूद रहूंगा. ऐसे में नए कांग्रेस अध्यक्ष के नाम को लेकर चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है. कांग्रेस के कई दिग्गजों के नाम इस लिस्ट में हैं. जिसमें सुशील कुमार शिंदे का नाम प्रमुख है. हालांकि कांग्रेस में नामों की कोई कमी नहीं है. मनमोहन सिंह, एके एंटनी, मोतीलाल वोरा, कर्ण सिंह, मल्लिकार्जुन खड़गे, अहमद पटेल, अंबिका सोनी, गुलाम नबी आजाद, तरुण गोगोई, वीरप्पा मोईली, ओमान चांडी और मीरा कुमार जैसे कई दिग्गज कांग्रेस में हैं. इतना तो तय है कि कांग्रेस को एक नया अध्यक्ष जल्द मिलने वाला है जो गैर गांधी होगा और उसे गांधी परिवार का आशीर्वाद भी प्राप्त होगा.

  • मनमोहन सिंह को राज्यसभा भेजने के लिए कांग्रेस के पास बचा है अब सिर्फ इस राज्य का सहारा...

    मनमोहन सिंह को राज्यसभा भेजने के लिए कांग्रेस के पास बचा है अब सिर्फ इस राज्य का सहारा...

    तमिलनाडु में सत्तासीन ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कषगम (AIADMK) तथा विपक्षी दल DMK, दोनों के पास इतने विधायक हैं कि वे तीन-तीन सीटें जीत सकते हैं. पिछले दिनों इस तरह की ख़बरें काफी गर्म रहीं कि एक वक्त में प्रधानमंत्री पद के लिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नाम की पैरवी करने वाले DMK प्रमुख एम.के. स्टालिन इस बात के लिए राज़ी थे कि अपने कोटे की एक सीट वह डॉ मनमोहन सिंह को दे देंगे.

  • आज इतनी मजबूर है कांग्रेस, नहीं भेज पाएगी डॉ. मनमोहन सिंह को राज्यसभा

    आज इतनी मजबूर है कांग्रेस, नहीं भेज पाएगी डॉ. मनमोहन सिंह को राज्यसभा

    पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह  का अभी राज्यसभा में पहुंचना फिलहाल नामुमकिन लग रहा है. करीब 27-28 सालों में यह पहला मौका होगा जब मनमोहन सिंह संसद में नहीं होंगे. कांग्रेस ने शायद ही कभी सोचा होगा कि ऐसे भी हालात आ जाएंगे कि मनमोहन सिंह जैसे वरिष्ठ नेता के लिए भी वह एक सीट सुरक्षित नहीं रख पाएगी.

  • Budget 2019: बजट से ठीक पहले पूर्व पीएम मनमोहन सिंह से मिलीं वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण

    Budget 2019: बजट से ठीक पहले पूर्व पीएम मनमोहन सिंह से मिलीं वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट से पहले गुरुवार को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से उनके आवास पर मुलाकात की. सीतारमण पांच जुलाई को लोकसभा में अपना पहला बजट पेश करेंगी. आर्थिक सुधार के वास्तुकार के रूप में प्रसिद्ध सिंह वित्तमंत्री भी रह चुके हैं. वह 1991 से लेकर 1996 तक तत्कालीन प्रधानमंत्री नरसिंह राव की सरकार में वित्तमंत्री थे.

  • CBI ने विमान सौदे में कथित रिश्वत के मामले में दर्ज किया IAF अधिकारियों और स्विस कंपनी पर केस, UPA सरकार में हुई थी डील

    CBI ने विमान सौदे में कथित रिश्वत के मामले में दर्ज किया IAF अधिकारियों और स्विस कंपनी पर केस, UPA सरकार में हुई थी डील

    ट्रेनर एयरक्राफ्ट का इस्तेमाल एयर फोर्स ज्वाइन करने वाले कैडेट्स को उड़ान भरना सिखाने के लिए किया जाता है. भारतीय वायुसेना ने स्वदेशी HTP-32 में लगातार खामियां आने के बाद उसके ऑपरेशन बंद करने के बाद पिलैटस विमान खरीदने का फैसला किया था. मनमोहन सिंह सरकार ने 75 पिलैटस विमान खरीदने के लिए 2,896 करोड रुपये की डील की थी.

  • कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने नीति आयोग की बैठक से पहले लिया मनमोहन का मार्गदर्शन, पर नहीं दिखे CM अमरिंदर

    कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने नीति आयोग की बैठक से पहले लिया मनमोहन का मार्गदर्शन,  पर नहीं दिखे CM अमरिंदर

    मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कुमारस्वामी और पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने सिंह के साथ बैठक की.

  • केवल पीएम मोदी और सोनिया गांधी ने 'आधार' पर पूछा यह सवाल : नंदन निलेकणि

    केवल पीएम मोदी और सोनिया गांधी ने 'आधार' पर पूछा यह सवाल : नंदन निलेकणि

    एस जयशंकर को सीधे केंद्रीय मंत्री का पद मिला है, ये अपने आप में पहला मौका है लेकिन 10 साल पहले इस तरह कैबिनेट में जगह पाने वाले शख्स नंदन नीलेकणि हो सकते थे. उन्हें राहुल गांधी ने मानव संसाधन विकास मंत्री का पद देने के लिए बुलाया था. हालांकि बिल्कुल आखिरी समय में सोनिया गांधी और तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के पुनर्विचार के बाद इस प्रस्ताव को वापस ले लिया गया जबकि नीलेकणि दिल्ली के लिए उड़ान भरने को बिल्कुल तैयार थे. नीचे दिया गया पुस्तक का अंश पढ़ें...

  • कांग्रेस संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद सोनिया गांधी ने की राहुल की तारीफ

    कांग्रेस संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद सोनिया गांधी ने की राहुल की तारीफ

    कांग्रेस संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद सोनिया गांधी ने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की तारीफ की है. उन्होंने कहा है कि बहुत अच्छी से लड़े हैं. इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस को वोट देने वाले 12 करोड़ वोटरों को धन्यवाद किया है. आपको बता दें कि  संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) अध्यक्ष सोनिया गांधी कांग्रेस संसदीय दल की नेता बनी रहेंगी. लोकसभा में पार्टी के नवनिर्वाचित सदस्यों ने एक बार फिर उन्हें शनिवार को यहां अपनी पहली बैठक के दौरान कांग्रेस संसदीय दल (सीपीपी) के नेता के रूप में चुना.

  • सोनिया गांधी फिर चुनी गईं कांग्रेस संसदीय दल की नेता, राहुल ने कहा- बीजेपी से हर रोज लड़ेंगे

    सोनिया गांधी फिर चुनी गईं कांग्रेस संसदीय दल की नेता,  राहुल ने कहा- बीजेपी से हर रोज लड़ेंगे

    संसद के केंद्रीय कक्ष में हुई कांग्रेस संसदीय दल की बैठक में सोनिया गांधी को नेता चुना गया. पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला के मुताबिक नेता चुने जाने के बाद सोनिया ने देश के उन 12.13 करोड़ मतदाताओं का आभार प्रकट किया जिन्होंने इस लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) में कांग्रेस के पक्ष में मतदान किया.

  • लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस के सामने एक और संकट

    लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद कांग्रेस के सामने एक और संकट

    लोकसभा चुनाव में करारी हार झेलने वाली कांग्रेस के मात्र 52 सांसद ही संसद पहुंचेंगे और उसको नेता विपक्ष का भी दर्जा नहीं मिलेगा. राहुल गांधी अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने पर अड़े हुए हैं और अगर वह नहीं मानते हैं तो पार्टी की कमान कौन संभलेगा यह सबसे बड़ा सवाल बना हुआ है. इसी बीच मध्य प्रदेश और कर्नाटक की राज्य सरकारों पर संकट मंडराया हुआ है. कर्नाटक कांग्रेस के नेता केएन रजन्ना का कहना है कि पीएम मोदी के शपथ लेते ही राज्य सरकार गिर जाएगी. वहीं मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार को समर्थन  दे रहीं बीएसपी की विधायक का आरोप है कि बीजेपी उन्हें 50 करोड़ रुपये का ऑफर दे रही है. पार्टी अभी इन संकटों से जूझ रही है कि उसके आगे हरियाण, महाराष्ट्र और झारखंड के विधानसभा चुनाव भी खड़े हैं.

  • कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में राहुल गांधी की टीम में शामिल ऑक्सफोर्ड-हावर्ड से पढ़े लोगों पर भी उठे सवाल

    कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में राहुल गांधी की टीम में शामिल ऑक्सफोर्ड-हावर्ड से पढ़े लोगों पर भी उठे सवाल

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कांग्रेस कार्यसमिति  की बैठक में कई ऐसी जानकारियां दीं जिससे की बैठक में मौजूद कई नेताओं को आश्चर्य हुआ. राहुल गांधी ने कुछ नेताओं पर इशारा करते हुए कहा कि कुछ नेता अपने बेटों को ही टिकट दिलाने के दबाव डालते रहे. राहुल ने बताया कि एक नेता ने यहां तक कह दिया कि अगर उनके बेटे को टिकट नहीं मिला तो वह पार्टी छोड़ने पर विचार कर सकते हैं. राहुल गांधी ने कार्यसमिति की बैठक में कहा कि गांधी परिवार के अलावा भी यदि कोई पार्टी की अध्यक्षता कर सकता है उन्हें इसमें कोई दिक़्क़त नहीं है. लेकिन कई वरिष्ठ नेता जैसे डॉ. मनमोहन सिंह, अहमद पटेल, एके एंटनी और ग़ुलाम नबी आज़ाद ने उन्हें ऐसा करने से रोका.

  • अगर राहुल इस्तीफा देते हैं तो वह बीजेपी के जाल में फंस जाएंगे : प्रियंका गांधी

    अगर राहुल इस्तीफा देते हैं तो वह बीजेपी के जाल में फंस जाएंगे : प्रियंका गांधी

    लोकसभा चुनावों में खराब प्रदर्शन के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने पद से इस्तीफा देने की पेशकश पर अड़े हुए हैं और पार्टी के नेता उनको मनाने में जुटे हैं. पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने भी उनसे कहा है कि हार-जीत तो लगी रहती है लेकिन उनको (राहुल) को अपना पद नहीं छोड़ना चाहिए. शनिवार को कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में राहुल गांधी ने इस्तीफे की पेशकश की थी बैठक में शामिल सभी नेताओं से इसे नामंजूर कर दिया. उनका कहना है कि वे पार्टी को मजबूत करने के लिए हमेशा काम करते रहेंगे, लेकिन वो अपना इस्तीफा वापस नहीं लेंगे.

  • इस्तीफे पर अड़े राहुल गांधी तो CWC की बैठक में रो पड़े चिदंबरम, बोले- लोग सुसाइड कर सकते हैं

    इस्तीफे पर अड़े राहुल गांधी तो CWC की बैठक में रो पड़े चिदंबरम, बोले- लोग सुसाइड कर सकते हैं

    राहुल गांधी का कहना है कि वह पार्टी को मजबूत करने के लिए हमेशा काम करते रहेंगे, लेकिन वो अपना इस्तीफा वापस नहीं लेंगे. वहीं प्रियंका गांधी का कहना है कि राहुल को कुछ समय दिया जाना चाहिए जिससे किसी अन्य वैकल्पिक प्लान तैयार किया जा सके. इसके अलावा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी राहुल से अपने फैसले पर पुनर्विचार करने के लिए कहा है.

  • अभिषेक मनु सिंघवी ने किया ट्वीट, नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा- मोदी राज में...

    अभिषेक मनु सिंघवी ने किया ट्वीट, नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए कहा- मोदी राज में...

    जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कई दिग्गज नेता मौजूद रहे. फिलहाल हार के बाद कांग्रेस के नेता अपने ट्वीट के जरिए निवर्तमान पीएम मोदी पर तंज कसते हुए दिख रहे हैं. अभिषेक मनु सिंघवी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक ट्वीट किया है.

Advertisement