NDTV Khabar

महागठबंधन 2019


'महागठबंधन 2019' - 253 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनावों के लिए मतदान आज, अलग-अलग राज्यों की 51 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव भी

    महाराष्ट्र और हरियाणा विधानसभा चुनावों के लिए मतदान आज, अलग-अलग राज्यों की 51 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव भी

    महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में मुख्य मुकाबला बीजेपी की अगुवाई वाले महागठबंधन या फिर कहें 'महायुति' और कांग्रेस एनसीपी गठबंधन यानी कि 'महा अघाड़ी' (मोर्चा) के बीच है. इस चुनाव में 4,28,43,635 महिला मतदाताओं सहित कुल 8,98,39,600 मतदाता मतदान के लिए योग्य हैं. महाराष्ट्र की 288 विधानसभा सीटों के लिए 235 महिलाओं समेत 3,237 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. मतदान के लिए 96,661 मतदान केंद्र बनाये गए हैं जिन पर साढ़े छह लाख कर्मचारी तैनात किये गए हैं. 

  • बिहार उपचुनाव में 'सियासी दोस्ती' कसौटी पर

    बिहार उपचुनाव में 'सियासी दोस्ती' कसौटी पर

    इस उपचुनाव को अगले वर्ष होने वाले विधानसभा चुनाव के सेमीफाइनल के रूप में भी देखा जा रहा है. बिहार के जिन पांच विधानसभा सीटों के लिए उपचुनाव की घोषणा हुई है, पिछले विधानसभा चुनाव में इन सभी सीटों पर महागठबंधन का कब्जा था. इनमें चार सीटों पर जद (यू) के उम्मीदवार, जबकि किशनगंज सीट पर कांग्रेस के उम्मीदवार विजयी हुए थे. उस समय जद (यू) महागठबंधन में ही था, मगर अब राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) में शामिल है. ऐसे में इस चुनाव में बदले समीकरण में महागठबंधन की चुनौती इन सीटों पर कब्जा बनाए रखने की होगी.

  • लोकसभा चुनाव में हार के बाद महागठबंधन में रार, मांझी बोले तेजस्वी तो...

    लोकसभा चुनाव में हार के बाद महागठबंधन में रार, मांझी बोले तेजस्वी तो...

    महागठबंधन में शामिल हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) के प्रमुख और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने गुरुवार को स्पष्ट कहा कि 2020 में होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव में महागठबंधन का नेता अभी तक तय नहीं हुआ है.

  • एक चुनाव से सूपड़ा साफ नहीं होता, जीत का रास्ता दिखाती है हार : तेजस्वी यादव

    एक चुनाव से सूपड़ा साफ नहीं होता, जीत का रास्ता दिखाती है हार : तेजस्वी यादव

    बिहार (Bihar) में करारी हार के बाद बुधवार को आरजेडी और उनके सहयोगी दलों के बीच दो दिवसीय समीक्षा इस बात पर समाप्त हुई कि जो पराजय हुई उसकी कल्पना या अनुमान किसी को नहीं था और हार से ही जीत का रास्ता खुलता है. तेजस्वी यादव (Tejaswi yadav) ने कहा कि एक चुनाव से सूपड़ा साफ नहीं होता.

  • 'बिहार में महागठबंधन की हार के लिए तेजस्वी यादव नहीं, षड्यंत्र जिम्मेदार'

    'बिहार में महागठबंधन की हार के लिए तेजस्वी यादव नहीं, षड्यंत्र जिम्मेदार'

    बिहार में भले महागठबंधन को करारी हार का मुंह देखना पड़ा हो लेकिन महागठबंधन के प्रचार की कमान संभाल रहे राजद के वरिष्ठ नेता और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव को इसकी ज़िम्मेदारी लेने की कोई ज़रूरत नहीं है. राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेताओं ने सभी 19 पराजित उम्मीदवारों के साथ मंगलवार को एक समीक्षा बैठक में यह निर्णय लिया है.

  • करारी शिकस्त के बाद RJD में अंदरूनी कलह, पार्टी विधायक ने तेजस्वी से मांगा इस्तीफा, कहा- परिवारवाद के कारण....

    करारी शिकस्त के बाद RJD में अंदरूनी कलह, पार्टी विधायक ने तेजस्वी से मांगा इस्तीफा, कहा- परिवारवाद के कारण....

    लोकसभा चुनाव में करारी हार के बाद RJD में अंदरूनी कलह और बगावती तेवर भी दिखने शुरू हो गए हैं. पार्टी के एक विधायक ने पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) से बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष पद से इस्तीफा मांगा है.

  • समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ आखिर वही हुआ जिसका मार्च में लगाया गया था अंदाजा

    समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव के साथ आखिर वही हुआ जिसका मार्च में लगाया गया था अंदाजा

    लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में सपा और बीएसपी के बीच सीटों का जिस तरह से बंटवारा  हुआ था उसे देखकर ऐसा लग गया था अखिलेश यादव मायावती की चतुराई समझ नहीं पाए हैं. एनडीटीवी ने 4 मार्च 2019 को ही सीटों का विश्लेषण कर अंदाजा लगाया गया था कि सपा की क्या हालत हो सकती है. रिपोर्ट में कहा गया था कि बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने सीटों के बंटवारे में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से बाजी मार ली है. शायद इस हालात को सपा के सबसे वरिष्ठ नेता मुलायम सिंह यादव भांप गए थे. यही वजह है कि उन्होंने टिकटों के गलत बंटवारे की बात कही थी. दरअसल सपा के खाते में कई सीटें ऐसी आई थीं जहां पर उसका प्रदर्शन पहले बहुत ही खराब था और सीट बंटवारे में मायावती ने वो सारी सीटें ले लीं, जहां जातीय गणित के लिहाज से जीत का भरोसा था.

  • चुनाव परिणाम के बाद तनाव में RJD प्रमुख लालू यादव, दोपहर का खाना तक छोड़ा

    चुनाव परिणाम के बाद तनाव में RJD प्रमुख लालू यादव, दोपहर का खाना तक छोड़ा

    Lalu Yadav News: लोकसभा चुनाव (Lok sabha Elections) में राजद (RJD) की करारी हार के बाद पार्टी प्रमुख लालू यादव (Lalu Prasad Yadav) तनाव में हैं.

  • लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद बिहार में राजनीतिक उठापटक शुरू, उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी के तीन विधायक जद (यू) में शामिल

    लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद बिहार में राजनीतिक उठापटक शुरू, उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी के तीन विधायक जद (यू) में शामिल

    विजय कुमार चौधरी और रशीद ने कहा, 'विधायकों ने जद (यू) से अनुमोदन के पत्र भी संलग्न किए थें. उन्हें औपचारिकताओं के लिए व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होने के लिए कहा गया था. इसलिए उन्हें जद (यू) विधायक माना जाएगा.'

  • लालू प्रसाद की अनुपस्‍थ‍िति या तेज प्रताप का विद्रोह, आखिर कैसे डूबी बिहार में महागठबंधन की नैया?

    लालू प्रसाद की अनुपस्‍थ‍िति या तेज प्रताप का विद्रोह, आखिर कैसे डूबी बिहार में महागठबंधन की नैया?

    लालू प्रसाद यादव जेल में सजा काट रहे हैं. यह पहला मौका है जब किसी चुनाव में लालू प्रसाद यादव रैली, सभा से दूर रहे. इसका नुकसान उनकी पार्टी राष्‍ट्रीय जनता दल समेत उनके सहयोगी दलों को भी उठाना पड़ा. चुनावी समर में नेतृत्‍व उनके बेटे तेजस्‍वी यादव के कंधों पर था. अभी तक चली आ रही जातिगत समीकरण पर आधारित राजनीति ने सभी दलों को उसके हिसाब से चुनावी मैदान में उम्‍मीदवार उतारने को विवश कर दिया. चाहे एनडीए हो या यूपीए, किसी ने उस फार्मूले से किनारा नहीं किया.

  • Results 2019: ...तो इस वजह से बिहार में हुई महागठबंधन की दुर्गति

    Results 2019: ...तो इस वजह से बिहार में हुई महागठबंधन की दुर्गति

    बिहार में शायद 1991 के बाद इस बार के लोकसभा चुनाव का परिणाम होगा जहां सत्तारूढ़ दल ने विपक्ष को मात्र एक सीट पर समेट दिया. 1991 के चुनाव में सामाजिक न्याय की हवा और लालू यादव के नेतृत्व के कारण कांग्रेस पार्टी एक मात्र बेगूसराय की सीट जीत पायी थी और भाजपा को चार सीटें अब के झारखंड में मिली थीं. लेकिन इस बार भी उसी कांग्रेस पार्टी को किशनगंज सीट से संतोष करना पड़ा. लेकिन इस बार के बाद सब इस पराजय का कारण जानने में लगे हैं लेकिन सरसरी नज़र से देखें तो इस परिणाम के कारण कुछ यूं हैं...

  • मजबूत महागठबंधन और गोरखपुर-फूलपुर के नतीजों से परेशान थी BJP,तब अमित शाह ने निकाला पुराना फॉर्मूला

    मजबूत महागठबंधन और गोरखपुर-फूलपुर के नतीजों से परेशान थी BJP,तब अमित शाह ने निकाला पुराना फॉर्मूला

    लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा गठबंधन को आपेक्षित सफलता नहीं मिली है. इन दलों की 80 सीटों पर जातिगत गोलबंदी की कोशिश सफल नहीं हो सकी. जातियों में बंटी इन दोनों पार्टियों का हर समीकरण धरातल पर नाकाम साबित हुआ. इस तरह सपा-बसपा गठबन्धन के जातीय समीकरण के मिथक ध्वस्त हो गए. दोनों दल राज्य में हो रहे परिवर्तन को समझने में नाकाम रहे. वे लोगों तक अपनी बात को जनता तक पहुंचाने में कामयाब नहीं हो सके. दलित, पिछड़ा और मुस्लिम वोटों की फिराक में हुए इस गठबन्धन के सारे गणित ध्वस्त हो गए. गठबन्धन में कांग्रेस को शामिल न करना भी कुछ हदतक नुकसानदायक गया है. कांग्रेस के उतारे प्रत्याशी किसी-किसी सीट पर सपा बसपा पर भारी पड़ते दिखे. वह इनके लिए सचमुच वोटकटवा साबित हुए हैं. लेकिन बीजेपी के लिए उत्तर प्रदेश में लड़ाई बिलकुल आसान नहीं थी. गोरखपुर-फूलपुर और कैराना में हुए उपचुनाव के बाद उत्तर प्रदेश में बीजेपी के पक्ष में माहौल बिलकुल नहीं था.

  • उत्तर प्रदेश : मछलीशहर में बीएसपी से मात्र 181 वोटों से जीती BJP, पढ़ें ऐसी ही सीटें जहां कुछ भी हो सकता था

    उत्तर प्रदेश : मछलीशहर में बीएसपी से मात्र 181 वोटों से जीती BJP, पढ़ें ऐसी ही सीटें जहां कुछ भी हो सकता था

    उत्तर प्रदेश में बीजेपी तमाम कयासों और गढ़बंधन के चक्रव्यूह के बाद भी 62 सीटें  जीतने में कामयाब रही जबकि राजनीतिक पंडित 40 से ऊपर नहीं दे रहे थे.  इन 61 सीटों में तकरीबन 16 ऐसी सीटे हैं जो 50 हज़ार से काम की हार जीत वाली रहीं. जबकि 2 ऐसी है जो 50 हज़ार से ज़्यादा लेकिन 60 हज़ार कम की हार जीत वाली रहीं.  कहने का मतलब ये कि यहां कांटे की लड़ाई रही इस लड़ाई में भाजपा का पलड़ा ज़्यादा भारी रहा और नतीजों में बीजेपी 62, अपना दल 2, बसपा 10, सपा को 5 सीटें मिलीं. आपको बता दें कि अपना दल ने बीजेपी के साथ मिलकर चुनाव लड़ी हैं.

  • बॉलीवुड एक्टर ने विपक्ष को दी सलाह, बोले- मायावती, अखिलेश, केजरीवाल, ममता अब हो जाएं रिटायर

    बॉलीवुड एक्टर ने विपक्ष को दी सलाह, बोले- मायावती, अखिलेश, केजरीवाल, ममता अब हो जाएं रिटायर

    बॉलीवु़ड एक्टर कमाल आर खान (Kamaal R Khan) ने भी लोकसभा चुनाव 2019 (Lok Sabha Election 2019) के अब तक के नतीजों में बीजेपी (BJP) की बढ़त पर उसकी तारीफ की है. इसके साथ ही उन्होंने (Kamaal R Khan)अपने ट्वीट के जरिए विपक्ष और महागठबंधन पर भी निशाना साधा है.

  • Uttar Pradesh Election Results 2019: नरेंद्र मोदी के आगे महागठबंधन और राहुल-प्रियंका की जोड़ी फेल!

    Uttar Pradesh Election Results 2019: नरेंद्र मोदी के आगे महागठबंधन और राहुल-प्रियंका की जोड़ी फेल!

    कैराना, गोरखपुर और फूलपुर के लोकसभा उपचुनाव के नतीजों से ही तय हो गया था कि Uttar Pradesh में महागठबंधन ही बीजेपी को चुनौती दे सकता है. इसी मद्देनजर समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी साथ आए.

  • Bihar Election Result 2019: भाजपा की अगुवाई वाले राजद ने बिहार की 40 में 27 सीटें जीती, 12 पर आगे

    Bihar Election Result 2019: भाजपा की अगुवाई वाले राजद ने बिहार की 40 में 27 सीटें जीती, 12 पर आगे

    Bihar Election Results 2019: भाजपा की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) ने बिहार में शानदार प्रदर्शन किया है. उसने चार पार्टियों के महागठबंधन को करारी मात देते हुए राज्य की कुल 40 सीटों में 27 पर जीत दर्ज की है जबकि 12 पर आगे चल रहा है.

  • शिव प्रताप शुक्ला ने NDTV से कहा, UP में महागठबंधन के जातीय समीकरण पर PM मोदी का विकास पड़ा भारी

    शिव प्रताप शुक्ला ने NDTV से कहा, UP में महागठबंधन के जातीय समीकरण पर PM मोदी का विकास पड़ा भारी

    इससे पहले वित्त राज्य मंत्री शिव प्रताप शुक्ला (Shiv Pratap Shukla) ने एनडीटीवी से बात करते हुए कहा, ''यूपी में महागठबंधन के जातीय समीकरण पर पीएम मोदी के द्वारा किया गया विकास भारी पड़ा है. एग्जिट पोल्स के बाद जिस तरह से सेंसेक्स में उछाल आया है उससे ये दिखता है कि सभी चाहते हैं कि मोदी सरकार फिर से वापस आए''.

  • Lok Sabha Elections 2019 : Exit Polls पर राजनीतिक दलों की अलग-अलग राय

    Lok Sabha Elections 2019 : Exit Polls पर राजनीतिक दलों की अलग-अलग राय

    लोकसभा चुनाव (Elections 2019) के परिणामों पर एक्जिट पोल (Exit Polls) के नतीजों पर राजनीतिक दलों की राय बंटी हुई है. सभी इसे अपने-अपने चश्मे से देख रहे हैं. बीजेपी (BJP) ने इसे अपेक्षा के अनुरूप करार दिया है जबकि कांग्रेस (Congress) ने दावा किया है कि एक्ज़िट पोल के नतीजों में काफी अंतर्विरोध है.