NDTV Khabar

मुक्केबाज मैरीकॉम


'मुक्केबाज मैरीकॉम' - 30 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • CWG 2018: कुछ ऐसे मुक्केबाजों ने नौवें दिन को यादगार बना दिया

    CWG 2018: कुछ ऐसे मुक्केबाजों ने नौवें दिन को यादगार बना दिया

    भारतीय मुक्केबाजों ने 21वें राष्ट्रमंडल खेलों के 10वें दिन शनिवार को अपने मुक्के की धमक दिखाते हुए तीन स्वर्ण समेत कुल छह पदक जीते. भारत ने स्वर्ण के अलावा तीन रजत भी जीते. भारत की दिग्गज मुक्केबाज मैरी कॉम ने महिलाओं की 45-48 किलोग्राम भारवर्ग में स्वर्ण पदक जीता. पुरुषों के 52 किलेग्राम भारवर्ग में गौरव सोलंकी और 75 किलोग्राम भारवर्ग में विकास कृष्ण ने स्वर्ण पदक जीतकर भारत का मान बढ़ाया. इनके अलावा, भारत की झोली में तीन रजत पदक भी आए। भारत के लिए पुरुषों के 91 प्लस किलोग्राम भारवर्ग में सतीश कुमार, 46-49 किलोग्राम भारवर्ग में अमित पंघाल और 60 किलोग्राम भार वर्ग में मनीष कौशिक ने पदक जीते

  • CWG 2018 : मुक्केबाजी में गोल्ड मेडल से चूके अमित, सिल्वर मेडल से करना पड़ा संतोष

    CWG 2018 : मुक्केबाजी में गोल्ड मेडल से चूके अमित, सिल्वर मेडल से करना पड़ा संतोष

    ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में मुक्केबाजी में भारतीय खिलाड़ी अमित एक गोल्ड मेडल से चूक गये. भारतीय मुक्केबाज अमित पंघाल को यहां जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में 46-49 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा के फाइनल में हार कर रजत पदक से संतोष करना पड़ा है. 

  • CWG 2018: मुक्केबाजी में मैरी कॉम ने जीता गोल्ड, भारत के नाम एक और स्वर्ण

    CWG 2018: मुक्केबाजी में मैरी कॉम ने जीता गोल्ड, भारत के नाम एक और स्वर्ण

    ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में आयोजित कॉमनवेल्थ गेम्स 2018 में भारतीय खिलाड़ियों का दबदबा जारी है. एक बार फिर से देश का परचम लहराते हुए मुक्केबाज मैरीकॉम ने भारत को एक और गोल्ड दिला दिया है. मैरीकॉम ने 48 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण पदक जीत लिया है.

  • CWG 2018 LIVE: श्रेयसी सिंह ने डबल ट्रैप में भारत को दिलाया स्वर्ण, अंकुर मित्तल ने कांस्य

    CWG 2018 LIVE: श्रेयसी सिंह ने डबल ट्रैप में भारत को दिलाया स्वर्ण, अंकुर मित्तल ने कांस्य

    ऑस्ट्रेलिया में चल रहे 21वें कॉमनवेल्थ खेलों में प्रतिस्पर्धाओं के आठवें दिन भारत ने बुधवार को मंगलवार की तुलना में अच्छी शुरुआत की. महिला मुक्केबाज मैरीकॉम ने उम्मीदों पर खरा उतरते हुए 45-48 किग्रा भार वर्ग के फाइनल में प्रवेश करते हुए रजत पदक सुनिश्चत कर दिया, तो वहीं ओम मिथरवाल पुरुषों की 50 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में कांस्य पदक जीता.यह उनका दूसरा कांस्य पदक रहा. इससे पहले उन्होंने 10 मी. एयर पिस्टल भी कांस्य पदक जीता था

  • Commonwealth Games 2018: मैरीकॉम ने सेमीफाइनल में पहुंच सुनिश्चित किया एक और पदक

    Commonwealth Games 2018: मैरीकॉम ने सेमीफाइनल में पहुंच सुनिश्चित किया एक और पदक

    भारत की दिग्गज महिला मुक्केबाज और पांच बार की विश्व चैम्पियन एमसी मैरीकॉम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए यहां जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में रविवार को चौथे दिन महिलाओं की 45-48 किलोग्राम स्पर्धा के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है. ओक्सेनफोर्ड स्टूडियोज में आयोजित इस स्पर्धा मैरीकॉम ने इस स्पर्धा के दूसरे क्वार्टर फाइनल में स्कॉटलैंड की मेगन गोर्डन को 5-0 से हराया

  • बॉक्सिंग: एमसी मैरीकॉम को स्वर्ण पदक, पुरुष वर्ग में संजीत और मनीष कौशिक ने भी जीता 'सोना'

    बॉक्सिंग: एमसी मैरीकॉम को स्वर्ण पदक, पुरुष वर्ग में संजीत और मनीष कौशिक ने भी जीता 'सोना'

    प्रतियोगिता के पुरुष वर्ग के ज्यादातर मुकाबलों में क्यूबा और उज्बेकिस्तान के मुक्केबाज भारतीय खिलाड़ियों पर भारी पड़े. मैरीकॉम ने 48 किलो भार वर्ग के फाइनल में फिलीपीन की जोसी गाबुको को 4-1 से मात देकर स्वर्ण अपने नाम किया. इससे पहले पिलाओ बसुमतारी (64 किलोग्राम) ने स्वर्ण पदक जीता.

  • 'कुछ ऐसे' बदली इस साल भारतीय मुक्केबाजों ने खेल की तस्वीर

    'कुछ ऐसे' बदली इस साल भारतीय मुक्केबाजों ने खेल की तस्वीर

    लंबे समय से प्रशासनिक अस्थिरता झेल रही भारतीय मुक्केबाजी की तस्वीर इस साल बदल गई और अधिकांश टूर्नामेंटों में जीते हुए पदकों ने बेहतर भविष्य की उम्मीद भी जगाई है. गौरव बिधूड़ी और एम सी मेरीकाम से लेकर शिव थापा तक सभी ने 2017 में सफलता हासिल की .अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी में भी भारत का ग्राफ ऊपर गया है और 2006 के बाद पहली बार भारत को विश्व चैंपियनशिप ( 2018 महिला और 2021 पुरुष ) की मेजबानी मिली.

  • सिर्फ मैरीकॉम ही नहीं, बल्कि इन महिला बॉक्सर्स में भी है गजब का दमखम

    सिर्फ मैरीकॉम ही नहीं, बल्कि इन महिला बॉक्सर्स में भी है गजब का दमखम

    वियतनाम जाने से पहले वो अपनी से आधी उम्र की लड़कियों के साथ पसीना बहाते, उन्हें चुनौती देते और उनसे आगे निकलती नज़र आईं. तीन बच्चों की मां ने 2014 में इंचियन एशियन गेम्स का गोल्ड जीतने के बाद उन्होंने अपना वज़न कम कर खुद को 48 किलोग्राम वर्ग के लिए फ़िट कर लिया. मैरीकॉम ने जाने से पहले कहा कि मुझे 48 किलोग्राम वर्ग में ट्रायल्स में कोई नहीं हरा सकता.

  • एशियाई चैंपियनशिप : जापानी मुक्केबाज को हराकर खिताब से एक कदम दूर मैरीकॉम

    एशियाई चैंपियनशिप : जापानी मुक्केबाज को हराकर खिताब से एक कदम दूर मैरीकॉम

    पांच बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम (48 किलो) ने एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में पांचवें स्वर्ण पदक की ओर कदम बढ़ाते हुए फाइनल में प्रवेश कर लिया. वहीं, सोनिया लाथेर (57) ने भी खिताबी मुकाबले में जगह बनाई.

  • वापसी को यादगार नहीं बना पाईं बॉक्‍सर एमसी मैरीकॉम, क्‍वार्टर फाइनल में हारीं

    वापसी को यादगार नहीं बना पाईं बॉक्‍सर एमसी मैरीकॉम, क्‍वार्टर फाइनल में हारीं

    पांच बार की वर्ल्‍ड चैम्पियन मुक्केबाज एमसी मैरीकाम (51 किग्रा) की वापसी निराशाजनक तरीके से समाप्त हुई और वह मंगोलिया के उलानबटोर में चल रहे उलानबटोर कप के क्वार्टर फाइनल में हारकर बाहर हो गईं जबकि तीन पुरुष और एक महिला मुक्केबाज सेमीफाइनल में पहुंच गए.

  • मैरीकॉम ने माना, बॉक्सिंग रिंग और संसद के बीच तालमेल बनाना आसान नहीं, दोनों ही काम थकाने वाले हैं

    मैरीकॉम ने माना, बॉक्सिंग रिंग और संसद के बीच तालमेल बनाना आसान नहीं, दोनों ही काम थकाने वाले हैं

    पांच बार की वर्ल्‍ड चैम्पियन एमसी मैरीकॉम ने स्‍वीकार किया है कि व्‍यस्‍त कार्यक्रम के बीच सक्रिय मुक्केबाज और सांसद के रूप में काम करना कोई आसान काम नहीं है क्योंकि दोनों ही काम पूरी तरह से थकाने वाले हैं.

  • रियो ओलिंपिक में हिस्सा लेती तो मेडल लेकर ही लौटती : एमसी मैरीकॉम

    रियो ओलिंपिक में हिस्सा लेती तो मेडल लेकर ही लौटती : एमसी मैरीकॉम

    भारत की अब तक की सबसे सफल महिला मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम ने कहा कि अगर वह रियो ओलिंपिक में प्रवेश पा जातीं, तो रियो से पदक लेकर ही लौटतीं. नॉर्थ ईस्टर्न हिल यूनिवर्सिटी की ओर से आयोजित एक समारोह के दौरान मैरीकॉम ने यह बयान दिया.

  • मैरीकॉम से लेकर सरिता के ‘मेंटर’ रह चुके हैं सागर मल दयाल

    मैरीकॉम से लेकर सरिता के ‘मेंटर’ रह चुके हैं सागर मल दयाल

    इस साल मुक्केबाजी में द्रोणाचार्य पुरस्कार के लिए चुने गए सागर मल दयाल भारतीय महिला मुक्केबाजों के साथ 10 साल के कोचिंग करियर के दौरान कई भूमिकाएं निभा चुके हैं और वह एमसी मैरीकॉम के ‘अभ्यास में साथी मुक्केबाज’ रहने के अलावा 2014 एशियाई खेलों के विवाद के दौरान एल सरिता देवी के लिए ‘पितातुल्य’ रहे.

  • मैरीकॉम का रियो ओलिंपिक का सपना अभी नहीं टूटा, वाइल्ड कार्ड मिलने की उम्मीद

    मैरीकॉम का रियो ओलिंपिक का सपना अभी नहीं टूटा, वाइल्ड कार्ड मिलने की उम्मीद

    भारत की स्टार महिला मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम ने आगामी रियो ओलिंपिक के लिए वाइल्ड कार्ड से प्रवेश मिलने की उम्मीद जताई।

  • मैरीकॉम ने कहा, अपने सबसे मुश्किल दौर से गुजर रही है भारतीय मुक्केबाजी

    मैरीकॉम ने कहा, अपने सबसे मुश्किल दौर से गुजर रही है भारतीय मुक्केबाजी

    विश्व चैम्पियनशिप में लंबे समय तक दबदबा बनाने वाली एमसी मैरीकॉम का मानना है कि इस बार इस प्रतिष्ठित प्रतियोगिता में वह नुकसान की स्थिति में होंगी और इस स्टार भारतीय मुक्केबाज ने अपनी संभवत: अंतिम विश्व चैम्पियनशिप में इसकी भरपाई आक्रामकता को दोगुना करके करने का वादा किया है।

  • मैरीकॉम बोलीं- मणिपुर छोड़ने की बात बकवास, मैं दिल से भारतीय हूं 'जय हिंद’

    मैरीकॉम बोलीं- मणिपुर छोड़ने की बात बकवास, मैं दिल से भारतीय हूं 'जय हिंद’

    ओलंपिक पदक विजेता महिला मुक्केबाज एम.सी. मैरीकॉम ने शुक्रवार को इन खबरों को बकवास करार दिया कि वह बढ़ती आतंकी घटनाओं के कारण अपने घरेलू राज्य मणिपुर को छोड़ने पर विचार कर रही हैं।

  • महिलाओं को खुद का बचाव करने और फिट रहने के लिए खेलना चाहिए : मैरीकॉम

    महिलाओं को खुद का बचाव करने और फिट रहने के लिए खेलना चाहिए : मैरीकॉम

    इस मणिपुरी महिला मुक्केबाज ने रिक्शा वाले द्वारा उनके साथ की गई बदतमीजी को याद करते हुए कहा, 'मैं साई के होस्टल से अकेले जा रही थी और जब रिक्शा वाला सुनसान सड़क पर पहुंच गया तो उसने मेरा बैग खींचने की कोशिश की।'

  • मैंने छह माह के लिए रिंग से दूरी बनाई है : मैरीकॉम

    मैंने छह माह के लिए रिंग से दूरी बनाई है : मैरीकॉम

    ओलिंपिक मुक्केबाज एमसी मैरीकॉम ने कहा है कि जो लोग यह सोचते हैं कि सब कुछ प्राप्त कर लेने के बाद उन्होने ‘रिंग’ को अलविदा कहने का मन बना लिया है, तो वे गलत हैं, उन्होने मात्र छह माह के लिए ‘रिंग’ से दूरी बनाई है।

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com