NDTV Khabar

मोदी सरकार की विदेश नीति


'मोदी सरकार की विदेश नीति' - 26 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • मायावती ने SAARC देशों को लेकर पीएम मोदी की विदेश नीति पर उठाए सवाल, कहा- पड़ोसी से झगड़ा कर कोई नहीं रह सकता खुश

    मायावती ने SAARC देशों को लेकर पीएम मोदी की विदेश नीति पर उठाए सवाल, कहा- पड़ोसी से झगड़ा कर कोई नहीं रह सकता खुश

    बसपा अध्यक्ष मायावती ने बीजेपी की अगुवाई वाली मोदी सरकार पर दक्षिण एशियाई देशों के संगठन दक्षेस को नजरंदाज करने का आरोप लगाया है. मायावती ने कहा कि यह नीति भारत के हित में नहीं है

  • PM मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे BIMSTEC समूह के नेता, 30 मई को राष्ट्रपति भवन में होगा कार्यक्रम

    PM मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे BIMSTEC समूह के नेता, 30 मई को राष्ट्रपति भवन में होगा कार्यक्रम

    नरेंद्र मोदी 30 मई को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे. राष्ट्रपति भवन में शपथ ग्रहण समारोह का आयोजन किया जाएगा. इस समारोह में शामिल होने के लिए सरकार ने बिम्सटेक (BIMSTEC) समूह के नेताओं को आमंत्रित किया है. विदेश मंत्रालय के अनुसार, बिम्सटेक देश के नेताओं को आमंत्रण सरकार की 'पड़ोसी प्रथम' नीति के तहत दिया गया है. मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के वर्तमान अध्यक्ष एवं किर्गिस्तान के राष्ट्रपति तथा मॉरीशस के प्रधानमंत्री को भी शपथ ग्रहण समारोह के लिए आमंत्रित किया गया है.

  • LJP प्रमुख रामविलास पासवान बोले- नरेंद्र मोदी फिर बनेंगे प्रधानमंत्री, मायावती पर कसा तंज, कही यह बात...

    LJP प्रमुख रामविलास पासवान बोले- नरेंद्र मोदी फिर बनेंगे प्रधानमंत्री, मायावती पर कसा तंज, कही यह बात...

    केंद्रीय मंत्री और लोजपा (LJP) प्रमुख रामविलास पासवान (Ram Vilas Paswan) ने दावा किया कि नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) फिर से 2019 में देश के प्रधानमंत्री बनेंगे. रामविलास पासवान ने कहा कि मोदी सरकार के कार्यकाल दौरान देश की अर्थव्यवस्था की अच्छी प्रगति हुई है. सरकार की विदेश नीति और कूटनीति काफी सफल रही है.

  • पाकिस्तान पर मोदी सरकार की ढुलमुल नीति...

    पाकिस्तान पर मोदी सरकार की ढुलमुल नीति...

    आतंकवाद पर पाकिस्तान के चेहरे को बेनकाब करते हुए भारत ने प्रस्तावित विदेश मंत्री स्तर की मुलाकात रद्द कर दी है. लेकिन इस फैसले के बाद पाकिस्तान को लेकर मोदी सरकार की ढुलमुल नीति सबके सामने आ गई है, जिसमें कभी हां होती है तो कभी ना. भारत ने कहा कि आतंकवाद पर पाकिस्तान के दोहरे रवैये को पूरी दुनिया ने देख लिया है. पाकिस्तान विदेश मंत्रालय ने अपनी प्रतिक्रिया में कहा कि भारतीय विदेश मंत्रालय का बयान बचकाना है. पाकिस्तान अमन के हक में है और यह पूरी दुनिया देख रही है.

  • इस वजह से केरल में बाढ़ से राहत के लिए विदेशों से चंदा स्वीकार नहीं करेगा भारत

    इस वजह से केरल में बाढ़ से राहत के लिए विदेशों से चंदा स्वीकार नहीं करेगा भारत

    विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि सरकार केरल में राहत और पुनर्वास की जरूरतों को घरेलू प्रयासों के जरिए पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है. 

  • पीएम मोदी के 4 साल : पड़ोसी देशों ने भारत से क्यों बनाई दूरी? विदेश नीति से जुड़ी 20 बड़ी बातें

    पीएम मोदी के 4 साल : पड़ोसी देशों ने भारत से क्यों बनाई दूरी? विदेश नीति से जुड़ी 20 बड़ी बातें

    भारत में 26 मई की तिथि को नरेन्द्र मोदी के प्रधानमंत्री के रूप में शपथ लिये जाने के लिए याद रखा जाता है. साल वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने स्पष्ट बहुमत हासिल किया था और मोदी ने इस दिन देश के 15वें प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली थी. आज से लगभग चार साल पहले जब भाजपा सत्ता में आई थी, तो सरकार ने 'पड़ोसी प्रथम' का नारा दिया था. सरकार की मंशा पड़ोसियों को अधिक तवज्जो देकर रिश्ते बेहतर करने की थी, लेकिन अब जब सरकार अपने कार्यकाल के चार साल पूरे करने जा रही है तो पलटकर देखने की जरूरत है कि हमारे पड़ोसियों ने हमसे दूरी क्यों बना ली? 

  • कांग्रेस महाधिवेशन : मनमोहन सिंह ने कहा- मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था को कर डाला चौपट, 6 बड़ी बातें

    कांग्रेस महाधिवेशन : मनमोहन सिंह ने कहा- मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था को कर डाला चौपट, 6 बड़ी बातें

    कांग्रेस महाधिवेशन के आखिरी दिन अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर प्रस्ताव पास किए गए. अधिवेशन में मोदी सरकार की नीतियों पर कांग्रेस के नेताओं ने जमकर हमला बोला. यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने जहां शनिवार को मोदी सरकार को अहंकार में डूबी हुई बताया तो आज पूर्व केंद्रीय मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने मोदी सरकार की विदेश नीति की आलोचना करते हुए उसे विभाजनकारी बताया. वहीं करीब 11.3 बजे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी भाषण की शुरुआत की और मोदी सरकार की सभी नीतियों पर चुन-चुन कर प्रहार किया. मनमोहन सिंह ने कहा कि सोनिया गांधी के दिशा-निर्देशन में यूपीए सरकार ने बहुत कुछ हासिल किया.

  • मोदी सरकार के 3 साल - अंतरराष्ट्रीय मंच पर अधिक मुखर हुआ भारत

    मोदी सरकार के 3 साल - अंतरराष्ट्रीय मंच पर अधिक मुखर हुआ भारत

    पड़ोसियों से रिश्ते बेहतर करने पर मोदी सरकार की विदेश नीति का बड़ा जोर रहा है. रिश्ते सुधारने की लाख कोशिशों के बावजूद चीन और पाकिस्तान भारत के लिए बड़ा सिरदर्द बने हुए हैं. लेकिन जहां तक अफगानिस्तान, बांग्लादेश, नेपाल का सवाल है, हालात अलग हैं.

  • रक्षा क्षेत्र में विदेशी निवेश को लेकर मोदी सरकार का कदम फेल! इस साल अभी तक नहीं मिला एक भी प्रस्ताव

    रक्षा क्षेत्र में विदेशी निवेश को लेकर मोदी सरकार का कदम फेल! इस साल अभी तक नहीं मिला एक भी प्रस्ताव

    नरेंद्र मोदी सरकार ने सत्ता में आने के बाद देश की रक्षा नीति में जो सबसे बड़ा परिवर्तन किया, वह रहा रक्षा क्षेत्र में विदेशी निवेश को अनुमति देना. इस संबंध में मोदी सरकार ने 24 जून को बाकायदा एक अधिसूचना जारी की.

  • विदेशी नीति में बदलाव : वर्ष के अंत तक 68 देशों की यात्रा करेंगे मोदी सरकार के मंत्री

    विदेशी नीति में बदलाव : वर्ष के अंत तक 68 देशों की यात्रा करेंगे मोदी सरकार के मंत्री

    केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह हंगरी की यात्रा पर जाएंगे. हंगरी उन 68 देशों में से एक है जहां अब तक मोदी सरकार का कोई मंत्री नहीं गया. सरकार ने तय किया है कि इस साल के अंत तक ऐसे देशों में मंत्री स्तर का दौरा होगा जहां अब तक सरकार का कोई मंत्री नहीं गया.

  • कांग्रेस ने कहा, मौसम से भी तेज रफ्तार से बदलती है मोदी सरकार की विदेश नीति

    कांग्रेस ने कहा, मौसम से भी तेज रफ्तार से बदलती है मोदी सरकार की विदेश नीति

    कांग्रेस ने आज कहा कि मोदी सरकार की विदेश नीति मौसम से भी तेज रफ्तार से बदलती है और उसे पाकिस्तान के प्रति अपनी ‘‘असंगत’’ और ‘‘बिना सोचे अचानक’’अपनाई जाने वाली नीति खत्म करनी चाहिए. बलूचिस्तान जैसे मुद्दे उठाने से पहले देश के अंदर की समस्याएं निबटानी चाहिए.

  • पाकिस्तान को खरी-खरी सुनाकर मजबूत नेता बनकर उभरे राजनाथ सिंह

    पाकिस्तान को खरी-खरी सुनाकर मजबूत नेता बनकर उभरे राजनाथ सिंह

    केंद्रीय गृह मंत्री ने बयान "यह पड़ोसी है कि मानता नहीं " से वह सब कुछ डाला जो पाकिस्तान को लेकर मौजूदा सरकार की पॉलिसी है. या फिर कहें एक उलझी हुई नीति, जिसमें कभी नरम तो कभी गरम माहौल होता है. कई अफसर कहते हैं कि जब से यह सरकार आई है तब से पाकिस्तान को लेकर विदेश नीति की दिशा पता नहीं लग पा रही है.

  • पीएम मोदी को समझना चाहिए कि कूटनीति चमक-दमक वाला मामला नहीं : कांग्रेस

    पीएम मोदी को समझना चाहिए कि कूटनीति चमक-दमक वाला मामला नहीं : कांग्रेस

    संसद का मॉनसून सत्र अगले महीने शुरू होने की संभावना है, जिससे पहले सरकार के लिए समस्या बढ़ रही है। मुख्य विपक्षी कांग्रेस ने सोमवार को संकेत दिया कि वह एनएसजी के मुद्दे पर नाकामी, आतंकवादी हमलों और सुब्रमण्यम स्वामी के आरोपों के मुद्दे को जोरदार तरीके से उठाएगी।

  • फिर छलका बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा का दर्द, बोले- 'अब सलाह देने की भी मेरी हैसियत नहीं'

    फिर छलका बीजेपी नेता यशवंत सिन्हा का दर्द, बोले- 'अब सलाह देने की भी मेरी हैसियत नहीं'

    पूर्व विदेश मंत्री यशवंत सिन्हा ने पंपोर में सीआरपीएफ जवानों पर हुए आतंकवादी हमले को लेकर नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा और कहा कि केंद्र की पाकिस्तान नीति से कुछ भी नहीं निकला है और न ही निकलेगा।

  • नरेंद्र मोदी सरकार के दो साल की 'बैलेंसशीट'

    नरेंद्र मोदी सरकार के दो साल की 'बैलेंसशीट'

    यदि अभी चार राज्यों एवं एक केन्द्र शासित प्रदेश में हुए विधानसभा चुनावों को नरेंद्र मोदी की सरकार के पिछले दो सालों के कामों पर दिया गया जनमत मान लिया जाये तो निश्चित रूप से निष्कर्ष उनके पक्ष में जायेंगे।

  • थरूर ने फिर की पीएम मोदी की तारीफ, बोले - उनकी ऊर्जा कूटनीतिक रिश्तों को दे रही है नई दिशा

    थरूर ने फिर की पीएम मोदी की तारीफ, बोले - उनकी ऊर्जा कूटनीतिक रिश्तों को दे रही है नई दिशा

    कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने शुक्रवार को एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की और कहा कि उनकी 'व्यक्तिगत ऊर्जा' से भारत के कूटनीतिक रिश्तों में नई जान आई है और उसे पहचान भी मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि हालांकि यूपीए सरकार द्वारा बनाई गई विदेश नीति में मोदी ने कोई बदलाव नहीं किया है।

  • सुषमा स्वराज बोलीं, 'अतिसक्रिय' प्रधानमंत्री चुनौती नहीं, सहारा हैं

    सुषमा स्वराज बोलीं, 'अतिसक्रिय' प्रधानमंत्री चुनौती नहीं, सहारा हैं

    विदेशमंत्री सुषमा स्वराज ने सरकार के एक साल पूरा होने पर विदेश नीति की दशा, दिशा और उपलब्धियों का ब्योरा देने के लिए एक संवाददाता सम्मेलन किया। उन्होंने कहा कि अब विदेश नीति तीन कसौटियों पर परखी जा रही है - संपर्क, संवाद और परिणाम।

  • अखिलेश शर्मा की कलम से : 'भारत जो इंडिया था', पंचशील से पंचामृत तक

    अखिलेश शर्मा की कलम से : 'भारत जो इंडिया था', पंचशील से पंचामृत तक

    बीजेपी ने विदेश नीति पर कामयाबी के लिए मोदी सरकार की पीठ थपथपाई है और पिछले 10 महीनों में इस मोर्चे पर उठाए गए कदमों को गिनाने के लिए कार्यकारिणी की बैठक में अलग से एक प्रस्ताव पारित किया है। इस प्रस्ताव की खास बात ये है कि अंग्रेजी में तैयार इस प्रस्ताव में अधिकांश जगह इंडिया की जगह भारत लिखा गया है।