Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

मोहम्मद अली जिन्ना


'मोहम्मद अली जिन्ना' - 32 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • CAA को लेकर शशि थरूर का मोदी सरकार पर हमला, कहा- मोहम्मद अली जिन्ना जीत रहे हैं

    CAA को लेकर शशि थरूर का मोदी सरकार पर हमला, कहा- मोहम्मद अली जिन्ना जीत रहे हैं

    शशि थरूर ने कहा, 'CAA के लागू होने के बाद ये जिन्ना की टू-नेशन थ्योरी को पूरा करने जैसा है. मैं ये नहीं कहूंगा कि जिन्ना जीत गए हैं लेकिन वो जीत रहे हैं. अगर CAA NPR और NRC का आधार है तो ये वही लाइन होगी. अगर ऐसा होता है तो फिर आप कह सकते हैं जिन्ना की जीत पूरी हुई. जिन्ना जहां कहीं भी होंगे, वो कह रहे होंगे कि वो सही थे कि मुस्लिम अलग देश के योग्य थे क्योंकि हिंदू मुस्लिमों के साथ नहीं घुलमिल सकते.'

  • केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा- IIT में पढ़कर लोग विदेश चले जाते हैं और फिर वहां बीफ खाते हैं, क्यों?

    केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा- IIT में पढ़कर लोग विदेश चले जाते हैं और फिर वहां बीफ खाते हैं, क्यों?

    हाल ही में उन्होंने दावा किया था कि विपक्षी पार्टियां और ‘टुकड़े टुकड़े गैंग' मोहम्मद अली जिन्ना के रास्ते पर चलने और संशोधित नागरिकता कानून (CAA) तथा राष्ट्रीय नागरिक पंजी (NRC) पर पाकिस्तान की भाषा बोलने की कोशिश कर रहे हैं.

  • बीजेपी ने कहा- राहुल गांधी 'सावरकर' हो नहीं सकते, उनके लिए ‘राहुल जिन्ना’ नाम अधिक उपयुक्त

    बीजेपी ने कहा- राहुल गांधी 'सावरकर' हो नहीं सकते, उनके लिए ‘राहुल जिन्ना’  नाम अधिक उपयुक्त

    विनायक दामोदर सावरकर पर कटाक्ष करने वाले राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए भाजपा ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस नेता के लिए अधिक उपयुक्त नाम ‘राहुल जिन्ना’ है क्योंकि मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति उन्हें पाकिस्तान के संस्थापक का उत्तराधिकारी बनाती है. रामलीला मैदान में एक रैली को संबोधित करते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने 'रेप इन इंडिया' वाली टिप्पणी पर भाजपा की ओर माफी की मांग किए जाने पर कहा कि उनका नाम 'राहुल सावरकर' नहीं है और वह कभी माफी नहीं मांगने वाले हैं.

  • बीजेपी उम्मीदवार बोले- अगर नेहरू की जगह जिन्ना प्रधानमंत्री बनते तो देश का बंटवारा नहीं होता

    बीजेपी उम्मीदवार बोले- अगर नेहरू की जगह जिन्ना प्रधानमंत्री बनते तो देश का बंटवारा नहीं होता

    मध्य प्रदेश की रतलाम-झाबुआ लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार गुमान सिंह डोमार ने जिन्ना की शान में कसीदे गढ़ते हुए कहा है कि अगर वे नेहरू की जगह प्रधानमंत्री होते तो देश के टुकड़े न होते.

  • जिन्ना ने आजादी की लड़ाई में बड़ा योगदान दिया, वह मुस्लिम सिर्फ इसलिए शत्रुघ्न सिन्हा को देश विरोधी कहा जा रहा है : माजिद मेमन

    जिन्ना ने आजादी की लड़ाई में बड़ा योगदान दिया, वह मुस्लिम सिर्फ इसलिए शत्रुघ्न सिन्हा को देश विरोधी कहा जा रहा है : माजिद मेमन

    बिहार की पटना साहिब सीट से कांग्रेस प्रत्याशी शत्रुघ्न सिन्हा  की ओर से  मोहम्मद अली जिन्ना को लेकर दिए गए बयान पर सफाई के बाद अब एनसीपी नेता माजिद मेमन उनके समर्थन में आ गए हैं. माजिद मेमन का कहना है कि जिन्ना ने आजादी का लड़ाई में बड़ा योगदान दिया था. लेकिन सिर्फ इसलिए कि वह मुस्लिम थे, इसलिए आप नारा हो गए और शत्रुघ्न  सिन्हा को देश विरोधी कहने लगे. माजिद मेमन ने कहा, 'अमित शाह को एक बात ध्यान रखना चाहिए कि कल तक शत्रुघ्न सिन्हा उन्हीं के साथ थे. अगर वह कुछ देश विरोधी बोलते हैं तो यह उनकी शिक्षा है'.  

  • मोहम्मद अली जिन्ना वाले बयान पर अब शत्रुघ्न सिन्हा ने दी सफाई

    मोहम्मद अली जिन्ना वाले बयान पर अब शत्रुघ्न सिन्हा ने दी सफाई

    बिहार के पटना साहिब सीट से कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ रहे शत्रुघ्न सिन्हा ने मोहम्मद अली जिन्ना को कांग्रेस परिवार का हिस्सा बताने वाले बयान पर कहा है कि उनकी जुबान फिसल गई थी. सिन्हा ने कहा कि वह मौलाना आजाद कहना चाहते थे लेकिन वह मोहम्मद अली जिन्ना कह गए. सिन्हा ने शुक्रवार को दिए अपने बयान में कहा था, 'कांग्रेस महात्मा गांधी से लेकर सरदार पटेल, मोहम्मद अली जिन्ना से लेकर जवाहर लाल नेहरू तक एक परिवार है. यह उनकी पार्टी है जिनका देश की आजादी और विकास में योगदान रहा है. इसलिए मैं इसमें आया हूं'. इससे पहले कि कोई कि कोई विवाद बन जाए शत्रुघ्न सिन्हा ने सफाई देने में ही भलाई समझी. 

  • अब शत्रुघ्न सिन्हा ने गांधी जी, नेहरू और पटेल के साथ-साथ जिन्ना को भी 'कांग्रेस परिवार' का बताया

    अब शत्रुघ्न सिन्हा ने गांधी जी, नेहरू और पटेल के साथ-साथ जिन्ना को भी 'कांग्रेस परिवार' का बताया

    अपने बयानों से बीजेपी के लिए परेशानी खड़ी करते रहे शत्रुघ्न सिन्हा ने ऐसा बयान दे दिया है जो चुनाव में कांग्रेस के लिए खड़ी मुश्किल कर सकता है. मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में एक सभा को संबोधित करते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने भारत के बंटवारे की मांग करने वाले मोहम्मद अली जिन्ना को 'कांग्रेस परिवार' का सदस्य बता डाला. हालांकि उन्होंने जिन्ना के अलावा महात्मा गांधी, सरदार पटेल और जवाहर लाल नेहरू का भी नाम लिया और कहा कि यह ऐसे लोगों की पार्टी है जिनका देश की आजादी और विकास में योगदान रहा है. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, ' कांग्रेस महात्मा गांधी से लेकर सरदार पटेल, मोहम्मद अली जिन्ना से लेकर जवाहर लाल नेहरू तक एक परिवार है. यह उनकी पार्टी है जिनका देश की आजादी और विकास में योगदान रहा है. इसलिए मैं इसमें आया हूं'. आपको बता दें कि शत्रुघ्न सिन्हा हाल ही में बीजेपी छोड़ कांग्रेस में शामिल हुए हैं और उनको पटना साहिब से ही लोकसभा का टिकट दिया है. सिन्हा अभी तक इसी सीट से बीजेपी के सांसद रहे हैं. लेकिन साल 2015 से उनका पार्टी के अंदर मनमुटाव शुरू हो गया था और वह हमेशा अपनी ही सरकार की नीतियों पर निशाना साधते रहे. लेकिन बाद में उन्होंने हमले और तेज कर दिया और सीधे पीएम मोदी पर सवाल दागने लगे. हालांकि इस दौरान पार्टी के नेता उन पर बयान देने से बचते रहे. लेकिन शत्रुघ्न सिन्हा ने नोटबंदी, जीएसटी और सर्जिकल स्ट्राइक पर पार्टी के रुख के खिलाफ बयानबाजी जारी रखी. 

  • मोदी सरकार का बड़ा फैसला, मुंबई स्थित मोहम्मद अली जिन्ना के घर को अंतरराष्ट्रीय कल्चरल सेंटर बनाने की तैयारी

    मोदी सरकार का बड़ा फैसला, मुंबई स्थित मोहम्मद अली जिन्ना के घर को अंतरराष्ट्रीय कल्चरल सेंटर बनाने की तैयारी

    लोढ़ा ने पांच अक्टूबर को सुषमा (Sushma Swaraj) को एक पत्र लिखकर अनुरोध किया था कि जिन्ना हाउस को सांस्कृतिक केंद्र बनाया जाना चाहिए. उन्होंने सरकार के इस फैसले पर खुशी जाहिर की और कहा कि मैं इस दिन का लंबे समय से इंतजार कर रहा था.

  • 'जिन्‍ना-नेहरू' वाले बयान पर दलाई लामा ने मांगी माफी, कांग्रेस ने कहा- बयान के पीछे मोदी सरकार का हाथ

    'जिन्‍ना-नेहरू' वाले बयान पर दलाई लामा ने मांगी माफी, कांग्रेस ने कहा- बयान के पीछे मोदी सरकार का हाथ

    दलाई लामा ने कहा, मेरा बयान अचानक विवादास्पद हो गया और अगर कुछ ग़लत है तो मैं माफ़ी मांगता हूं.

  • VIDEO: दलाई लामा बोले, अगर नेहरू की जगह जिन्ना को PM बनाने की गांधीजी की बात मान ली जाती तो...

    VIDEO: दलाई लामा बोले, अगर नेहरू की जगह जिन्ना को PM बनाने की गांधीजी की बात मान ली जाती तो...

    तिब्बती धर्मगुरु दलाई लामा ने आज मोहम्मद अली जिन्ना को लेकर बड़ा बयान दिया है. दलाई लामा ने कहा कि जवाहर लाल नेहरू की जगह अगर मोहम्मद अली जिन्ना को देश का प्रधानमंत्री बनाया गया होता तो आज भारत और पाकिस्तान एक होते और बंटवारा नहीं होता. तिब्बत के आध्यात्मिक गुरु दलाई लामा ने कहा कि महात्मा गांधी चाहते थे कि मोहम्मद अली जिन्ना देश के शीर्ष पद पर बैठे, लेकिन पहला प्रधानमंत्री बनने के लिए जवाहरलाल नेहरू ने 'आत्म केंद्रित रवैया' अपनाया. गोवा प्रबंध संस्थान के एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए 83 वर्षीय दलाई लामा ने यह बात कही.

  • पीएम मोदी आज जायेंगे नेपाल, बीजेपी सांसद ने की मोहम्मद अली जिन्ना की तारीफ, आज की 5 बड़ी खबरें

    पीएम मोदी आज जायेंगे नेपाल, बीजेपी सांसद ने की मोहम्मद अली जिन्ना की तारीफ, आज की 5 बड़ी खबरें

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज नेपाल की यात्रा पर जा रहे हैं. पीएम मोदी की यह तीसरी नेपाल यात्रा है. बीजेपी सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने एक बार फिर से पीएम मोदी पर निशाना साधा है.

  • BJP सांसद ने कहा, आज़ादी की लड़ाई में जिन्‍ना का अहम योगदान, ऐसे महापुरुष की तस्वीर जहां ज़रूरत हो लगनी चाहिए

    BJP सांसद ने कहा, आज़ादी की लड़ाई में जिन्‍ना का अहम योगदान, ऐसे महापुरुष की तस्वीर जहां ज़रूरत हो लगनी चाहिए

    बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले ने कहा, आज़ादी की लड़ाई में उनका अहम योगदान था. ऐसे महापुरुष की तस्वीर जहां ज़रूरत हो, उस जगह पर लगाई जानी चाहिए. 

  • एएमयू विवाद : शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, लोगों की तस्वीरें हटाने की क्या जरूरत?

    एएमयू विवाद : शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा, लोगों की तस्वीरें हटाने की क्या जरूरत?

    अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर हटाने को लेकर छिड़े विवाद की पृष्ठभूमि में असंतुष्ट बीजेपी नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने आज ऐसी मांग के औचत्य पर सवाल किया.

  • AMU विवाद: बाबा रामदेव बोले- जिन्ना भारत की अखंडता और एकता का आदर्श नहीं हो सकता

    AMU विवाद: बाबा रामदेव बोले- जिन्ना भारत की अखंडता और एकता का आदर्श नहीं हो सकता

    अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में मोहम्मद अली जिन्ना की फोटो पर जारी विवाद के बीच बाबा रामदेव भी कूद पड़े हैं. जिन्ना की फोटो विवाद पर बाबा रामदेव ने बड़ा बयान दिया है और कहा कि जिन्ना भारत की अखंडता और एकता के लिए आदर्श तो हो ही नहीं सकता. बता दें कि बीते कई दिनों से अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में जिन्ना की फोटो टंगी होने को लेकर विवाद है. एक गुट जहां फोटो को हटाने पर अमादा है, तो वहीं दूसरा गुट फोटो को हटाए जाने के खिलाफ है. 

  • एएमयू में तनाव बरकरार, परीक्षाएं की गईं स्थगित

    एएमयू में तनाव बरकरार, परीक्षाएं की गईं स्थगित

    अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) ने रविवार को मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर परिसर में फैले तनाव के बीच सभी परीक्षाएं स्थगित कर दीं. विश्वविद्यालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि 2017-18 सत्र की परीक्षाएं अब 12 मई से शुरू होंगी. विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफएसर तारिक मंसूर, विभिन्न संकायों के डीन व सभी कॉलेजों के प्राचार्यो की एक परामर्श बैठक में यह फैसला लिया गया.

  • जिन्ना विवाद के बहाने तेजस्वी का PM मोदी और CM योगी पर हमला, कहा- हम AMU के साथ हैं

    जिन्ना विवाद के बहाने तेजस्वी का PM मोदी और CM योगी पर हमला, कहा- हम AMU के साथ हैं

    अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना की फोटो पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. एएमयू में जिन्ना की फोटो विवाद में एक के बाद एक नेता कूदते नजर आ रहे हैं. इस बार बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और लालू प्रसाद के बेटे तेजस्वी यादव भी इस विवाद में खुलकर सामने आए हैं. तेजस्वी यादव ने कहा है कि वह अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के साथ हैं. साथ ही उन्होंने इस विवाद के बहाने पीएम मोदी और सीएम योगी पर भी निशाना साधा है. 

  • AMU विवाद: अलीगढ़ में शनिवार रात 12 बजे तक इंटरनेट सेवा बंद

    AMU विवाद: अलीगढ़ में शनिवार रात 12 बजे तक इंटरनेट सेवा बंद

    अलीगढ़ में शुक्रवार दोपहर 2 बजे से कल रात 12 बजे तक के लिये इंटरनेट पर पाबंदी लगा दी गई है ताकि सोशल मीडिया पर अफवाहें ना फैले. अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में मोहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर को लेकर बवाल थमने का नाम नहीं ले रहा है.

  • Exclusive: AMU विवाद पर बोले वीसी तारिक मंसूर, जिन्ना की तस्वीर हटाना हमारी जिम्मेवारी नहीं

    Exclusive: AMU विवाद पर बोले वीसी तारिक मंसूर, जिन्ना की तस्वीर हटाना हमारी जिम्मेवारी नहीं

    अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में मोहम्मद अली जिन्ना की फोटो पर विवाद कायम है. रात भर छात्र यूनिवर्सिटी कैंपस में धरने पर बैठे रहे और शुक्रवार को भी क्लास को सस्पेंड कर दिया गया. इस पूरे मामले को समझाते हुए एएमयू के कुलपति तारिक मंसूर ने एनडीटीवी से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा कि जिन्ना की तस्वीर का मामला काफी पुराना है. यह फोटो 1938 से लगी हुई है. ये कोई नई चीज नहीं है और इतने साल हो गये, किसी ने इस पर ऑब्जेक्ट नहीं किया. मगर अब एक नई चीज क्यों स्टार्ट हो रही है. यह तो एक अर्काइव है, बहुत से पोर्ट्रेट लगी हुई हैं, वो भी वहां लगी हुई है. यह कोई बहुत बड़ा इश्यू नहीं है. 

Advertisement