NDTV Khabar

यूपी उपचुनाव


'यूपी उपचुनाव' - 112 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • यूपी में खाली हाथ रह गईं मायावती, बोलीं- BJP ने षड्यंत्र रचकर सपा को कुछ सीटें जिताई

    यूपी में खाली हाथ रह गईं मायावती, बोलीं- BJP ने षड्यंत्र रचकर सपा को कुछ सीटें जिताई

    चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद मायावती ने इसे भाजपा का षड्यंत्र क़रार देते हुए कहा कि पार्टी कार्यकर्ताओं का मनोबल तोड़ने के लिये यह षड्यंत्र रचा गया.

  • UP By Election Results 2019: सपा को हुआ सबसे ज्यादा फायदा, देखें- सभी 11 सीटों के नतीजे

    UP By Election Results 2019: सपा को हुआ सबसे ज्यादा फायदा, देखें- सभी 11 सीटों के नतीजे

    उत्तर प्रदेश विधानसभा उपचुनाव (Uttar Pradesh By Election Results 2019) में सबसे बड़ा लाभ सपा को हुआ, जिसने एक एक सीट भाजपा और बसपा से छीनी जबकि रामपुर सीट पर कब्जा बरकरार रखा. कुल 11 विधानसभा सीटों के लिए हुए उपचुनाव के नतीजे गुरूवार शाम को आ गये.

  • प्रियंका गांधी ने यूपी उपचुनाव में बीजेपी पर लगाया धांधली की कोशिश का आरोप, कहा...

    प्रियंका गांधी ने यूपी उपचुनाव में बीजेपी पर लगाया धांधली की कोशिश का आरोप, कहा...

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बृहस्पतिवार को उत्तर प्रदेश की गंगोह विधानसभा सीट के उपचुनाव में भाजपा पर अपनी पार्टी के उम्मीदवार नोमान मसूद के पक्ष में जा रहे निर्णय को बदलवाने के प्रयास का आरोप लगाया है. प्रियंका ने ट्वीट कर दावा किया, ‘‘भाजपा इतने अहंकार में है कि गंगोह में हमारे जीतते हुए प्रत्याशी को काउंटिंग सेंटर से निकालकर उनका मंत्री जनता का निर्णय बदलने के प्रयास में है. जिला अधिकारी को पांच-पांच बार फोन पर लीड कम करवाने के आदेश आ रहे थे. यह लोकतंत्र का सरासर अपमान है.’’

  • यूपी विधानसभा उपचुनाव 2019: आधी से ज्यादा सीटों पर BJP को बढ़त, दो सीटों पर सपा आगे

    यूपी विधानसभा उपचुनाव 2019: आधी से ज्यादा सीटों पर BJP को बढ़त, दो सीटों पर सपा आगे

    निर्वाचन आयोग से मिली जानकारी के मुताबिक, सुबह 8 बजे शुरू हुई मतगणना के प्रारंभिक रुझान में भाजपा ने छह सीटों इगलास, लखनऊ कैंट, मानिकपुर, गोविंदपुर, घोसी और बलहा सीटों पर बढ़त बना रखी है. इसके अलावा रामपुर और जैदपुर सीटों पर सपा के प्रत्याशी आगे चल रहे हैं.

  • विधानसभा उपचुनाव के नतीजे उत्तर प्रदेश और बिहार में बदल सकते हैं सियासी हवा

    विधानसभा उपचुनाव के नतीजे उत्तर प्रदेश और बिहार में बदल सकते हैं सियासी हवा

    उत्तर प्रदेश की 11 विधानसभा सीटों के उपचुनाव के तहत सोमवार सुबह सात बजे मतदान जारी है. वोट शाम छह बजे तक पड़ेंगे. मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक प्रदेश की गंगोह, रामपुर, इगलास, लखनऊ (कैंट), गोविंद नगर, मानिकपुर, प्रतापगढ़, जैदपुर, जलालपुर, बलहा तथा घोसी विधानसभा सीटों पर मतदान शांतिपूर्ण ढंग से हो रहा है. इस उपचुनाव में कुल 41,08,328 मतदाता 2,307 मतदान केंद्रों के 4,529 मतदेय स्थलों पर वोट डाल रहे हैं. उपचुनाव में कुल 109 प्रत्याशियों के भाग्‍य का फैसला होगा. मतदान के लिए 5435 इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनें, इतनी ही बैलेट यूनिट तथा 5,888 वीवीपैट तैयार की गई हैं. 

  • उपचुनाव: यूपी और बिहार समेत 18 राज्यों की 51 विधानसभा और 2 लोकसभा सीट पर मतदान आज

    उपचुनाव: यूपी और बिहार समेत 18 राज्यों की 51 विधानसभा और 2 लोकसभा सीट पर मतदान आज

    बीजेपी और उसके सहयोगी दलों के पास इनमें से करीब 30 सीटें हैं जबकि कांग्रेस ने 12 सीटें जीती थीं और बाकी क्षेत्रीय दलों के पास गई थीं. बीजेपी शासित उत्तर प्रदेश की 11 सीटों, गुजरात की 6 सीटों, बिहार की 5, असम की 4 और हिमाचल प्रदेश और तमिलनाडु की 2-2 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होगा.

  • यूपी के उपचुनाव में हार का मिथक तोड़ना चाहती है BJP, पिछले उपचुनाव में नहीं रहा था अच्छा अनुभव

    यूपी के उपचुनाव में हार का मिथक तोड़ना चाहती है BJP, पिछले उपचुनाव में नहीं रहा था अच्छा अनुभव

    साल 2017 के चुनाव में इन 10 सीटों में से बसपा और सपा ने सिर्फ दो सीटें जलालपुर और रामपुर जीती थीं, लेकिन अबकी भाजपा सभी पर नजर गड़ाए हुए है. भाजपा की कोशिश है कि इस बार के चुनाव में सभी सीटों पर जीत दर्ज हो, ताकि अभी तक हुए उपचुनावों में हुई हार का मिथक टूट सके. चुनाव की घोषणा के पहले मुख्यमंत्री योगी, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव और संगठन महामंत्री सुनील बंसल चुनाव वाले क्षेत्रों का दौरा कर कई कार्यक्रमों के माध्यम से अपनी उपस्थिति दर्ज करा चुके हैं.

  • Rajya Sabha By Elections: BJP ने बिहार से सतीश दुबे, यूपी से सुधांशु त्रिवेदी को बनाया उम्मीदवार

    Rajya Sabha By Elections: BJP ने बिहार से सतीश दुबे, यूपी से सुधांशु त्रिवेदी को बनाया उम्मीदवार

    भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने गुरुवार को उत्तर प्रदेश से राज्यसभा उपचुनाव (Rajya Sabha By Election) के लिए सुधांशु त्रिवेदी (Sudhanshu Trivedi) और बिहार से सतीश दुबे (Satish Dubey) को उम्मीदवार बनाया है. भाजपा कार्यालय के बयान के अनुसार, 'भाजपा ने राष्ट्रीय प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी को पार्टी ने उपचुनाव में उम्मीदवार बनाया है. यह सीट अरुण जेटली के निधन के कारण खाली हुई थी.

  • यूपी में उपचुनाव से पहले योगी सरकार को बड़ा झटका, OBC जातियों को SC लिस्ट में डालने के फ़ैसले पर रोक

    यूपी में उपचुनाव से पहले योगी सरकार को बड़ा झटका, OBC जातियों को SC लिस्ट में डालने के फ़ैसले पर रोक

    उपचुनाव (Bypoll) से पहले यूपी की योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) सरकार को इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) से बड़ा झटका लगा है. इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ओबीसी की 17 जातियों को अनुसूचित जाति में शामिल करने के योगी सरकार के शासनादेश पर रोक लगा दी है.

  • यूपी उपचुनाव: कांग्रेस ने हरदीपक निषाद को हमीरपुर से बनाया उम्मीदवार, इनसे मिलेगी टक्कर...

    यूपी उपचुनाव: कांग्रेस ने हरदीपक निषाद को हमीरपुर से बनाया उम्मीदवार, इनसे मिलेगी टक्कर...

    कांग्रेस ने उत्तर प्रदेश की हमीरपुर विधानसभा सीट (Hamirpur Vidhan Sabha) पर उपचुनाव के लिए रविवार को हरदीपक निषाद (Hardeepak Nishad) को अपना उम्मीदवार घोषित किया. भाजपा विधायक अशोक कुमार सिंह चंदेल को हत्या मामले में दोषी पाए जाने के बाद अयोग्य घोषित कर दिया गया था, जिसके चलते इस सीट पर उपचुनाव (Hamirpur Bypoll) होना है.

  • अखिलेश और ओमप्रकाश राजभर की मुलाकात से राजनीति कयासबाजी तेज

    अखिलेश और ओमप्रकाश राजभर की मुलाकात से राजनीति कयासबाजी तेज

    समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर की यहां शुक्रवार को हुई मुलाकात से राजनीतिक कयासबाजी तेज हो गई है. योगी सरकार से बर्खास्त किए गए ओमप्रकाश राजभर लोकसभा चुनाव के बाद फिर से सक्रिय दिखाई दे रहे हैं. प्रदेश की 13 विधानसभा सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव में उनकी दिलचस्पी दिख रही है.

  • नीरज शेखर अब बीजेपी से राज्यसभा में पहुंचे, निर्विरोध निर्वाचित

    नीरज शेखर अब बीजेपी से राज्यसभा में पहुंचे, निर्विरोध निर्वाचित

    भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी नीरज शेखर सोमवार को राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित हुए. चुनाव अधिकारी एवं विशेष सचिव बृजभूषण दुबे ने 'भाषा' से कहा, ''आज सोमवार नाम वापसी की समय सीमा समाप्त होने के बाद नीरज शेखर को निर्विरोध निर्वाचित घोषित कर दिया गया.'' उल्लेखनीय है कि राज्य में राज्यसभा की एक सीट के लिए हुए उपचुनाव में भाजपा उम्मीदवार नीरज शेखर का निर्विरोध निर्वाचन पहले ही तय हो गया था क्योंकि उनके अलावा किसी और ने नामांकन नहीं किया था.

  • उत्तर प्रदेश: विधानसभा उपचुनाव नहीं लड़ेगी शिवपाल सिंह यादव की पार्टी

    उत्तर प्रदेश: विधानसभा उपचुनाव नहीं लड़ेगी शिवपाल सिंह यादव की पार्टी

    प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) लोहिया के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने कहा है कि उनकी पार्टी उत्तर प्रदेश में 13 विधानसभा सीटों पर होने जा रहे उपचुनावों में अपने उम्मीदवार नहीं उतारेगी. प्रसपा प्रमुख ने कहा, "उपचुनावों में लड़ने के बजाय हम प्रदेश में पार्टी संगठन को मजबूत करने पर फोकस करेंगे और 2022 विधानसभा चुनावों के लिए तैयारी करेंगे." पार्टी हालांकि प्रदेश में विभिन्न विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में छात्र संघ के चुनावों में हिस्सा लेगी.

  • NEWS FLASH: बीजेपी ने नीरज शेखर को यूपी से राज्यसभा उपचुनाव में उम्मीदवार बनाया

    NEWS FLASH: बीजेपी ने नीरज शेखर को यूपी से राज्यसभा उपचुनाव में उम्मीदवार बनाया

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बृहस्पतिवार को देश को संबोधित कर सकते हैं और ऐसी संभावना है कि वह अपने संबोधन में जम्मू-कश्मीर के विशेष दर्जे को खत्म करने और इसे दो केंद्र शासित क्षेत्रों में तब्दील करने के फैसले पर बात करेंगे.

  • यूपी और राजस्थान की राज्यसभा की दो सीटों के लिए उपचुनाव 26 अगस्त को

    यूपी और राजस्थान की राज्यसभा की दो सीटों के लिए उपचुनाव 26 अगस्त को

    राज्यसभा की दो सीटों पर उपचुनाव 26 अगस्त को होंगे. राजस्थान में मदनलाल सैनी की मृत्यु के कारण और उत्तर प्रदेश में नीरज शेखर के इस्तीफे के कारण राज्यसभा की दो सीटें रिक्त हो गई हैं जिन पर उपचुनाव होगा. राजस्थान से राज्यसभा सांसद और बीजेपी की प्रदेश इकाई के पूर्व अध्यक्ष मदनलाल सैनी का गत 24 जून को निधन हो गया था. उत्तर प्रदेश से समाजवादी पार्टी के राज्यसभा सांसद और पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के बेटे नीरज शेखर ने 15 जुलाई को राज्यसभा की सदस्यता से इस्तीफ़ा दे दिया जिससे उनकी सीट रिक्त हो गई. इन दोनों सीटों के लिए उपचुनाव कराए जाएंगे.

  • विधानसभा उपचुनाव: SP को मुस्लिम वोट बैंक संजोने की चिंता, मायावती के अलग होने के बाद अखिलेश की बढ़ी चुनौती

    विधानसभा उपचुनाव: SP को मुस्लिम वोट बैंक संजोने की चिंता, मायावती के अलग होने के बाद अखिलेश की बढ़ी चुनौती

    सूत्र बताते हैं कि प्रदेश की जिन 12 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं, उनमें से केवल एक रामपुर ही सपा के कब्जे में है. ऐसे में रामपुर पर कब्जा बरकरार रखने के साथ समाजवादी अन्य सीटों पर भी बेहतर प्रदर्शन चाहती है. इसके सपा मुखिया अखिलेश यादव विदेश से लौटने के बाद लगातार कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रहे हैं. उपचुनाव के लिए सीटवार समीक्षा भी कर रहे हैं.

  • यूपी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भविष्यवाणी 100% सच साबित हुई, जानिये PM ने क्या कहा था? 10 बातें...

    यूपी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भविष्यवाणी 100% सच साबित हुई, जानिये PM ने क्या कहा था? 10 बातें...

    यूपी में बना महागठबंधन (Mahagathbandhan) पहले लोकसभा चुनावों (Lok Sabha Elections) में अपने लक्ष्य पाने में नाकाम रहा और उसके बाद अब वह टूटता नज़र आ रहा है. पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) के साथ-साथ कई नेताओं ने बुआ-बबुआ की जोड़ी को चुनाव परिणाम के बाद टूटने की बात कही थी. बता दें कि दिल्ली में कार्यकर्ताओं के साथ एक बैठक में मायावती (Mayawati) ने साफ कर दिया कि विधानसभा की 11 सीटों पर होने वाले उपचुनावों में BSP अकेले लड़ेगी. वैसे ये भी एक नया चलन है, क्योंकि बीएसपी (BSP) आम तौर पर उपचुनाव लड़ने से अब तक परहेज करती रही है, लेकिन आज की बैठक में मायावती ने जो कुछ कहा, उससे साफ है कि वो नई राजनीतिक लड़ाई लड़ने की तैयारी कर रही हैं और गठबंधन उनके लिए अप्रासंगिक हो रहा है. बता दें कि लोकसभा चुनाव से पहले 12 जनवरी को उत्तर प्रदेश की राजनीति के दो कट्टर प्रतिद्वंद्वी समाजवादी पार्टी (SP) और बहुजन समाज पार्टी (BSP) ने मिलकर आम चुनाव लड़ने का ऐतिहासिक फैसला लिया था, लेकिन चुनाव में इस गठबंधन को उम्मीद के मुताबिक कामयाबी नहीं मिली. बसपा के खाते में 10 सीटें आईं, जबकि सपा को 5 सीट से ही संतोष करना पड़ा. हालांकि गठबंधन तोड़ने का ऐलान अभी तक बसपा प्रमुख मायावती ने औपचारिक रूप से नहीं किया है. इन सबके बाद अब पीएम नरेंद्र मोदी की यह भविष्यवाणी सच साबित हो गई कि चुनाव बात यह गठबंधन टूट जाएगा. पीएम मोदी के साथ-साथ यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी चुनाव बाद इस गठबंधन के टूटने की बात कही थी.

  • सपा-बसपा की राह हुई अलग? इन 5 वजहों से टूट गया गठबंधन

    सपा-बसपा की राह हुई अलग? इन 5 वजहों से टूट गया गठबंधन

    समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच लोकसभा चुनाव से पहले हुए गठबंधन का अंत हो गया है. हालांकि इसकी कोई अभी तक औपचारिक घोषणा नहीं हुई है लेकिन मायावती ने 11 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में अकेले दम पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर गठबंधन की स्‍थ‍िति साफ कर दी है. इस मसले पर अभी सपा की ओर से कोई बयान नहीं आया है. सपा-बसपा गठबंधन को पहले भी राजनीतिक विश्‍लेषक बेमेल समझौता बताते आ रहे थे. इस दौरान मायावती की चालाकी का भी जिक्र आया कि कैसे उन्‍होंने अखिलेश यादव के खाते में उन सीटों को दे दिया जिस पर उनकी जीत की कोई गुंजाइश नहीं बन पा रही थी. लखनऊ, गोरखपुर, बनारस, गाजियाबद जैसी लोकसभा सीटें इसके उदाहरण हैं. गठबंधन को लेकर सपा के संस्‍थापक और पूर्व मुख्‍यमंत्री मुलायम सिंह यादव खुश नहीं थे. अपनी नाराजगी उन्‍होंने साफ जाहिर कर दी थी. सपा से अलग होकर शिवपाल सिंह यादव ने अपनी पार्टी बनाई और अपने उम्‍मीदवार सभी सीटों पर उतारे. शिवपाल यादव ने भी इस गठबंधन का मजाक उड़ाया था. गेस्‍ट हाउस कांड का भी जिक्र आया लेकिन कहा गया कि दोनों पार्टियां अब इस हादसे से उबर चुकी हैं. मंच पर मायावती के साथ मुलायम और अखिलेश की कई तस्‍वीरें सामने आईं. हालांकि एक चुनावी भाषण में मायावती यह कहने से नहीं चूकीं कि सपा के कार्यकर्ताओं को बसपा के लोगों से काफी कुछ सीखने की जरूरत है.