NDTV Khabar

रवीश कुमार


'रवीश कुमार' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • क्या डर से ग़ैर हाज़िर हो रहे हैं बिहार में मेडिकल अफसर, इटली में 100 डॉक्टर और नर्स की मौत

    क्या डर से ग़ैर हाज़िर हो रहे हैं बिहार में मेडिकल अफसर, इटली में 100 डॉक्टर और नर्स की मौत

    बिहार के सरकारी डॉक्टरों का मनोबल बढ़ाने की ज़रूरत है. बहुत से डॉक्टर बिना अनुमति के ग़ैर हाज़िर हो जा रहे हैं. इस संकट में अगर 31 मार्च को 76 चिकित्सा पदाधिकारि और 2 अप्रैल को 60 चिकित्सा पदाधिकारी काम पर नहीं जाएंगे तो ठीक नहीं है. बिहार सरकार ने 76 ऐसे मेडिकल अफसर से तीन दिन के भीतर जवाब मांगा है. इसके अलावा 122 मेडिकल अफसरों के खिलाफ भी विभागीय कार्रवाई कर रही है.

  • दुनिया में कोरोना संक्रमण को लेकर क्या-क्या हो रहा है

    दुनिया में कोरोना संक्रमण को लेकर क्या-क्या हो रहा है

    कोरोना वायरस से संबंधित किसी भी रिपोर्ट में संक्रमित लोगों और मरने वालों की संख्या लगातार बदल रही है. इसका ध्यान रखें. इन खबरों को पढ़ते हुए आतंकित नहीं होना है. बल्कि सतर्क रहने का प्रण मज़बूत करना है. आपकी सतर्कता ही जान बचाएगी. 

  • भारत में कोरोना मरीज़ कम हैं या भारत टेस्ट ही नहीं कर पा रहा है?

    भारत में कोरोना मरीज़ कम हैं या भारत टेस्ट ही नहीं कर पा रहा है?

    29 फरवरी को भारत में कोरोना संक्रमण के 3 मामले थे. 30 मार्च तक यह संख्या 1,251 हो गई. 30 मार्च को 227 नए मामले सामने आए. अभी तक 24 घंटे के भीतर इतनी संख्या कभी नहीं बढ़ी थी. क्या भारत में कोरोना का संक्रमण कम हुआ है या भारत टेस्ट कम कर रहा है? क्यों कम टेस्ट कर रहा है? क्या भारत के पास टेस्ट किट नहीं हैं? संक्रमण के बारे में जानने का यही तरीका है कि टेस्ट हो जाए. जांच रिपोर्ट आ जाए.

  • एक दिन में बढ़ गए कोरोना के 10,000 मामले, आखिर क्यों पिछड़ गया अमरीका लड़ाई में?

    एक दिन में बढ़ गए कोरोना के 10,000 मामले, आखिर क्यों पिछड़ गया अमरीका लड़ाई में?

    अमरीका में एक दिन में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज़ों की संख्या 10,000 बढ़ गई है. इस छलांग से अमरीका चीन और इटली से भी आगे निकल गया है. अमरीका में संक्रमित मरीज़ों की संख्या 85,500 हो गई है. चीन में 81,782 मामले सामने आ चुके हैं और इटली में 80,589 मामले. चीन में 81,000 मामलों में से 74,000 ठीक हो चुके हैं. लेकिन अमरीका में करीब 86,000 केस में से 800 के आस-पास ही ठीक हुए हैं. ध्यान रखिएगा कि संक्रमित मरीज़ों की संख्या दुनिया भर में पल पल बदल रही है.

  • मोदी सरकार के 1.7 लाख करोड़ के पैकेज को समझे बगैर पैकेजिंग में लग गया मीडिया

    मोदी सरकार के 1.7 लाख करोड़ के पैकेज को समझे बगैर पैकेजिंग में लग गया मीडिया

    बहुत से लोग निराश हैं कि वित्त मंत्री ने EMI को लेकर राहत नहीं दी. किरायेदारों के लिए कुछ नहीं कहा. छोटे बिजनेस के लिए लिए गए बैंक लोन पर रोक नहीं लगाई. कई लोगों ने कर्मशियल गाड़ियां लोन पर ली हैं, उनकी किश्त का क्या होगा? उम्मीद कीजिए कि वित्त मंत्री इस बारे में कोई फैसला लेंगे. सोनिया गांधी ने इस बारे में सरकार को लिखा है. आप फैसलों की प्रक्रिया देखिए. सब कुछ धीरे धीरे आ रहा है. देर से आ रहा है. सब्र कीजिए. क्या पता आपको भी राहत मिल जाए..

  • रवीश कुमार की कोरोना वायरस को लेकर बिहार के लोगों से अपील

    रवीश कुमार की कोरोना वायरस को लेकर बिहार के लोगों से अपील

    मंदिर मस्जिद के बंद करने से लोगों में यह सूचना तेज़ी से फैलती है कि क्यों बंद किया गया है. कोरोना के कारण बंद किया गया है ताकि लोग एक दूसरे के क़रीब न आएँ. इससे जागरूकता फैलती है.

  • विदेश से आकर जो भी छिपे बैठे हैं, बाहर आएं, खुद बताएं डरे नहीं

    विदेश से आकर जो भी छिपे बैठे हैं, बाहर आएं, खुद बताएं डरे नहीं

    बाली, इंडोनेशिया से एक भारतीय जोड़ा आया. उसे शम्शबाद एयरपोर्ट पर 14 दिनों के लिए क्वारेंटिन में रखा गया. दोनों वहां से भाग गए. उसके बाद बंगलुरू-हज़रत निज़ामुद्दीन ट्रेन में सवार हो गए जो दिल्ली जा रही थी. टिकट कंडक्टर की नज़र उनके सामान पर पड़ी और शक हुआ. पुलिस बुलाई गई और दोनों पकड़े गए. रेलवे ने 12 ऐसे संदिग्ध यात्रियों की पहचान की है जिन्होंने अलग अलग समय में यात्राएं की हैं. जो संक्रमित पाए गए हैं.

  • कोरोना वायरस : रवीश कुमार ने की दिल्ली के सीएम केजरीवाल से अपील

    कोरोना वायरस : रवीश कुमार ने की दिल्ली के सीएम केजरीवाल से अपील

    शहर बंद होने की स्थिति में है. दिहाड़ी मज़दूरी कर जीने वाले लोगों के भोजन की व्यवस्था करनी चाहिए. बहुत से रेहड़ी पटरी वाले खोमचे वालों की बिक्री बंद सी हो गई है. डॉ. मैथ्यू का सुझाव है कि आप सभी लोगों से अपील करें कि अपने घर में दो रोटी अलग से बना लें और एक कटोरी सब्ज़ी. इसे रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के ज़रिए जमा करें. वॉलेंटियर बनाए जो लोगों को उनकी जगह पर जाकर रोटी और सब्ज़ी दें.

  • पीएम मोदी कोरोना वायरस से निपटने के लिए सार्क देशों के वीडियो कॉन्फ्रेंस में होंगे शामिल

    पीएम मोदी कोरोना वायरस से निपटने के लिए सार्क देशों के वीडियो कॉन्फ्रेंस में होंगे शामिल

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना वायरस से निपटने के लिए सार्क देशों द्वारा आयोजित एक वीडियो कॉन्फ्रेंस में हिस्सा लेंगे. इस कॉन्फ्रेंस में कोरोना के खिलाफ एक साझा रणनीति पर चर्चा की जाएगी. दुनिया भर में 5,000 लोगों की जान ले चुके कोरोना वायरस से 1 लाख से ज्यादा लोग पूरी दुनिया में प्रभावित हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने ट्वीट किया है कि एक साझा हित के लिए आगे आएं. 15 मार्च शाम 5 बजे. पीएम मोदी सार्क देशों की वीडियो कॉन्फ्रेंस में भारत का नेतृत्व करेंगे.  यह कॉन्फ्रेंस कोरोना वायरस के खिलाफ एक साझा रणनीति बनाने के लिए आयोजित की जा रही है.  

  • रवीश कुमार का ब्‍लॉग : फ़ेस आइडेंटिफिकेशन सॉफ़्टवेयर और सवाल

    रवीश कुमार का ब्‍लॉग : फ़ेस आइडेंटिफिकेशन सॉफ़्टवेयर और सवाल

    फ़ेस आइडेंटिफिकेशन सॉफ्टवेयर, लोकसभा में दिल्ली दंगों पर चर्चा का जवाब देते हुए जब गृहमंत्री अमित शाह ने इसका नाम लिया तो कुछ सदस्य सन्न रह गए. उनसे ज्यादा सन्न हो गए इस टेक्नॉलजी की जानकारी रखने वाले लोग. चीन को छोड़ कर दुनिया भर में इस टेक्नॉलजी को लेकर एक राय नहीं है.

  • कोरोना दुनिया भर की सरकारों के सामने चुनौती

    कोरोना दुनिया भर की सरकारों के सामने चुनौती

    क्या दुनिया कुछ दिनो के लिए ठप्प होने के कगार पर पहुंच गई है? क्या दुनिया के कई देशों को क्वारेंटाइन करने की नौबत आ सकती है? विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस को पैनेडेमिक घोषित कर दिया है. दिल्ली में इसे महामारी घोषित किया गया है और 31 मार्च तक के लिए सारे सिनेमा घर बंद कर दिए गए हैं. जहां इम्तहान खत्म हो चुके हैं उन स्कूलों के बंद कर दिए जाने के आदेश दे दिए गए हैं.

  • दिल्ली की हिंसा पर लोकसभा में कितनी संवेदनशील चर्चा?

    दिल्ली की हिंसा पर लोकसभा में कितनी संवेदनशील चर्चा?

    जिस दिल्ली दंगे में 50 से अधिक लोग मारे गए और 500 से अधिक घायल हो गए, क्या आप नहीं जानना चाहेंगे कि जब इस पर लोकसभा में चर्चा हुई तो सदन में क्या बात हुई, विपक्ष के नेताओं ने क्या तैयारी की थी और सरकार की तरफ से गृहमंत्री और बीजेपी के सांसदों ने क्या कहा. आप भी लोकसभा की वेबसाइट पर सभी के भाषणों को पूरा पढ़ सकते हैं क्योंकि वहां शब्दश: होता है.

  • अदालतों पर भरोसे की बहाली का फ़ैसला...

    अदालतों पर भरोसे की बहाली का फ़ैसला...

    इलाहाबाद हाइकोर्ट में दो जजों की बेंच ने जो फैसला सुनाया है वो कम महत्वपूर्ण नहीं है. ऐसा फैसला बता रहा है कि कुछ बचा है कि अदालतों के भरोसे ही वरना अब सरकार अपने उन फैसलों के लिए भी शर्मिंदा नहीं होती जो संवैधानिक मूल्यों और मर्यादाओं के खिलाफ़ पाई जाती हैं. पहले मामला समझिए. लखनऊ की सड़कों पर 50 लोगों की तस्वीरें उनकी निजी जानकारी के साथ बैनर पर लगा दी गईं.

  • अब यस बैंक के खाताधारकों पर संकट का साया

    अब यस बैंक के खाताधारकों पर संकट का साया

    सिर्फ इतना कह देने से कि खाताधारकों को परेशान होने की ज़रूरत नहीं है, यस बैंक के खाताधारकों को यकीन नहीं हुआ. सुबह हुई तो कई शहरों में यस बैंक के ब्रांच के बाहर खाताधारकों की भीड़ लग गई. प्राइवेट सेक्टर का यह चौथा बड़ा बैंक है. इस बैंक ने दो लाख करोड़ लोन दिए हैं जिसका बड़ा हिस्सा डूब रहा है, जो शायद वापस न आए.

  • इस दिल्ली में भीड़ के पास बंदूकें कहां से आईं?

    इस दिल्ली में भीड़ के पास बंदूकें कहां से आईं?

    दिल्ली दंगों में मरने वालों की संख्या 53 हो गई है. जीटीबी अस्तपाल में 44, लोकनायक जयप्रकाश नारायण अस्पताल मे 3, राम मनोहर लोहिया में 5 और जगप्रवेश अस्पताल में 1 की मौत हुई है. पुलिस दंगों की जांच में जुट गई है. दंगों के मामले में 600 से अधिक एफआईआर हुई है. हर दिन कहीं न कहीं एक नया वीडियो उभर आता है जो इस हिंसा को समझने का नया मौका देता है. हमने पहले के कार्यक्रम में भी कहा है कि वीडियो अपने आप में संपूर्ण नहीं हो सकते यानी शुरू कहां से हुआ या खत्म कब हुआ पता नहीं चलता है. लेकिन वीडियो में जो होता हुआ दिख रहा है वो भी कम महत्वपूर्ण नहीं है.

  • पहले दंगों से जूझे अब चुनौतियों से जूझ रहे हैं

    पहले दंगों से जूझे अब चुनौतियों से जूझ रहे हैं

    दिल्ली दंगों की बहसें बड़ी होने लगी हैं. इन बहसों के लिए खलनायक चुन लिए गए हैं ताकि आराम कुर्सी पर बैठे प्रवक्ताओं के भाषण में जोश आ सके. धीरे-धीरे अब चैनलों से मरने वालों की संख्या भी हटती जा रही है, लेकिन उनके पीछे परिवार वाले अलग-अलग चुनौतियों से जूझ रहे हैं.

  • कोरोना वायरस को लेकर एहतियात बढ़ी

    कोरोना वायरस को लेकर एहतियात बढ़ी

    फरवरी के पहले हफ्ते तक केरल में कोरोना वायरस के तीन मामले सामने आए थे. उसके बाद से केरल में कोई नया मामला सामने नहीं आया है लेकिन सोमवार से जैसे ही तीन मामलों की पुष्टि हुई है, दिल्ली के आस पास इस वायरस को लेकर हलचल तेज़ हो गई है. लेकिन आप जो भी देख रहे हैं वो एहतियात के तौर पर तैयारियों की तस्वीरें हैं. सतर्क रहना है उसमें बुराई नहीं है लेकिन आप सभी से अनुरोध है कि अनावश्यक अफवाहबाज़ी और चिन्ताओं से दूर भी रहें.

  • दिल्ली दंगा- बेकरी से लेकर रेडिमेड गारमेन्ट्स को निशाना बनाने की कोशिश

    दिल्ली दंगा- बेकरी से लेकर रेडिमेड  गारमेन्ट्स को निशाना बनाने की कोशिश

    उत्तर पूर्वी दिल्ली की आबादी करीब 26 लाख होनी चाहिए. 23 लाख मतदाता हैं. यहां आबादी की बसावट का पैटर्न इस तरह से नहीं है कि बहुसंख्यक एक जगह बसते हों और अल्पसंख्यकों की बसावट उससे दूर कहीं किसी एक जगह पर हो. उत्तर पूर्वी दिल्ली में एक ही गली में हिन्दू और मुसलमान दोनों हैं. ऐसा भी है कि एक गली में मुसलमान है, तो बगल की गली में हिन्दू हैं. ऐसा है कि दोनों के मोहल्ले कहीं कहीं साफ-साफ अलग-अलग हैं. कुल मिलाकर देखेंगे तो यहां की बसावट मिली जुली बसावट है.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com