NDTV Khabar

राजनीति में अपराधी


'राजनीति में अपराधी' - 13 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • सोचिएगा, समझिएगा, दुनिया में हिन्दुस्तान की भद्द न पिटवाइएगा

    सोचिएगा, समझिएगा, दुनिया में हिन्दुस्तान की भद्द न पिटवाइएगा

    परीक्षा में पास होने के लिए न्यूनतम 33 प्रतिशत अंक होने चाहिए. हमने पिछली लोकसभा में 34 प्रतिशत ऐसे सांसदों को चुन लिया, जिन्होंने अपने घोषणा पत्र में स्वयं पर कोई न कोई आपराधिक मामला दर्ज होना घोषित किया था. 2019 में एक बार फिर यही राजनेता आपके सामने वोट मांगने के लिए आ खड़े हुए हैं.

  • लोकतंत्र के 'मंदिर' में बैठे हैं 30 फीसदी दागी सांसद, सबसे ज्यादा BJP नेताओं के दामन हैं दागदार

    लोकतंत्र के 'मंदिर' में बैठे हैं 30 फीसदी दागी सांसद, सबसे ज्यादा BJP नेताओं के दामन हैं दागदार

    देश की सियासत में राजनेताओं और अपराध का 'चोली-दामन' का साथ रहा है. देश में ऐसी कोई भी राजनीतिक पार्टियां नहीं, जो पूरी तरह से अपराध मुक्त छवि की हो. यानी उनके किसी भी एक नेता पर अपराध के मामले दर्ज नहीं हों. यही वजह है कि राजनीति में अपराधीकरण के मामले पर अपने फैसले में भले ही सुप्रीम कोर्ट ने दागी सांसदों, विधायकों को अयोग्य ठहराने से इनकार कर दिया, मगर कोर्ट ने स्पष्ट रूप से कहा कि अब संसद के भीतर कानून बनाना इसकी जरूरत है. दरअसल, राजनीति में अपराधीकरण को लेकर सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की संविधान पीठ ने मंगलवार को अयोग्य ठहराने से इनकार कर दिया. इस मामले पर फैसला देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वक्त आ गया है कि संसद ये कानून लाए ताकि अपराधी राजनीति से दूर रहें. राष्ट्र तत्परता से संसद द्वारा कानून का इंतजार कर रहा है. कोई ने कहा है कि सिर्फ़ आरोप तय होने से किसी को अयोग्य करार नहीं दिया जा सकता है और बिना सज़ा के चुनाव लड़ने पर रोक नहीं लगाई जा सकती है. साथ ही कोर्ट ने सभी राजनीतिक दलों को चुनाव लड़ रहे उनके जिन उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले दर्ज हैं, उनकी जानकारी वेबसाइटों और इलेक्ट्रॉनिक व प्रिंट, दोनों मीडिया में सार्वजनिक करने के निर्देश दिए. 

  • दागी नेताओं को सुप्रीम कोर्ट से राहत,  पीएम मोदी बोले- वोट बैंक की राजनीति दीमक जैसी, पढ़ें दिन भर की 5 बड़ी खबरें...

    दागी नेताओं को सुप्रीम कोर्ट से राहत,  पीएम मोदी बोले- वोट बैंक की राजनीति दीमक जैसी, पढ़ें दिन भर की 5 बड़ी खबरें...

    सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि कानून का पालन करना सबकी जवाबदेही है. कोर्ट ने कहा कि वक्त आ गया है कि संसद ये कानून लाए ताकि अपराधी राजनीति से दूर रहें. कोर्ट के इस फैसले से दागी नेताओं को राहत मिली है. कोई ने कहा है कि सिर्फ़ आरोप तय होने से किसी को अयोग्य करार नहीं दिया जा सकता है और बिना सज़ा के चुनाव लड़ने पर रोक नहीं लगाई जा सकती है.

  • दागी नेताओं को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत, कोर्ट ने कहा- बिना सजा के चुनाव लड़ने से नहीं रोका जा सकता, फैसले की 10 बातें

    दागी नेताओं को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत, कोर्ट ने कहा- बिना सजा के चुनाव लड़ने से नहीं रोका जा सकता, फैसले की 10 बातें

    राजनीति में अपराधीकरण को लेकर को लेकर सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों का संविधान पीठ ने कहा कि करप्शन एक नाउन है. चीफ जस्टिस ने कहा कि करप्शन राष्ट्रीय आर्थिक आतंक बन गया है. भारतीय लोकतंत्र में संविधान के भारी मेंडेट के बावजूद राजनीति में अपराधीकरण का ट्रेंड बढ़ता जा रहा है. कोर्ट ने कहा कि कानून का पालन करना सबकी जवाबदेही है. कोर्ट ने कहा कि वक्त आ गया है कि संसद ये कानून लाए ताकि अपराधी राजनीति से दूर रहें. पब्लिक लाइफ में आने वाले लोग अपराझ राजनीति से ऊपर हों. राष्ट्र तत्परता से संसद द्वारा कानून का इंतजार कर रहा है. कोर्ट ने इस फैसले से दागी नेताओं को राहत मिली है. कोई ने कहा है कि सिर्फ़ आरोप तय होने से किसी को अयोग्य करार नहीं दिया जा सकता है और बिना सज़ा के चुनाव लड़ने पर रोक नहीं लगाई जा सकती है.

  • 1518 दागी नेताओं के भाग्‍य पर आज आ सकता है सुप्रीम कोर्ट का फैसला, जानें कौन है याचिकाकर्ता

    1518 दागी नेताओं के भाग्‍य पर आज आ सकता है सुप्रीम कोर्ट का फैसला, जानें कौन है याचिकाकर्ता

    क़ानून के मुताबिक आपरराधिक मामलों में दो साल से ज़्यादा की सज़ा होने पर जेल से बाहर आने के बाद 6 साल की अयोग्‌यता का प्रावधान है, जबकि करप्शन और NDPS में सिर्फ़ दोषी करार होना काफ़ी है. 

  • NEWS FLASH : ट्रम्प ने संयुक्त राष्ट्र में कहा : भारत में मुक्त समाज है, लाखों लोगों को सफलतापूर्वक गरीबी से बाहर निकाला

    NEWS FLASH : ट्रम्प ने संयुक्त राष्ट्र में कहा : भारत में मुक्त समाज है, लाखों लोगों को सफलतापूर्वक गरीबी से बाहर निकाला

    राजनीति में अपराधीकरण को लेकर सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों का संविधान पीठ ने फैसला सुना दिया है. कोर्ट ने इस पर आखिरी फैसला संसद को लेेने के लिये कहा है.  कोई ने कहा है कि सिर्फ़ आरोप तय होने से किसी को अयोग्य करार नहीं दिया जा सकता है और बिना सज़ा के चुनाव लड़ने पर रोक नहीं लगाई जा सकती है.

  • गंभीर अपराध के आरोपी चुनाव लड़ सकते हैं? आज आ सकता है सुप्रीम कोर्ट का फैसला

    गंभीर अपराध के आरोपी चुनाव लड़ सकते हैं? आज आ सकता है सुप्रीम कोर्ट का फैसला

    सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों का संविधान पीठ मंगलवार को यह फैसला सुना सकता है कि क्या गंभीर अपराध में अदालत द्वारा आरोप तय करने से किसी व्यक्ति को चुनाव लड़ने से अयोग्य करार दिया जा सकता है?

  • संगीन अपराधों के आरोपियों के चुनाव लड़ने पर लगाई जाए रोक : एसवाई कुरैशी

    संगीन अपराधों के आरोपियों के चुनाव लड़ने पर लगाई जाए रोक : एसवाई कुरैशी

    पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एसवाई कुरैशी ने बुधवार को सुझाव दिया कि जिन लोगों के खिलाफ ‘जघन्य’ आपराधिक मामले हैं, उनके चुनाव लड़ने पर रोक लगा देनी चाहिए.

  • भाजपा सत्ता में आई तो बदले की राजनीति नहीं होगी : प्रेम कुमार धूमल

    भाजपा सत्ता में आई तो बदले की राजनीति नहीं होगी : प्रेम कुमार धूमल

    हिमालच प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा के मुख्यमंत्री उम्मीदवार प्रेम कुमार धूमल ने कहा है कि सत्ता में आने पर वह बदले की राजनीति नहीं करेंगे. उन्होंने कहा है कि प्रदेश में कानून-व्यवस्था कायम करना और अपराधी गिरोहों का उन्मूलन उनकी प्राथमिकता होगी. हमीरपुर स्थित अपने आवास पर धूमल ने कहा,"कोई प्रतिशोध नहीं होगा. हम अपना वक्त प्रदेश के विकास में लगाएंगे. हम दोबारा लोकतंत्र बहाल करने और मूल्यों को स्थापित करने पर ध्यान केंद्रित करेंगे, जिसके लिए सरकार चुनी जाती है. कानून-व्यवस्था कायम की जाएगी, ताकि ड्रग माफिया, खनन माफिया और अन्य सभी अपराधी गिरोहों को काबू किया जा सके."

  • पीएम मोदी और शिवपाल सिंह के 'साहसिक' बयानों से होगी पार्टी में गुंडे बदमाशों की सफाई..

    पीएम मोदी और शिवपाल सिंह के 'साहसिक' बयानों से होगी पार्टी में गुंडे बदमाशों की सफाई..

    शनिवार को भारतीय राजनीति में दो बड़ी दुर्घटना हुई हैं. एक दुर्घटना उत्तर प्रदेश के इटावा में हुई है और दूसरी दिल्ली में हुई. इसे दुर्घटना इसलिए कह रहा हूं कि दो जगहों से दो बड़े नेताओं ने बयान जारी कर अपनी पार्टी और समर्थकों के विशाल हुजूम को अपराधी घोषित कर दिया है.

  • बिहार का स्टिंग - राजनीति की पिक्चर का पूरा सच

    बिहार का स्टिंग - राजनीति की पिक्चर का पूरा सच

    ऐसे स्टिंग तो बानगी हैं, और पूरी पिक्चर तो सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर काले धन को लेकर गठित समिति द्वारा राजनेता-माफिया-अपराध के गठजोड़ के विस्तृत विवरण के माध्यम से पहले ही उपलब्ध है।

  • कपिल सिब्बल ने अपराधियों को राजनीति से दूर रखने वाले बिल का प्रस्ताव रखा

    कपिल सिब्बल ने अपराधियों को राजनीति से दूर रखने वाले बिल का प्रस्ताव रखा

    कानून मंत्री कपिल सिब्बल का यह प्रस्ताव सुप्रीम कोर्ट के जेल में बंद लोगों को चुनाव लड़ने से रोक के फैसले से भी आगे जाकर दोषी जनप्रतिनिधियों को तत्काल अयोग्य ठहराने की व्यवस्था करता है।

  • आपराधिक पृष्ठभूमि वाले उम्मीवारों को बाहर रखा जाए : राहुल गांधी

    आपराधिक पृष्ठभूमि वाले उम्मीवारों को बाहर रखा जाए : राहुल गांधी

    कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पार्टी नेताओं से कहा है कि पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों के दौरान आपराधिक पृष्ठभूमि वाले उम्मीदवारों को दौड़ से बाहर रखा जाए तथा उम्मीदवारों के चयन में विकास खंड स्तर की पार्टी इकाई की भागीदारी सुनिश्चित की जाए।