NDTV Khabar

राजस्थान चुनाव परिणाम


'राजस्थान चुनाव परिणाम' - 67 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • राजस्थान में कांग्रेस को झटका: सत्ता में होने के बाद भी छात्र संगठन चुनाव में हुआ NSUI का सफाया

    राजस्थान में कांग्रेस को झटका: सत्ता में होने के बाद भी छात्र संगठन चुनाव में हुआ NSUI का सफाया

    राजस्थान विश्वविद्यालय के के डीन (छात्र कल्याण) जी पी सिंह ने बताया कि छात्रसंघ अध्यक्ष पद पर निर्दलीय उम्मीदवार पूजा वर्मा विजयी रही उन्होंने अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी उम्मीदवार एनएसयूआई के उत्तम चौधरी को 675 वोटों से हराया. उन्होंने बताया कि उपाध्यक्ष पद पर प्रियंका मीणा, महासचिव पद पर महावीर प्रसाद गुर्जर, संयुक्त सचिव पद पर किरण मीणा ने जीत हासिल की. राज्य में विश्वविद्यालयों व महाविद्यालयों के छात्रसंघों के चुनाव का परिणाम बुधवार को घोषित किया गया. सीकर में परिणाम में कथित धांधली का आरोप लगाते हुए एसएफआई के कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन कर धरना दिया.

  • Rajasthan Election Result 2019: राजस्थान में BJP का क्लीन स्वीप, सभी 25 सीटों पर NDA का कब्जा

    Rajasthan Election Result 2019: राजस्थान में BJP का क्लीन स्वीप, सभी 25 सीटों पर NDA का कब्जा

    Rajasthan Election Results 2019: लोकसभा चुनाव में मोदी लहर का असर राजस्थान में भी दिखा. यहां भारतीय जनता पार्टी (BJP) की अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) ने सभी 25 सीटें जीत लीं. राज्य के इतिहास में पहली बार किसी पार्टी ने लगातार दूसरे चुनाव में एक तरह से एकतरफा जीत दर्ज की है.

  • Rajasthan Election Results 2019: जानिए राजस्‍थान की लोकसभा सीटों के चुनाव परिणाम से जुड़ी जरूरी बातें

    Rajasthan Election Results 2019: जानिए राजस्‍थान की लोकसभा सीटों के चुनाव परिणाम से जुड़ी जरूरी बातें

    2019 के लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) में क्या बीजेपी पुराना पुदर्शन दोहराने में सफल होगी या फिर उपचुनाव में अजमेर और अलवर जैसी हार चुकी सीटों को फिर से पार्टी अपनी झोली में डालेगी, इस पर सबकी निगाहें टिकी हैं.

  • केंद्रीय मंत्री अठावले की राहुल गांधी को सलाह: 'पप्पू' नहीं आपको 'पापा' होना चाहिए, जल्दी करें शादी

    केंद्रीय मंत्री अठावले की राहुल गांधी को सलाह: 'पप्पू' नहीं आपको 'पापा' होना चाहिए, जल्दी करें शादी

    राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के चुनावों में कांग्रेस की जीत की पृष्ठभूमि में अठावले ने संकेत दिये कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी एक परिपक्व नेता बन गए हैं. उन्होंने यह भी कहा कि राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में भाजपा की चुनावी हार का प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से कुछ लेना देना नहीं है. अठावले ने कहा, ‘चुनावों में हार भाजपा की है न कि नरेन्द्र मोदी की.’

  • सबसे धनी उम्मीदवार वोटों के मामले में साबित हुई कंगाल, जमानत भी नहीं बचा पाई

    सबसे धनी उम्मीदवार वोटों के मामले में साबित हुई कंगाल, जमानत भी नहीं बचा पाई

    इस बार विधानसभा चुनाव में सबसे अमीर प्रत्याशी जमींदारा पार्टी की कामिनी जिंदल (घोषित आय 287 करोड़ रुपए) थीं. पिछली विधानसभा में सबसे धनी विधायक रही कामिनी गंगानगर सीट पर इस बार अपनी जमानत तक नहीं बचा सकीं. केवल 4887 मतों के साथ वे छठे स्थान पर रहीं. रोचक बात यह है कि गंगानगर की चर्चित सीट पर निर्दलीय राजकुमार गौड़ विजयी रहे जो कांग्रेस के बागी हैं.

  • Kamal Nath Profile: मध्यप्रदेश के नवनियुक्त सीएम कमलनाथ को तीसरा बेटा मानती थीं इंदिरा गांधी, जानिये उनके बारे में सबकुछ

    Kamal Nath Profile: मध्यप्रदेश के नवनियुक्त सीएम कमलनाथ को तीसरा बेटा मानती थीं इंदिरा गांधी, जानिये उनके बारे में सबकुछ

    चुनाव परिणाम के बाद दो दिन तक चली माथापच्ची के बाद कांग्रेस ने आखिरकार कमलनाथ (Kamal Nath) को मध्यप्रदेश का मुख्यमंत्री (CM Of Madhya Pradesh) घोषित कर दिया. कमलनाथ राज्य के 18वें मुख्यमंत्री होंगे. मध्यप्रदेश में कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के बीच सीएम की रेस थी.

  • जनता ने चंदा देकर चुनाव लड़वाया और बीजेपी-कांग्रेस को धूल चटाकर विधायक बन गया यह कर्जदार किसान

    जनता ने चंदा देकर चुनाव लड़वाया और बीजेपी-कांग्रेस को धूल चटाकर विधायक बन गया यह कर्जदार किसान

    लोकतंत्र में सब संभव है. राजस्थान के विधानसभा चुनाव में एक विरला उदाहरण सामने आया जहां एक कर्ज से दबे रहने वाले किसान ने बीजेपी और कांग्रेस के दमदार उम्मीदवारों को धूल चटा दी. और चुनाव में भी इस किसान को कोई राशि खर्च नहीं करनी पड़ी. चुनाव पर भारी व्यय करने में असमर्थ यह किसान जनता द्वारा एकत्रित पैसों से चुनाव लड़ा और विधायक चुना गया.

  • जनता ने चंदा देकर चुनाव लड़वाया और बीजेपी-कांग्रेस को धूल चटाकर विधायक बन गया यह कर्जदार किसान

    जनता ने चंदा देकर चुनाव लड़वाया और बीजेपी-कांग्रेस को धूल चटाकर विधायक बन गया यह कर्जदार किसान

    लोकतंत्र में सब संभव है. राजस्थान के विधानसभा चुनाव में एक विरला उदाहरण सामने आया जहां एक कर्ज से दबे रहने वाले किसान ने बीजेपी और कांग्रेस के दमदार उम्मीदवारों को धूल चटा दी. और चुनाव में भी इस किसान को कोई राशि खर्च नहीं करनी पड़ी. चुनाव पर भारी व्यय करने में असमर्थ यह किसान जनता द्वारा एकत्रित पैसों से चुनाव लड़ा और विधायक चुना गया.

  • मध्यप्रदेश में सीएम पर सस्पेंस 'खत्म', भोपाल में कांग्रेस कार्यालय के बाहर लगे बधाई वाले पोस्टर...

    मध्यप्रदेश में सीएम पर सस्पेंस 'खत्म', भोपाल में कांग्रेस कार्यालय के बाहर लगे बधाई वाले पोस्टर...

    विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद कांग्रेस में राजस्थान और मध्यप्रदेश में सीएम पद को लेकर माथापच्ची जारी है. सूत्रों की मानें तो ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya Scindia) पर कमलनाथ (Kamal Nath) का पलड़ा भारी है. इस बीच मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल स्थित कांग्रेस कार्यालय के बाहर पोस्टर लगे दिखाई दे रहे हैं, जिनमें कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनने पर बधाई दी गई है.

  • तीन राज्यों में भाजपा की हार के बाद बोले उपेंद्र कुशवाहा- BJP की उल्टी गिनती शुरू

    तीन राज्यों में भाजपा की हार के बाद बोले उपेंद्र कुशवाहा- BJP की उल्टी गिनती शुरू

    पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है कि भाजपा की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है. हिन्दी भाषी तीन राज्यों के विधानसभा चुनावों में भाजपा की हार के बाद उन्होंने यह बात कही. दो दिन पहले भाजपा से नाता तोड़ चुके कुशवाहा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि वह कैबिनेट का रबड़ स्टाम्प के तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं. उन्होंने यह भी कहा कि प्रधानमंत्री पिछड़े वर्गों को धोखा और बिहार को सिर्फ जुमले दे रहे हैं.

  • MP-राजस्थान में 'कौन बनेगा मुख्यमंत्री' पर माथापच्ची जारी, अब है राहुल की 'अग्नि परीक्षा', 10 बड़ी बातें

    MP-राजस्थान में 'कौन बनेगा मुख्यमंत्री' पर माथापच्ची जारी, अब है राहुल की 'अग्नि परीक्षा', 10 बड़ी बातें

    दरअसल, तीन राज्यों में जीत के बाद कांग्रेस के सामने सबसे बड़ी चुनौती है मुख्यमंत्री का  चुनाव करना, जिस पर लगातार माथापच्ची जारी है. हालांकि, बुधवार को कांग्रेस पार्टी ने स्पष्ट किया कि मध्य प्रदेश और राजस्थान में मुख्यमंत्री का फैसला राहुल गांधी करेंगे. हालांकि, यह इतना भी आसान होता नहीं दिख रहा है. क्योंकि राहुल गांधी के लिए यह किसी अग्नि परीक्षा से कम नहीं है. इसकी वजह यह है क्योंकि राहुल गांधी अक्सर युवाओं की बात करते हैं. अब उनके सामने असली चुनौती है कि वह अनुभव और तजुर्बे को तरजीह दें या फिर युवा और उसके जोश को. बहरहाल आज तस्वीर साफ हो जाएगी. बता दें कि बुधवार को राजस्थान और मध्य प्रदेश में विधायक दलों की बैठक हुई और फिर इस बात पर सहमती बनी कि अंतिम फैसला राहुल गांधी ही करेंगे. बता दें कि राजस्थान में मुख्यमंत्री को लेकर अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच मामला फंसा हुई है. सूत्र ऐसा बता रहे हैं कि दो तिहाई विधायक चाहते हैं कि सचिन पायलट ही मुख्यमंत्री बनें. उधर, मध्य प्रदेश में मुख्यमंत्री की कुर्सी को लेकर कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया में टक्कर चल रही है. 

  • समर्थन देने के बाद मायावती ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- जनता ने दिल पर पत्थर रखकर जिताई हैं इतनी सीटें

    समर्थन देने के बाद मायावती ने कांग्रेस पर साधा निशाना, कहा- जनता ने दिल पर पत्थर रखकर जिताई हैं इतनी सीटें

    मायावती ने कहा कि यदि इस मामले में राजस्थान में भी कांग्रेस को बसपा के समर्थन जरूरत महसूस हुई तो वहां भी भाजपा को सत्ता में आने से रोकने के लिए कांग्रेस को समर्थन दिया जा सकता है. बता दें कि मध्य प्रदेश और राजस्थान में भाजपा व कांग्रेस में से किसी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिला है. इन राज्यों में बसपा को मध्य प्रदेश में दो और राजस्थान में छह सीटें मिली है. वहीं मध्य प्रदेश में सामान्य बहुमत के जादुई आंकड़े से महज दो सीट पीछे रही कांग्रेस को 114 और भाजपा को 109 सीट मिली हैं जबकि राजस्थान में कांग्रेस ने 99 और भाजपा ने 73 सीटें जीती हैं.

  • NEWS FLASH: राहुल गांधी से मुलाकात कर निकले अशोक गहलोत, चंद मिनटों की हुई मुलाकात, राजस्थान के सीएम पर शुक्रवार को होगा फैसला

    NEWS FLASH: राहुल गांधी से मुलाकात कर निकले अशोक गहलोत, चंद मिनटों की हुई मुलाकात, राजस्थान के सीएम पर शुक्रवार को होगा फैसला

    देश-दुनिया की राजनीति, खेल एवं मनोरंजन जगत से जुड़े समाचार इसी एक पेज पर जानें...

  • दिनभर माथापच्ची के बाद भी राजस्थान, MP में मुख्यमंत्री पर नहीं बनी बात, राहुल गांधी करेंगे फैसला

    दिनभर माथापच्ची के बाद भी राजस्थान, MP में मुख्यमंत्री पर नहीं बनी बात, राहुल गांधी करेंगे फैसला

    विधानसभा चुनाव में जीत के बाद अब कांग्रेस के अंदर मुख्यमंत्री पद को लेकर माथापच्ची चल रही है. मंगलवार को आए चुनावी नतीजों के बाद बुधवार के दिन बैठकों का दौर चला. मध्यप्रदेश के भोपाल में और राजस्थान के जयपुर में दिन भर चली मैराथन बैठकों के बाद भी मुख्यमंत्री का फैसला नहीं हो सका. राजस्थान और मध्यप्रदेश दोनों जगहों पर सीएम के दो-दो उम्मीदवार हैं. एक तरफ अशोक गहलोत और सचिन पायलट हैं, तो वहीं दूसरी ओर कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया. विधायक दल की बैठक के बाद जब निष्कर्ष नहीं निकला, तब यह तय हुआ कि पार्टी आलाकमान यानि राहुल गांधी सीएम का अंतिम फैसला करेंगे. इस बीच देर शाम राहुल गांधी ने ऑडियो संदेश जारी कर कार्यकर्ताओं से उनकी राय पूछी. उन्होंने सवा 7 लाख कार्यकर्ताओं को ऑडियो संदेश भेजकर कहा कि उनकी राय गोपनीय रखी जाएगी.

  • विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने झूठ बोलकर जनादेश लिया : योगी आदित्यनाथ

    विधानसभा चुनावों में कांग्रेस ने झूठ बोलकर जनादेश लिया : योगी आदित्यनाथ

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी ने झूठ बोलकर सत्ता हासिल की है. वे पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव के परिणामों पर पटना में अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे.

  • यशवंत सिन्हा ने चुनावों में करारी हार पर बीजेपी को सिखाए यह सबक

    यशवंत सिन्हा ने चुनावों में करारी हार पर बीजेपी को सिखाए यह सबक

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली बीजेपी को विधानसभा चुनावों में राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बड़ा झटका लगा है. 2019 लोकसभा चुनाव से पहले तीन राज्यों की सत्ता से बेदखल हो जाना बीजेपी के लिए किसी बड़े झटके से कम नहीं है. इन चुनाव परिणामों पर बीजेपी में लंबे समय तक रहे दिग्गज नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने टिप्पणी की है. उन्होंने NDTV.com पर लिखे ब्लॉग में बीजेपी को चुनावों में हार को लेकर सबक सिखाए हैं.

  • यह हार बीजेपी के साथ-साथ मीडिया की भी है, लेकिन जीत कांग्रेस की नहीं किसानों की हुई है

    यह हार बीजेपी के साथ-साथ मीडिया की भी है, लेकिन जीत कांग्रेस की नहीं किसानों की हुई है

    जिन किसानों ने बीजेपी को वोट दिया था आज वो परेशान है .अनाज का सही MSP नहीं मिल रहा है. किसान आज सड़क पर प्रदर्शन कर रहा है. अपना हक मांग रहा है. पांच राज्यों के चुनाव परिणाम यह दर्शाती है कि लोग बीजेपी से खुश नहीं है. मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान में बीजेपी की बड़ी हार है. तीनों राज्यों में बीजेपी की सरकार थी. यह हार सिर्फ बीजेपी की नहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भी है. 

  • विधानसभा चुनाव परिणाम: चिदंबरम ने बीजेपी पर बोला हमला, कहा- कोई जनादेश हड़पने का प्रयास न करे

    विधानसभा चुनाव परिणाम: चिदंबरम ने बीजेपी पर बोला हमला, कहा- कोई जनादेश हड़पने का प्रयास न करे

    सिलसिलेवार ट्वीट में पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि समूचे देश ने संविधान और संवैधानिक मूल्यों की रक्षा के लिए छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्य प्रदेश के मतदाताओं को मुबारकवाद दी है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस तीनों राज्यों में सरकार बनाएगी. ना तो भाजपा को और ना ही राज्यपालों को, किसी को भी तीनों राज्यों में जनादेश हड़पने की कोशिश नहीं करनी चाहिए.