NDTV Khabar

राधामोहन सिंह


'राधामोहन सिंह' - 43 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • TOP 5 NEWS: अलग-अलग राज्यों में कांग्रेस में बगावत और अखिलेश यादव ने दिया मायावती को जवाब

    TOP 5 NEWS: अलग-अलग राज्यों में कांग्रेस में बगावत और अखिलेश यादव ने दिया मायावती को जवाब

    लोकसभा अध्यक्ष पद के लिए भाजपा का शीर्ष नेतृत्व उम्मीदवारों के नाम पर मंथन कर रहा है तथा पूर्व केन्द्रीय मंत्री मेनका गांधी, राधामोहन सिंह एवं वीरेन्द्र कुमार सहित पार्टी के कई वरिष्ठ नेताओं को इस पद की दौड़ में शामिल माना जा रहा है.

  • कौन बनेगा लोकसभा अध्यक्ष? इन तीन नामों की है सबसे ज्यादा चर्चा

    कौन बनेगा लोकसभा अध्यक्ष? इन तीन नामों की है सबसे ज्यादा चर्चा

    सत्रहवीं लोकसभा में सबसे अनुभवी सांसद होने के कारण उन्हें कार्यवाहक अध्यक्ष चुना जा सकता है. राधामोहन सिंह भी छह बार सांसद का चुनाव जीत चुके हैं और उन्हें भी अध्यक्ष पद के लिए एक मजबूत दावेदार माना जा रहा है. सिंह की संगठन पर गहरी पकड़ है तथा उनकी छवि विनम्र एवं सबको साथ लेकर चलने वाले नेता की है. सूत्रों ने कहा कि वीरेन्द्र कुमार भी छह बार से सांसद हैं और उनकी दलित छवि उनके पक्ष में काम कर सकती है.

  • Exit Poll के नतीजों के बाद NDA-2 की तैयारी में PM मोदी और अमित शाह

    Exit Poll के नतीजों के बाद NDA-2 की तैयारी में PM मोदी और अमित शाह

    इस बैठक से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने मंत्रिपरिषद के सदस्यों से मुलाकात की और उनका आभार प्रकट किया. यह बैठक भाजपा मुख्यालय में हुई थी. बैठक में प्रधानमंत्री के अलावा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह सहित राजग सरकार में घटक दलों के मंत्री भी शामिल हुए. इसमें केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, नितिन गडकरी, रामविलास पासवान, स्मृति ईरानी, पीयूष गोयल, मुख्तार अब्बास नकवी, राधामोहन सिंह, हरसिमरत कौर बादल और अनुप्रिया पटेल आदि शामिल हुए.

  • 6th Phase Election: छठे चरण में क्या BJP मार पाएगी 'छक्का'? 2014 में 59 में से जीती थी 45 सीटें

    6th Phase Election: छठे चरण में क्या BJP मार पाएगी 'छक्का'? 2014 में 59 में से जीती थी 45 सीटें

    Lok Sabha Election 6th Phase: छह राज्यों और दिल्ली की 59 लोकसभा सीटों पर छठे चरण का मतदान जारी है. इस चरण के साथ ही केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन (Harshvardhan), राधामोहन सिंह और मेनका गांधी (Maneka Gandhi), सपा प्रमुख अखिलेश यादव और कांग्रेस नेताओं दिग्विजय सिंह तथा ज्योतिरादित्य सिंधिया की किस्मत का फैसला हो जाएगा. छठे दौर के इस चुनाव में उत्तर प्रदेश की 14, हरियाणा की 10, बिहार और मध्य प्रदेश की 8-8, दिल्ली की सात और झारखंड की चार सीटों पर मतदान होना है. इस चरण में कुल 10.17 करोड़ मतदाता मतदान के योग्य हैं जो 979 उम्मीदवारों की किस्मत का फैसला करेंगे. लोकसभा चुनाव के इस चरण को भाजपा के लिये कड़ी परीक्षा के तौर पर देखा जा रहा है क्योंकि 2014 के चुनाव में भाजपा (BJP) ने इनमें से 45 सीटें जीतीं थीं जबकि तृणमूल कांग्रेस को आठ, कांग्रेस को दो और समाजवादी पार्टी और लोजपा को एक-एक सीट पर जीत मिली थी.

  • मोतिहारी : तो क्या राधामोहन सिंह का यह अंतिम चुनाव? कृषि मंत्री के बयान ने चौंकाया

    मोतिहारी : तो क्या राधामोहन सिंह का यह अंतिम चुनाव? कृषि मंत्री के बयान ने चौंकाया

    कृषि मंत्री राधामोहन सिंह का बड़ा बयान आया है कि यह उनका अंतिम चुनाव है. इसके बाद वे चुनाव नही लड़ेंगे. बुधवार को नामांकन के बाद उन्होंने पत्रकारों से यह बात कही. राधामोहन सिंह नौंवी बार मोतिहारी से चुनाव लड़ रहे हैं.

  • करीब 68 लाख किसानों को नहीं मिल पाएगा पीएम किसान योजना का लाभ, ये है कारण

    करीब 68 लाख किसानों को नहीं मिल पाएगा पीएम किसान योजना का लाभ, ये है कारण

    केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने कहा कि 67.82 लाख से ज्यादा किसान सीधा लाभ हस्तांतरण (डीबीटी) योजना से वंचित रह जाएंगे क्योंकि पश्चिम बंगाल, सिक्किम और दिल्ली ने अपना ब्योरा पीएम-किसान पोर्टल पर अपलोड नहीं किया है. इन तीनों प्रदेशों के अलावा, मध्यप्रदेश, राजस्थान, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और लक्षद्वीप में निधि का हस्तांतरण पात्र किसानों को नहीं किया गया है क्योंकि अपलोड किए गए आंकड़ों की जांच व निधि जारी करने की मांग नहीं की गई है.

  • मोदी सरकार के मंत्री का दावा, बालाकोट हमले में इतने आंतकवादी मारे गए - देखें Video

    मोदी सरकार के मंत्री का दावा, बालाकोट हमले में इतने आंतकवादी मारे गए - देखें Video

    सरकारी सूत्रों के मुताबिक यह संख्या 300 है तो बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कम से 250 आतंकवादियों के मरने की बात कही है. अब केंद्रीय मंत्री राधामोहन सिंह (Radha Mohan Singh) ने भी इस संबंध में एक बयान दिया है. राधामोहन सिंह (Radha Mohan Singh) के मुताबिक बालाकोट हमले में 400 आतंकवादी मारे गए हैं.

  • 'ऑपरेशन बालाकोट' में मरने वाले आतंकियों की संख्या पर सियासत!

    'ऑपरेशन बालाकोट' में मरने वाले आतंकियों की संख्या पर सियासत!

    एक सवाल देश में कई लोगों को बेहद परेशान कर रहा है. बालाकोट हमले में कितने आतंकवादी मारे गए? सरकारी सूत्रों के मुताबिक यह संख्या तीन सौ है तो बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कम से कम ढाई सौ आतंकवादियों के मरने की बात कही. कृषि मंत्री राधामोहन सिंह कह रहे हैं कि चार सौ आतंकवादी मारे गए. एक बात बिल्कुल साफ है. किसी भी ऑपरेशन की कामयाबी की पुष्टि तीन जरियों से ही हो सकती है. या तो वायुसेना कहे कि हमला सही निशाने पर किया गया. दूसरा जमीनी खुफिया जानकारी बताए कि हमला कितना कामयाब रहा और तीसरा जरिया तकनीक से जुटाई जानकारी, जिसमें निशाने पर हमले से पहले मौजूद लोगों की संख्या का आकलन हो ताकि हमले में उनके मरने की पुष्टि हो सके.

  • आम बजट से पहले केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह का बड़ा बयान, किसानों को लेकर कही यह बात...

    आम बजट से पहले केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह का बड़ा बयान, किसानों को लेकर कही यह बात...

    क्रॉप केयर फेडरेशन ऑफ इंडिया (सीसीएफआई) द्वारा आयोजित एक सम्मेलन में यहां कृषि मंत्री ने कहा, "गर्व की बात है कि विभिन्न कृषि परियोजनाओं के लागू होने से भारत कृषि क्षेत्र में अग्रणी अर्थव्यवस्थाओं में शुमार हो गया है."

  • देश में तीन वर्षो में 36 हजार किसानों ने आत्महत्या की

    देश में तीन वर्षो में 36 हजार किसानों ने आत्महत्या की

    कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने 2014, 2015 के राष्ट्रीय अपराध रिकार्ड ब्यूरो के आंकड़े तथा वर्ष 2016 के अनंतिम आंकड़ों के हवाले से लोकसभा में यह जानकारी दी.

  • सहयोगी होने के बावजूद केंद्रीय मंत्री राधामोहन सिंह ने मंच से की नीतीश की आलोचना

    सहयोगी होने के बावजूद केंद्रीय मंत्री राधामोहन सिंह ने मंच से की नीतीश की आलोचना

    केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह के बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ कभी बहुत मधुर सम्बन्ध नहीं रहे. कई मुद्दों पर राधामोहन और नीतीश कुमार के बीच पिछले तीन सालों में ठनी जिसके कारण कई योजनाओं के क्रियान्वयन पर प्रतिकूल असर पड़ा. लेकिन सार्वजनिक मंच से सहयोगी होने के बावजूद राधामोहन सिंह बृहस्पतिवार को नीतीश कुमार की आलोचना करने से नहीं चूके.

  • कैबिनेट फेरबदल : आखिर राधामोहन सिंह कैसे बच गए और राजीव प्रताप रूडी को क्यों जाना पड़ा?

    कैबिनेट फेरबदल : आखिर राधामोहन सिंह कैसे बच गए और राजीव प्रताप रूडी को क्यों जाना पड़ा?

    केंद्रीय मंत्रिमंडल में रविवार को हुए फेरबदल के बाद हर व्यक्ति की जिज्ञासा इस सच का कारण जानने में है कि आखिर कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह कैसे बच गए और राजीव प्रताप रूडी को क्यों बाहर किया गया.

  • हुआ रिकॉर्ड उत्पादन, फिर भी है अनाज की कमी की चिंता

    हुआ रिकॉर्ड उत्पादन, फिर भी है अनाज की कमी की चिंता

    अर्थशास्त्र में सबसे काम का और सबसे सरल सिद्धांत मांग और आपूर्ति का सिद्धांत माना जाता है. अगर मांग ज्यादा हो और आपूर्ति कम हो, तो महंगाई बढ़ती है. यहां गेहूं-चावल की मांग बढ़ रही है, लेकिन दाम नहीं बढ़ पा रहे हैं. हालत यह है कि उनके दाम बढ़ाने के लिए किसानों को आंदोलन करना पड़ रहा है.

  • क्या यही है स्वच्छता अभियान? खुले में पेशाब करते दिखे पीएम मोदी के मंत्री, फोटो वायरल

    क्या यही है स्वच्छता अभियान? खुले में पेशाब करते दिखे पीएम मोदी के मंत्री, फोटो वायरल

    सोशल मीडिया में जारी इन तस्वीरों के बारे में यह नहीं दर्शाया गया है कि वे कहां की हैं और कब की है.

  • आखिर आ ही गया कृषि मंत्री को किसानों का ख्याल, चीन का दौरा किया रद्द

    आखिर आ ही गया कृषि मंत्री को किसानों का ख्याल, चीन का दौरा किया रद्द

    कृषि एव किसान कल्याण मंत्री राधामोहन सिंह ने ब्रिक्स देशों के कृषि सम्मेलन के लिए चीन के अपने यात्रा कार्यक्रम को रद्द कर दिया है. यह सम्मेलन 15 से 17 जून तक आयोजित किया जा रहा है.

  • भुवनेश्वर में केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह के वाहन पर फेंके गए अंडे, 5 गिरफ्तार

    भुवनेश्वर में केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह के वाहन पर फेंके गए अंडे, 5 गिरफ्तार

    युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने मध्य प्रदेश के मंदसौर जिले में पांच किसानों की मौत के विरोध में भुवनेश्वर में केंद्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह के वाहन पर अंडे फेंके और सरकारी अतिथि गृह के पास काले झंडे लहराए.

  • किसान आंदोलन के बीच बाबा रामदेव के साथ योग कर रहे कृषि मंत्री राधामोहन सिंह!

    किसान आंदोलन के बीच बाबा रामदेव के साथ योग कर रहे कृषि मंत्री राधामोहन सिंह!

    महाराष्‍ट्र और मध्‍य प्रदेश में किसान आंदोलन हिंसक रूप ले चुका है. मध्‍य प्रदेश के मंदसौर में पुलिस की फायरिंग में 5 लोगों की मौत से तो हालात और भी खराब हो गए. उधर महाराष्‍ट्र में किसानों की खुदकुशी का सिलसिला थम नहीं रहा. इन सबके बीच केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधामोहन सिंह योग कर रहे हैं.

  • आंदोलन के दौरान 5 किसानों की मौत पर कुछ नहीं बोले कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्री

    आंदोलन के दौरान 5 किसानों की मौत पर कुछ नहीं बोले कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्री

    मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र में किसानों का आंदोलन चल रहा है, लेकिन केन्द्रीय कृषि एवं किसान कल्‍याण मंत्री राधामोहन सिंह ख़ामोश हैं. गृह मंत्री राजनाथ सिंह इसके पीछे असामाजिक तत्वों का हाथ देख रहे हैं जबकि ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर इसके लिए कांग्रेस को ज़िम्मेदार ठहरा रहे हैं.