NDTV Khabar

लड़ाकू विमान


'लड़ाकू विमान' - 439 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Maharashtra Election 2019: राजनाथ सिंह बोले- काश बालाकोट हमले के वक्त भारत के पास राफेल होता, तो...

    Maharashtra Election 2019: राजनाथ सिंह बोले- काश बालाकोट हमले के वक्त भारत के पास राफेल होता, तो...

    उन्होंने कहा, ‘अगर हमारे पास राफेल युद्धक विमान होते तो हमें बालाकोट में प्रवेश करने और हमला करने की आवश्यकता नहीं होती. हम भारत में बैठकर बालाकोट में हमला कर सकते थे.’ सिंह ने दोहराया कि लड़ाकू विमान केवल आत्मरक्षा के लिए हैं न कि आक्रमण के लिए. शस्त्र पूजा को लेकर हुए विवाद पर सिंह ने कहा, ‘मैंने विमान पर ऊं लिखा, एक नारियल (परंपरा के अनुसार) तोड़ा. ऊं कभी खत्म नहीं होने वाले ब्रह्मांड को चित्रित करता है.’

  • Assembly Elections 2019 : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के फ्रांस दौरे पर राहुल गांधी का हमला, कहा - भाजपा नेताओं को राफेल सौदे को लेकर...

    Assembly Elections 2019 : रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के फ्रांस दौरे पर राहुल गांधी का हमला, कहा - भाजपा नेताओं को राफेल सौदे को लेकर...

    बैंक में हुए फर्जीवाड़े की वजह से लोगों के रकम निकालने पर सीमित पाबंदी लगायी गयी है. उन्होंने वहां मौजूद लोगों से पूछा कि ऐसा लगता है कि राफेल सौदा अब भी भाजपा को परेशान कर रहा है, अगर नहीं तो राजनाथ सिंह पहला लड़ाकू विमान लेने के लिए फ्रांस क्यों गए? चांदिवली में मौजूदा कांग्रेस विधायक नसीम खान का मुकाबला शिवसेना के दिलीप लांडे से है.

  • शाहनवाज हुसैन ने कहा- भारत के राफेल खरीदने से पाकिस्तान को चिंता होनी चाहिये, कांग्रेस को...

    शाहनवाज हुसैन ने कहा- भारत के राफेल खरीदने से पाकिस्तान को चिंता होनी चाहिये, कांग्रेस को...

    भाजपा प्रवक्ता शाहनवाज़ हुसैन ने बुधवार को कहा कि भारत के अत्याधुनिक राफेल लड़ाकू विमान लेने से पाकिस्तान को फिक्रमंद होना चाहिए न कि कांग्रेस को. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को फ्रांस में पहले राफेल विमान को प्रतीकात्मक रूप से प्राप्त किया. यहां पत्रकारों से बातचीत में हुसैन ने आरोप लगाया, ‘‘कांग्रेस एक दशक तक देश के लिए राफेल लड़ाकू विमान नहीं ला सकी. उन्होंने विपक्ष में रहते हुए ये विमान लेने के रास्ते में बाधाएं डालीं.’’ उन्होंने सवाल किया, ‘‘अगर भारत को राफेल जैसे उन्नत विमान मिल रहे हैं तो पाकिस्तान को चिंतित होना चाहिए. कांग्रेस इतनी चिंतित क्यों है?’’

  • पहला राफेल मिलने के बाद बोले रक्षामंत्री Rajnath Singh, दूसरे देश को धमकाने के लिए हथियार नहीं खरीदता भारत

    पहला राफेल मिलने के बाद बोले रक्षामंत्री Rajnath Singh, दूसरे देश को धमकाने के लिए हथियार नहीं खरीदता भारत

    उन्होंने राफेल में अपनी उड़ान को यादगार और जीवन में कभी न भूलने वाला लम्हा बताते हुए कहा, ‘मैंने कभी कल्पना नहीं की थी कि मैं सुपरसोनिक स्पीड से उड़ान भरुंगा. यह एक बहुत आरामदेह और सुगम उड़ान रही, जिस दौरान मैं इस लड़ाकू विमान की कई क्षमताओं, इसकी हवा से हवा में मार करने की क्षमता और इसकी जमीन पर लक्ष्य भेदने की क्षमता को देख सका.’

  • अपाचे और राफेल से पाकिस्तान के उड़े होश, चीन से मदद मांगने पहुंचे इमरान

    अपाचे और राफेल से पाकिस्तान के उड़े होश, चीन से मदद मांगने पहुंचे इमरान

    भारतीय वायुसेना को मिले 280 किलोमीटर की रफ्तार और 16 एंटी टैंक मिसाइल छोड़ने की क्षमता वाले हमलावर अपाचे हेलीकॉप्टर के बाद अब लड़ाकू विमान राफेल ने पाकिस्तान के होश उड़ा दिए हैं.

  • फ्रांस में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लड़ाकू विमान Rafale में भरी उड़ान, की 'शस्त्र पूजा'- देखें VIDEO

    फ्रांस में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लड़ाकू विमान Rafale में भरी उड़ान, की 'शस्त्र पूजा'- देखें VIDEO

    फ्रांसीसी कंपनी दसॉल्ट से भारत को पहला राफेल लड़ाकू विमान (Rafale Fighter Jet) मिलने के बाद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 'शस्त्र पूजन किया.' इसके बाद उन्होंने इस लड़ाकू विमान से उड़ान भी भरी. बता दें कि इससे पहले 19 सितंबर को राजनाथ सिंह ने स्वदेशी तेजस विमान से उड़ान भरी थी. 

  • भारत को मिला पहला Rafale विमान, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया 'ऐतिहासिक दिन'

    भारत को मिला पहला Rafale विमान, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बताया 'ऐतिहासिक दिन'

    भारत को पहला राफेल लड़ाकू विमान (Rafale Fighter Jet) मिल गया है. विजयादशमी और एयरफोर्स डे (Air Force Day) के अवसर पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) ने फ्रांस के बोर्दो में दसॉल्ट के संयंत्र में पहुंचकर इसकी डिलिवरी ली.

  • IAF का 87वां स्थापना दिवस: दुनिया देखेगी भारतीय वायुसेना का दम, 8 बड़ी बातें

    IAF का 87वां स्थापना दिवस: दुनिया देखेगी भारतीय वायुसेना का दम, 8 बड़ी बातें

    भारतीय वायुसेना आज यानी आठ अक्टूबर को अपना 87वां स्थापना दिवस मना रहा है. इस मौके पर गाजियाबाद के पास हिंडन एयरफोर्स स्टेशन में कई तरह के विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है. यह दिन इसलिए भी खास है क्योंकि ही फ्रांस रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को आज ही पहला लड़ाकू विमान राफेल सौंपेगा. स्थापना दिवस के खास मौके पर हिंडन एयरफोर्स स्टेशन में आयोजित कार्यक्रम में हेलीकॉप्टर, फाइटर जेट्स और कई अन्य प्लेन ने हिस्सा ले रहे हैं. इस खास मौके पर वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया भी मौजूद हैं. वायुसेना के स्थापना दिवस पर देश के वीर जवानों को सलाम करते हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने एक ट्वीट भी किया. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि आईएएफ साहस और दृढ़निश्चय का दूसरा नाम है. नीली यूनिफॉर्म में देश के वीर जवानों आसमान छूने की क्षमता रखते हैं.

  • भारत को आज मिलेगा पहला राफेल जेट विमान, रक्षामंत्री Rajnath Singh फ्रांस में ही करेंगे 'शस्त्र पूजन', पढ़ें 10 बड़ी बातें

    भारत को आज मिलेगा पहला राफेल जेट विमान, रक्षामंत्री Rajnath Singh फ्रांस में ही करेंगे 'शस्त्र पूजन', पढ़ें 10 बड़ी बातें

    रक्षामंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) विजयादशमी के शुभ अवसर पर मंगलवार को फ्रांस (France) की राजधानी पेरिस में भारतीय परंपरा के अनुसार शस्त्र पूजा करेंगे. विधिवत शस्त्र पूजा के बाद रक्षामंत्री फ्रांस की कंपनी दसॉ से खरीदे गए लड़ाकू विमान राफेल (Rafale Aircraft) का अधिग्रहण करेंगे और विमान में उड़ान भी भरेंगे. राफेल उन्नत प्रौद्योगिकी से लैस लड़ाकू विमान है. दसॉ के साथ हुए सौदे की पहली खेप में भारत विजयादशमी के मौके पर 36 राफेल विमान हासिल करेगा. भारत में शस्त्र पूजा की परंपरा अनादिकाल से चली आ रही है. महाराणा प्रताप की इस धरती पर राजपूत राजा दुश्मनों को रणभूमि में छक्के छुड़ाने से पहले अस्त्र-शस्त्र की पूजा करते रहे हैं. इसी परंपरा का पालन करते हुए भारतीय सेना में भी विजयादशमी के दिन शस्त्र पूजा की जाती है. शायद इसी परंपरा को निभाने के लिए राफेल विमान का अधिग्रहण विजया दशमी के दिन हो रहा है.

  • राफेल मिलने के बाद पेरिस में ही रक्षा मंत्री करेंगे 'शस्त्र पूजन', भरेंगे लड़ाकू विमान में उड़ान

    राफेल मिलने के बाद पेरिस में ही रक्षा मंत्री करेंगे 'शस्त्र पूजन', भरेंगे लड़ाकू विमान में उड़ान

    भारत को मंगलवार को पेरिस में अपना पहला लड़ाकू विमान मिलने जा रहा है. इसी दिन दशहरा है और इस खास मौके पर राफेल मिलने के बाद रक्षामंत्री राजनाथ सिंह शस्त्र पूजन करेंगे.

  • Tejas विमान के बाद अब रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह उड़ाएंगे Rafale फाइटर प्लेन

    Tejas विमान के बाद अब रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह उड़ाएंगे Rafale फाइटर प्लेन

    रक्षा मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) तेजस के बाद अब लड़ाकू विमान राफेल उड़ाएंगे. फ्रांस में आठ अक्टूबर को राफेल विमान की डिलीवरी लेने के बाद राजनाथ सिंह यह लड़ाकू विमान उड़ाएंगे. आठ अक्टूबर को एयरफोर्स डे के दिन भारत को राफेल विमान की डिलीवरी होगी. इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने 19 सितंबर को स्वदेशी तेजस विमान उड़ाया था.

  • वायुसेना को F-21 लड़ाकू विमान सप्लाई करने के लिए अमेरिकी कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने दिया प्रस्ताव

    वायुसेना को F-21 लड़ाकू विमान सप्लाई करने के लिए अमेरिकी कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने दिया प्रस्ताव

    अमेरिकी कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने वायुसेना को एफ-21 लड़ाकू विमान आपूर्ति करने के लिए प्राथमिक रुचि प्रस्ताव पेश किया है और ठेका मिलने पर 400 स्थानीय कंपनी के साथ काम करेगी.

  • रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने हवा में कुछ समय के लिए कंट्रोल किया था 'तेजस', Video में खुद बताई पूरी दास्तां

    रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने हवा में कुछ समय के लिए कंट्रोल किया था 'तेजस', Video में खुद बताई पूरी दास्तां

    रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तेजस में उड़ान भरने के बाद कहा, ''उड़ान बहुत सहज, आरामदायक रही, मैं रोमांचित था. मैंने तेजस को इसलिए चुना क्योंकि यह स्वदेश में निर्मित है. तेजस की डिमांड दुनिया के दूसरे देशों से भी हो रही है. दक्षिण पूर्वी एशिया के देशों ने तेजस विमानों की खरीद में दिलचस्पी दिखाई है.'

  • राजनाथ सिंह ने भारतीय लड़ाकू विमान 'तेजस' में भरी उड़ान, ऐसा करने वाले बने पहले रक्षामंत्री

    राजनाथ सिंह ने भारतीय लड़ाकू विमान 'तेजस' में भरी उड़ान, ऐसा करने वाले बने पहले रक्षामंत्री

    रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भारत में बने लड़ाकू विमान तेजस में गुरुवार को एलएएल हवाईअड्डे से उड़ान भरी. वह इस विमान में उड़ान भरने वाले पहले रक्षा मंत्री हैं. इस विमान को 3 साल पहले ही वायु सेना में शामिल किया गया था. अब तेजस का अपग्रेड वर्जन भी आने वाला है. तेजस हल्का लड़ाकू विमान है, जिसे एचएएल ने तैयार किया है. 83 तेजस विमानों के लिए एचएएल को 45 हजार करोड़ रु. का ठेका मिला है.

  • हवा से हवा में मार करने वाली 'अस्त्र' मिसाइल का सुखोई Su-30MKI से सफलतापूर्वक परीक्षण, देखें VIDEO

    हवा से हवा में मार करने वाली 'अस्त्र' मिसाइल का सुखोई Su-30MKI से सफलतापूर्वक परीक्षण, देखें VIDEO

    रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने स्वदेशी रूप से डिजाइन हवा से हवा में मार करने वाले ऑल वेदर 'अस्त्र' मिसाइल (Astra Missile) का सफलतापूर्वक परीक्षण किया. 70 किलोमीटर से अधिक की रेंज वाली 'अस्त्र' मिसाइल का परीक्षण सुखोई Su-30MKI लड़ाकू विमान से किया गया.

  • स्वदेशी हल्का लड़ाकू विमान (LCA) तेजस नौसेना में शामिल होने के लिए तैयार, 'अरेस्ट लैडिंग' का परीक्षण सफल

    स्वदेशी हल्का लड़ाकू विमान (LCA) तेजस नौसेना में शामिल होने के लिए तैयार, 'अरेस्ट लैडिंग' का परीक्षण सफल

    स्वदेशी हल्के लड़ाकू विमान (LCA) तेजस का नौसेना के लिए तैयार किया गया संस्करण देश का पहला ऐसा विमान बन गया है, जिसने सफलतापूर्वक 'अरेस्ट लैंडिंग' की. नौसेना में शामिल किए जाने की दिशा में यह बड़ी कामयाबी मानी जा रही है. कई भूमिकाएं निभाने में सक्षम इस लड़ाकू विमान ने टेस्ट फैसिलिटी में लैंड करते वक्त झटके से रुकने के लिए अपने फ्यूसलेज से बंधे हुक की मदद से एक तार को पकड़ा. किसी भी विमान के लिए विमानवाहक पोत पर उतरने की खातिर बेहद कम दूरी में पूरी तरह रुक जाने में सक्षम होना काफी अहम होता है. गोवा में समुद्रतट पर स्थित टेस्ट फैसिलिटी में शुक्रवार को किया गया परीक्षण उन्हीं परिस्थितियों में किया गया, जो किसी विमानवाहक पोत पर रहती हैं, और जहां विमानों को उतरने के लिए डेक पर बंधे तार को पकड़ना पड़ता है. इसी क्रिया को 'अरेस्ट लैंडिंग' कहा जाता है.

  • राफेल के लिए फिर से शुरू होगी '17 स्क्वाड्रन', करगिल युद्ध में बीएस धनोआ ने संभाली थी कमान

    राफेल के लिए फिर से शुरू होगी '17 स्क्वाड्रन', करगिल युद्ध में बीएस धनोआ ने संभाली थी कमान

    आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि वायु सेना प्रमुख बी एस धनोआ मंगलवार को अंबाला वायु सेना केंद्र पर एक समारोह में 17 स्क्वाड्रन को फिर से शुरू करेंगे. वायु सेना राफेल विमानों का स्वागत करने के लिए तैयार है. 

  • गोल्डन ऐरोज स्क्वाड्रन फिर से गठित करने की तैयारी में भारतीय वायुसेना, राफेल लड़ाकू विमानों की होगी तैनाती

    गोल्डन ऐरोज स्क्वाड्रन फिर से गठित करने की तैयारी में भारतीय वायुसेना, राफेल लड़ाकू विमानों की होगी तैनाती

    आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि वायु सेना प्रमुख बी एस धनोआ मंगलवार को अंबाला वायु सेना केंद्र पर एक समारोह में 17 स्क्वाड्रन को फिर से शुरू करेंगे. वायु सेना राफेल विमानों का स्वागत करने के लिए तैयार है. करगिल युद्ध के समय 1999 में धनोआ ने 'गोल्डन ऐरोज' 17 स्क्वाड्रन की कमान संभाली थी. बठिंडा वायु सेना केंद्र से संचालित स्क्वाड्रन को 2016 में बंद कर दिया गया था.