NDTV Khabar

लालकृष्ण आडवाणी


'लालकृष्ण आडवाणी' - 490 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • संसद हमला: सफेद एंबेस्डर से आए थे 5 आतंकी, 45 मिनट तक गोलियों की तड़तड़ाहट से छलनी हुआ था लोकतंत्र का मंदिर

    संसद हमला: सफेद एंबेस्डर से आए थे 5 आतंकी, 45 मिनट तक गोलियों की तड़तड़ाहट से छलनी हुआ था लोकतंत्र का मंदिर

    Parliament Attack 2001: जब आतंकवादी संसद परिसर में गोलियां बरसा रहे थे, तब उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी समेत 200 से ज्यादा सांसद लोकसभा में ही थे.

  • पीएम नरेंद्र मोदी ने लालकृष्ण आडवाणी को दीं जन्मदिन की शुभकामनाएं

    पीएम नरेंद्र मोदी ने लालकृष्ण आडवाणी को दीं जन्मदिन की शुभकामनाएं

    प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी के जन्मदिन पर रविवार को उन्हें शुभकामनाएं दीं और कहा कि वह भाजपा कार्यकर्ताओं एवं देशवासियों के लिए प्रेरणास्रोत हैं. लालकृष्ण आडवाणी रविवार को 93 वर्ष के हो गए.

  • लालकृष्ण आडवाणी को PM मोदी ने बताया 'देशवासियों का प्रत्यक्ष प्रेरणास्रोत', जन्मदिन की दी बधाई

    लालकृष्ण आडवाणी को PM मोदी ने बताया 'देशवासियों का प्रत्यक्ष प्रेरणास्रोत', जन्मदिन की दी बधाई

    भारत की राजनीति में भाजपा को एक प्रमुख शक्ति के रूप में स्थापित करने में आडवाणी की अहम भूमिका रही है. आडवाणी और अटल बिहारी वाजपेयी की जोड़ी ने भाजपा को ऊंचाई पर पहुंचाया था. वो वाजपेयी सरकार में उप प्रधानमंत्री और गृह मंत्री थे.

  • लालकृष्ण आडवाणी ने रामविलास पासवान के निधन पर जताया दुख, कहा- उन्हें ऐसे व्यक्ति के रूप में याद करता हूं...

    लालकृष्ण आडवाणी ने रामविलास पासवान के निधन पर जताया दुख, कहा- उन्हें ऐसे व्यक्ति के रूप में याद करता हूं...

    बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान के निधन पर दुख जताया है. उन्होंने कहा,''राम विलास पासवान के आकस्मिक निधन के बारे में जानकर मुझे गहरा दुख हुआ है. पासवान एक उत्कृष्ट सांसद थे और राजनीति में लगभग पांच दशकों से सक्रिय थे.''

  • 'किसी ने नहीं गिराया बाबरी मस्जिद को'': कोर्ट के फैसले के बाद ट्विटर पर जमकर आए रिएक्शन

    'किसी ने नहीं गिराया बाबरी मस्जिद को'': कोर्ट के फैसले के बाद ट्विटर पर जमकर आए रिएक्शन

    6 दिसंबर, 1992 को अयोध्या के बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले के सभी 32 अभियुक्तों को आज बरी कर दिया गया. उत्तर प्रदेश की एक अदालत ने कहा कि विध्वंस की न तो योजना बनाई गई थी और न ही इसमें कोई "असामाजिक तत्व" शामिल था. भाजपा नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती सभी आज इस फैसले के बाद मस्जिद गिराने की साजिश के आरोपों से बरी हो गए. अब इस फैसले पर देश भर से प्रतिक्रियाएं सामने आ रही हैं.

  • सबके लिए खुशी का पल, आदेश के बाद हमने ‘जय श्री राम’ के नारे लगाए : आडवाणी

    सबके लिए खुशी का पल, आदेश के बाद हमने ‘जय श्री राम’ के नारे लगाए : आडवाणी

    केस में बरी होने के बाद मामले में आरोपी रहे बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी की प्रतिक्रिया आई है. आडवाणी ने एक बयान जारी कर कहा कि इस फैसले ने उनकी और बीजेपी की रामजन्मभूमि आंदोलन के लेकर उनके विश्वास को और मजबूत किया है.

  • बाबरी विध्वंस केस में पढ़ें जज की पांच अहम टिप्पणियां

    बाबरी विध्वंस केस में पढ़ें जज की पांच अहम टिप्पणियां

    कोर्ट ने बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती समेत 32 लोगों को आरोप मुक्त कर दिया.

  • बाबरी केस Live Updates : CBI विशेष कोर्ट ने कहा - विध्वंस सुनियोजित नहीं था, गुंबद पर चढ़े थे असामाजिक तत्व

    बाबरी केस Live Updates : CBI विशेष कोर्ट ने कहा - विध्वंस सुनियोजित नहीं था, गुंबद पर चढ़े थे असामाजिक तत्व

    Babri Demolition Case Live Update: CBI की स्पेशल कोर्ट ने 6 दिसम्बर 1992 को अयोध्या में बाबरी मस्जिद ढहाए जाने के मामले में बुधवार को बहुप्रतीक्षित फैसला सुनाते हुए सभी आरोपियों को बरी कर दिया. विशेष अदालत के न्यायाधीश एस.के. यादव ने फैसला सुनाते हुए कहा कि बाबरी मस्जिद विध्वंस की घटना पूर्व नियोजित नहीं थी. यह एक आकस्मिक घटना थी. उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ कोई पुख्ता सुबूत नहीं मिले, बल्कि आरोपियों ने उन्मादी भीड़ को रोकने की कोशिश की थी. स्पेशल कोर्ट के जस्टिस एस के यादव ने 16 सितंबर को इस मामले के सभी 32 आरोपियों को फैसले के दिन अदालत में मौजूद रहने को कहा था. हालांकि वरिष्ठ भाजपा नेता एवं पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, पूर्व केंद्रीय मंत्री मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, राम जन्मभूमि न्यास अध्यक्ष महंत नृत्य गोपाल दास और सतीश प्रधान अलग-अलग कारणों से न्यायालय में हाजिर नहीं हो सके. 

  • Babri Demolition Case: बुधवार को आएगा फैसला, आडवाणी, जोशी नहीं रहेंगे कोर्ट में मौजूद

    Babri Demolition Case: बुधवार को आएगा फैसला, आडवाणी, जोशी नहीं रहेंगे कोर्ट में मौजूद

    लखनऊ की एक स्पेशल सीबीआई कोर्ट बाबरी मस्जिद विध्वंस केस (Babri Masjid Demolition Case) में 30 सितंबर यानी बुधवार को फैसला सुनाने वाली है. इस केस में बीजेपी के वरिष्ठ नेता एलके आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, कल्याण सिंह और अन्य लोग मुख्य आरोपी हैं.

  • बाबरी विध्वंस : फैसला 30 सितंबर को, कोर्ट ने आडवाणी, उमा समेत सभी 32 आरोपियों को मौजूद रहने को कहा

    बाबरी विध्वंस : फैसला 30 सितंबर को, कोर्ट ने आडवाणी, उमा समेत सभी 32 आरोपियों को मौजूद रहने को कहा

    बाबरी विध्वंस मामले में लखनऊ में सीबीआई की स्पेशल कोर्ट 30 सितंबर को फैसला सुनाने वाली है. कोर्ट ने मामले में सभी 32 मुख्य आरोपियों को इस दिन सुनवाई में शामिल होने को कहा है. इनमें भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेताओं जैसे- लालकृष्ण आडवाणी, उमा भारती, मुरली मनोहर जोशी और कल्याण सिंह भी शामिल हैं. 

  • वो कौन सी बात थी जिससे सोनिया गांधी नाराज हो गई थीं प्रणब मुखर्जी से

    वो कौन सी बात थी जिससे सोनिया गांधी नाराज हो गई थीं प्रणब मुखर्जी से

    पूर्व राष्ट्रपति और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ. प्रणब मुखर्जी को श्रद्धांजलि देना का सिलसिला जारी है. हालांकि कोरोना वायरस की वजह से कई तरह के प्रतिबंध लागू हैं. आज ही प्रणब मुखर्जी को पंचतत्व में विलीन कर दिया जाएगा. देश में 7 दिन के राष्ट्रीय शोक का भी ऐलान किया गया है. कांग्रेस के संकटमोचक रहे प्रणब मुखर्जी बीच-बीच में पार्टी को झटका देते भी रहते थे. पार्टी नेताओं के विरोध के बावजूद भी वह नागपुर में आरएसएस के कार्यक्रम में हिस्सा लेने पहुंच गए. राजीव गांधी से उनके मतभेद भी हुए थे. हालांकि कई विरोधाभाषों के बाद भी कांग्रेस में उनकी हैसियत कम नहीं हुई. एक बार लोकसभा में बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी ने कहा था कि वह सोचते हैं कि अगर प्रणब दा नहीं होते तो यूपीए सरकार का क्या होता. प्रणब मुखर्जी ने अपनी डायरियां भी लिखते थे और उन्होंने कहा था कि इन डायरियों को उनके न रहने पर ही प्रकाशित की जाएं. 

  • 'जय श्री राम' से 'जय सिया राम': PM मोदी का नया नारा, बीजेपी की नई रणनीति?

    'जय श्री राम' से 'जय सिया राम': PM मोदी का नया नारा, बीजेपी की नई रणनीति?

    अयोध्या में राम मंदिर के भूमि पूजन बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वहां आए लोगों को संबोधित किया. लेकिन भाषण की शुरुआत में उन्होंने सबसे पहले जानकी माता को याद किया और जय सिया राम का नारा दिया. इस नारे के साथ उनकी पार्टी बीजेपी की ने भी एक अहम पड़ाव तय कर लिया है.. 90 के दशक में लालकृष्ण आडवाणी की सोमनाथ से अयोध्या तक की यात्रा के दम पर 2 सीटों से 85 सीटों तक पहुंची बीजेपी का एक समय प्रमुख नारा 'जय श्री राम' था. इस नारे में आक्रमकता थी जिसने उस समय के युवाओं को खूब लुभाया था.

  • Ayodhya Ram Mandir Bhumi Pujan Updates: अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन पर किसने क्या कहा

    Ayodhya Ram Mandir Bhumi Pujan Updates: अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन पर किसने क्या कहा

    अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन को लेकर तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. इसमें बीजेपी, कांग्रेस, सपा, टीएमसी सहित तमाम दलों के नेता बयान दे रहे हैं. इस सबमें राम मंदिर आंदोलन के प्रमुख पुरोधा लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी इस कार्यक्रम में नहीं पहुंच रहे हैं. हालांकि आडवाणी की ओर से एक संदेश जरूर जारी किया गया है. उन्होंने कहा कि राम मंदिर एक एक शांतिपूर्ण सौहार्दपूर्ण राष्ट्र के रूप में भारत का प्रतिनिधित्व करेगा जहां सबके लिए न्याय होगा और कोई भी बहिष्कृत नहीं होगा, ताकि देश 'राम राज्य' की ओर अग्रसर हो, जो 'सुशासन का प्रतिमान' है. आडवाणी को रामजन्मभूमि आंदोलन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए जाना जाता है.  भाजपा अध्यक्ष के रूप में राम मंदिर निर्माण के लिए जनता को लामबंद करने के मकसद से आडवाणी ने साल 1990 में ‘‘राम रथ यात्रा’’ निकाली थी. 

  • अयोध्या समारोह पर बोले BJP नेता लालकृष्ण आडवाणी- 'भावनात्मक और ऐतिहासिक क्षण'

    अयोध्या समारोह पर बोले BJP नेता लालकृष्ण आडवाणी- 'भावनात्मक और ऐतिहासिक क्षण'

    अयोध्या (Ayodhya) में भूमि पूजन की पूर्व संध्या पर बीजेपी (BJP) के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी (LK Advani) का बयान आया है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राम मंदिर का आधारशिला रखना मेरे ही नहीं बल्कि सभी भारतीयों के लिए ऐतिहासिक और भावनात्मक दिन है.

  • अयोध्या में राम मंदिर भूमिपूजन : गुरुओं का 'यज्ञ', शिष्यों को मौका

    अयोध्या में राम मंदिर भूमिपूजन : गुरुओं का 'यज्ञ', शिष्यों को मौका

    अयोध्या राम मंदिर भूमि पूजन की भव्य तैयारियां चल रही हैं. उधर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कल यानी 5 अगस्त को होने वाली अयोध्या यात्रा का विवरण भी जारी कर दिया है. पीएम मोदी सुबह 9:35 बजे दिल्ली से अयोध्या के लिए रवाना होंगे. उनका विशेष विमान करीब एक घंटे के बाद लखनऊ उतरेगा. वहां से वह दूसरे हेलिकॉप्टर से अयोध्या जाएंगे. प्रधानमंत्री लगभग 3 घंटे अयोध्या में रहेंगे. उधर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी अयोध्या पहुंच चुके हैं. सीएम योगी ने अयोध्या में की जा रही तैयारियों का जायजा लिया है. हालांकि इस पूरे कार्यक्रम पर कोरोना संक्रमण का भी साया है. जहां  कार्यक्रम में पहले से ही ज्यादा लोगों के आने से मनाही वहीं आज भी रामलला के एक पुजारी को कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई. इससे पहले भी एक पुजारी और 14 पुलिसकर्मियों की रिपोर्ट पॉजिटिव है. वहीं इसी बीमारी के प्रकोप को देखते हुए आंदोलन के प्रमुख चेहरे लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती और कल्याण सिंह भी भूमि पूजन कार्यक्रम में हिस्सा नहीं ले पाएंगे.  

  • कोरोना संक्रमित हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 22 जुलाई को लालकृष्ण आडवाणी से मिले थे

    कोरोना संक्रमित हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 22 जुलाई को लालकृष्ण आडवाणी से मिले थे

    कोरोना वायरस (Coronavirus) पॉजिटिव मिले केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) को अयोध्या (Ayodhya) में राम मंदिर निर्माण के लिए आयोजित किए जा रहे भूमिपूजन कार्यक्रम का निमंत्रण मिला था. हालांकि सूत्रों की ओर से पहले ही स्पष्ट किया गया था कि वे वहां नहीं जा रहे थे. शाह 22 जुलाई को बीजेपी के वयोवृद्ध नेता लालकृष्ण आडवाणी (LK Advani) से मिले थे. इस दौरान शाह के साथ बीजेपी महासचिव भूपेन्द्र यादव भी थे. 

  • अयोध्या : राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के भूमि पूजन पर नहीं जा सकेंगे आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी

    अयोध्या : राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के भूमि पूजन पर नहीं जा सकेंगे आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी

    अयोध्या में 5 अगस्त को होने वाले राम मंदिर भूमि पूजन (Ram Mandir Bhoomi Pujan) के लिए तैयारियां जोरों पर है. अयोध्या जिले में 5 अगस्त को राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए होने वाले भूमि-पूजन में बीजेपी के वरिष्ठ व दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी शामिल नहीं हो सकेंगे.

  • बाबरी मस्जिद मामले में दर्ज हुआ लालकृष्ण आडवाणी का बयान, 4 घंटे में पूछे गए 100 सवाल

    बाबरी मस्जिद मामले में दर्ज हुआ लालकृष्ण आडवाणी का बयान, 4 घंटे में पूछे गए 100 सवाल

    वरिष्ठ बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी ने आज 1992 बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में विशेष सीबीआई अदालत के सामने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए अपना बयान दर्ज कराया. अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस से जुड़े मामले के आरोपियों में 92 वर्षीयआडवाणी का नाम भी शामिल है. वे आज लखनऊ की विशेष सीबीआई अदालत के सामने वीडियो लिंक के जरिए पेश हुए. 4.5 घंटे तक चली सुनवाई के दौरान, सुबह 11 बजे से दोपहर 3:30 बजे तक अदालत ने आडवाणी से 100 से अधिक सवाल पूछे. आडवाणी  के वकील ने कहा कि अपने खिलाफ सभी आरोपों से उन्होंने इनकार किया. 

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com