NDTV Khabar

विक्रम सैनी के विवादित बोल


'विक्रम सैनी के विवादित बोल' - 4 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बीजेपी विधायक के बिगड़े बोल, जिन्हें भारत में डर लगता है उन पर बम गिरा दो

    बीजेपी विधायक के बिगड़े बोल, जिन्हें भारत में डर लगता है उन पर बम गिरा दो

    देश में असुरक्षा की भावना को लेकर जो बहस शुरू हुई थी वह समय के साथ नए पड़ावों पर पहुंचती जा रही है. इस बहस में 'आग में घी' का काम कर रहे हैं नेताओं के बिगड़े बोल. विवादित बयानों की कड़ी में नया विवादित बयान सामने आया है बीजेपी विधायक का.

  • यूपी में बीजेपी विधायक के विवादित बोल - 'कानून बनने तक हिंदू भाइयों तुम्हें छूट है'

    यूपी में बीजेपी विधायक के विवादित बोल - 'कानून बनने तक हिंदू भाइयों तुम्हें छूट है'

    उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के खतौली विधानसभा से विधायक विक्रम सैनी ने विवादित बयान दिया है. अपने बयान में विधायक हिंदुओं से ज्यादा बच्चे पैदा करने का आह्वान कर रहे हैं. इतना ही नहीं वह कह रहे हैं अभी कोई कानून नहीं, जब तक कानून नहीं बन जाता तब तक हिंदुओं को भी ज्यादा बच्चे पैदा करना चाहिए. 

  • अब BJP सांसद आरके सिंह बोले, 'भारत विरोधी नारा लगाने वालों के हाथ-पैर तोड़ दूंगा'

    अब BJP सांसद आरके सिंह बोले, 'भारत विरोधी नारा लगाने वालों के हाथ-पैर तोड़ दूंगा'

    पूर्व केंद्रीय गृह सचिव और बिहार के आरा से भाजपा सांसद आरके सिंह ने भारत विरोधी नारा लगाने वालों के खिलाफ कड़े शब्दों का इस्तेमाल करते हुए सोमवार को कहा कि अगर हम किसी को भारत विरोधी नारेबाजी करते हुए देखेंगे तो उसके हाथ-पैर तोड़ देंगे. मीडियाकर्मियों द्वारा आदित्यनाथ योगी के उत्तर प्रदेश का मुख्यमंत्री चुने जाने के बारे में पूछे जने पर उनके चयन को सही ठहराते हुए उन्होंने कहा कि वह एक अच्छे आदमी हैं और राष्ट्रभक्त हैं.

  • बीजेपी MLA विक्रम सैनी के विवादित बोल - गोहत्या करने वालों की टांगे तोड़ देंगे

    बीजेपी MLA विक्रम सैनी के विवादित बोल  - गोहत्या करने वालों की टांगे तोड़ देंगे

    उत्तर प्रदेश में बीजेपी विधायक विक्रम सैनी ने विवादित बयान दिया है. भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक ने धमकी दी है कि जो लोग गाय का वध करेंगे और उसका अपमान करेंगे उनकी टांगे तोड़ देंगे. उनकी इस टिप्पणी से विवाद हो सकता है. खतौली से विधायक विक्रम सैनी 2013 में हुए मुजफ्फरनगर दंगा मामले में आरोपी हैं और उन्हें राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम के तहत पकड़ा गया था.