NDTV Khabar

शिक्षा नीति News in Hindi


'शिक्षा नीति' - 100 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • NEP 2020: शिक्षा मंत्री ने कहा- विश्वविद्यालय 300 से अधिक कॉलेजों को मान्यता नहीं दे पाएंगे

    NEP 2020: शिक्षा मंत्री ने कहा- विश्वविद्यालय 300 से अधिक कॉलेजों को मान्यता नहीं दे पाएंगे

    केंद्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक' (Union Minister Ramesh Pokhriyal ''Nishank'') ने बुधवार को कहा कि नई शिक्षा नीति (NEP) के तहत विश्वविद्यालय 300 से अधिक महाविद्यालयों को मान्यता नहीं दे पायेंगे. मानव संसाधन विकास मंत्री ने सवाल किया, ‘‘मैं हाल ही में एक विश्वविद्यालय गया था और जब मैंने कुलपति से पूछा कि कितने महाविद्यालय उस विश्वविद्यालय से मान्यता प्राप्त हैं, उन्होंने कहा कि 800 डिग्री कॉलेज. मुझे लगा कि मैंने गलत सुन लिया. मैंने फिर पूछा और उन्होंने कहा 800. यह दीक्षांत समारोह था. मैं चकित था कि क्या कोई कुलपति 800 डिग्री महाविद्यालयों के प्राचार्यों के नाम याद रख सकता है.''

  • NEP पर मनीष सिसोदिया ने कहा- बोर्ड परीक्षा सरल बनाने से छात्रों के रट्टा लगाने की समस्या हल नहीं होगी

    NEP पर मनीष सिसोदिया ने कहा- बोर्ड परीक्षा सरल बनाने से छात्रों के रट्टा लगाने की समस्या हल नहीं होगी

    दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया (Delhi Deputy Chief Minister Manish Sisodia) का कहना है कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) में बोर्ड परीक्षा को सरल बनाने के प्रस्ताव से रट्टा लगाने की समस्या हल नहीं होगी, क्योंकि शिक्षा प्रणाली अब भी मूल्यांकन प्रणाली का गुलाम बनी रहेगी. दिल्ली के शिक्षा मंत्री सिसोदिया ने कहा कि नीति सार्वजनिक शिक्षा प्रणाली में सुधार लाने में विफल है तथा निजी शिक्षा पर ध्यान केन्द्रित करती है और कुछ सुधार वास्तविकता पर आधारित नहीं हैं. सिसोदिया ने कहा, ‘‘हमारी शिक्षा प्रणाली हमेशा से मूल्यांकन प्रणाली का गुलाम रही है और आगे भी रहेगी. बोर्ड परीक्षाएं सरल बनाने से मूल समस्या हल नहीं होगी जो कि रट्टा लगाना है. जोर अब भी वार्षिक परीक्षाओं पर रहेगा, जरूरत सत्र के अंत में छात्रों का मूल्यांकन करने से जुड़ी अवधारणा को दूर करने की है, चाहे यह सरल हो या कठिन.''

  • नगर निगम स्कूलों में नई शिक्षा नीति के प्रावधान लागू किए जाएंगे: दिल्ली भाजपा प्रमुख

    नगर निगम स्कूलों में नई शिक्षा नीति के प्रावधान लागू किए जाएंगे: दिल्ली भाजपा प्रमुख

    दिल्ली भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने रविवार को कहा कि पार्टी नगर निगम के स्कूलों में प्राथमिक शिक्षा में नई शिक्षा नीति से जुड़े प्रावधानों को लागू करने की योजना बना रही है. केंद्र में मोदी सरकार ने नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) लागू करने की घोषणा की है. एनईपी में कहा गया है कि कक्षा पांच तक के छात्रों को उनकी मातृभाषा में पढ़ाया जाएगा.  गुप्ता ने कहा कि शहर में निगम संचालित स्कूलों में एनईपी पर आधारित नए पाठ्यक्रम को लागू करने के संबंध में विचार-विमर्श की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है. भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष ने कहा, ‘‘वर्तमान शैक्षणिक सत्र में निगम के सभी स्कूलों में नई शिक्षा नीति को लागू किया जाएगा.'' 

  • PM मोदी बोले - जहां तक संभव हो, 5वीं कक्षा के बच्चों को उनकी मातृभाषा में पढ़ाया जाना चाहिए

    PM मोदी बोले - जहां तक संभव हो, 5वीं कक्षा के बच्चों को उनकी मातृभाषा में पढ़ाया जाना चाहिए

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) पर आयोजित एक ई-कॉन्क्लेव को संबोधित किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने कहा है कि जहां तक संभव हो, पांचवीं कक्षा के बच्चों को उनकी मातृभाषा में पढ़ाया जाना चाहिए.

  • नई शिक्षा नीति: PM मोदी ने कहा- एक ही प्रोफेशन पर अब नहीं टिका रहेगा पूरा जीवन

    नई शिक्षा नीति: PM मोदी ने कहा- एक ही प्रोफेशन पर अब नहीं टिका रहेगा पूरा जीवन

    NEP 2020: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) पर आयोजित एक ई-कॉन्क्लेव को संबोधित किया और शिक्षा के क्षेत्र में इस बड़े बदलाव के फायदे बताए. पीएम मोदी ने इस दौरान बताया कि उच्च शिक्षा को स्ट्रीम्स से मुक्त करने पर फोकस किया गया है. मल्टीपल एंट्री, एग्जिट, क्रेडिट बैंक के पीछे यही सोच है. इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि हम उस दौर की तरफ बढ़ रहे हैं जहां कोई व्यक्ति जीवन भर किसी एक प्रोफेशन में ही नहीं टिका रहेगा. इसके लिए उसे निरंतर खुद को Re-Skills और Up-Skills करते रहना होगा.

  • राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 21वीं सदी के नए भारत की नींव रखेगी, PM मोदी ने कहीं 10 बड़ी बातें

    राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 21वीं सदी के नए भारत की नींव रखेगी, PM मोदी ने कहीं 10 बड़ी बातें

    नई शिक्षा नीति पर आयोजित एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि बीते अनेक वर्षों से हमारे शिक्षा व्यवस्था में बड़े बदलाव नहीं हुए थे. परिणाम ये हुआ कि हमारे समाज में उत्सुकता और कल्पनाशीलता को बढ़ावा देने के बजाए भेड़ चाल को प्रोत्साहन मिलने लगा था. पीएम मोदी ने कहा कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति के संदर्भ में आज का ये इवेंट बहुत महत्वपूर्ण है. इस कॉन्क्लेव से भारत के शिक्षा जगत को राष्ट्रीय शिक्षा नीति के विभिन्न पहलुओं के बारे में विस्तृत जानकारी मिलेगी. नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के संदर्भ में आज का ये कार्यक्रम बहुत महत्वपूर्ण है. इस कार्यक्रम से भारत के शिक्षा जगत को नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के बारे में विस्तृत जानकारी मिलेगी. जितनी जानकारी स्पष्ट होगी, उतनी ही आसानी से इसका क्रियान्वयन भी होगा. राष्ट्रीय शिक्षा नीति आने के बाद देश के किसी भी क्षेत्र से, किसी भी वर्ग से ये बात नहीं उठी कि इसमें किसी तरह का भेदभाव है, या किसी एक ओर झुकी हुई है. पीएम मोदी ने कहा कि नई शिक्षा नीति को अमल में लाने के लिए हम सभी को एकसाथ संकल्पबद्ध होकर काम करना है. हम उस युग की तरफ बढ़ रहे हैं, जहां कोई व्यक्ति जीवन भर किसी एक प्रोफेशन में ही नहीं टिका रहेगा.

  • NEP 2020: पीएम मोदी ने कहा- अब 'What To Think' नहीं, 'How To Think' पर दिया जाएगा ज़ोर

    NEP 2020: पीएम मोदी ने कहा- अब 'What To Think' नहीं,  'How To Think' पर दिया जाएगा ज़ोर

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) पर एक ई-कॉन्क्लेव को आज संबोधित किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई शिक्षा नीति पर विस्तार से जानकारी दी और बताया कि शिक्षा के क्षेत्र में ये बहुत बड़ा बदलाव है. राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) पर आयोजित ई-कॉन्क्लेव को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि अब मकसद के साथ एजुकेशन की जरूरत है. साथ ही उन्होंने कहा कि अब तक एजुकेशन सिस्टम वॉट टू थिंक (What To Think) पर आधारित था, जबकि नई व्यवस्था में हाउ टू थिंक (How To Think) पर जोर दिया गया है. 

  • NEP पर PM मोदी: नई शिक्षा नीति का फोकस 'What To Think' पर नहीं, 'How To Think' पर

    NEP पर PM मोदी: नई शिक्षा नीति का फोकस 'What To Think' पर नहीं, 'How To Think' पर

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को नेशनल एजुकेशन पॉलिसी के कॉन्क्लेव को संबोधित किया. अभी हाल ही में नेशनल एजुकेशन पॉलिसी में बड़े बदलाव किए गए हैं, जिसके बाद पीएम ने देश को इस मुद्दे पर संबोधित किया.

  • NEP 2020: पीएम मोदी ने कहा- डिमांड और एबिलिटी के हिसाब से पढ़ाई जरूरी

    NEP 2020: पीएम मोदी ने कहा- डिमांड और एबिलिटी के हिसाब से पढ़ाई जरूरी

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने आज राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) पर एक ई-कॉन्क्लेव को संबोधित किया. विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) और शिक्षा मंत्रालय द्वारा 'राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत उच्च शिक्षा में परिवर्तनकारी सुधार' सम्मेलन आयोजित किया गया है. पीएम मोदी ने इस दौरान कहा कि तीन-चार साल के व्यापक विचार-विमर्श और लंबे मंथन के बाद राष्ट्रीय शिक्षा नीति को मंजूरी दी गई है.

  • PM मोदी नई शिक्षा नीति पर आज कॉन्क्लेव को करेंगे संबोधित

    PM मोदी नई शिक्षा नीति पर आज कॉन्क्लेव को करेंगे संबोधित

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) आज लाइव वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP 2020) पर एक ई-कॉन्क्लेव को संबोधित करेंगे. विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) और शिक्षा मंत्रालय द्वारा 'राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत उच्च शिक्षा में परिवर्तनकारी सुधार' सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है. शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक और केंद्रीय शिक्षा राज्य मंत्री संजय धोत्रे भी इस अवसर पर उपस्थित रहेंगे. विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के अध्यक्ष, अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद, यूजीसी सचिव, विश्वविद्यालयों के वाइस चांसलर, डायरेक्टर्स, राष्ट्रीय शिक्षा नीति कमेटी के सदस्य और प्रसिद्ध संस्थानों, विश्वविद्यालयों और कॉलेजों के प्रिंसिपल्स कॉन्क्लेव में शामिल रहेंगे. 

  • राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर बोले तमिलनाडु के CM : नहीं लागू होंने देंगे 3-भाषा फॉर्मूला, PM को लिखा खत

    राष्ट्रीय शिक्षा नीति पर बोले तमिलनाडु के CM : नहीं लागू होंने देंगे 3-भाषा फॉर्मूला, PM को लिखा खत

    बता दें कि मुख्यमंत्री ने नई शिक्षा नीति को अपने राज्य में लागू नहीं करने का ऐलान किया है. उन्होंने पीएम मोदी से इस पर दोबारा विचार करने की अपील की है साथ ही कहा है कि इसे राज्यों को अपनी नीतियों के अनुसार लागू करने की अनुमति दी जाए. 

  • PM मोदी ने नई शिक्षा नीति की बताईं खूबियां, कहा- बस्तों का बोझ होगा कम, नौकरी लेने वाले नहीं देने वाले बनेंगे छात्र

    PM मोदी ने नई शिक्षा नीति की बताईं खूबियां, कहा- बस्तों का बोझ होगा कम, नौकरी लेने वाले नहीं देने वाले बनेंगे छात्र

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने शनिवार को कहा कि नई शिक्षा नीति 2020 (New Education Policy 2020) का लक्ष्य रोजगार मांगने वालों की जगह रोजगार देने वालों को तैयार करना और देश की शिक्षा प्रणाली के प्रयोजन तथा विषय-वस्तु में परिवर्तन का प्रयास करना है. चौथे ‘स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन' के फिनाले को संबोधित कर रहे मोदी ने कहा कि इस सप्ताह के शुरू में घोषित नई शिक्षा नीति-2020 में अंतर-विषय अध्ययन पर जोर दिया गया है, जो यह सुनिश्चित करेगा कि छात्र जो सीखना चाहता है पूरा ध्यान उसी पर हो. इस नीति का लक्ष्य है छात्रों पर से बस्ते का बोझ उतारकर उन्हें जीवन में काम आने योग्य चीजें सीखने के लिए प्रेरित करना है. प्रधानमंत्री ने कहा कि नई शिक्षा नीति का एक बड़ा लक्ष्य सभी तक शिक्षा को पहुंचाना है. इस नीति का लक्ष्य 2035 तक उच्च शिक्षा में औसत दाखिले को 50 प्रतिशत तक बढ़ाना है.

  • NEP 2020: नई शिक्षा नीति में मिड डे मील के साथ स्कूली बच्चों को दिया जा सकता है नाश्ता

    NEP 2020: नई शिक्षा नीति में मिड डे मील के साथ स्कूली बच्चों को दिया जा सकता है नाश्ता

    New Education Policy 2020: राष्ट्रीय शिक्षा नीति में मध्याह्न भोजन के साथ सरकारी या सहायता प्राप्त स्कूलों में बच्चों को नाश्ता मुहैया कराने का प्रावधान रखने का भी प्रस्ताव है. पिछले दिनों केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा मंजूर की गई इस शिक्षा नीति में कहा गया है कि सुबह के समय पोषक नाश्ता मिलना ज्ञान-संबंधी असामान्य मेहनत वाले विषयों की पढ़ाई में लाभकर हो सकता है. इसी के मद्देनजर नई शिक्षा नीति में प्रस्ताव किया गया है कि मध्याह्न भोजन के दायरे का विस्तार कर उसमें नाश्ते का प्रावधान जोड़ा जाए. शिक्षा नीति में कहा गया, ‘‘जब बच्चे कुपोषित या अस्वस्थ होते हैं तो वे बेहतर रूप से सीखने में असमर्थ हो जाते हैं. इसलिए, बच्चों के पोषण और स्वास्थ्य (मानसिक स्वास्थ्य सहित) पर ध्यान दिया जाएगा. पोषक भोजन और अच्छी तरह से प्रशिक्षित सामाजिक कार्यकर्ताओं, काउंसलर, और स्कूली शिक्षा प्रणाली में समुदाय की भागीदारी के साथ-साथ शिक्षा प्रणाली के अलावा विभिन्न उपायों के माध्यम से कार्य किया जाएगा.'' 

  • 'न परामर्श, न चर्चा, न विचार विमर्श और न पारदर्शिता!' NEP 2020 पर कांग्रेस का बयान

    'न परामर्श, न चर्चा, न विचार विमर्श और न पारदर्शिता!' NEP 2020 पर कांग्रेस का बयान

    राष्ट्रीय शिक्षा नीति, 2020 (NEP 2020): कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala), पल्लम राजू (Pallam Raju) और राजीव गौड़ा (Rajeev Gaura) ने साझा बयान जारी किया है. बयान के अनुसार नई शिक्षा नीति से मानवीय विकास, ज्ञान प्राप्ति, क्रिटिकल थिंकिंग और जिज्ञासा की भावना दरकिनार हुई है.

  • नई शिक्षा नीति में चीनी भाषा का कोई उल्लेख नहीं, जबकि ड्राफ्ट में थी शामिल

    नई शिक्षा नीति में चीनी भाषा का कोई उल्लेख नहीं, जबकि ड्राफ्ट में थी शामिल

    उदाहरणों की सूची में से चीनी भाषा को शामिल नहीं किया जाना बीजिंग के साथ बढ़ते सैन्य और आर्थिक तनाव के बीच उठाया गया कदम है. जून महीने में भारत सरकार ने 59 चीनी मोबाइल फोन एप्लिकेशन पर प्रतिबंध लगा दिया था जिसमें बेहद लोकप्रिय वीडियो शेयरिंग प्लेटफॉर्म TikTok भी शामिल है. 

  • नई शिक्षा नीति का जोर रोजगार मांगने वालों की जगह रोजगार देने वाला तैयार करना है : PM मोदी

    नई शिक्षा नीति का जोर रोजगार मांगने वालों की जगह रोजगार देने वाला तैयार करना है : PM मोदी

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से 'स्मार्ट इंडिया हैकाथॉन 2020' (Smart India Hackathon 2020) के ग्रैंड फिनाले को संबोधित किया. इस अवसर पर उन्होंने छात्रों के साथ बातचीत भी की.

  • 'राहुल गांधी जी, माफ कीजिए! मैं रोबोट या कठपुतली की तरह सिर हिलाने के बजाए....

    'राहुल गांधी जी, माफ कीजिए! मैं रोबोट या कठपुतली की तरह सिर हिलाने के बजाए....

    कांग्रेस के लिए हमेशा मुखर और सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव पार्टी की नेता खुशबू सुंदर ने एक बयान देकर सबको चौंका दिया है. ट्विटर पर दिए इस बयान को हाल ही में पार्टी के अंदर उठे असंतोष की एक और कड़ी में देखा जा रहा है. लेकिन खुशबू सुंदर ने इस ट्वीट के साथ ही कई और ट्वीट किए हैं जिसमें उन्होंने कांग्रेस छोड़कर जाने की अटकलों को विराम दिया है. उन्होने कहा कि किसी भी मुद्दे पर अलग विचार रखने मतलब पार्टी छोड़कर जाना नहीं होता है. दरअसल उन्होंने गुरुवार को एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा कि नई शिक्षा नीति पर उनकी राय पार्टी से अलग है. लेकिन इसके आगे उन्होंने जो लिखा वह सबको चौंकाने वाला था. खुशबु सुंदर ने लिखा, 'मैं राहुल गांधी से माफी मांगती हूं लेकिन मैं रोबोट या कठपुतली बनने की बजाए तथ्य बोलना पसंद करती हूं. खुशबू ने इसी ट्वीट में आगे लिखा कि आप हर मुद्दे पर अपने नेता मुद्दे पर सहमत नहीं हो सकते हैं. लेकिन एक नागरिक होने के नेता इस आपको बहादुरी से अपनी राय रखना चाहिए. 

  • मोदी सरकार की नई शिक्षा नीति पर शिवसेना का बयान- ये राफेल से ज्यादा जरूरी, लेकिन...

    मोदी सरकार की नई शिक्षा नीति पर शिवसेना का बयान- ये राफेल से ज्यादा जरूरी, लेकिन...

    शिवसेना ने केंद्र सरकार की ओर से जारी की गई नई शिक्षा नीति को लेकर अपने मुखपत्र सामना के संपादकीय में टिप्पणी की है. गुरुवार को छपे संपादकीय में सामना ने लिखा है कि केंद्र सरकार की ओर से जारी की गई नई शिक्षा नीति राफेल फाइटर जेट की खरीद से ज्यादा जरूरी है, लेकिन इसको लागू किए जाने को लेकर चिंताएं उठ रही हैं.

12345»

Advertisement

शिक्षा नीति वीडियो

शिक्षा नीति से जुड़े अन्य वीडियो »

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com