NDTV Khabar

शिवपाल यादव


'शिवपाल यादव' - 345 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • लोकसभा चुनाव में हार के बाद क्या सपा का कुनबा दोबारा होगा एकजुट? शिवपाल यादव ने दिया बड़ा बयान

    लोकसभा चुनाव में हार के बाद क्या सपा का कुनबा दोबारा होगा एकजुट? शिवपाल यादव ने दिया बड़ा बयान

    लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद समाजवादी कुनबे के दोबारा एकजुट होने की खबरें आ रही थीं, लेकिन अब सपा से अलग होकर अपनी अलग पार्टी बनाने वाले शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) ने इन खबरों पर विराम लगा दिया है. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के प्रमुख शिवपाल सिंह यादव (Shivpal Singh Yadav) ने शुक्रवार को यहां कहा कि समाजवादी पार्टी (सपा) के साथ अब उनका चैप्टर बंद हो गया है. 

  • दोबारा अखिलेश के साथ आएंगे शिवपाल यादव? कौन बन रहा है राह में रोड़ा

    दोबारा अखिलेश के साथ आएंगे शिवपाल यादव? कौन बन रहा है राह में रोड़ा

    लगातार दो लोकसभा चुनाव और एक विधानसभा चुनाव हारने के बाद अखिलेश पर परिवार को एक करने का दबाव बढ़ा है. खासकर सपा संस्थापक मुलायम सिह यादव चाहते हैं कि पार्टी को खड़ा करने में योगदान देने वाले छोटे भाई शिवपाल सिह यादव को दोबारा साथ लाया जाए. लेकिन अखिलेश राजी नहीं हैं. उन्हें लगता है कि शिवपाल की एन्ट्री से पार्टी में उनके एकाधिकार और वर्चस्व को खतरा पैदा हो जाएगा.

  • मुलायम सिंह यादव से मिले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, Tweet कर कही यह बात...

    मुलायम सिंह यादव से मिले यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, Tweet कर कही यह बात...

    उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) से उनके आवास पर मुलाकात की और उनका हाल जाना.

  • मुलायम ने शुरू की यादव परिवार को एकजुट करने की कवायद, अखिलेश और शिवपाल से की बात...

    मुलायम ने शुरू की यादव परिवार को एकजुट करने की कवायद, अखिलेश और शिवपाल से की बात...

    हाल ही में संपन्न लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के निराशाजनक प्रदर्शन को देखते हुए पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने बेटे अखिलेश (Akhilesh Yadav) और भाई शिवपाल (Shivpal Yadav) के बीच सुलह कराने की एक बार फिर कोशिश की.

  • सपा-बसपा की राह हुई अलग? इन 5 वजहों से टूट गया गठबंधन

    सपा-बसपा की राह हुई अलग? इन 5 वजहों से टूट गया गठबंधन

    समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के बीच लोकसभा चुनाव से पहले हुए गठबंधन का अंत हो गया है. हालांकि इसकी कोई अभी तक औपचारिक घोषणा नहीं हुई है लेकिन मायावती ने 11 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव में अकेले दम पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर गठबंधन की स्‍थ‍िति साफ कर दी है. इस मसले पर अभी सपा की ओर से कोई बयान नहीं आया है. सपा-बसपा गठबंधन को पहले भी राजनीतिक विश्‍लेषक बेमेल समझौता बताते आ रहे थे. इस दौरान मायावती की चालाकी का भी जिक्र आया कि कैसे उन्‍होंने अखिलेश यादव के खाते में उन सीटों को दे दिया जिस पर उनकी जीत की कोई गुंजाइश नहीं बन पा रही थी. लखनऊ, गोरखपुर, बनारस, गाजियाबद जैसी लोकसभा सीटें इसके उदाहरण हैं. गठबंधन को लेकर सपा के संस्‍थापक और पूर्व मुख्‍यमंत्री मुलायम सिंह यादव खुश नहीं थे. अपनी नाराजगी उन्‍होंने साफ जाहिर कर दी थी. सपा से अलग होकर शिवपाल सिंह यादव ने अपनी पार्टी बनाई और अपने उम्‍मीदवार सभी सीटों पर उतारे. शिवपाल यादव ने भी इस गठबंधन का मजाक उड़ाया था. गेस्‍ट हाउस कांड का भी जिक्र आया लेकिन कहा गया कि दोनों पार्टियां अब इस हादसे से उबर चुकी हैं. मंच पर मायावती के साथ मुलायम और अखिलेश की कई तस्‍वीरें सामने आईं. हालांकि एक चुनावी भाषण में मायावती यह कहने से नहीं चूकीं कि सपा के कार्यकर्ताओं को बसपा के लोगों से काफी कुछ सीखने की जरूरत है.

  • Rahul Gandhi Amethi Election Results 2019 Live Updates: राहुल गांधी ने अमेठी सीट पर स्मृति ईरानी को पछाड़ा

    Rahul Gandhi Amethi  Election Results 2019 Live Updates: राहुल गांधी ने अमेठी सीट पर स्मृति ईरानी को पछाड़ा

    यूपी की बांसगांव सीटे से भाजपा उम्मीदवार कमलेश पासवान, डुमरियागंज सीट से भाजपा उम्मीदवार जगदम्बिका पाल, मिर्जापुर सीट से कांग्रेस के ललितेशपति त्रिपाठी, कौशाम्बी सीट से सपा उम्मीदवार इंद्रजीत सरोज, फतेहपुर से भाजपा की निरंजन ज्योति, बांदा से भाजपा के आरके सिंह पटेल, हमीरपुर से भाजपा कुंवर पुष्पेंद्र सिंह चंदेल, जालौन से भाजपा उम्मीदवार भानु प्रताप सिंह वर्मा, फर्रुखाबाद से बसपा के मनोज अग्रवाल, फिरोजाबाद से पीएसपीएल के शिवपाल सिंह यादव, फतेहपुर सीकरी से कांग्रेस के राजबब्बर और अलीगढ़ सीट से भाजपा के सतीश कुमार गौतम आगे चल रहे हैं.

  • Election Results 2019: चुनावी नतीजों से पहले शिवपाल यादव का बड़ा बयान- कहा- 'मेरे बिना कोई भी सरकार...'

    Election Results 2019: चुनावी नतीजों से पहले शिवपाल यादव का बड़ा बयान- कहा- 'मेरे बिना कोई भी सरकार...'

    Results 2019: शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) ने बुधवार को कहा कि उनके बिना केंद्र में किसी की सरकार नहीं बनेगी. इस दौरान शिवपाल यादव (Shivpal Yadav News) ने फिरोजाबाद से चुनाव जीतने की बात भी कही.

  • शिवपाल सिंह यादव: मुलायम सिंह की उंगली पकड़कर सीखी राजनीति, अब भतीजे को दे रहे चुनौती

    शिवपाल सिंह यादव: मुलायम सिंह की उंगली पकड़कर सीखी राजनीति, अब भतीजे को दे रहे चुनौती

    यूपी के सियासी गलियारों में शिवपाल सिंह यादव एक बड़ा नाम हैं. वह यूपी के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव के छोटे भाई हैं. भतीजे और पूर्व सीएम अखिलेश यादव से हुए गहरे मतभेद के बाद शिवपाल ने समाजवादी पार्टी से अलग होकर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी(लोहिया) बनाई और इस लोकसभा चुनाव में वह फिरोजाबाद सीट से अपने भतीजे अक्षय यादव के खिलाफ ताल ठोंक रहे हैं.

  • फिरोजाबाद में चाचा शिवपाल यादव और भतीजे अक्षय यादव के सियासी मैदान का हाल

    फिरोजाबाद में चाचा शिवपाल यादव और भतीजे अक्षय यादव के सियासी मैदान का हाल

    चूड़ियों की नगरी फिरोजाबाद में सबसे बड़े राजनीतिक परिवार का मनमुटाव यहां सियासी जंग में तब्दील हो चुका है. हर गली हर नुक्कड़ पर चाचा शिवपाल यादव और भतीजे अक्षय यादव की ही चर्चा चल रही है.

  • सपा के गढ़ फिरोजाबाद में क्या भतीजे को हरा पाएंगे शिवपाल यादव या बीजेपी मारेगी बाजी?

    सपा के गढ़ फिरोजाबाद में क्या भतीजे को हरा पाएंगे शिवपाल यादव या बीजेपी मारेगी बाजी?

    मुलायम सिंह यादव घराने की परंपरागत सीट फिरोजाबाद (Firozabad) में इस बार दिलचस्प मुकाबला है. वजह कि यहां चाचा और भतीजा आमने-सामने हैं.

  • Lok Sabha Polls 2019: सियासत के 'महाभारत' में यदुवंशियों में आपसी तकरार से BJP को कितना फायदा?

    Lok Sabha Polls 2019: सियासत के 'महाभारत' में यदुवंशियों में आपसी तकरार से BJP को कितना फायदा?

    LoksabhaPolls2019: जहां यूपी में चाचा शिवपाल यादव, भतीजे अखिलेश यादव की सीटों की 'गणित' को बिगाड़ते लग रहे हैं, वहीं बिहार में बड़े भाई तेजप्रताप ने छोटे भाई तेजस्‍वी की सल्‍तनत को चुनौती दे डाली है. स्‍वाभाविक है कि परिवार की इस कलह का बीजेपी (BJP)पूरा मजा ले रही है. उसके लिए यह एक तरह से 'बिल्‍ली के भाग छींका टूटना' जैसा ही है.

  • मैनपुरी : मुलायम सिंह की फिर इम्तिहान की घड़ी, पर्चा भरने के लिए बेटे के साथ पहुंचे

    मैनपुरी : मुलायम सिंह की फिर इम्तिहान की घड़ी, पर्चा भरने के लिए बेटे के साथ पहुंचे

    मुलायम सिंह यादव ने आज मैनपुरी लोकसभा सीट से अपना पर्चा दाखिल किया. मुलायम सिंह अखिलेश के बनवाए रथ से इटावा से मैनपुरी गए. उनके साथ अखिलेश यादव, रामगोपाल यादव, धर्मेंद्र यादव भी थे. शिवपाल ने उन्हें घर पहुंचकर बधाई दी.

  • मुलायम सिंह ने मैनपुरी से भरा पर्चा, साथ में थे अखिलेश और राम गोपाल यादव, नहीं दिखे शिवपाल

    मुलायम सिंह ने मैनपुरी से भरा पर्चा, साथ में थे अखिलेश और राम गोपाल यादव, नहीं दिखे शिवपाल

    मुलायम सिंह यादव मैनपुरी सीट से चार बार सांसद रह चुके हैं. साल 2014 में उन्होंने मैनपुरी के साथ ही आजमगढ़ सीट से लोकसभा चुनाव लड़ा था. मुलायम ने दोनों ही सीटों से जीत हासिल कर ली थी, बाद में उन्होंने मैनपुरी सीट छोड़ दी. इसके बाद इस सीट पर उपचुनाव हुए, जिसमें समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार तेज प्रताप यादव जीतने में कामयाब रहे. मैनपुरी सीट से मुलायम 1996, 2004 और 2009 से चुनाव जीत चुके हैं. राजनीतिक विशेषज्ञों का मानना है कि मैनपुरी लोकसभा सीट समाजवादी पार्टी के लिये काफी सुरक्षित सीट है. इस सीट पर पिछली बार मुलायम साढ़े तीन लाख से अधिक वोटो से जीते थे.

  • लोकसभा चुनाव : कांग्रेस ने गलती सुधारी, अब उत्तर प्रदेश की महाराजगंज सीट से न्यूज एंकर को दिया टिकट

    लोकसभा चुनाव : कांग्रेस ने गलती सुधारी, अब उत्तर प्रदेश की महाराजगंज सीट से न्यूज एंकर को दिया टिकट

    एक ओर जहां लोकसभा चुनाव को लेकर पार्टियां प्रत्याशियों का नाम ऐलान कर रही हैं वहीं उत्तर प्रदेश में कांग्रेस और शिवपाल यादव की पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी ने महाराजगंज सीट से एक ही प्रत्याशी के नाम का ऐलान कर डाला. कांग्रेस ने यूपी सरकार में मंत्री रहे और अभी कवियित्री मधुमिता शुक्ला हत्याकांड में जेल की सजा काट रहे अमरमणि त्रिपाठी की बेटी तनुश्री (27) को महाराजगंज सीट से टिकट देने का ऐलान किया.

  • Lok Sabha Election 2019: भतीजे अक्षय के खिलाफ चुनाव मैदान में क्यों उतरे शिवपाल यादव?

    Lok Sabha Election 2019: भतीजे अक्षय के खिलाफ चुनाव मैदान में क्यों उतरे शिवपाल यादव?

    सपा ने फिरोजाबाद (Firozabad Lok Sabha constituency) से रामगोपाल यादव (Ram Gopal Yadav) के बेटे अक्षय यादव (Akshay Yadav) को टिकट दिया है, लेकिन अब इस सीट से उनके चाचा शिवपाल यादव (Shivpal Singh Yadav) भी ताल ठोंकते नजर आ रहे हैं.

  • Top 5 News: जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले में 8 जवान शहीद, शिवपाल यादव ने फोन किया तो प्रियंका बोलीं- अभी समय नहीं

    Top 5 News: जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले में 8 जवान शहीद, शिवपाल यादव ने फोन किया तो प्रियंका बोलीं- अभी समय नहीं

    जम्मू एवं कश्मीर के पुलवामा में अवन्तीपुरा के गोरीपुरा इलाके में सीआरपीएफ के काफिले पर बड़ा आतंकी हमला हुआ है, इसमें सीआरपीएफ के 8 जवान शहीद हो गए है. पढ़ें अब तक की 5 बड़ी खबरें

  • यूपी की सियासत में एक और ट्विस्ट: शिवपाल यादव ने फोन कर प्रियंका गांधी से मिलने का समय मांगा, तो मिला यह जवाब

    यूपी की सियासत में एक और ट्विस्ट: शिवपाल यादव ने फोन कर प्रियंका गांधी से मिलने का समय मांगा, तो मिला यह जवाब

    प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के संस्थापक और प्रमुख शिवपाल यादव ने प्रियंका गांधी को फोन किया है और उनसे मिलने का समय मांगा है.

  • 'पापा' को पीएम पसंद हैं...

    'पापा' को पीएम पसंद हैं...

    मुलायम सिंह यादव ने वह कह दिया जो कोई सोच भी नहीं सकता था. उन्होंने कह दिया कि वे चाहते हैं कि नरेंद्र मोदी फिर से प्रधानमंत्री बनें. मुलायम ने यह बात सोलहवीं लोकसभा के विदाई भाषण में कही. एक ऐसी बात जो बीजेपी नेताओं के कानों में मधुर सुर की तरह गूंजी तो, वहीं विपक्ष के कानों में कर्कश राग की तरह. यह ऐसी बात है जो सपा-बसपा गठबंधन से तगड़ी चुनौती झेल रही बीजेपी उत्तर प्रदेश में एक ब्रहास्त्र की तरह इस्तेमाल कर सकती है. खासतौर से उन यादव मतदाताओं को भ्रमित करने के लिए जिन पर शिवपाल सिंह यादव पहले से ही डोरे डालने को तैयार बैठे हैं. मुलायम के बयान के राजनीतिक निहितार्थ के बारे में आगे बात करेंगे, लेकिन पहले आइए सुन लेते हैं उन्होंने क्या क्या कहा.