NDTV Khabar

शून्यकाल


'शून्यकाल' - 39 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • रेप पीड़िता के आत्मदाह का मामला राजस्थान विधानसभा में गूंजा

    रेप पीड़िता के आत्मदाह का मामला राजस्थान विधानसभा में गूंजा

    दुष्कर्म पीड़िता द्वारा पुलिस थाने में आत्मदाह किये जाने का मामला मंगलवार को राजस्थान विधानसभा में उठा जहां बीजेपी विधायकों ने मामले की न्यायिक जांच कराने की मांग को लेकर सदन से बहिर्गमन किया है.  इस बीच राज्य सरकार ने संबद्ध थाने के प्रभारी को निलंबित करने तथा मामले की जांच सीआईडी (सीबी) से कराने की घोषणा की है. बीजेपी विधायक कालीचरण सर्राफ ने शून्यकाल के दौरान यह मामला उठाया. उन्होंने कहा कि जिन पुलिस अधिकारियों की कथित लापरवाही के कारण दुष्कर्म पीड़िता को आत्मदाह करना पड़ा उन्हें बर्खास्त किया जाए.  उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज किया जाये और उन्हें गिरफ्तार किया जाए. उन्होंने मामले की न्यायिक जांच कराने की मांग की. इसी मामले पर बोलते हुए प्रतिपक्ष उपनेता राजेंद्र राठौड़ ने सवाल उठाया कि अगर मामला झूठा है तो पुलिस ने एफआर क्यों नहीं पेश की.  उन्होंने सरकार पर संवेदनहीन होने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि इस तरह के मामलों की लंबी फेहरिस्त है.

  • निर्मला सीतारमण, स्मृति ईरानी ने आजम खान के खिलाफ की कार्रवाई की मांग, अन्य दलों की महिला सांसदों ने भी की निंदा

    निर्मला सीतारमण, स्मृति ईरानी ने आजम खान के खिलाफ की कार्रवाई की मांग, अन्य दलों की महिला सांसदों ने भी की निंदा

    लोकसभा में भाजपा, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस, राकांपा सहित सभी दलों ने गुरूवार को पीठासीन सभापति रमा देवी के बारे में आजम खान की टिप्पणी की पार्टी लाइन से हटकर कड़ी निंदा की और स्पीकर से इस मामले में कठोर कार्रवाई करने की मांग की.  इस मामले पर शून्यकाल में निचले सदन में विभिन्न दलों की महिला सांसदों समेत दलों के नेताओं ने अपनी बात रखी.  महिला सांसदों ने स्पीकर से ऐसी कार्रवाई करने की मांग की जो ‘नजीर’ बन सके.  विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि या तो आजम खान इसके लिए माफी मांगे या उन्हें निलंबित कर दिया जाए.  लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने विभिन्न दलों के नेताओं एवं सदस्यों की इस मुद्दे बात सुनने के बाद अंत में कहा कि वह सभी दलों के नेताओं के साथ बैठक कर इस बारे में कोई निर्णय करेंगे.

  • राहुल गांधी ने किसानों की स्थिति को बताया ‘दयनीय', राजनाथ बोले- लंबे समय तक सरकार चलाने वाले जिम्मेदार

    राहुल गांधी ने किसानों की स्थिति को बताया ‘दयनीय', राजनाथ बोले- लंबे समय तक सरकार चलाने वाले जिम्मेदार

    लोकसभा में शून्यकाल के दौरान राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने किसानों का मुद्दा उठाया और कहा कि उनके संसदीय क्षेत्र वायनाड में कर्ज की अदायगी नहीं कर पाने के कारण बुधवार को एक किसान ने खुदकुशी कर ली. केरल में पिछले डेढ़ साल में 18 किसान खुदकुशी कर चुके हैं.

  • कर्नाटक संकट के बीच अब कांग्रेस को मध्य प्रदेश में भी 'शिकार की राजनीति' की आशंका

    कर्नाटक संकट के बीच अब कांग्रेस को मध्य प्रदेश में भी 'शिकार की राजनीति' की आशंका

    लोकसभा में मंगलवार को कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर कर्नाटक में जेडीएस+कांग्रेस गठबंधन सरकार को सत्ता से हटाने के लिए ‘‘षड्यंत्र रचने’’ और ‘‘शिकार की राजनीति’’ करने का आरोप लगाया जिसे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने खारिज कर दिया और इसे ‘‘कांग्रेस के घर की समस्या‘‘ बताया.  लोकसभा में कांग्रेस और डीएमके ने इस विषय पर आसन के समीप आकर नारेबाजी की और सदन से वाकआउट भी किया. निचले सदन में शून्यकाल में इस विषय को उठाते हुए कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि कर्नाटक का क्या हाल है, यह सभी के सामने स्पष्ट है. केंद्र में सत्तारूढ़ पार्टी की ओर से ‘‘शिकार की राजनीति’’ की जा रही है.

  • कांग्रेस, तृणमूल सदस्यों के हंगामे के कारण राज्यसभा को करना पड़ा स्थगित

    कांग्रेस, तृणमूल सदस्यों के हंगामे के कारण राज्यसभा को करना पड़ा स्थगित

    कर्नाटक के राजनीतिक घटनाक्रम पर कांग्रेस सदस्यों और विनिवेश के मुद्दे पर तृणमूल कांग्रेस सदस्यों के हंगामे की वजह से मंगलवार को राज्यसभा की बैठक शुरू होने के करीब पांच मिनट बाद ही दोपहर बारह बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई.  हंगामे की वजह से उच्च सदन (राज्यसभा) में शून्यकाल नहीं हो पाया. गौरतलब है कि कर्नाटक की साल भर पुरानी कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन सरकार 14 विधायकों के इस्तीफे की वजह से गिरने की कगार पर पहुंच गयी है. कांग्रेस ने भाजपा पर गठबंधन में दरार के लिए उकसाने का आरोप लगाया है. सदन में सभापति एम वेंकैया नायडू ने आवश्यक दस्तावेज पटल पर रखवाए. इसी बीच तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों ने कुछ कहना चाहा. सभापति ने उन्हें अपनी बात रखने की अनुमति नहीं दी. उन्होंने कहा कि शून्यकाल स्थगित कर दो मुद्दों पर चर्चा करने के लिए नियम 267 के तहत उन्हें दो नोटिस मिले हैं. दोनों ही नोटिस उन्होंने अस्वीकार कर दिए हैं. 

  • ...जब BJP सांसद ने संसद में अपनी ही सरकार पर उठाए सवाल, कहा- केंद्र सरकार नहीं सुन रही मेरी बात

    ...जब BJP सांसद ने संसद में अपनी ही सरकार पर उठाए सवाल, कहा- केंद्र सरकार नहीं सुन रही मेरी बात

    संसद में ऐसा ही गतिरोध कुछ दिन पहले और देखने को मिला था, जब केंद्र ने कहा था कि उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार को निर्धारित प्रक्रिया का पालन किए बिना, अन्य पिछड़ा वर्ग में शामिल 17 समुदायों को अनुसूचित जाति की सूची में शामिल नहीं करना चाहिए था. सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत ने राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान कहा ‘यह उचित नहीं है और राज्य सरकार को ऐसा नहीं करना चाहिए.’

  • BJP-TMC सांसदों के नोंकझोंक पर बोले लोकसभा अध्यक्ष- सदन को बंगाल विधानसभा मत बनाइए

    BJP-TMC सांसदों के नोंकझोंक पर बोले लोकसभा अध्यक्ष- सदन को बंगाल विधानसभा मत बनाइए

    उन्हें शांत करवाते हुए लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला को यहां तक कहना पड़ा कि ‘सदन को बंगाल विधानसभा मत बनाइए.’ भाजपा की लॉकेट चटर्जी ने मंगलवार को सदन में शून्यकाल के दौरान आरोप लगाया था कि पश्चिम बंगाल में ‘‘जन्म से लेकर मृत्यु तक हर जगह कट मनी ली जाती है.’’

  • OBC जातियों को SC लिस्ट में डालने पर गहराया विवाद: BJP के SC नेता हुए नाराज, कहा- सपा के जाल में फंस रही है भाजपा

    OBC जातियों को SC लिस्ट में डालने पर गहराया विवाद: BJP के SC नेता हुए नाराज, कहा- सपा के जाल में फंस रही है भाजपा

    केंद्र सरकार ने भी मंगलवार को कहा कि उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार को निर्धारित प्रक्रिया का पालन किए बिना, अन्य पिछड़ा वर्ग में शामिल 17 समुदायों को अनुसूचित जाति की सूची में शामिल नहीं करना चाहिए था. सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत ने राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान कहा था ‘यह उचित नहीं है और राज्य सरकार को ऐसा नहीं करना चाहिए.' शून्यकाल में यह मुद्दा बीएसपी के सतीश चंद्र मिश्र ने उठाया. उन्होंने कहा कि अन्य पिछड़ा वर्ग में शामिल 17 समुदायों को अनुसूचित जाति की सूची में शामिल करने का उत्तर प्रदेश सरकार का फैसला असंवैधानिक है क्योंकि अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग की सूचियों में बदलाव करने का अधिकार केवल संसद को है.

  • रायबरेली रेल कोच फैक्टरी सहित रेलवे की कई संपत्तियों के 'निगमीकरण' के खिलाफ सोनिया गांधी ने संसद में उठाई आवाज

    रायबरेली रेल कोच फैक्टरी सहित रेलवे की कई संपत्तियों के 'निगमीकरण' के खिलाफ सोनिया गांधी ने संसद में उठाई आवाज

    यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार को सरकार पर रेलवे की ‘‘बहुमूल्य संपत्तियों को निजी क्षेत्र के चंद हाथों को कौड़ियों के दाम पर बेचने’’ का आरोप लगाया और इस बात पर अफसोस जताया कि सरकार ने निगमीकरण के प्रयोग के लिए रायबरेली के माडर्न कोच कारखाने जैसी एक बेहद कामायाब परियोजना को चुना है. उन्होंने निगमीकरण को निजीकरण की शुरुआत करार दिया. सोनिया गांधी ने लोकसभा में शून्यकाल में इस विषय को उठाया और कहा कि सरकार एक योजना के तहत उनके संसदीय क्षेत्र रायबरेली के मॉडर्न कोच कारखाने समेत रेलवे की कुछ उत्पादन इकाइयों का निगमीकरण करने जा रही है जो इन इकाइयों के निजीकरण की शुरुआत है.

  • मोदी सरकार और योगी सरकार में 'मतभेद', केंद्रीय मंत्री ने संसद में कहा - यह उचित नहीं, ऐसा नहीं करना चाहिए था

    मोदी सरकार और योगी सरकार में 'मतभेद', केंद्रीय मंत्री ने संसद में कहा - यह उचित नहीं, ऐसा नहीं करना चाहिए था

    केंद्र ने मंगलवार को कहा कि उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार को निर्धारित प्रक्रिया का पालन किए बिना, अन्य पिछड़ा वर्ग में शामिल 17 समुदायों को अनुसूचित जाति की सूची में शामिल नहीं करना चाहिए था.  सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलोत ने राज्यसभा में शून्यकाल के दौरान कहा ‘‘यह उचित नहीं है और राज्य सरकार को ऐसा नहीं करना चाहिए.’’ शून्यकाल में यह मुद्दा बीएसपी के सतीश चंद्र मिश्र ने उठाया.

  • ...जब लोकसभा में मंत्री ने विपक्षी सांसद को दिया बोलने का मौका तो स्पीकर बोले- आज्ञा देने का काम मेरा है, आपका नहीं

    ...जब लोकसभा में मंत्री ने विपक्षी सांसद को दिया बोलने का मौका तो स्पीकर बोले- आज्ञा देने का काम मेरा है, आपका नहीं

    सुप्रिया के बात रखने के बाद बिरला ने कहा कि ‘मंत्री जी, आज्ञा देने का काम मेरा है, आपका नहीं है.’ बिरला के इस कथन के बाद सदन में ठहाके सुने गए. विधेयक पारित होने के बाद उन्होंने शून्य काल शुरू करने का निर्देश दिया. उन्होंने सदस्यों से आग्रह किया कि आगे से शून्यकाल में बोलने के लिए अपने विषय आदि को लेकर आसन के पास नहीं आए, बल्कि महासचिव वाली मेज पर अधिकारियों को दें और इस तरह से उनका संदेश आसन तक पहुंच जाएगा.

  • नए अध्यक्ष ने बदल दिया लोकसभा का तौर-तरीका, ममता बनर्जी ने भेजी मिठाई

    नए अध्यक्ष ने बदल दिया लोकसभा का तौर-तरीका, ममता बनर्जी ने भेजी मिठाई

    लोकसभा के नए अध्यक्ष ओम बिरला राज्य विधानसभाओं में बैठकों की कम होती संख्या से चिंतित हैं. सत्रहवीं लोकसभा का पहला सत्र होने के बाद वे सभी राज्य विधानसभा अध्यक्षों की एक बैठक बुलाने जा रहे हैं जिसमें वे आग्रह करेंगे कि राज्य विधानसभाओं की बैठकों की संख्या बढ़ाई जानी चाहिए. सूत्रों के मुताबिक ओम बिरला यह भी चाहते हैं कि लोकसभा की कार्यवाही सुचारु ढंग से चले ताकि राज्य विधानसभाएं इसे मिसाल बनाकर अपने यहां भी काम ठीक ढंग से निपटा सकें.

  • मुजफ्फरपुर में जिस अस्पताल में चमकी बुखार से हुई 108 बच्चों की मौत, वहां मिले मानव कंकाल

    मुजफ्फरपुर में जिस अस्पताल में चमकी बुखार से हुई 108 बच्चों की मौत, वहां मिले मानव कंकाल

    भाजपा के एक सदस्य ने शुक्रवार को लोकसभा में सरकार से इस बात की जांच कराने की मांग की कि बिहार के मुजफ्फरपुर में एक्यूट इन्सेफेलाइटिस सिंड्रोम से बच्चों की मौत के मामले में लीची को जिम्मेदार ठहराना कहीं इस फल को बदनाम करने की साजिश तो नहीं है. बिहार के सारण से लोकसभा सदस्य राजीव प्रताप रूड़ी ने शून्यकाल में इस विषय को उठाया और कहा कि मुजफ्फरपुर में हालात बहुत चिंताजनक हैं.

  • NDA के उपसभापति पद के उम्मीदवार हरिवंश पत्रकार और बैंकर भी रह चुके हैं, जानिये उनके बारे में 5 बातें...

    NDA के उपसभापति पद के उम्मीदवार हरिवंश पत्रकार और बैंकर भी रह चुके हैं, जानिये उनके बारे में 5 बातें...

    राज्यसभा के उपसभापति पद के लिए चुनाव 9 अगस्त को चुनाव होगा. सभापति वेंकैया नायडू ने शून्यकाल में इसकी घोषणा की. उन्होंने कहा कि इसके लिए बुधवार 8 अगस्त को 12 बजे तक नामांकन पत्र दाखिल किया जा सकेगा. एनडीए की तरफ से JDU सांसद हरिवंश नारायण सिंह (Harivansh Narayan Singh) उम्मीदवार होंगे. उपसभापति का पद जेडीयू को देने के पीछे विश्लेषक बिहार में जेडीयू और बीजेपी के बीच जारी गतिरोध को खत्म करने की दिशा में एक कदम के तौर पर देख रहे हैं. खबरों के मुताबिक यह नाम अमित शाह और नीतीश कुमार के बीच बातचीत के बाद ही तय हुआ है. 2019 के लोकसभा चुनाव को देखते हुए इसे बीजेपी द्वारा एनडीए के कुनबे को संगठित रखने की कवायद के रूप में भी देखा जा सकता है. हरिवंश को उम्मीदवार बनाकर BJP यह भी संदेश देना चाहती है कि उसके और JDU के बीच सब कुछ सही है. उत्तर प्रदेश के बलिया जिले में 30 जून, 1956 को जन्मे हरिवंश को जयप्रकाश नारायण (जेपी) ने सबसे ज्यादा प्रभावित किया. हरिवंश 25 साल से ज्यादा समय तक प्रभात खबर अखबार के प्रधान संपादक रह चुके हैं.

  • मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले पर लोकसभा में हंगामा, कार्यवाही बाधित

    मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले पर लोकसभा में हंगामा, कार्यवाही बाधित

    लोकसभा में मुजफ्फरपुर बालिका गृह यौन उत्पीड़न मामला जोरदार ढंग से उठा. लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कहा कि महिलाओं एवं लड़कियों पर अत्याचार को कोई भी सहन नहीं कर सकता है, साथ ही सरकार से आग्रह किया कि इस मामले की जांच की ठीक तरह से निगरानी हो. शून्यकाल में कांग्रेस की रंजीत रंजन और राजद के जयप्रकाश नारायण यादव ने सदन में इस विषय को उठाया.

  • यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में नियुक्तियों में आरक्षण पर बोले राजनाथ सिंह- कोई नहीं छीन सकता आरक्षण

    यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में नियुक्तियों में आरक्षण पर बोले राजनाथ सिंह- कोई नहीं छीन सकता आरक्षण

    विश्विद्यालयों और महाविद्यालयों में नियुक्तियों में आरक्षण लागू करने को लेकर विपक्ष के आरोप पर केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को स्पष्ट किया कि कोई व्यक्ति या संस्था अनुसूचित जाति, जनजाति और पिछड़े वर्गों का आरक्षण नहीं छीन सकती. लोकसभा में शून्यकाल के दौरान समाजवादी पार्टी के धर्मेंद्र यादव ने मानव संसाधन विकास मंत्रालय की पांच मार्च की एक अधिसूचना का हवाला दिया और आरोप लगाया कि सरकार विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में आरक्षण खत्म करना चाहती है.

  • शहीद दिवस के दिन संसद में घोषित की जाए छुट्टी, लोकसभा में अकाली नेता ने उठाई मांग

    शहीद दिवस के दिन संसद में घोषित की जाए छुट्टी, लोकसभा में अकाली नेता ने उठाई मांग

    शिरोमणि अकाली दल ने लोकसभा में मांग उठाई कि 23 मार्च को भगत सिंह के शहीद दिवस के मौके पर सदन में अवकाश घोषित किया जाए. अकाली दल के प्रेम सिंह चंदूमाजरा ने शून्यकाल में हंगामे के दौरान ही यह मांग उठाई और शोर-शराबे के बीच उनकी बात ठीक से नहीं सुनी जा सकी. लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने भी कहा 'कुछ सुनाई नहीं दे रहा.'

  • TDP और AIADMK सांसदों के हंगामे के बीच राज्यसभा की कार्यवाही 2.30 बजे तक स्थगित

    TDP और AIADMK सांसदों के हंगामे के बीच राज्यसभा की कार्यवाही 2.30 बजे तक स्थगित

    संसद के ऊपरी सदन राज्यसभा में शुक्रवार को आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग सहित विभिन्न मुद्दों पर हंगामे के बीच सदन की कार्यवाही अपराह्न् 2.30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई. जैसे ही सभापति एम.वेंकैया नायडू ने शून्यकाल का ऐलान किया, ठीक वैसे ही तेलुगू देसम पार्टी यानी टीडीपी और एआईएडीएमके के सांसदों ने हंगामा करना शुरू कर दिया. 

Advertisement