NDTV Khabar

सपा कांग्रेस


'सपा कांग्रेस' - 448 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • जो नारा प्रियंका गांधी ने लगाया, उसे अयोध्या में PM मोदी ने भी दोहराया! बड़े बदलाव के हैं संकेत?

    जो नारा प्रियंका गांधी ने लगाया, उसे अयोध्या में PM मोदी ने भी दोहराया! बड़े बदलाव के हैं संकेत?

    अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन के साथ ही इस बात के भी संकेत मिल रहे हैं कि देश में अब कुछ राजनीतिक पार्टियों को छोड़ दिया जाए तो कांग्रेस सहित, सपा, बीएसपी राम नाम का जप जपने में पीछे नहीं दिखना चाहती हैं. सबसे बड़ी बात कांग्रेस भी इस अब राम के नाम पर चूकना नहीं चाहती है. राम मंदिर आंदोलन ने जहां बीजेपी को सबसे बड़ा दल बनाया तो कांग्रेस दूसरी ओर रसातल में जाती दिखाई दी. दरअसल इसके पीछे कांग्रेस का कन्फ्यूजन भी बड़ी वजह थी. लेकिन यहां एक बार और ध्यान देने की है कि जब अयोध्या में साल 1986 में उस समय मंदिर का ताला खोला गया तो केंद्र में राजीव गांधी की अगुवाई में कांग्रेस की ही सरकार थी. इसके बाद 6 दिसंबर 1992 की घटना के समय भी केंद्र में पीवी नरसिम्हाराव की अगुवाई में कांग्रेस की सरकार थी. लेकिन इन दो घटनाओं के बीच कांग्रेस हमेशा दोराहे पर खड़ी नजर आई. इसका नतीजा ये हुआ है कि बीजेपी के अलावा उत्तर प्रदेश में सपा और बीएसपी जैसी पार्टियों का उभार हुआ और कांग्रेस पूरी तरह से साफ हो गई.

  • Ayodhya Ram Mandir Bhumi Pujan Updates: अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन पर किसने क्या कहा

    Ayodhya Ram Mandir Bhumi Pujan Updates: अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन पर किसने क्या कहा

    अयोध्या में राम मंदिर भूमि पूजन को लेकर तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं. इसमें बीजेपी, कांग्रेस, सपा, टीएमसी सहित तमाम दलों के नेता बयान दे रहे हैं. इस सबमें राम मंदिर आंदोलन के प्रमुख पुरोधा लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी इस कार्यक्रम में नहीं पहुंच रहे हैं. हालांकि आडवाणी की ओर से एक संदेश जरूर जारी किया गया है. उन्होंने कहा कि राम मंदिर एक एक शांतिपूर्ण सौहार्दपूर्ण राष्ट्र के रूप में भारत का प्रतिनिधित्व करेगा जहां सबके लिए न्याय होगा और कोई भी बहिष्कृत नहीं होगा, ताकि देश 'राम राज्य' की ओर अग्रसर हो, जो 'सुशासन का प्रतिमान' है. आडवाणी को रामजन्मभूमि आंदोलन में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए जाना जाता है.  भाजपा अध्यक्ष के रूप में राम मंदिर निर्माण के लिए जनता को लामबंद करने के मकसद से आडवाणी ने साल 1990 में ‘‘राम रथ यात्रा’’ निकाली थी. 

  • शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ से लिया सबक! मंत्रियों के साथ एक-एक कर की चर्चा

    शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ से लिया सबक! मंत्रियों के साथ एक-एक कर की चर्चा

    मध्यप्रदेश की 230 सीटों वाली विधानसभा में अब 27 सीटें खाली हो गईं हैं. कांग्रेस के 25 विधायकों के इस्तीफे के बाद अब उसके पास 89 विधायक हैं. वहीं बीजेपी के पास 107 विधायक हैं. बीजेपी को पूर्ण बहुमत के लिए अब सिर्फ 9 विधायकों की जरूरत है. बसपा के पास -2, सपा के पास -1 और विधानसभा में 4 निर्दलीय विधायक हैं.

  • मध्यप्रदेश : तीन सीटों के लिए राज्यसभा चुनाव 19 को, बसपा, सपा और निर्दलीय विधायकों का झुकाव बीजेपी की तरफ

    मध्यप्रदेश : तीन सीटों के लिए राज्यसभा चुनाव 19 को, बसपा, सपा और निर्दलीय विधायकों का झुकाव बीजेपी की तरफ

    मध्यप्रदेश में 19 जून को होने वाले तीन राज्यसभा सीटों के चुनाव को लेकर बीजेपी की ओर से नियुक्त पर्यवेक्षक केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और पार्टी महासचिव बैजयंत जय पांडा बुधवार को भोपाल पहुंच गए. वहीं, कांग्रेस के महासचिव और प्रदेश के नए प्रभारी मुकुल वासनिक भी मध्यप्रदेश पहुंच गए हैं. वासनिक ने कांग्रेस के विधायकों के साथ बुधवार को बैठक की.

  • प्रवासी मजदूर (Migrant Workers) और विधानसभा चुनाव : इस बार यूपी और बिहार में सत्ता इन्हीं के कदमों पर चलकर आने वाली है?

    प्रवासी मजदूर (Migrant Workers) और विधानसभा चुनाव : इस बार यूपी और बिहार में सत्ता इन्हीं के कदमों पर चलकर आने वाली है?

    कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन का चौथा चरण 31 मई को पूरा हो जाएगा. इस बात की चर्चा है कि सरकार अब पांचवें लॉकडाउन (Lockdown 5.0 ) की तैयारी कर रही है. जिसमें पिछली बार की तुलना में कुछ और रियायत दी जाएगी. 25 मार्च से जारी लॉकडाउन की वजह से प्रवासी मजदूरों का पलायन राजनीति का प्रमुख मुद्दा बन गया है. सोशल मीडिया में पैदल और श्रमिक ट्रेनों में जा रहे प्रवासी मजदूरों की तस्वीरें खूब वायरल की जा रही हैं. वहीं बीजेपी, कांग्रेस, बीएसपी, सपा, जेडीयू और आरजेडी सहित तमाम राजनीतिक पार्टियां खुद को इनका राजनीतिक हितैषी बताने से चूक नहीं रही हैं. 

  • लोकसभा के स्पीकर ओम बिरला ने सदन की कार्यवाही से खुद को रखा दूर, जानिए वजह

    लोकसभा के स्पीकर ओम बिरला ने सदन की कार्यवाही से खुद को रखा दूर, जानिए वजह

    दिल्ली हिंसा पर चर्चा कराने के लिए अड़े विपक्ष के हंगामे के बीच लोकसभा स्पीकर ओम बिरला ने कहा था कि इस पर हर मुद्दे पर सरकार होली के बाद लोकसभा में चर्चा कराने के लिये तैयार है. उनके इस प्रस्ताव पर विपक्षी सांसद भड़क गए थे और पन्ने फाड़कर स्पीकर की ओर फेंकने लगे थे.

  • संसद में दिल्ली हिंसा पर हंगामा, विपक्ष ने मांगा पीएम मोदी-अमित शाह का इस्तीफा, 10 बड़ी बातें

    संसद में दिल्ली हिंसा पर हंगामा, विपक्ष ने मांगा पीएम मोदी-अमित शाह का इस्तीफा, 10 बड़ी बातें

    संसद (Parliament) में बजट सत्र (Budget Session) का दूसरा चरण सोमवार से शुरू हो गया है. जैसा कि पहले दिन दिल्ली हिंसा के मुद्दे पर हंगामे की आशंका जताई जा रही थी, वैसा ही हुआ. हिंसा को लेकर दोनों सदनों में जमकर हंगामा हुआ. विपक्षी दलों के सांसदों ने सदन में खूब नारेबाजी की. विपक्षी सांसदों ने हिंसा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) को जिम्मेदार ठहराते हुए उनके इस्तीफे की मांग की. सांसदों ने इस्तीफा मांगने के लिए पोस्टर तैयार किए थे, जिन्हें संसद में दिखाया गया. सांसदों ने स्पीकर ओम बिड़ला (Om Birla) की बात सुनने से इंकार कर दिया. स्पीकर ने कहा कि यह स्थिति सही नहीं है. वह हालात के सामान्य होने तक इंतजार करेंगे और फिर इसपर चर्चा करेंगे. राज्यसभा में भी कांग्रेस, लेफ्ट, टीएमसी, सपा, बसपा और डीएमके सांसदों ने दिल्ली हिंसा के मुद्दे पर जमकर नारेबाजी की. भारी हंगामे के बीच दोनों सदनों को कुछ वक्त के लिए स्थगित कर दिया गया.

  • असदुद्दीन ओवैसी ने अमित शाह पर कसा तंज- पहले राष्ट्रव्यापी NPR/NRC करवाइए फिर CAA का उपयोग करिए, यही तो क्रोनोलॉजी है

    असदुद्दीन ओवैसी ने अमित शाह पर कसा तंज- पहले राष्ट्रव्यापी NPR/NRC करवाइए फिर CAA का उपयोग करिए, यही तो क्रोनोलॉजी है

    केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने ओडिशा की राजधानी भुवनेश्‍वर में एक सभा को संबोधित करते हुए विपक्ष पर जमकर हमला बोला था. अमित शाह ने CAA के मुद्दे पर देश भर में चल रहे विरोध पर विपक्षी दलों को आड़े-हाथों लेते हुए कहा था, "कांग्रेस, ममता दीदी, सपा, बसपा ये सारे लोग CAA का विरोध कर रहे हैं.

  • योगी आदित्यनाथ की सीएए प्रदर्शनकारियों को चेतावनी, 'आज़ादी' के नारे लगाना देशद्रोह माना जाएगा

    योगी आदित्यनाथ की सीएए प्रदर्शनकारियों को चेतावनी, 'आज़ादी' के नारे लगाना देशद्रोह माना जाएगा

    उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने बुधवार को नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों को चेतावनी देते हुए कहा कि आजादी के नारे लगाना देशद्रोह माना जाएगा और उसी के अनुसार कार्रवाई की जाएगी. न्‍यूज एजेंसी ANI के अनुसार कानपुर के साकेतनगर स्थित मैदान में बुधवार को सीएए के समर्थन में आयोजित एक रैली को संबोधित करते हुए मुख्‍यमंत्री ने कहा, 'अगर किसी ने प्रदर्शन के नाम पर आजादी के नारे लगाए, इसे देशद्रोह की तरह माना जाएगा और सरकार सख्‍त कार्रवाई करेगी. यह स्‍वीकार नहीं किया जा सकता. लोगों को भारत की मिट्टी से ही भारत के खिलाफ साजिश करने की इजाजत नहीं दी जा सकती.

  • CAA को लेकर प्रियंका गांधी ने अमित शाह पर साधा निशाना, कहा - देश की जागरूक जनता सब जानती है...

    CAA को लेकर प्रियंका गांधी ने अमित शाह पर साधा निशाना, कहा - देश की जागरूक जनता सब जानती है...

    मंगलवार को गृह मंत्री अमित शाह ने लखनऊ में सीएए समर्थक रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि 'इस बिल को लेकर कांग्रेस, टीएमसी, मायावती, सपा और कम्युनिष्ट कांव-कांव चिल्ला रहे हैं. मैंने इस बिल को संसद में पेश किया है. मैं चुनौती देता हूं कि इस बिल की किसी भी धारा में अगर किसी शख्स की नागरिकता छीनने की बात है तो दिखाएं.'

  • अखिलेश यादव का BJP पर तंज- जनता झूठे बाबा से यही कहेगी, बाबा इस बार जाना, तो लौट कर कभी न आना

    अखिलेश यादव का BJP पर तंज- जनता झूठे बाबा से यही कहेगी, बाबा इस बार जाना, तो लौट कर कभी न आना

    लखनऊ में नागरिकता कानून के समर्थन में आयोजित रैली को संबोधित करते हुए गृहमंत्री अमित शाह कहा था कि इस बिल को लेकर कांग्रेस, टीएमसी, मायावती, सपा और कम्युनिष्ट कांव-कांव चिल्ला रहे हैं. मैंने इस बिल को संसद में पेश किया है मैं चुनौती देता हूं कि इस बिल में की किसी भी धारा में अगर किसी शख्स की नागरिकता छीनने की बात है तो दिखाएं.

  • TOP 5 NEWS: दिल्ली चुनाव से ठीक पहले कोर्ट ने दी भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर को दिल्ली आने की इजाजत

    TOP 5 NEWS: दिल्ली चुनाव से ठीक पहले कोर्ट ने दी भीम आर्मी प्रमुख चंद्रशेखर को दिल्ली आने की इजाजत

    लखनऊ में नागरिकता कानून के समर्थन में आयोजित रैली को संबोधित करते हुए गृहमंत्री अमित शाह कहा कि इस बिल को लेकर कांग्रेस, टीएमसी, मायावती, सपा और कम्युनिष्ट कांव-कांव चिल्ला रहे हैं. मैंने इस बिल को संसद में पेश किया है मैं चुनौती देता हूं कि इस बिल में की किसी भी धारा में अगर किसी शख्स की नागरिकता छीनने की बाद है तो दिखाएं. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों के साथ अत्याचार हो रहा है. अफगानिस्तान में बुद्ध की प्रतिमाएं तोड़ी गईं.

  • मैं लखनऊ की धरती से डंके की चोट पर कह रहा हूं, सिटिजनशिप एक्ट वापस नहीं होने वाला : अमित शाह

    मैं लखनऊ की धरती से डंके की चोट पर कह रहा हूं, सिटिजनशिप एक्ट वापस नहीं होने वाला : अमित शाह

    लखनऊ में नागरिकता कानून के समर्थन में आयोजित रैली को संबोधित करते हुए कहा कि इस बिल को लेकर कांग्रेस, टीएमसी, मायावती, सपा और कम्युनिष्ट कांव-कांव चिल्ला रहे हैं. मैंने इस बिल को संसद में पेश किया है मैं चुनौती देता हूं कि इस बिल में की किसी भी धारा में अगर किसी शख्स की नागरिकता छीनने की बाद है तो दिखाएं.

  • राहुल गांधी की दस पुश्तें खत्म हो जाएं तब भी सावरकर नहीं बन सकते : स्मृति ईरानी

    राहुल गांधी की दस पुश्तें खत्म हो जाएं तब भी सावरकर नहीं बन सकते : स्मृति ईरानी

    वाराणसी में संशोधित नागरिकता कानून (CAA) के समर्थन में जनसभा हुई. इसमें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Aditynath) से लेकर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (Smriti Irani) और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या भी शामिल हुए. इस सभा में स्मृति ईरानी ने कांग्रेस पर जमकर हमला किया. उन्होंने कहा कि ''राहुल गांधी से कहना चाहती हूं कि तुम्हारी दस पुश्तें खत्म हो जाएं तब भी सावरकर नहीं बन सकते. पाकिस्तान क्या इतना प्यारा है कि देश की पुलिस पर पत्थर मारो.'' योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ''कांग्रेस के लोगों को बोलना चाहिए कि सिमी, पीएफआई और अन्य के समर्थन में आना उनका चरित्र है.''

  • CAA के खिलाफ विपक्ष के प्रस्ताव ने पाकिस्तान को खुश कर दिया होगा: भाजपा

    CAA के खिलाफ विपक्ष के प्रस्ताव ने पाकिस्तान को खुश कर दिया होगा: भाजपा

    प्रसाद ने कहा, ‘विपक्ष की एकजुटता का पर्दाफाश हो गया है क्योंकि सपा, बसपा, तृणमूल कांग्रस और आप जैसे प्रमुख दल (कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी द्वारा बुलायी गयी बैठक से) दूर रहे. यह प्रस्ताव ना तो देश हित में, ना ही रक्षा हित में हैं. यह उन अल्पसंख्यकों के हितों के भी अनुकूल नहीं है जो कि उत्पीड़न के चलते पड़ोसी देशों से भाग कर आए हैं.’ 

  • उत्तर प्रदेश: CAA को लेकर भ्रम दूर करने के लिए पर्चे बांटने का अभियान

    उत्तर प्रदेश: CAA को लेकर भ्रम दूर करने के लिए पर्चे बांटने का अभियान

    उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर चलाए जा रहे इस अभियान के तहत सीएए के बारे में विस्तृत जानकारी वाले पर्चे जगह-जगह लोगों को बांटे जा रहे हैं. त्रिपाठी ने बताया कि पर्चों के जरिए लोगों को यह बताया जा रहा है कि CAA नागरिकता लेने का नहीं बल्कि देने का कानून है और इससे हिंदू मुसलमान या किसी भी धर्म के लोगों की नागरिकता को कोई खतरा नहीं है.

  • यूपी: अपनी ही सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे BJP के विधायक, विपक्ष का मिला साथ

    यूपी: अपनी ही सरकार के खिलाफ धरने पर बैठे BJP के विधायक, विपक्ष का मिला साथ

    इस दौरान उन्हें सपा और कांग्रेस के सदस्यों ने समर्थन दिया. हंगामा करने के कारण सत्र के पहले दिन की कार्यवाही स्थगित हो गई. गुर्जर ने प्रदेश सरकार पर उत्पीड़न का आरोप लगाकर विधानसभा सदन में धरना दिया. उनके धरने को भाजपा और सपा के तमाम विधायकों ने समर्थन दिया. विधायक नंद किशोर के समर्थन में विधायकों के बीच हस्ताक्षर अभियान भी चलाया गया है, जिसे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंपा जाएगा.

  • नागरिकता कानून : आज राष्ट्रपति से मिलेगा विपक्ष, शिवसेना ने किया किनारा

    नागरिकता कानून : आज राष्ट्रपति से मिलेगा विपक्ष, शिवसेना ने किया किनारा

    रामनाथ कोविंद से मुलाकात करेंगे. विपक्षी दल के नेता शाम 4:30 बजे राष्ट्रपति से मुलाकात करेंगे. इस डेलिगेशन में कांग्रेस, टीएमसी, वामपंथी दल, आरजेडी  और सपा समेत कई विपक्षी दलों के सभी प्रमुख नेता मौजूद रहेंगे. लेकिन महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी से सरकार बनाने वाली शिवसेना ने इस प्रतिनिधिमंडल में शामिल नहीं हो रही है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com