Budget
Hindi news home page

साहित्य


'साहित्य' - 180 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • पी. जयरामन सहित 22 को दिया जाएगा साहित्य अकादमी अनुवाद पुरस्कार

    पी. जयरामन सहित 22 को दिया जाएगा साहित्य अकादमी अनुवाद पुरस्कार

    तमिल, हिन्दी और संस्कृत के विद्वान और लेखक पी. जयरामन सहित 22 भाषाओं के अनुवादकों को वर्ष 2016 का 'साहित्य अकादमी अनुवाद पुरस्कार' दिया जायेगा. अकादमी के सचिव के. श्रीनिवासन राव ने बताया कि अकादमी के अध्यक्ष प्रो. विश्वनाथ प्रसाद तिवारी की अध्यक्षता में हुई कार्यकारी मंडल की बैठक में 22 भारतीय भाषाओं के अनुवादकों को वर्ष 2016 का 'साहित्य अकादमी अनुवाद पुरस्कार' दिया जायेगा.

  • प्रेमचंद के लेखन ने बदली हिंदी-उर्दू साहित्य की दिशा

    प्रेमचंद के लेखन ने बदली हिंदी-उर्दू साहित्य की दिशा

    प्रसिद्ध लेखक मुंशी प्रेमचंद के पौत्र आलोक राय का कहना है कि होरी और गोबर जैसे पात्रों के रचियता ने अपने ‘आधुनिक दृष्टिकोण’ और सहज अभिव्यक्ति से हिंदी तथा उर्दू साहित्य की दिशा बदल दी.

  • भारत रंग महोत्सव : अक्करमाशी, दलित शोषण के चरम को उघाड़ती नाट्य प्रस्तुति

    भारत रंग महोत्सव : अक्करमाशी, दलित शोषण के चरम को उघाड़ती नाट्य प्रस्तुति

    जब भी जाति का प्रश्न आता है तो कुछ लोग इसको सिरे से नकारने के लिए खड़े हो जाते हैं. वैसे शहरों में बड़ी संख्या में ऐसे लोग हैं जिन्होंने जाति का अनुभव उस तरह से नहीं किया, लेकिन इनकी संख्या नगण्य है. जाति और इससे जुड़ी घटनाओं की सच्चाई से इनकार करना वैसा ही है जैसे घर के पीछे की तरफ नाला है तो खिड़की को ही बंद कर लेना. जबकि बजबजाता हुआ नाला बदस्तूर बहता रहता है. इस बजबजाहट की सबसे कारुणिक और रोष भरी अभिव्यक्तियां हमें उन आत्मकथाओं में मिलती हैं जिन्हें जातिगत व्यवस्था में हाशिये पर धकेल दिए गए लोगों ने इसकी भीषणता का सामना करते हुए दर्ज किया है. इसे हम दलित साहित्य के नाम से जानते हैं.

  • पटना बुक फेयर: अंतिम दिन पुरस्कार वितरण व परिचर्चा का दौर चला

    पटना बुक फेयर: अंतिम दिन पुरस्कार वितरण व परिचर्चा का दौर चला

    बिहार की राजधानी के ऐतिहासिक गांधी मैदान में 11 दिन चले पटना पुस्तक मेले के अंतिम दिन पुरस्कार वितरण समारोह का आयोजन किया गया और 'प्रेम, सेक्स और साहित्य' विषय पर परिचर्चा हुई. साथ ही राम भगवान सिंह को 'बिहार भारती सम्मान' दिया गया.

  • स्त्रियां अब सिर्फ 'किचन' की बात नहीं करतीं : डॉ. उषा किरण खान

    स्त्रियां अब सिर्फ 'किचन' की बात नहीं करतीं : डॉ. उषा किरण खान

    हिंदी और मैथिली की जानी-मानी लेखिका और पद्मश्री से सम्मानित डॉ. उषा किरण खान का मानना है कि अब स्त्रियां सिर्फ किचन की ही बात नहीं करतीं, बल्कि उनमें साहित्य के प्रति भी अभिरुचि बढ़ी है.

  • दिल्ली में शुरू हुआ साहित्य महोत्सव

    दिल्ली में शुरू हुआ साहित्य महोत्सव

    विलियम डेलरिंपल, अशोक वाजपेयी और तसलीमा नसरीन जैसी साहित्यक हस्तियां आज से शुरू हुए दिल्ली साहित्य महोत्सव में भाग लेंगी. युवा लेखकों को अवसर प्रदान करने और साहित्य का प्रचार करने के उद्देश्य के साथ इस वार्षिक साहित्य महोत्सव ने 2013 में अपनी स्थापना के बाद से प्रसिद्धि पाई है. इसमें पुरस्कार विजेता लेखक, राजनेता, राजनयिक और प्रकाशक अपने दृष्टिकोण को साझा करते हैं.

  • प्रख्यात साहित्यकार पथनी पटनायक का कटक में हुआ निधन

    प्रख्यात साहित्यकार पथनी पटनायक का कटक में हुआ निधन

    प्रख्यात शिक्षाविद् और साहित्यकार पथनी पटनायक का शनिवार को ओडिशा के कटक में उनके आवास पर निधन हो गया. वह 89 वर्ष के थे और उनके परिवार में दो बेटे और तीन बेटियां हैं.

  • वसंत आता नहीं, ले आया जाता है...जो चाहे- जब चाहे अपने पर ले आ सकता है…

    वसंत आता नहीं, ले आया जाता है...जो चाहे- जब चाहे अपने पर ले आ सकता है…

    जैसे कालिदास के युग की वासंतिक हवा आम के बौर हिला धमाचौकड़ी मचाती थी. नटखट और शैतान बच्चे की तरह. ठीक उसी तरह वह आज के कवि के यहां भी आम और महुआ के पेड़ों पर चढ़कर थपाथप मचाती है - कितना अदभुत साम्य है...!

  • श्रीलाल शुक्ल स्मृति सम्मान ने नवाजे गए कथाकार कमलाकांत

    श्रीलाल शुक्ल स्मृति सम्मान ने नवाजे गए कथाकार कमलाकांत

    उर्वरक क्षेत्र में दुनिया की सबसे बड़ी सहकारी संस्था इंडियन फार्मर्स फर्टिलाइजर कोआपरेटिव लिमिटेड (इफको) की ओर से वर्ष 2016 का 'श्रीलाल शुक्ल स्मृति इफको साहित्य सम्मान' वरिष्ठ कथाकार कमलाकांत त्रिपाठी को दिया जाएगा. कथाकार कमलाकांत ने किसान आंदोलन को केंद्र में रखकर 'पाहीघर' तथा 'बेदखल' जैसे चर्चित उपन्यास लिखे हैं. 'अंतराल' व 'जानकी बुआ' नाम से उनके दो कहानी संग्रह भी प्रकाशित हैं. जल्द ही उनका एक नया उपन्यास 'सरयू से गंगा' प्रकाशित होने वाला है.

  • फिल्मों और टीवी पर हिंसा से तंग आ चुका हूं: प्रख्यात लेखक रस्किन बॉण्ड

    फिल्मों और टीवी पर हिंसा से तंग आ चुका हूं: प्रख्यात लेखक रस्किन बॉण्ड

    अपने लेखन से बच्चों की सपनीली दुनिया रचने वाले रस्किन बॉण्ड यदि यह कहें 'मुझे कई बार लगता है कि दुनिया निश्चित तौर पर रहने लायक अच्छी जगह नहीं है' तो दुख तो होता है.

  • दिल्ली में रहस्य-रोमांच पर नॉयर साहित्य महोत्सव शुरू

    दिल्ली में रहस्य-रोमांच पर नॉयर साहित्य महोत्सव शुरू

    राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में शनिवार को विशेष थीम के तहत अपराध और रहस्यमय उपन्यासों पर आधारित साहित्य महोत्सव का शुभारंभ हुआ. इस साहित्य महोत्सव की शुरुआत 2015 में हुई थी और इस बार महोत्सव का तीसरा संस्करण है. इसे अपराध साहित्य लेखक महोत्सव के तौर पर भी जाना जाता है.

  • उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर ताज साहित्य महोत्सव स्थगित

    उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर ताज साहित्य महोत्सव स्थगित

    ताज साहित्य महोत्सव (टीएलएफ) का आगामी चौथा संस्करण फरवरी में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के मद्देनजर स्थगित कर दिया गया है. टीएलएफ के अध्यक्ष हरविजय बाहिया ने बताया, अब यह महोत्सव साल के अंत में होगा.

  • हरिकृष्ण देवसरे अवॉर्ड से सम्‍मानित किए गए पंकज चतुर्वेदी और प्रदीप शुक्ल

    हरिकृष्ण देवसरे अवॉर्ड से सम्‍मानित किए गए पंकज चतुर्वेदी और प्रदीप शुक्ल

    वरिष्ठ पत्रकार, लेखक और नेशनल बुक ट्रस्ट के संपादक पंकज चतुर्वेदी और पेशे से चिकित्सक डॉ. प्रदीप शुक्ल को वर्ष 2016 के लिये हरिकृष्ण देवसरे बाल साहित्य पुरस्कार से सम्मानित किया गया है. चतुर्वेदी को उनकी किताब ‘बेलगाम घोड़ा’ जबकि लखनउ के डॉ. शुक्ल को बाल कविताओं की उनकी किताब ‘गुल्लु का गांव’ के लिये यह पुरस्कार दिया गया.

  • जयपुर साहित्य महोत्सव खत्म, लेकिन तस्लीमा नसरीन पर विवाद जारी

    जयपुर साहित्य महोत्सव खत्म, लेकिन तस्लीमा नसरीन पर विवाद जारी

    जेएलएफ को समाप्त हुए भले ही दो दिन हो चुके हैं, लेकिन समारोह में लेखिका तस्लीमा नसरीन के चौंकाने वाले सत्र को लेकर सोशल मीडिया पर अभी भी बवाल मचा हुआ है. नसरीन ने इस समारोह के भविष्य में होने वाले सत्र में उनके हिस्सा लेने पर 'पाबंदी' को लेकर आयोजकों के खिलाफ ट्विटर पर जमकर अपनी भड़ास निकाली, वहीं आयोजकों ने कहा कि इस तरह की खबरें 'सच नहीं' हैं.

  • प्रकृति से प्‍यार करने वालों का ही है साहित्य की ओर झुकाव: प्रसून जोशी

    प्रकृति से प्‍यार करने वालों का ही है साहित्य की ओर झुकाव: प्रसून जोशी

    लेखक-गीतकार प्रसून जोशी को जयपुर साहित्य महोत्सव में एमिटी विश्वविद्यालय की ओर से मानद डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित किया गया है. उनका कहना है कि जो प्रकृति को और अधिक उजागर कर रहे हैं वहीं साहित्य को बढ़ावा दे रहे हैं. प्रसून ने कहा, जो प्रकृति जैसे हिल स्टेशन और पहाड़ के करीब हैं वह शहर के व्यस्त जीवन को उजागर नहीं करते हैं. इसलिए उनका साहित्य के प्रति झुकाव है.

  • जयपुर साहित्य सम्मेलन में 'गुपचुप' पहुंची निर्वासित लेखिका तसलीमा तसरीन

    जयपुर साहित्य सम्मेलन में 'गुपचुप' पहुंची निर्वासित लेखिका तसलीमा तसरीन

    लोकप्रिय साहित्य सम्मेलन जयपुर लिट्रेरी फेस्टिवल में सोमवार को विवादित बांग्ला लेखिका तसलीमा नसरीन पहुंची. कार्यक्रम में उनकी शिरकत को लेकर पहले से किसी को जानकारी नहीं दी गई थी.

  • 'जश्न-ए-तहजीब' में साहित्य के रंग में डूबे श्रोता

    'जश्न-ए-तहजीब' में साहित्य के रंग में डूबे श्रोता

    सांस्कृतिक कार्यक्रम 'जश्न-ए-तहजीब' में मीडियाकर्मी तेजेंद्र शर्मा ने जहां कहानी कहने के अपने अलग अंदाज से श्रोताओं को झकझोर दिया, वहीं साहित्य के रंग में डूबे इस कार्यक्रम में अपने अंदाज के लिए मशहूर प्रसिद्ध गजलकार शकील अहमद उपस्थित श्रोताओं की वाहवाही लूटी.

  • कटक के कवि जयंत महापात्रा को मिला कन्हैया लाल सेठिया पुरस्कार

    कटक के कवि जयंत महापात्रा को मिला कन्हैया लाल सेठिया पुरस्कार

    साहित्य जगत का जाना-माना कन्हैया लाल सेठिया अवॉर्ड किसे मिलेगा, शनिवार को इस सवाल पर से सस्पेंस खत्म हो गया. जयपुर साहित्य समारोह में भौतिकशास्त्री व कवि जयंत महापात्रा को कविता के लिए कन्हैया लाल सेठिया अवॉर्ड का विजेता घोषित किया गया.