'सिख दंगा' - 117 न्यूज़ रिजल्ट्स
  • India | शुक्रवार सितम्बर 4, 2020 01:19 PM IST
    1984 सिख विरोधी दंगों के मामले उम्रकैद की सजा काट रहे कांग्रेस के पूर्व सांसद सज्जन कुमार को सुप्रीम कोर्ट से कई राहत नहीं मिली है. सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को सज्जन कुमार को जमानत देने से किया इनकार कर दिया है. दरअसल, सज्जन कुमार की ओर से बढ़ती उम्र और बीमारी को आधार बनाकर जमानत मांगी गई थी, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया है.
  • India | बुधवार जुलाई 1, 2020 11:27 PM IST
    पीठ ने कहा, ‘‘हम नहीं समझते कि इलाज के बारे में किसी स्पष्ट आरोप या शिकायत के अभाव में हम इस याचिका पर विचार कर सकते हैं और नियमों का पालन तो करना ही होगा... कहीं भी रिश्तेदारों को मरीज के पास जाने की इजाजत नहीं होती है.’’
  • India | गुरुवार दिसम्बर 5, 2019 12:02 PM IST
    डॉ. मनमोहन सिंह ने कहा कि अगर तत्कालीन गृह मंत्री नरसिम्हा राव ने इंद्र कुमार गुजराल की सलाह मानी होती और तत्परता दिखाई होती तो नरसंहार को रोका जा सकता था.
  • India | सोमवार सितम्बर 9, 2019 08:07 PM IST
    मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) की मुश्किलें बढ़ सकती हैं, क्योंकि गृह मंत्रालय ने दिल्ली में 1984 में हुए सिख विरोधी दंगों (1984 Anti Sikh Riots) की फाइलें दोबारा खोलने के लिए हरी झंडी दे दी है.
  • India | मंगलवार जुलाई 23, 2019 05:21 PM IST
    दिल्ली के त्रिलोकपुरी में 1984 की सिख विरोधी हिंसा के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट द्वारा दोषी ठहराए गए 33 लोगों को जमानत दे दी है. इसके अलावा इस मामले में दोषी ठहराए गए एक व्यक्ति की मौत हो चुकी है. सुप्रीम कोर्ट बाकी दोषियों की याचिका पर बाद में सुनवाई करेगा.
  • Delhi | मंगलवार जून 11, 2019 07:44 AM IST
    आम आदमी पार्टी विधायक जरनैल सिंह ने सोमवार को कहा कि दिल्ली सरकार 1984 के सिख विरोधी दंगा पीड़ितों को बिजली सब्सिडी दे सकती है.
  • Lok Sabha Elections 2019 | सोमवार मई 13, 2019 08:41 PM IST
    पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने पंजाब के बठिंडा में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) पर हमला बोला. पीएम मोदी ने कहा कि, 'अरे नामदार, शर्म तो आपको आनी चाहिए.'
  • India | शुक्रवार मई 10, 2019 12:52 PM IST
    दिल्ली में लोकसभा चुनाव  की वोटिंग से दो दिन पहले बीजेपी ने कांग्रेस पर फिर हमला किया है. पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से राजीव गांधी का वह भाषण शेयर किया गया है जिसमें वो कहते हैं, 'जब बड़ा पेड़ गिरता है तो धरती में भूकंप आता है.' उनका यह बयान हमेशा सिख दंगा मामले से जोड़ा जाता है जिसमें करीब 3 हजार सिखों को मौत के घाट उतार दिया गया था. सिख दंगा 1984 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद भड़का था.
  • India | मंगलवार अप्रैल 30, 2019 01:52 PM IST
    1984 सिख विरोधी हिंसा में सुप्रीम कोर्ट ने त्रिलोकपुरी मामले में दोषी ठहराए गए 15 लोगों को बरी कर दिया.
  • India | सोमवार फ़रवरी 25, 2019 12:50 PM IST
    1984 के सिख विरोधी दंगों से जुड़े एक केस की सुनवाई से जस्टिस संजीव खन्ना ने खुद को अलग कर लिया है.
  • India | सोमवार जनवरी 14, 2019 11:24 AM IST
    बता दें कि कुमार को दिल्ली कैंटोनमेंट के राज नगर इलाके में एक-दो नवंबर 1984 को पांच सिखों की हत्या और एक गुरूद्वारा में आग लगाए जाने के मामले में दोषी करार दिया गया है. 31 अक्टूबर 1984 को तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद सिख विरोधी दंगे हुए थे. 
  • India | गुरुवार जनवरी 10, 2019 11:32 PM IST
    सन 1984 के सिख दंगों के मामले में सुप्रीम कोर्ट कांग्रेस नेता और सजायाफ्ता सज्जन कुमार की अपील पर 14 जनवरी को सुनवाई करेगा. चीफ जस्टिस रंजन गोगाई की पीठ मामले की सुनवाई करेगी.
  • India | शुक्रवार जनवरी 4, 2019 12:23 AM IST
    एचएस फुल्का ने आम आदमी पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. एचएस फुल्का (HS Phoolka resigns from AAP) ने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को अपना इस्तीफा सौंपा. फुल्का ने आम आदमी पार्टी से इस्तीफा आखिर क्यों दिया? इसका औपचारिक जवाब तो खुद फुल्का शुक्रवार शाम 4 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस में देंगे. फिलहाल आम आदमी पार्टी भी इस मुद्दे पर कुछ नहीं बोल रही है और पार्टी सूत्रों का यही दावा है कि एचएस फुल्का अपना सारा समय 1984 के पीड़ितों का केस लड़ने के लिए देना चाहते हैं. इसलिए उन्होंने इस्तीफ़ा दिया होगा!
  • India | गुरुवार जनवरी 3, 2019 10:14 PM IST
    आम आदमी पार्टी (AAP) के वरिष्ठ नेता और वकील एचएस फुल्का ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है. एचएस फुल्का (HS Phoolka Resigns From AAP) ने दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) को अपना इस्तीफा सौंपा. एचएस फुल्का ने खुद ट्वीट कर यह जानकारी दी. साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि वह इस मामले में शुक्रवार को दिल्ली के प्रेस क्लब में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके विस्तार से कारण बताएंगे. फुल्का का इस्तीफा पंजाब में आम आदमी पार्टी के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है.
  • India | सोमवार दिसम्बर 31, 2018 04:30 PM IST
    सन 1984 के सिख विरोधी दंगों (1984 Anti Sikh Riots) के पीड़ितों के वकील एचएस फुल्का ने कहा है कि सज्जन कुमार (Sajjan Kumar) के पास सारे कानूनी विकल्प थे और हमें लग रहा था कि वह सरेंडर से बचने की कोशिश करेगा. वह हाई कोर्ट गया था, सुप्रीम कोर्ट भी गया, लेकिन उसके पास अब कोई विकल्प नहीं बचा था. इसलिए उसको सरेंडर करना पड़ा.
  • File Facts | सोमवार दिसम्बर 31, 2018 02:27 PM IST
    सिख विरोधी दंगों से संबंधित एक मामले में उम्र कैद की सजा पाने वाले कांग्रेस के पूर्व नेता सज्जन कुमार आज अदालत में समर्पण कर दिया है.दिल्ली हाईकोर्ट ने समय सीमा बढ़ाने का उनका अनुरोध अस्वीकार कर दिया था. सज्जन कुमार के वकील अनिल कुमार शर्मा ने पीटीआई भाषा से कहा कि हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ शीर्ष अदालत में दायर अपील पर शीतकालीन अवकाश के दौरान 31 दिसंबर से पहले सुनवाई की संभावना नहीं है. सुप्रीम कोर्ट एक जनवरी तक बंद है और दो जनवरी से वहां सामान्य कामकाज शुरू होगा. उन्होंने कहा, 'हम हाईकोर्ट के फैसले का अनुपालन करेंगे.' आपको बता दें कि हाईकोर्ट ने 1984 के दंगों से संबंधित एक मामले में 17 दिसंबर को 73 वर्षीय पूर्व सांसद सज्जन कुमार को शेष सामान्य जीवन के लिये उम्र कैद और पांच अन्य दोषियों को अलग अलग अवधि की सजा सुनायी थी और उन्हें 31 दिसंबर तक समर्पण करने का आदेश दिया था. अदालत ने अपने फैसले में कहा था कि 1984 के दंगों में दिल्ली में 2700 से अधिक सिख मारे गये थे जो निश्चित ही 'अकल्पनीय पैमाने का नरसंहार' था. अदालत ने कहा था कि यह मानवता के खिलाफ उन लोगों द्वारा किया गया अपराध था जिन्हें राजनीतिक संरक्षण प्राप्त था और जिनकी कानून लागू करने वाली एजेन्सियां मदद कर रही थीं.
  • India | सोमवार दिसम्बर 31, 2018 11:34 AM IST
    सिख विरोधी दंगों से संबंधित एक मामले में उम्र कैद की सजा पाने वाले कांग्रेस के पूर्व नेता सज्जन कुमार आज अदालत में समर्पण कर सकते हैं क्योंकि दिल्ली हाईकोर्ट ने यह समय सीमा बढ़ाने का उनका अनुरोध खारिज कर दिया था. सज्जन कुमार के वकील अनिल कुमार शर्मा ने कहा कि हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में दायर अपील पर शीतकालीन छुट्टियों के दौरान 31 दिसंबर से पहले सुनवाई की संभावना नहीं है.
  • India | शुक्रवार दिसम्बर 21, 2018 11:07 AM IST
    1984 सिख विरोधी दंगे के दिल्ली कैंट मामले में ताउम्र जेल की सजा पाने वाले पूर्व कांग्रेस नेता सज्जन कुमार की याचिका पर दिल्ली हाईकोर्ट ने सुनवाई की. सज्जन कुमार ने याचिका में कोर्ट से सरेंडर करने के लिए 30 दिन का समय मांगा था.
और पढ़ें »
'सिख दंगा' - 50 वीडियो रिजल्ट्स
और देखें »
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com