NDTV Khabar

सीबीआई वकील


'सीबीआई वकील' - 98 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • INX Media Case : पी चिदंबरम अब ED की हिरासत में जाएंगे? कोर्ट कल सुनाएगा फैसला

    INX Media Case : पी चिदंबरम अब ED की हिरासत में जाएंगे? कोर्ट कल सुनाएगा फैसला

    आईएनएक्स मीडिया केस (INX Media Case) में पी चिदंबरम की ईडी की कस्टडी के मामले में सोमवार को दिल्ली के रॉउस एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई हुई. कोर्ट में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने कहा कि हमें मनी लॉन्ड्रिंग केस में कस्टोडियल इंटेरोगेशन की जरूरत है. इस पर पी चिदंबरम (P Chidambaram) के वकील कपिल सिब्बल ने विरोध किया. उन्होंने कहा कि आईएनएक्स मीडिया केस में ईडी को चिदंबरम को कस्टडी में लेने की जरूरत ही नहीं है. सुनवाई पूरी होने के बाद रॉउस एवेन्यू कोर्ट ने चिदंबरम की गिरफ्तारी और कस्टडी के लिए कल तक के लिए फैसला सुरक्षित रख लिया. कोर्ट मंगलवार को शाम चार बजे फैसला सुनाएगा.

  • मध्य प्रदेश का हनी ट्रैप केस : वकील का दावा, केंद्र सरकार की फर्म ने 5 आरोपियों में से एक को दिया था ठेका

    मध्य प्रदेश का हनी ट्रैप केस : वकील का दावा, केंद्र सरकार की फर्म ने 5 आरोपियों में से एक को दिया था ठेका

    मध्य प्रदेश हनी ट्रैप मामले में सीबीआई जांच की मांग को लेकर हाईकोर्ट की इंदौर बेंच में याचिका दाखिल करने वाले एक वकील का दावा है कि 5 में से एक आरोपी की फैक्ट्री को 2018 में कथित रूप से न्यूक्लियर पावर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) से अनुबंध मिला था.

  • सिब्बल ने कोर्ट से कहा- पी चिदंबरम कानून का पालन करने वाले व्यक्ति, जमानत दी जाए

    सिब्बल ने कोर्ट से कहा- पी चिदंबरम कानून का पालन करने वाले व्यक्ति, जमानत दी जाए

    पी चिदम्बरम की जमानत की अर्जी पर सोमवार को दिल्ली के एक कोर्ट में सुनवाई हुई. पी चिदंबरम की ओर से वकील कपिल सिब्बल ने बहस की. कोर्ट में चिदंबरम के एक अन्य वकील अभिषेक मनु सिंघवी भी मौजूद थे. सीबीआई की तरफ से एसजी तुषार मेहता ने कहा कि सीबीआई स्टेटस रिपोर्ट पहले ही दाखिल कर चुकी है, जबकि चिदम्बरम ने आज उस पर अपना रिप्लाई दाखिल किया है. यह 2007 का मामला है. 2017 में FIR दर्ज की गई.

  • पी चिदंबरम ने CBI पर कसा तंज, कहा- उन्हें लगता है मेरे सोने के पंख उगेंगे और मैं उड़ जाऊंगा

    पी चिदंबरम ने CBI पर कसा तंज, कहा- उन्हें लगता है मेरे सोने के पंख उगेंगे और मैं उड़ जाऊंगा

    बता दें कि गुरुवार को पी चिदंबरम के वकील ने कोर्ट को बताया कि जेल में पूर्व वित्त मंत्री को न तकिया और न ही कुर्सी दी गई है. इस वजह से उन्हें कमर में दर्द होना शुरू हो गया है. हालांकि, कोर्ट ने सरकार का पक्ष जानने के बाद इस दावे पर ज्यादा गौर नहीं किया और कहा कि जेल में ऐसी छोटी चीजें होती रहती हैं.  

  • CBI ने एम्स में दर्ज किया उन्नाव रेप पीड़िता का बयान, ICU से वार्ड में शिफ्ट हुई पीड़िता: सूत्र

    CBI ने एम्स में दर्ज किया उन्नाव रेप पीड़िता का बयान, ICU से वार्ड में शिफ्ट हुई पीड़िता: सूत्र

    उन्नाव एक्सीडेंट मामले में सीबीआई अधिकारियों ने एम्स जाकर उन्नाव रेप पीड़िता का बयान दर्ज किया. सूत्रों के हवाले से यह जानकारी मिली. हालांकि सीबीआई ने अभी तक इस खबर की पुष्टि नहीं की है. लेकिन डॉक्टर्स का कहना है कि रेप पीड़िता अब आईसीयू से बाहर है और उसके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है. पीड़िता के वकील अभी भी आईसीयू में हैं और उनका बयान दर्ज होना बाकी है. वकील का बयान दर्ज करने के लिए सीबीआई डॉक्टर के अपडेट का इंतजार कर रही है. सीबीआई 6 सितंबर को सुप्रीम कोर्ट में जांच रिपोर्ट जमा करेगी. जांच लगभग पूरी हो चुकी है.

  • पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम के पक्ष में कपिल सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट में दीं ये 8 दलीलें

    पूर्व वित्त मंत्री  पी. चिदंबरम के पक्ष में कपिल सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट में दीं ये 8 दलीलें

    INX मीडिया मामले में पूर्व वित्त मंत्री रहे पी चिदंबरम ने CBI की गिरफ़्तारी और रिमांड को चुनौती दी थी लेकिन SC से CBI मामले चिदंबरम को राहत नहीं दी. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि गिरफ़्तारी से याचिका अब प्रभावहीन हो गई है. अब इस मामले में पी. चिदंबरम नियमित जमानत दें. अब ED से जुड़े मामले की सुनवाई चल रही है. पी. चिदंबरम की ओर से पेश हुए वकील कपिल सिब्बल ने कहा कि क्या जीने के अधिकार के तहत हमे सुनवाई का अधिकार है या नहीं? इस पर कोर्ट ने कहा कि आप इस याचिका को बदल सकते है. यह याचिका प्रभावी नहीं है. बुधवार को ही इसे लिस्ट करने के आदेश हुए. हमने रॉकेट की तरह याचिका दाखिल की. लेकिन गुरुवार की रात हमें गिरफ्तार कर लिया गया. वहीं अभिषेक मनु सिंघवी का कहना है कि कोर्ट में सुनवाई से पहले गिरफ्तारी हो गई. क्या हमसे ये अधिकार छीना जा सकता है? सीबीआई को शुक्रवार तक इंतजार करना चाहिए था. ऐसे में सुप्रीम कोर्ट को सीबीआई मामले में अग्रिम जमानत की याचिका पर सुनाई करनी चाहिए.

  • पी. चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट में तगड़ा झटका, सीबीआई कस्टडी को चुनौती देने वाली याचिका सुनवाई के लिए लिस्ट नहीं की गई

    पी. चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट में तगड़ा झटका, सीबीआई कस्टडी को चुनौती देने वाली याचिका सुनवाई के लिए लिस्ट नहीं की गई

    सुप्रीम कोर्ट में पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को तगड़ा झटका लगा है. उनकी सीबीआई कस्टडी की चुनौती देने वाली याचिका को आज सुनवाई के लिए लिस्ट नहीं किया गया है. जस्टिस बानुमति ने कहा कि हमने रजिस्ट्री को इसके लिए कहा है कि इस याचिका को चीफ जस्टिस के सामने रखे.  चिदंबरम की ओर से पेश वकील कपिल सिब्बल ने कोर्ट में मेंशन किया कि दो याचिकाओं को साथ ये आज लिस्ट नहीं हुई है इस पर कोर्ट ने बताया कि चीफ जस्टिस ने इसके लिए आदेश जारी नहीं किया है. सिब्बल ने कहा कि इस याचिका को भी साथ ही लिस्ट किया जाए इस पर  कोर्ट ने कहा कि सुनवाई के समय देखेंगे. 

  • एयरसेल-मैक्सिस डील: कोर्ट से पी चिदंबरम और कार्ती को बड़ी राहत, 3 सितंबर तक नहीं होंगे अरेस्ट, ED को पड़ी फटकार

    एयरसेल-मैक्सिस डील: कोर्ट से पी चिदंबरम और कार्ती को बड़ी राहत, 3 सितंबर तक नहीं होंगे अरेस्ट, ED को पड़ी फटकार

    पिछली सुनवाई के दौरान एजेंसी के तरफ से कोर्ट में दलील दी गयी थी कि कार्ति चिदम्बरम साक्ष्यों के साथ छेड़छाड़ कर रहे है. जब भी कार्ति चिदम्बरम विदेश जाते है तभी वो साक्ष्यों के साथ छेड़छाड़ करते है. तो वहीं कार्ति चिदम्बरम के वकील ने इन आरोपों को निराधार और बेबुनियाद बताया है. पी चिदम्बरम का कोर्ट में पक्ष कपिल सिब्बल ने रख रहे हैं. कपिल सिब्बल ने कोर्ट से सुनवाई के दौरान कहा था कि उनके क्लाइंट पी चिदम्बरम और कार्ति चिदम्बरम को फंसाया जा रहा है और एजेंसी के पास कोई ग्राउंड नहीं है गिरफ्तार करने के लिए. इस मामले में सीबीआई ने पिछले साल 18 जुलाई को चार्जशीट दायर कर दी थी लेकिन अभी भी कोर्ट ने उस पर संज्ञान नहीं लिया है.

  • वरिष्ठ वकील पी चिदंबरम आरोपी बॉक्स में खड़े थे, कुर्सी की पेशकश पर दिया यह जवाब

    वरिष्ठ वकील पी चिदंबरम आरोपी बॉक्स में खड़े थे, कुर्सी की पेशकश पर दिया यह जवाब

    केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) मुख्यालय में एक रात बिताने के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम को राउज एवेन्यू कोर्ट में विशेष न्यायाधीश अजय कुमार कुहार की अदालत में गुरुवार को पेश किया गया. सुनवाई के दौरान चिदंबरम को बैठने के लिए कुर्सी की पेशकश की गई तो उन्होंने मना कर दिया. चिदंबरम खुद वरिष्ठ वकील हैं लेकिन वे आरोपी बॉक्स में चुपचाप खड़े रहे और वकीलों के बीच चली बहस सुनते रहे. सफेद कमीज और धोती पहने चिदंबरम ने जब कोर्ट परिसर में प्रवेश किया तो गलियारे में भीड़ जमा हो गई. चिदंबरम की वकील पत्नी नलिनी भी कोर्ट पहुंची थीं.

  • चिदंबरम के वकील ने CBI से पूछा- किस कानून के तहत दो घंटे में पेश होने का नोटिस दिया

    चिदंबरम के वकील ने CBI से पूछा- किस कानून के तहत दो घंटे में पेश होने का नोटिस दिया

    अधिकारियों ने बताया कि मंगलवार शाम साढ़े छह बजे सीबीआई अधिकारी चिदंबरम के दिल्ली में जोर बाग स्थित आवास पहुंचे, पर वह वहां नहीं मिले. सीबीआई अधिकारियों का नेतृत्व पुलिस अधीक्षक स्तर के अधिकारी कर रहे थे. हालांकि, अभी स्पष्ट नहीं है कि अधिकारी चिदंबरम के आवास पर उन्हें गिरफ्तार करने गए थे या पूछताछ के लिए. अधिकारियों ने बताया कि चिदंबरम के आवास पर गई टीम के सदस्यों ने सीबीआई मुख्यालय आकर वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की और भविष्य की रणनीति पर चर्चा की.

  • Unnao Rape Case: झूठ पकड़ने वाली जांच के बाद अब CBI पीड़िता को टक्कर मारने वाले ट्रक चालक, हेल्पर का करा सकती है नार्को टेस्ट

    Unnao Rape Case: झूठ पकड़ने वाली जांच के बाद अब CBI पीड़िता को टक्कर मारने वाले ट्रक चालक, हेल्पर का करा सकती है नार्को टेस्ट

    आरोप है कि भाजपा के निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर ने उससे बलात्कार किया था. पीड़िता की गंभीर हालत को देखते हुए उसे लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल विश्वविद्यालय से एम्स लाया गया था. पीड़िता और उसके वकील की कार को रायबरेली के गुरबख्शगंज में 28 जुलाई को विपरीत दिशा से आ रहे ट्रक ने टक्कर मार दी थी. दुर्घटना में पीड़िता और उसके वकील गंभीर रूप से घायल हो गए जबकि उसके दो रिश्तेदारों की मौत हो गई थी.

  • केंद्र सरकार ने उन्नाव रेप पीड़िता की सड़क दुर्घटना की जांच सीबीआई को सौंपी

    केंद्र सरकार ने उन्नाव रेप पीड़िता की सड़क दुर्घटना की जांच सीबीआई को सौंपी

    केंद्र सरकार ने उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता की सड़क दुर्घटना की जांच का जिम्मा मंगलवार को सीबीआई को सौंप दिया. उत्तरप्रदेश के रायबरेली में एक बेकाबू ट्रक ने एक कार को टक्कर मार दी थी, जिससे उसमें सवार पीड़िता और उसके वकील गंभीर रूप से घायल हो गए, जबकि उसकी दो रिश्तेदारों की मौत हो गई. कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग के एक आदेश में कहा गया है कि दुर्घटना के लिए ‘उकसाने और इसकी साजिश’ की जांच के लिए यह मामला एजेंसी को सौंप दिया गया है. उत्तर प्रदेश सरकार ने दुष्कर्म पीड़िता की रायबरेली में हुई सड़क दुर्घटना की जांच सीबीआई को सौंपे जाने की सोमवार देर रात सिफारिश की थी.

  • उन्नाव रेप कांड: मायावती बोलीं- BJP आरोपी विधायक को संरक्षण दे रही है, सुप्रीम कोर्ट ले संज्ञान

    उन्नाव रेप कांड: मायावती बोलीं- BJP आरोपी विधायक को संरक्षण दे रही है, सुप्रीम कोर्ट ले संज्ञान

    उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने उन्नाव की गैंगरेप पीड़ित लड़की की सड़क दुर्घटना मामले की जांच अब सीबीआई से कराने की सिफ़ारिश की है. पीड़ित लड़की के चाचा ने सरकार से इसकी मांग की है. दो दिन पहले यानी रविवार को रेप पीड़ित लड़की अपने वकील और परिवार के साथ रायबरेली जेल में बंद अपने चाचा से मिलने जा रही थी. तभी रायबरेली के अतौरा इलाके में नेशनल हाइवे पर तेज़ रफ़्तार ट्रक ने सामने से टक्कर मार दी थी. इस हादसे में पीड़ित लड़की की चाची और मौसी की मौत हो गई, जबकि गाड़ी चला रहे उसके वकील और उसकी ख़ुद की हालत नाज़ुक है. दोनों लखनऊ के अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर में वेंटिलेटर पर हैं.

  • उन्नाव रेप पीड़िता के एक्सीडेंट मामले में योगी सरकार ने की CBI जांच की सिफारिश

    उन्नाव रेप पीड़िता के एक्सीडेंट मामले में योगी सरकार ने की CBI जांच की सिफारिश

    उन्नाव रेप पीड़िता के सड़क दुर्घटना में घायल होने के मामले में यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार ने सीबीआई जांच की सिफारिश की है. पीड़ित लड़की के चाचा ने सरकार से सीबीआई जांच कराने की मांग की थी. इससे पहले सरकार ने कहा था कि अगर पीड़ित लड़की का परिवार सीबीआई जांच की मांग करेगा तो सरकार जांच के लिए सिफारिश करेगी. बता दें कि रविवार को रेप पीड़ित लड़की अपने वकील और परिवार के साथ रायबरेली जेल में बंद अपने चाचा से मुलाकात करने जा रही थी.

  • वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह और आनंद ग्रोवर के घर और दफ्तर पर CBI का छापा

    वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह और आनंद ग्रोवर के घर और दफ्तर पर CBI का छापा

    वरिष्ठ वकील इंदिरा जयसिंह और उनके पति आनंद ग्रोवर के दफ्तर और घर पर सीबीआई ने गुरुवार सुबह छापेमारी की. यह छापेमारी विदेशी चंदा नियमन अधिनियम के उल्लंघन मामले में की गई है.

  • नरेंद्र दाभोलकर हत्याकांड: CBI कोर्ट ने वकील संजीव पुनालेकर और विक्रम भावे को एक जून तक हिरासत में भेजा 

    नरेंद्र दाभोलकर हत्याकांड: CBI कोर्ट ने वकील संजीव पुनालेकर और विक्रम भावे को एक जून तक हिरासत में भेजा 

    आरोप है कि रेकी करने में विक्रम भावे ने मदद की थी. उस दौरान वह वहां साथ गया था. उसी ने हथियार और मोटरसाइकिल मुहैया करने में भी मदद की थी. ध्यान हो कि विक्रम भावे पहले भी एक बम धमाके में आरोपी रहा है. इस बीच सनातन संस्था ने बयान जारी कर सीबीआई पर प्रगतिशील विचार वाले लोगो के दबाव में काम करने का आरोप लगाया है.

  • CJI के खिलाफ साजिश: सुप्रीम कोर्ट ने दिए जांच के आदेश, रिटायर जस्टिस एके पटनायक करेंगे जांच

    CJI के खिलाफ साजिश: सुप्रीम कोर्ट ने दिए जांच के आदेश, रिटायर जस्टिस एके पटनायक करेंगे जांच

    सुप्रीम कोर्ट ने जांच में सीबीआई, आईबी और दिल्ली पुलिस को मदद करने के निर्देश दिए हैं. सुप्रीम कोर्ट के वकील उत्सव बैंस के दावा किया था कि सीजेआई के खिलाफ साजिश रची जा रही है. रिटायर जस्टिस एके पटनायक बैंस के दावों की जांच करेंगे. बैंस ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा दाखिल करके दावा किया था कि सीजेआई को यौन शोषण के मामले में फंसाकर उनके खिलाफ साजिश रची जा रही है.

  • CJI पर यौन शोषण के आरोप को साजिश बताने वाले वकील ने पेश किए सबूत, SC ने CBI, IB और दिल्ली पुलिस चीफ को किया तलब

    CJI पर यौन शोषण के आरोप को साजिश बताने वाले वकील ने पेश किए सबूत, SC ने CBI, IB और दिल्ली पुलिस चीफ को किया तलब

    सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई डायरेक्टर, दिल्ली पुलिस कमिश्नर और आईबी चीफ को 12.30 बजे मिलने के लिए बुलाया है. इस मामले पर तीन बजे फिर सुनवाई की जाएगी. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि वो सभी से मिलकर यह तय करेंगे कि इस मामले की जांच को कैसे आगे बढ़ाया जाए. क्योंकि इस मामले में संस्थान की छवि को खराब करने को लेकर एक बड़ी साजिश है. अटॉर्नी जनरल तुषार मेहता ने कहा कि सीबीआई के डायरेक्टर इस समय दिल्ली से बाहर है, वह नहीं आ पाएंगे. ऐसे में ज्वाइंट डायरेक्टर कोर्ट आ सकते हैं. तुषार मेहता ने कहा कि संस्थान का नाम खराब करने के पीछे बड़ी साजिश है. इसके लिए एसआईटी बनाई जाए.