NDTV Khabar

हादसों में मौत


'हादसों में मौत' - 80 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बिहार में छठ के दौरान हुए अलग-अलग हादसों में 18 बच्चों समेत 30 लोगों की मौत

    बिहार में छठ के दौरान हुए अलग-अलग हादसों में 18 बच्चों समेत 30 लोगों की मौत

    बेगूसराय जिले के अंतर्गत साहेबपुर कमाल और मुफस्सिल थाना क्षेत्र में तीन बच्चों की मौत तालाब में डूबने से हुई जबकि दो अन्य को घोताखोरों ने बचा लिया. आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि बेगूसराय जिले में शनिवार शाम चार लोगों की मौत डूबने से हुई जबकि एक अब भी लापता है जिसकी तलाश की जा रही है. सूत्रों ने बताया कि वैशाली, पूर्णिया और खगड़िया जिलों में छठ पूजा के दौरान 10 बच्चों सहित 18 लोगों की मौत हुई है.

  • बिहार में आफत की बारिश: अब तक 41 की मौत, 16 लाख से ज्यादा प्रभावित, 11 हजार को सुरक्षित जगह पहुंचाया गया

    बिहार में आफत की बारिश: अब तक 41 की मौत, 16 लाख से ज्यादा प्रभावित, 11 हजार को सुरक्षित जगह पहुंचाया गया

    पिछले कई दिन से हो रही बारिश के कारण बिहार और उत्तर प्रदेश के अनेक हिस्से सोमवार को बाढ़ की चपेट में रहे वहीं देश भर में वर्षा जनित हादसों में मरने वाले लोगों की संख्या 148 पर पहुंच गई हैं. भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने कहा कि देश में 1994 के बाद इस मानसून में सबसे अधिक वर्षा दर्ज की गई. 

  • पूर्वी यूपी और बिहार में 3 अक्टूबर तक जारी रह सकता है बारिश का दौर, अगले 48 घंटे अहम

    पूर्वी यूपी और बिहार में 3 अक्टूबर तक जारी रह सकता है बारिश का दौर, अगले 48 घंटे अहम

    देश के कई हिस्सों में बारिश ने एकबार फिर से कहर बरपा दिया है. बारिश से संबंधित घटनाओं में उत्तर प्रदेश में अब तक करीब 73 लोगों की मौत हो चुकी है. जबकि बिहार में लगातार बारिश से राज्य की राजधानी पटना की सड़कों और अन्य क्षेत्रों में जलभराव हो गया और कम से कम दो मंत्रियों के घर पानी में घिर गए. मौसम विभाग ने रविवार को पूर्वी उत्तर प्रदेश में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश होने का अनुमान जताया है. सरकार की तरफ से जारी बयान के अनुसार बारिश के कारण घर गिरने, पेड़ गिरने तथा सांप के काटने के चलते लोगों की मौत हुई. कच्चे मकानों के गिरने के अलावा दीवार गिरने के कारण भी लोगों की मौत हुई है. सरकार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि वर्षाजनित इन हादसों में कई लोग घायल भी हुए हैं. वहीं उत्तराखंड में अधिकारियों ने बताया कि हिमालयी तीर्थस्थल हेमकुंड साहिब जा रहे पंजाब के छह तीर्थयात्रियों की मौत हो गई, जब टिहरी जिले में एक बड़ी चट्टान उनके वाहन पर गिर गई. भारी बारिश के चलते हुए भूस्खलन की वजह से यह चट्टान गिरी. राजस्थान और मध्य प्रदेश से तीन-तीन लोगों की मौत की खबरें आईं जबकि जम्मू-कश्मीर में भी एक व्यक्ति की मौत हुई.

  • बिहार-उत्तर प्रदेश में बारिश का रेड अलर्ट जारी, अभी तक 70 से ज्यादा लोगों की मौत

    बिहार-उत्तर प्रदेश में बारिश का रेड अलर्ट जारी, अभी तक 70 से ज्यादा लोगों की मौत

    उत्तर प्रदेश में बीते चार दिनों में ही 73 लोगों की मौत हुई है. उत्तर प्रदेश का प्रयागराज और बनारस समेत आसपास के जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. यूपी सरकार की तरफ से जारी बयान के अनुसार बारिश के कारण घर गिरने, पेड़ गिरने व सांप के काटने के चलते लोगों की मौत हुई. कच्चे मकानों के गिरने के अलावा दीवार गिरने के कारण भी लोगों की मौत हुई है. जारी बयान में कहा गया है कि वर्षाजनित इन हादसों में पांच लोग घायल भी हुए हैं.

  • उत्तर प्रदेश के नोएडा में सड़क हादसों में दो की मौत, एक घायल

    उत्तर प्रदेश के नोएडा में सड़क हादसों में दो की मौत, एक घायल

    उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर के दो थाना क्षेत्रों में बीते 24 घंटे में हुए दो सड़क हादसों में, दो लोगों की मौत हो गई, जबकि एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया.  पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) रणविजय सिंह ने बताया कि थाना दादरी क्षेत्र के जीटी रोड पर स्थित आरबी गार्डन के पास रविवार देर रात पैदल सड़क पार कर रहे नरेश (36 वर्ष) को एक अज्ञात वाहन चालक ने तेजी और लापरवाही से वाहन चलाते हुए कुचल दिया. एसपी ने बताया कि इस घटना में नरेश की मौके पर ही मौत हो गई. 

  • बाढ़ के कारण चार राज्यों में 225 लोगों की मौत 

    बाढ़ के कारण चार राज्यों में 225 लोगों की मौत 

    केरल के अलावा, कर्नाटक में 54, महाराष्ट्र में 49 और गुजरात में 31 लोग बाढ़ और वर्षा जनित हादसों में मारे गए. उत्तर प्रदेश में भी बारिश जनित घटनाओं में दो लोगों के मरने की खबर है जहां कई इलाकों में रातभर भारी बारिश हुई. केरल में एर्णाकुलम, इडुक्की और अलप्पुझा के लिये रेड अलर्ट जारी किया गया है क्योंकि राज्य के मध्य इलाकों में भारी बारिश होने का अनुमान है.

  • केरल में बाढ़: भारी बारिश से बढ़ी लोगों की परेशान, अभी तक 40 से ज्यादा लोगों की मौत

    केरल में बाढ़: भारी बारिश से बढ़ी लोगों की परेशान, अभी तक 40 से ज्यादा लोगों की मौत

    कर्नाटक में बाढ़ प्रभावित 80 हजार से ज्यादा लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है. वहीं, तमिलनाडु ने बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित नीलगिरि जिले में राहत कार्यों के लिए भारतीय वायुसेना से मदद मांगी है। जिले में वर्षा जनित हादसों में पांच लोगों की मौत हुई है. दूसरी ओर नयी दिल्ली में कांग्रेस नेता और केरल के वायनाड से सांसद राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से बातचीत कर मदद मांगी.

  • Mumbai Weather: मुंबई में बारिश से जुड़े हादसों में 4 लोगों की मौत, अगले 48 घंटे में हो सकती है भारी बारिश

    Mumbai Weather: मुंबई में बारिश से जुड़े हादसों में 4 लोगों की मौत, अगले 48 घंटे में हो सकती है भारी बारिश

    Mumbai weather Updates: मुंबई के लोग मॉनसून (Monsoon) का बेसब्री से इंतज़ार कर रहे थे. शुक्रवार को मॉनसून पहली बार बरसा और ऐसा बरसा कि इसकी वजह से हुए हादसे में 4 लोगों की मौत हो गई. शुक्रवार सुबह से शुरू हुई बारिश रात भर जारी रही. मुंबई में पिछले 24 घंटों में 127 मिलीमीटर बारिश (Mumbai Rains) हुई है.

  • आंधी और आकाशीय बिजली गिरने के हादसों में दो लोगो की मौत, छह घायल 

    आंधी और आकाशीय बिजली गिरने के हादसों में दो लोगो की मौत, छह घायल 

    सोमवार रात दिल्ली और एनसीआर में भी धूल भरी आंधी चली. कुछ इलाकों में बूंदाबांदी होने की भी खबर है. मौसम विभाग ने अगले दो से तीन दिनों तक पहाड़ी राज्यों में तेज बारिश की आशंका जताई है. मौसम विभाग के अनुसार अगले कुछ दिनों तक दिल्ली के तापमान में भी गिरावट आने की संभावना है.

  • उत्तर प्रदेश : यमुना एक्सप्रेस-वे पर 5 साल में 4,956 दुर्घटनाएं, 718 मौतें

    उत्तर प्रदेश : यमुना एक्सप्रेस-वे पर 5 साल में 4,956 दुर्घटनाएं, 718 मौतें

    सूचना का अधिकार (आरटीआई) के तहत दी गई जानकारी से इस बात का खुलासा हुआ. यमुना एक्सप्रेस-वे (Yamuna Expressway) पर वीभत्स सड़क हादसों की बढ़ती संख्या व्यापक चिंता का कारण बनी है, जिसने केंद्र व राज्य सरकारी एजेंसियों के प्रभावी हस्तक्षेप का आह्वान किया है.

  • Flashback 2018: इन आपदाओं और हादसों ने किया गमगीन...

    Flashback 2018: इन आपदाओं और हादसों ने किया गमगीन...

    Flashback2018: साल 2018 का समापन होने वाला है. इस साल कई हादसे और प्राकृतिक आपदाओं ने देश को हिलाकर रख दिया. साल 2018 में प्राकृतिक आपदाओं और दुर्घटनाओं के कारण सैकड़ों लोग काल के गाल में समा गए. सबसे बड़ी आपदा केरल में आई, जहां बाढ़ की त्रासदी से करीब 500 लोगों की मौत हो गई, वहीं हजारों लोग बेघर हो गए.

  • यूपी और बिहार में अलग-अलग सड़क हादसों में 11 लोगों की मौत, कई अन्य घायल

    यूपी और बिहार में अलग-अलग सड़क हादसों में 11 लोगों की मौत, कई अन्य घायल

    कटिहार जिले के कुर्सेला थाना क्षेत्र में सोमवार तड़के एक ट्रक और कार की आमने-सामने हुई टक्कर में एक युवती सहित चार लोगों की मौत हो गई जबकि तीन अन्य लोग घायल हो गए. पुलिस के अनुसार, एक कार पर सवार होकर कुछ लोग पूर्णिया से भागलपुर जा रहे थे तभी राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 31 पर कुर्सेला चौक के समीप पेट्रोल पंप के पास विपरीत दिशा से आ रहे एक ट्रक ने कार को टक्कर मार दी.

  • मुंबई : रेल पटरियों पर हुए हादसे में एक दिन में 12 की मौत, पांच लोग घायल

    मुंबई : रेल पटरियों पर हुए हादसे में एक दिन में 12 की मौत, पांच लोग घायल

    राजकीय रेलवे पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी. रेलवे के एक अधिकारी ने बताया कि पटरी पार करते समय ट्रेन की चपेट में आने से, खचाखच भरी हुई लोकल ट्रेन से गिरने, ट्रेन और प्लेटफॉर्म के बीच के स्थान में गिरने और आत्महत्या करने के कारण ये मौतें हुईं.

  • Amritsar train accident: अमृतसर ट्रेन हादसे की वो 7 वजहें, जिसने खुशी के पल को मातम में बदल दिया

    Amritsar train accident: अमृतसर ट्रेन हादसे की वो 7 वजहें, जिसने खुशी के पल को मातम में बदल दिया

    पंजाब के अमृतसर (Amritsar train accident) में दशहरे के दिन रावण दहन के दौरान मौत की रेल ने करीब 59 जिंदगिंयां छीन ली. अमृतसर में जोड़ा फाटक के पास शुक्रवार की शाम रावन दहन के दौरान ट्रेन की चपेट में आने से 59 लोगों की मौत हो गई है और 50 से अधिक लोग घायल बताए जा रहे हैं, जिनमें कुछ की हालत गंभीर बनी हुई है. अमृतसर के जोड़ा फाटक के पास शुक्रवार की शाम दशहरा (dussehra 2018) के मौके पर रावण दहन देखने के लिए बबड़ी संख्या में भीड़ उमड़ी थी. लोग रेल की पटरियों पर खड़े होकर रावण दहन देख रहे थे, तभी अचानक तेज रफ्तार में ट्रेन आई और सैकड़ों लोगों को कुचलती हुई चली गई. ट्रेन जालंधर से अमृतसर आ रही थी तभी जोड़ा फाटक पर यह हादसा हुआ. इस हादसे को लेकर कई तरह की बातें की जा रही हैं. तो चलिए जानते हैं कि आखिर इन हादसों की वजहें क्या थीं...

  • रेलवे ने जारी किए 5 सालों में सुरक्षा के बेहतर आंकड़े, इस साल हादसों में सबसे कम मौतें

    रेलवे ने जारी किए 5 सालों में सुरक्षा के बेहतर आंकड़े, इस साल हादसों में सबसे कम मौतें

    रेल मंत्रालय के एक अधिकारी ने आधिकारिक आंकड़ों का हवाला देते हुए यह जानकारी दी है.

  • मुंबई : जन्माष्टमी पर दही हांडी उत्सव में एक व्यक्ति की मौत, 150 घायल

    मुंबई : जन्माष्टमी पर दही हांडी उत्सव में एक व्यक्ति की मौत, 150 घायल

    जन्माष्टमी के अवसर पर सोमवार को आयोजित दही हांडी कार्यक्रम के दौरान मुंबई और उपनगरों में हुए हादसों में एक गोविंदा की मौत हो गई जबकि 150 घायल हो गए.

  • केरल के बाद अब उत्तर प्रदेश में भारी बारिश ने मचाई तबाही, अब तक 254 की मौत, 10 बड़ी बातें

    केरल के बाद अब उत्तर प्रदेश में भारी बारिश ने मचाई तबाही, अब तक 254 की मौत, 10 बड़ी बातें

    उत्तर प्रदेश में जानलेवा बनी बारिश की वजह से पिछले 24 घंटे के दौरान 16 की मौत हो गयी है और 12 जख्मी हो गये हैं. ये जानकारी राहत आयुक्त कार्यालय से प्राप्त रिपोर्ट से मिली है. इनमें शाहजहांपुर में सबसे ज्यादा छह लोगों की मौत हो गयी. इसके अलावा सीतापुर में तीन, अमेठी तथा औरैया में दो-दो और लखीमपुर खीरी, रायबरेली एवं उन्नाव में एक-एक व्यक्ति की वर्षाजनित दुर्घटनाओं में मौत हुई है. पूरे प्रदेश में ऐसे हादसों में 12 लोग जख्मी भी हुए हैं. इसके अलावा कुल 461 मकान अथवा झोपड़ियां भी क्षतिग्रस्त हुई हैं.  उत्तर प्रदेश में इस साल मानसून की बारिश में 254 लोगों की मौत हो चुकी है. पूरे देश में मानसून के दौरान 1400 से ज्यादा लोगों की गई जान गई है जिसमें सबसे ज्यादा केरल (488) में लोगों की मौत हुई है.

  • Weather Report : उत्तर प्रदेश में बीते 48 घंटों में 16 की मौत, पढ़ें- इस हफ्ते कब होगी आपके राज्य में बारिश

    Weather Report : उत्तर प्रदेश में बीते 48 घंटों में 16 की मौत, पढ़ें- इस हफ्ते कब होगी आपके राज्य में बारिश

    उत्तर प्रदेश में पिछले 48 घंटों की बारिश ने ज़बरदस्त तबाही मचाई है. बिजली गिरने और मकान ढहने के अलग-अलग हादसों में 16 लोगों की जान चली गई. सबसे ज़्यादा छह मौतें शाहजहांपुर में बिजली गिरने से हुई हैं.