NDTV Khabar

विधानसभा


' विधानसभा' - more than 1000 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बासमती चावल की वजह से मध्यप्रदेश और पंजाब के मुख्यमंत्रियों में ठनी

    बासमती चावल की वजह से मध्यप्रदेश और पंजाब के मुख्यमंत्रियों में ठनी

    बासमती चावल की वजह से मध्यप्रदेश और पंजाब के मुख्यमंत्रियों में ठन गई है. मामला प्रधानमंत्री दफ्तर तक पहुंच गया है. 'कड़कनाथ' मुर्गे के बाद मध्यप्रदेश ने बासमती चावल के जीआई टैग के लिए फिर अपना दावा ठोका है. जवाब में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री को पत्र‍ लिखकर कहा है कि मध्यप्रदेश बासमती उगाने वाले विशेष क्षेत्र में नहीं आता. ऐसे में उसे बासमती का जीआई टैग देना जीआई टैगिंग के उद्देश्य को ही बर्बाद कर देगा. मध्यप्रदेश में तो 27 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हैं, किसानों की कर्जमाफी, बिजली बिल, यूरिया जैसे मुद्दे तो हैं ही, अब दो राज्यों के बीच चावल युद्ध से भी कांग्रेस-बीजेपी के बीच नई लड़ाई शुरू हो गई है.

  • राहुल गांधी बोले-पॉजिटिव एजेंडे के साथ बिहार चुनाव में उतरेंगे, PM और CM नीतीश पर साधा निशाना

    राहुल गांधी बोले-पॉजिटिव एजेंडे के साथ बिहार चुनाव में उतरेंगे, PM और CM नीतीश पर साधा निशाना

    राहुल ने कहा कि बिहार की जनता बदलाव चाहती है, ऐसे में सबको साथ लेकर और विकल्प बनकर जनता के बीच जाना है.सूत्रों के मुताबिक, इस बैठक में कांग्रेस नेता ने कहा, ‘‘मैंने फरवरी में कोरोना और आर्थिक संकट के बारे में आगाह किया था कि तूफान आने वाला है. मैं यहां दोहराना चाहता हूं कि मैंने खुशी से नहीं बोला था.’’

  • गहलोत को फिलहाल राहत : BSP से कांग्रेस में गए MLAs के खिलाफ HC ने नहीं की कोई कार्रवाई

    गहलोत को फिलहाल राहत : BSP से कांग्रेस में गए MLAs के खिलाफ HC ने नहीं की कोई कार्रवाई

    मायावती ने मामले में सुप्रीम कोर्ट भी जाने की बात कही है. उन्होंने कहा था कि 'बीएसपी पहले भी अदालत जा सकती थी लेकिन हम कांग्रेस और सीएम अशोक गहलोत को सबक सिखाने के लिए सही समय का इंतजार कर रहे थे. अब हमने कोर्ट जाने का फैसला किया है. हम इस मामले को ऐसे ही नहीं छोड़ेंगे. हम सुप्रीम कोर्ट भी जाएंगे.'

  • नीतीश कुमार आख़िर क्यों चाहते हैं कि कोरोना की समीक्षा के लिए विधानसभा की सर्वदलीय समिति बने

    नीतीश कुमार आख़िर क्यों चाहते हैं कि कोरोना की समीक्षा के लिए विधानसभा की सर्वदलीय समिति बने

    बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार करीब साढ़े चार महीने के बाद बिहार विधानसभा के अंदर राज्य में कोरोना की समस्या पर सोमवार को बोले. उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष से आग्रह किया कि राज्य में इस बीमारी से जैसे-जैसे मरीज़ों की संख्या बढ़ती जा रही है, वैसी परिस्थिति में भी वर्तमान विधानसभा की जब तक अवधि है तब तक के लिए सर्वदलीय समिति बना दी जाए.

  • राम मंदिर भूमि पूजन मौके पर देश की राजधानी को 11 लाख दीयों से जगमग करेगी दिल्‍ली BJP

    राम मंदिर भूमि पूजन मौके पर देश की राजधानी को 11 लाख दीयों से जगमग करेगी दिल्‍ली BJP

    उन्होंने कहा, ‘‘दिल्ली भाजपा कार्यकर्ता शहर में लोगों को 11 लाख दीये बांटेंगे, जो पांच अगस्त की शाम प्रज्ज्वलित किये जाएंगे. प्रमुख स्थानों पर लेजर शो की भी योजना है, लेकिन इसे अंतिम रूप दिया जाना बाकी है. भूमि पूजन समारोह का सीधा प्रसारण लोगों को दिखाने के लिये दिल्ली के सभी 70 विधानसभा क्षेत्रों में मुख्य स्थानों पर एलईडी स्क्रीन लगाये जा रहे हैं.’’

  • चचेरे भाई और विधायक नीरज बबलू का बिहार विधानसभा में आरोप, 'सुशांत सिंह की हत्‍या की गई'

    चचेरे भाई और विधायक नीरज बबलू का बिहार विधानसभा में आरोप, 'सुशांत सिंह की हत्‍या की गई'

    बीजेपी विधायक (BJP MLA) नीरज बबलू (Neeraj Bablu) को अपने चचेरे भाई की मौत की सीबीआई जांच की मांग को लेकर विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव का भी समर्थन मिला. राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) नेता तेजस्वी ने ये भी कहा कि राजगीर में बनने वाली फ़िल्म सिटी का नाम सुशांत सिंह राजपूत पर किया जाए.

  • बिहार विधानसभा का आज आखिरी और एक दिन का विशेष सत्र, कोरोना-बाढ़ पर भी चर्चा की उम्मीद

    बिहार विधानसभा का आज आखिरी और एक दिन का विशेष सत्र, कोरोना-बाढ़ पर भी चर्चा की उम्मीद

    आज बिहार विधान मंडल के दोनो सदनों का एक दिन का विशेष सत्र बुलाया गया है. ये पहली बार है कि ये सत्र बिहार विधानसभा के पुराने भवन बुलाने के बजाए ज्ञान भवन में आयोजित किया गया है. ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि यहां पर सोशल डिस्टैसिंह का पालन किया जा सकता है. वर्तमान विधानसभा का ये आख़िरी सत्र है. अध्यक्ष के द्वारा कोशिश होगी कि एक बार में ही सारे विधायी कामों को ख़त्म कर लिया जाए. वहीं उम्मीद की जा रही है कि बाढ़ और कोरोना पर विशेष बहस भी हो सकती है. 

  • सचिन पायलट की दोबारा वापसी पर कांग्रेस ने क्या रखी है शर्त?

    सचिन पायलट की दोबारा वापसी पर कांग्रेस ने क्या रखी है शर्त?

    कुछ दिन पहले सीएम अशोक गहलोत ने कांग्रेस के बागियों से कहा था कि अगर वे आलाकमान से माफी मांग लें तो वह उनको दोबारा शामिल कर लेंगे. वहीं रविवार को कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा है कि सचिन पायलट को अपनी स्थिति साफ करें और बातचीत करें. कांग्रेस की ओर से यह दावा किया गया है कि राजस्थान में गहलोत की सरकार को कोई संकट नहीं है और 14 अगस्त को होने वाले विधानसभा सत्र में बहुमत सिद्ध कर देगी.  कांग्रेस प्रवक्ता ने रणदीप सुरजेवाला ने मीडिया से बातचीत में राजस्थान के संकट पर कहा, 'सचिन पायलट को बातचीत करने जरूर आना चाहिए. वो पहले अपनी स्थिति साफ करें तभी उनकी वापसी कोई बातचीत संभव हो सकती है'.

  • राजस्थान संकट पर अशोक गहलोत ने PM मोदी से कहा - 'बंद करवाएं यह तमाशा'

    राजस्थान संकट पर अशोक गहलोत ने PM मोदी से कहा - 'बंद करवाएं यह तमाशा'

    राजस्थान में चल रहे सियासी ड्रामे का अंत अभी तक नहीं हुआ है. राज्यपाल द्वारा 14 अगस्त से विधानसभा का सत्र बुलाए जाने को मंजूरी दिए जाने के बाद गहलोत खेमे के विधायक जैसलमेर पहुंच गए हैं.

  • बिहार: लोजपा के बाद, RJD, कांग्रेस और भाकपा-माले ने भी किया चुनाव कराने का विरोध

    बिहार: लोजपा के बाद, RJD, कांग्रेस और भाकपा-माले ने भी किया चुनाव कराने का विरोध

    आरजेडी ने लिखा, "हम चुनाव आयोग से जानना चाहेंगे कि क्या बिहार में कोरावायरस कि भयावह स्थिति है? अगर हां तो चुनाव कितना आवश्यकत है? जिंदगी की कीमत पर चुनाव की रस्म अदायगी कितनी जरूरी है? अगर नहीं, तो चुनाव पारंपरिक तरीके से हो जैसा अब तक होते आए हैं."

  • कोरोना काल में बिहार में विधानसभा चुनाव नहीं कराए जाएं, LJP ने चुनाव आयोग को लिखी चिट्ठी

    कोरोना काल में बिहार में विधानसभा चुनाव नहीं कराए जाएं, LJP ने चुनाव आयोग को लिखी चिट्ठी

    एनडीए में बीजेपी की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) ने चुनाव आयोग (Election Commission) को पत्र लिखकर ऐसे में अभी बिहार (Bihar) में विधानसभा चुनाव (Assembly Election) नहीं कराने को कहा है जब राज्य कोविड-19 (Covid-19) और बाढ़ से प्रभावित है. एलजेपी ने चुनाव आयोग से कहा है कि अक्टूबर-नवंबर तक कोविड-19 महामारी के अधिक गंभीर होने की आशंका है. उस समय बिहार में चुनाव कराने से लोगों का जीवन खतरे में पड़ जाएगा.

  • बिहार: तेजस्‍वी यादव ने हांगकांग का जिक्र करके CM नीतीश पर बोला हमला, कहा-कुर्सी के लिए कुछ भी..

    बिहार: तेजस्‍वी यादव ने हांगकांग का जिक्र करके CM नीतीश पर बोला हमला, कहा-कुर्सी के लिए कुछ भी..

    Corona cases in Bihar: तेजस्‍वी ने ट्वीट में लिखा, 'और नीतीश कुमार को लगता है कि बिहार राज्‍य हांगकांग से अधिक आगे, अधिक विकसित और मेडिकल इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर के मामले में अधिक सज्‍ज‍ित और क्षमतावान है.' उन्‍होंने आगे लिखा-कुर्सी के लिए कुछ भी माने कुछ भी करेंगे, जनता मर रही है और मरे तो मरे उन्हें क्या?

  • चिराग पासवान का नीतीश कुमार से सवाल, बिहार में कैसी शराबबंदी? नशे में धुत्त पार्षद कह रहा अपशब्द

    चिराग पासवान का नीतीश कुमार से सवाल, बिहार में कैसी शराबबंदी? नशे में धुत्त पार्षद कह रहा अपशब्द

    बिहार में विधानसभा चुनाव से पहले एनडीए (NDA) के घटक दल लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) और जनता दल यूनाईटेड (JDU) के बीच दूरियां बढ़ती जा रही हैं. एलजेपी सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर लगातार निशाना साध रही है. लोक जनशक्ति पार्टी के अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर एक वीडियो को लेकर निशाना साधा है. उन्होंने राज्य में शराबबंदी की सफलता को लेकर सवाल उठाया है. चिराग ने एक वीडियो का उल्लेख किया है जिसमें एक पार्षद कथित तौर पर नशे में उन्हें और उनके पिता रामविलास पासवान के लिए अपशब्द कहता हुआ दिखाई दे रहा है.

  • पायलट खेमे की अयोग्यता का मामला, विधानसभा स्पीकर के बाद कांग्रेस के चीफ व्हिप भी सुप्रीम कोर्ट पहुंचे

    पायलट खेमे की अयोग्यता का मामला, विधानसभा स्पीकर के बाद कांग्रेस के चीफ व्हिप भी सुप्रीम कोर्ट पहुंचे

    राजस्थान (Rajasthan) में जारी राजनीतिक संकट के बीच अब राजस्थान विधानसभा (Rajasthan Assembly) के कांग्रेस के चीफ व्हिप महेशी जोशी भी सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) पहुंच गए हैं. उन्होंने हाईकोर्ट के 24 जुलाई के फैसले को चुनौती दी है. विधानसभा स्पीकर पहले ही सुप्रीम कोर्ट में हाईकोर्ट के फैसले को चुनौती दे चुके हैं. हाईकोर्ट ने स्पीकर को सचिन पायलट व 18 विधायकों की अयोग्यता पर फैसला लेने से रोकते हुए यथास्थिति बरकरार रखने को कहा था.

  • राम मंदिर के भूमिपूजन पर दिल्ली में भी मनेगी दीपावली, सभी विधानसभा क्षेत्रों में होगा LIVE कार्यक्रम

    राम मंदिर के भूमिपूजन पर दिल्ली में भी मनेगी दीपावली, सभी विधानसभा क्षेत्रों में होगा LIVE कार्यक्रम

    भारतीय जनता पार्टी राम मंदिर निर्माण का लाइव प्रसारण दिल्ली के 70 जगहों पर बड़ी टीवी स्क्रीन लगाकर करेगी. बीजेपी के राम मंदिर निर्माण के इस कार्यक्रम पर आम आदमी पार्टी की सोशल डिस्टेंसिंग के साथ सहमति है. बीजेपी ऑफिस में LED स्क्रीन पर दिल्ली के 70 विधानसभा में राम मंदिर के भूमि पूजन का सीधा टेलीकास्ट करने की तैयारी युद्ध स्तर पर की जा रही है. दिल्ली के प्रदेश अघ्यक्ष आदेश गुप्ता ने 5 अगस्त को पूरे दिन सांसद से लेकर चुनाव हार चुके प्रत्याशी तक को दिल्ली में दीपावली मनाने को कहा है.

  • राजस्थान : विधानसभा सत्र की मंज़ूरी के बाद 3 चार्टर प्लेन में जैसलमेर रवाना हुए कांग्रेस MLAs

    राजस्थान : विधानसभा सत्र की मंज़ूरी के बाद 3 चार्टर प्लेन में जैसलमेर रवाना हुए कांग्रेस MLAs

    राजस्थान (Rajasthan Political Crisis) में विधानसभा सत्र की मंजूरी मिलने के बाद मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने अपने सभी समर्थक विधायकों को जैसलमेर ले जाने की तैयारी कर ली है. तीन चार्टर्ड प्लेन से विधायकों को जैसलमेर ले जाया जा रहा है. एक विमान रवाना हो चुका है. अन्य विधायक कुछ देर में रवाना होंगे. कुछ देर पहले गहलोत कैंप के सभी विधायक एयरपोर्ट पर नजर आए थे.

  • 'हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ गए' वाला बयान देकर अब अपने MLAs को जैसलमेर में ठहराएंगे CM अशोक गहलोत

    'हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ गए' वाला बयान देकर अब अपने MLAs को जैसलमेर में ठहराएंगे CM अशोक गहलोत

    राजस्थान (Rajasthan) की सियासी जंग में शह और मात का खेल जारी है. सियासी बाजी को जीतने के लिए हर हथकंडा अपनाया जा रहा है. अब मिल रही जानकारी के अनुसार, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) कैंप के विधायकों को आज (शुक्रवार) स्पेशल फ्लाइट के जरिए किसी अन्य शहर में शिफ्ट किया जा सकता है. अभी तक सभी विधायक जयपुर स्थित फेयरमाउंट होटल में ठहरे हुए हैं.

  • राजस्‍थान: CM गहलोत ने कसा तंज, 'विधानसभा सत्र की तारीख तय होते ही हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ने लगे'

    राजस्‍थान: CM गहलोत ने कसा तंज, 'विधानसभा सत्र की तारीख तय होते ही हॉर्स ट्रेडिंग के रेट बढ़ने लगे'

    सीएम अशोक गहलोत ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘‘कल रात से जब से विधानसभा सत्र बुलाने की घोषणा हुई है, राजस्थान में खरीद-फरोख्त (विधायकों की) का ‘रेट’ बढ़ गया है. इससे पहले पहली किश्त 10 करोड़ और दूसरी किश्त 15 करोड़ रुपये थी. अब यह असीमित हो गई है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com