NDTV Khabar

32 killed in up


'32 killed in up' - 3 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • उत्तर प्रदेश: आकाशीय बिजली गिरने की वजह से 32 लोगों की हुई मौत, कई घायल

    उत्तर प्रदेश: आकाशीय बिजली गिरने की वजह से 32 लोगों की हुई मौत, कई घायल

    प्रदेश के राहत आयुक्‍त कार्यालय से प्राप्‍त रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 24 घंटे के दौरान आकाशीय बिजली और सर्पदंश की घटनाओं में 34 लोग मारे गये हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विभिन्न जनपदों में आकाशीय बिजली की चपेट में आने से लोगों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है.

  • सोनभद्र नरसंहार: 32 ट्रैक्टरों में आए 300 लोगों ने बिछा दी 10 लाशें, 61 के खिलाफ मामला दर्ज, 24 गिरफ्तार

    सोनभद्र नरसंहार: 32 ट्रैक्टरों में आए 300 लोगों ने बिछा दी 10 लाशें, 61 के खिलाफ मामला दर्ज, 24 गिरफ्तार

    उत्‍तर प्रदेश की कानून-व्‍यवस्‍था को चुनौती देती दो दुस्‍साहसिक वारदात से पूरा सूबा दहल गया. सोनभद्र में बेखौफ दबंगों ने जमीन की खातिर दिनदहाड़े ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर 10 लोगों की हत्‍या कर दी, वहीं सम्‍भल में घात लगाकर बैठे बदमाशों ने दो पुलिसकर्मियों की गोली मारकर हत्या कर दी और तीन कैदियों को छुड़ा लिया. राज्‍य विधानमण्‍डल का मॉनसून सत्र शुरू होने से एक ही दिन पहले बुधवार को हुई इन वारदात के बाद से सरकार और पूरा पुलिस महकमा हरकत में है. मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने दोनों वारदात पर सख्‍त कार्रवाई के आदेश दिये हैं.

  • PM की रैली के बाद पथराव में मरने वाले कॉन्स्टेबल के बेटे का दर्द: पुलिस खुद की सुरक्षा नहीं कर सकती, उनसे क्या उम्मीद करें?

    PM की रैली के बाद पथराव में मरने वाले कॉन्स्टेबल के बेटे का दर्द: पुलिस खुद की सुरक्षा नहीं कर सकती, उनसे क्या उम्मीद करें?

    उत्तर प्रदेश के गाजीपुर (Ghazipur) में पीएम नरेंद्र मोदी की रैली (PM Narendra Modi Ghazipur Rally) के बाद उग्र भीड़ के पुलिस टीम पर पथराव (PM Narendra Modi Ghazipur Rally) में एक सिपाही की मौत हो गई, जबकि दो पुलिसकर्मी ज़ख़्मी हुए हैं. इस मामले में अब पुलिस ने बड़ी कार्रवाई की है. पुलसि ने कॉन्स्टेबल की मौत के मामले (Ghazipur Violence) में 32 लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज की है. वहीं, मृतक कॉन्स्टेबल सुरेश वत्स के बेटे वीपी सिंह ने पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था पर ही सवाल उठा दिए. बताया जा रहा है कि पुलिस कॉन्स्टेबल की मौत निषाद पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा कथिततौर पर पत्थरबाजी से हुई है. 

Advertisement