NDTV Khabar

ASEAN 2018


'ASEAN 2018' - 7 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • भारत के पास एशियाई देशों से सुनहरे संबंधों का सुनहरा मौका...  

    भारत के पास एशियाई देशों से सुनहरे संबंधों का सुनहरा मौका...  

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सिंगापुर में आयोजित 23वें आसियान शिखर सम्मेलन में जाना पहले की तुलना में अब इस मायने में ज़्यादा महत्व रखता है कि भारत-प्रशांत क्षेत्र में चीन के साम्राज्यवादी मंसूबे कुछ अधिक तेज़ी से फैलते दिखाई दे रहे हैं. इस लिहाज़ से इसी सम्मेलन के दौरान क्वाड समूह के तीन अन्य देशों के साथ उनकी बातचीत अहम मायने रखती है. ये तीन अन्य देश जापान, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया हैं, जिनका प्रशांत महासागर से सीधा संबंध है.

  • गणतंत्र दिवस समारोह में दिखेगी पीएम मोदी की 'लुक ईस्ट नीति' की झलक, इन 10 देशों के राष्ट्राध्यक्ष हैं मुख्य अतिथि

    गणतंत्र दिवस समारोह में दिखेगी पीएम मोदी की 'लुक ईस्ट नीति' की झलक, इन 10 देशों के राष्ट्राध्यक्ष हैं मुख्य अतिथि

    आज भारत का 69वां गणतंत्र दिवस समारोह राजपथ पर मनाया जाएगा. भारत के प्रजातंत्र की ताकत के गवाह 10 देशों के राष्ट्राध्यक्ष भी होंगे. आसियान में शामिल इन सभी विश्व नेताओं को इस बार भारत सरकार ने मुख्य अतिथि के रूप में बुलाया है.  उनमें ब्रुनेई, कंबोडिया, इंडोनेशिया, लाओस, मलेशिया, म्यांमार, फिलीपींस, सिंगापुर, थाइलैंड और वियतनाम शामिल हैं. इस समारोह में इन नेताओं के बुलाने के पीछे पीएम मोदी की 'लुक ईस्ट नीति' भी है. 

  • आसियान देशों का झंडा लेकर निकलेगी इस बार की परेड, 69वें गणतंत्र दिवस की 10 खास बातें

    आसियान देशों का झंडा लेकर निकलेगी इस बार की परेड, 69वें गणतंत्र दिवस की 10 खास बातें

    आसियान देशों के नेता गणतंत्र दिवस परेड के मुख्य अतिथि होंगे. राष्ट्रीय राजधानी में आज 69वें गणतंत्र दिवस समारोहों के लिए सुरक्षा के अभूतपूर्व प्रबंध किये गए हैं. हजारों सुरक्षाकर्मियों को किसी भी आतंकी हमले या अप्रिय घटना को रोकने के लिए तैनात किया गया है. राजपथ से लाल किला तक आठ किलोमीटर लंबे परेड मार्ग पर नजर रखने के लिए मोबाइल हिट टीम, विमान-रोधी प्रणालियों और शार्पशूटर्स को तैयार रखा गया है. ऊंची इमारतों पर शूटरों को तैनात किया गया है, वहीं बड़ी संख्या में सीसीटीवी कैमरों की मदद से परेड मार्ग पर आवाजाही कर लोगों पर नजर रखी जा रही हैय. हवाई क्षेत्र को सुरक्षित बनाने के लिए विमान-रोधी बंदूकों सहित हवाई सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किये गए हैं.

  • NEWS FLASH : जोहानिसबर्ग टेस्‍ट में खेल रोका गया, खराब पिच की वजह से रुका खेल

    NEWS FLASH : जोहानिसबर्ग टेस्‍ट में खेल रोका गया, खराब पिच की वजह से रुका खेल

    इसके अलावा देश-दुनिया, बिज़नेस जगत और खेल की दुनिया में हो रही हर बड़ी गतिविधियों के बारे में एक साथ एक ही पेज पर जानें.

  • पीएम मोदी के बुलावे पर खुद प्लेन उड़ाकर दिल्ली पहुंचे ब्रुनेई के सुल्तान हसनल!

    पीएम मोदी के बुलावे पर खुद प्लेन उड़ाकर दिल्ली पहुंचे ब्रुनेई के सुल्तान हसनल!

    दिल्ली में हवाई अड्डे पर स्वागत के लिए मौजूद अधिकारी तब हैरान रह गए जब सुल्तान हसनल बोल्कियाह अपने हवाई जहाज के अपने केबिन की बजाय कॉकपिट से बाहर निकले. आसियान सम्मेलन और गणतंत्र दिवस समारोह में हिस्सा लेने के लिए ब्रुनेई के सुल्तान बोइंग 747 ख़ुद उड़ा कर दिल्ली पहुंचे हैं.

  • आसियान सम्‍मेलन से पहले भारत ने 'लुक ईस्ट' की पॉलिसी बदलकर 'एक्ट ईस्ट' की, 10 बातें

    आसियान सम्‍मेलन से पहले भारत ने 'लुक ईस्ट' की पॉलिसी बदलकर 'एक्ट ईस्ट' की, 10 बातें

    राजधानी दिल्ली में गुरुवार से शुरू होने वाले भारत-आसियान वार्ता में शामिल होने के लिए 10 आसियान राष्ट्रों के प्रमुख बुधवार को नई दिल्ली पहुंचने लगे हैं. सभी दस आसियान देशों के प्रमुख 26 जनवरी को नयी दिल्ली में गणतंत्र दिवस की परेड में विशिष्ट अतिथि के रूप में शामिल होंगे. आसियान के सदस्य देशों में लाओस, कंबोडिया, ब्रुनेई, इंडोनेशिया, मलेशिया, म्यांमार, फिलीपींस, सिंगापुर, थाईलैंड और वियतनाम शामिल हैं. यह आयोजन दक्षिणपूर्व एशियाई गुट के साथ भारत के 25 वर्षों के संबंधों को चिह्नित करेगा. इस वक्‍त भारत 'लुक ईस्ट' नीति को 'एक्ट ईस्ट' पॉलिसी में बदलना चाहता है.

  • सुषमा स्‍वराज ने कहा- रामायण और बौद्ध धर्म, भारत और आसियान को जोड़ते हैं

    सुषमा स्‍वराज ने कहा- रामायण और बौद्ध धर्म, भारत और आसियान को जोड़ते हैं

    विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि रामायण और बौद्ध धर्म ऐसे दो पहलू हैं जो भारत और आसियान को जोड़ते हैं और इसीलिए उन्हें भारत आसियान स्मारक सम्मेलन में विशेष महत्व दिया गया है. भारत आसियान यूथ अवॉडर्स में सुषमा ने कहा कि भारत तथा आसियान के बीच सदियों पुराने रिश्ते हैं और ये संबंध इतिहास, संस्कृति, वाणिज्य और शिक्षा जैसे विविध क्षेत्र में फैले हुए हैं.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com