NDTV Khabar

BJP Strategy


'BJP strategy' - 19 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बिहार चुनाव: महागठबंधन ने बनाई नीतीश की नाकामियों को उजागर करने की रणनीति

    बिहार चुनाव: महागठबंधन ने बनाई नीतीश की नाकामियों को उजागर करने की रणनीति

    Bihar Election 2020: बिहार में चुनावी बिगुल बज चुका है. महागठबंधन में लम्बी खींचतान के बाद घटक दलों में सीटों का बंटवारा हो चुका है. अब महागठबंधन (Mahagathbandhan) के घटक दल "बोले बिहार, बदले सरकार" के नारे को लेकर चुनाव मैदान में उतरेंगे. उनका निशाना इस बार नीतीश सरकार (Nitish Government) के 15 साल के कार्यकाल की कथित नाकामियों और खामियों को उजागर करने पर होगा. आरजेडी (RJD) का आरोप है कि नीतीश के सत्ता में रहने के दौरान बेरोज़गारी और पलायन बढ़ा, आर्थिक विकास नहीं होने से बिहार काफी पिछड़ गया. साथ ही लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के एनडीए (NDA) से अलग होकर चुनाव लड़ने के ऐलान से महागठबंधन को लगता है कि नीतीश कुमार की राजनीतिक स्थिति कमज़ोर हुई है.

  • रंजन गोगोई को राज्यसभा भेजने के पीछे क्या है असली मकसद, आखिर क्यों जोखिम लिया मोदी सरकार ने

    रंजन गोगोई को राज्यसभा भेजने के पीछे क्या है असली मकसद, आखिर क्यों जोखिम लिया मोदी सरकार ने

    पूर्व प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई को राज्यसभा में नामित करने के फैसले पर सवाल उठ रहे हैं. इन सवालों के पीछे उनके अयोध्या और राफेल मामलों पर सुनाए गए फैसले हैं. आपको बता दें कि रंजन गोगोई सुप्रीम कोर्ट के उन चार जजों में शामिल रहे हैं जिन्होंने उस समय के प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के खिलाफ प्रेस कॉन्फ्रेंस कर उनके पर पक्षपात के आरोप लगाए थे. इसके बाद रंजन गोगोई एक तरह से नायक बनकर सामने आए क्योंकि माना जा रहा था कि इसके बाद वह देश का प्रधान न्यायाधीश बनने का मौका खो सकते हैं. इन चार जजों की प्रेस कॉन्फ्रेंस एक तरह से मोदी सरकार को भी लपेट रही थी और यह पीएम मोदी के आलोचकों के लिए एक तरह से हथियार साबित हुई.

  • दिल्ली विधानसभा के लिए शाहीन बाग के बाद अब ये बनेगा बीजेपी का दूसरा बड़ा हथियार, तैयारियां हुईं तेज

    दिल्ली विधानसभा के लिए शाहीन बाग के बाद अब ये बनेगा बीजेपी का दूसरा बड़ा हथियार, तैयारियां हुईं तेज

    बीजेपी ने शाहीन बाग के खिलाफ तीखे तेवर अपनाकर यह साफ कर दिया कि अब वह इस मुद्दे पर फ्रंटफुट पर लड़ाई करेगी तो वहीं अब इसके बाद भारतीय जनता पार्टी आम बजट 2020 को अपना दूसरा बड़ा हथियार बनाने की तैयारी में है. बीजेपी नेताओं को उम्मीद है कि इस बजट में दिल्ली वालों के लिए बड़ी सौगातें होंगी.

  • NRC, CAA पर ममता बनर्जी ने एनसीपी प्रमुख को लिखी चिट्ठी, शरद पवार ने दिया यह जवाब

    NRC, CAA पर ममता बनर्जी ने एनसीपी प्रमुख को लिखी चिट्ठी, शरद पवार ने दिया यह जवाब

    एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने ममता बनर्जी को पत्र लिखकर NRC और CAA के खिलाफ चलाए जा रहे आंदोलन के प्रति अपना समर्थन व्‍यक्‍त किया है. 23 दिसंबर 2019 को ममता बनर्जी ने शरद पवार को पत्र लिखकर NRC और CAA पर समर्थन की अपील की थी. ममता के पत्र के जवाब में शरद पवार ने 27 दिसंबर 2019 को एक पत्र भेजा जिसमें NRC और CAA के खिलाफ ममता बनर्जी द्वारा चलाए जा रहे आंदोलन के प्रति अपना समर्थन व्‍यक्‍त किया है. शरद पवार ने अपने पत्र में लिखा है कि NRC और CAA के खिलाफ आपके द्वारा चलाए जा रहे मुहिम में मैं आपके साथ हूं.  ज्ञात हो कि पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी NRC और CAA के खिलाफ लगातार मुहिम चला रही है.

  • विश्लेषण : CAA और NRC के पीछे क्या हो सकती है BJP की असली रणनीति

    विश्लेषण : CAA और NRC के पीछे क्या हो सकती है BJP की असली रणनीति

    नागरिकता कानून और एनआरसी के मुद्दे पर केंद्र की मोदी सरकार भारी विरोध के बाद भी पीछे हटने को तैयार नहीं है. हालांकि इस कानून को लेकर किए जा रहे सवालों के बीच पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह के जवाबों में विरोधाभास भी नजर आ रहा है. एक और जहां संसद में अमित शाह ने कहा कि एनआरसी को पूरे देश में लागू किया जाएगा तो वहीं पीएम मोदी ने दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित रैली में कहा कि एनआरसी को लेकर अभी कोई चर्चा नहीं हुई है. दूसरी ओर पीएम मोदी ने यह भी दावा किया कि देश में कहीं भी डिटेंशन सेंटर नहीं बनाया गया है जबकि असम में बने डिटेंशन सेंटर की तस्वीरें काफी पहले आ चुकी हैं.

  • महाराष्ट्र के हाथ से फिसलने पर बीजेपी ने झोंकी झारखंड में ताकत

    महाराष्ट्र के हाथ से फिसलने पर बीजेपी ने झोंकी झारखंड में ताकत

    भाजपा के रणनीतिकारों का मानना है कि मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़ के बाद महाराष्ट्र के भी हाथ से निकल जाने के बाद झारखंड में कम से कम बहुमत वाली जीत जरूरी है, तभी पार्टी हाल के विधानसभा चुनावों से खराब प्रदर्शन से खोई हुई लय वापस पा सकती है.भाजपा सूत्रों का कहना है कि हरियाणा में किसी तरह से सरकार बनी और बहुमत के अभाव में महाराष्ट्र में बनी सरकार गिर गई.

  • कांग्रेस ने बनाई नई रणनीति: अनुच्छेद 371 पर पूर्वोत्तर में भाजपा को घेरेगी, जनता को करेगी लामबंद

    कांग्रेस ने बनाई नई रणनीति: अनुच्छेद 371 पर पूर्वोत्तर में भाजपा को घेरेगी, जनता को करेगी लामबंद

    इस बैठक में शामिल रहे असम प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष रिपुन बोरा ने 'पीटीआई-भाषा' को बताया, 'भाजपा ने जो (जम्मू-कश्मीर में) विशेष दर्जा खत्म किया उसका क्या असर हुआ है? उसे मुद्दा बनाकर जनता के पास ले जाना तय हुआ है.' उन्होंने कहा, '370 और 371 में ज्यादा फर्क नहीं है. जम्मू-कश्मीर के लोगों को 370 के तहत विशेष अधिकार मिले हुए थे . उसी तरह असम और पूर्वोत्तर के अन्य राज्यों को 371ए, 371बी, 371सी तथा कुछ अन्य अनुच्छेदों के तहत विशेष सुरक्षा मिली हुई है. यह पूर्वोत्तर के लिए संवैधानिक रक्षा कवच है. किसी भी हालत में इसे हटाया नहीं जाना चाहिए.'

  • चुनाव 2019: कांग्रेस के लिए रणनीति बना रही हैं सोनिया गांधी, BJP और मोदी को सत्ता से दूर रखने के लिए कर रही हैं काम

    चुनाव 2019: कांग्रेस के लिए रणनीति बना रही हैं सोनिया गांधी, BJP और मोदी को सत्ता से दूर रखने के लिए कर रही हैं काम

    सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने मतगणना से एक दिन पहले 22 मई को वरिष्ठ पार्टी नेताओं की एक और बैठक बुलाई है. पार्टी के शीर्ष नेताओं ने यूपीए-3 गठन के एक प्रयास के तहत गैर राजग पार्टियों के साथ सलाह मशविरा किया ताकि इन सभी को एक संयुक्त गठबंधन में साथ लाया जा सके. सोनिया गांधी ने रविवार को अपने आवास पर पार्टी के शीर्ष नेताओं के साथ एक बैठक की. कांग्रेस को उम्मीद है कि एनडीए के पूर्ण बहुमत हासिल करने में असफल रहने पर वह भाजपा और नरेंद्र मोदी को सत्ता से दूर रख पाएगी.

  • बीजेपी की नई रणनीति, हिंदुत्व का नया स्वरूप

    बीजेपी की नई रणनीति, हिंदुत्व का नया स्वरूप

    लोकसभा चुनाव के लिए दूसरे चरण का मतदान खत्म होते ही बीजेपी ने भी अपनी चुनावी रणनीति का दूसरा चरण शुरू कर दिया है. यह वह चरण है जिसमें बीजेपी अपने तरकश में मौजूद हर तीर का इस्तेमाल कर रही है. इसे हिंदुत्व 2.0 का नाम दिया गया है. यानी मोदी-शाह का वह हिंदुत्व जो वाजपेयी-आडवाणी के हिंदुत्व से बिल्कुल अलग है. तब मंदिर मंडल का दौर था तो इस दौर में मंदिर और मंडल को मिलाकर हिंदुत्व का नया रूप तैयार किया गया है. यह आक्रामक हिंदुत्व है जो खुलकर ध्रुवीकरण करता है.

  • लोकसभा चुनाव 2019 : बालाकोट के बाद राष्ट्रवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा को बीजेपी बनाएगी मुद्दा

    लोकसभा चुनाव 2019 : बालाकोट के बाद राष्ट्रवाद और राष्ट्रीय सुरक्षा को बीजेपी बनाएगी मुद्दा

    बालाकोट में आतंकी कैंपों पर हुई एयर स्ट्राइक (Balakot IAF Air Strike) को बीजेपी(BJP) ने लोकसभा चुनाव में भुनाने की तैयारी की है. इसके लिए बीजेपी अपनी चुनावी रणनीति बदलकर पूरा फोकस राष्ट्रवाद के मुद्दे पर करने जा रही है.

  • लालू यादव से मिल तेजस्वी-कुशवाहा ने बनाई महागठबंधन की रणनीति, खरमास के बाद होगा सीटों का ऐलान

    लालू यादव से मिल तेजस्वी-कुशवाहा ने बनाई महागठबंधन की रणनीति, खरमास के बाद होगा सीटों का ऐलान

    बिहार एनडीए में सीटों को लेकर जारी गतिरोध थमने के बाद अब सबकी निगाहें महागठबंधन पर टिकी हैं. एनडीए में सीटों के बंटवारे का मामला सुलझ जाने के बाद अब बारी है महागठबंधन में सभी पार्टियों के बीच सीट बंटवारे की. बिहार की सियासत में महागठबंधन के नेताओं का शनिवार को रांची में जमावड़ा लगा. दरअसल राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू यादव से मिलने विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव, रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा और वीआईपी पार्टी के अध्यक्ष मुकेश निषाद रांची पहुंचे, लालू प्रसाद यादव से मुलाकात के बाद तीनों दलों के नेताओं ने एक सुर में कहा कि महागठबंधन में कौन सी पार्टी कितनी सीटों पर चुनाव लड़ेगी, इसकी इसका घोषणा 'खरमास' यानी 14 जनवरी के की जाएगी. 

  • केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल का दावा, 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को मिल सकती हैं 297 से 303 सीटें

    केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल का दावा,  2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी को मिल सकती हैं 297 से 303 सीटें

    केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने दावा किया है कि उनके एक सर्वेक्षण के मुताबिक 2019 के लोकसभा चुनाव में भाजपा 297 से 303 सीटें जीतेगी. इस सर्वेक्षण के लिए देश भर में 5.4 लाख से अधिक लोगों की प्रतिक्रिया ली गई.

  • 2019 लोकसभा चुनाव : पिछड़ी जातियों को लुभाने के लिए भाजपा ने बनाई ये रणनीति 

    2019 लोकसभा चुनाव : पिछड़ी जातियों को लुभाने के लिए भाजपा ने बनाई ये रणनीति 

    अगले साल होने वाले लोकसभा चुनावों से पहले तमाम राजनीतिक पार्टियां तैयारी में जुट गई हैं. चुनाव से पहले विपक्षी एकता की सुगबुगाहट ने केंद्र में सत्तासीन भाजपा की चिंता बढ़ा दी है. खासकर पिछले दिनों हुए उप चुनावों में हार के बाद पार्टी की रणनीति पर सवाल उठने लगे हैं. भाजपा की कोशिश है कि 2019 के चुनावों में खासकर एससी, एसटी और ओबीसी समुदाय से आने वाले मतदाता उससे छिटकने न पाएं.

  • विदिशा में संघ की तीन दिवसीय समन्वय बैठक शुरू, आगामी चुनावों पर बीजेपी के साथ होगा मंथन

    विदिशा में संघ की तीन दिवसीय समन्वय बैठक शुरू, आगामी चुनावों पर बीजेपी के साथ होगा मंथन

    आगामी दिनों में होने वाले विधानसभा चुनावों के मद्देनजर मध्य प्रदेश के विदिशा में संघ की तीन दिवसीय समन्वय बैठक शुरू हो गई है. इस बैठक में संघ प्रमुख मोहन भागवत भी मौजूद हैं. बताया जा रहा है कि संघ की इस समन्वय बैठक में संघ, अनुशांगिक संगठन और भारतीय जनता पार्टी के पदाधिकारी मौजूद हैं. उम्मीद की जा रही है कि इस बैठक में संघ प्रमुख मोहन भागवत संघ और बीजेपी की दशा और दिशा पर चिंतन करेंगे और सबको आवश्यक दिशा-निर्देश देंगे. 

  • बीजेपी लोकसभा चुनाव के लिए बनाएगी रणनीति, राष्ट्रीय कार्यकारणी की दो दिन की बैठक आज से

    बीजेपी लोकसभा चुनाव के लिए बनाएगी रणनीति, राष्ट्रीय कार्यकारणी की दो दिन की बैठक आज से

    अगले लोकसभा चुनाव के लिए डेढ़ साल का समय बाकी है लेकिन बीजेपी इस चुनाव के लिए रणनीति बनाने में अभी से जुट गई है. चुनावी रणनीति का तानाबाना बुनने के लिए बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की दो दिवसीय बैठक आयोजित कर रही है जो कि दिल्ली में रविवार को शुरू होगी.

  • PK को रिझाने की कोशिश कर रही गुजरात कांग्रेस, बीजेपी से चुनावी मुकाबले की रणनीति

    PK को रिझाने की कोशिश कर रही गुजरात कांग्रेस, बीजेपी से चुनावी मुकाबले की रणनीति

    नरेन्द्र मोदी के पुराने रणनीतिकार प्रशांत किशोर को गुजरात कांग्रेस रिझाने की कोशिश कर रही है. राज्य में इसे लेकर राजनैतिक चर्चा गर्म है. गुजरात कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शंकरसिंह वाघेला ने ट्वीट करके चुनावों में राज्य में पार्टी के लिए प्रशांत किशोर जैसे रणनीतिकार की जरूरत बताई है. एक तरह से उन्होंने साफ कर दिया कि पार्टी मोदी के एक वक्त के करीबी चुनावी रणनीतिकार को गुजरात में भी लुभाने का प्रयास कर रही है. पूरी पार्टी इस सहमत दिख रही है.

  • राज्यसभा चुनाव : कांग्रेस ने बनाई साम्प्रदायिक ताकतों को रोकने की रणनीति

    राज्यसभा चुनाव : कांग्रेस ने बनाई साम्प्रदायिक ताकतों को रोकने की रणनीति

    राज्यसभा के चुनाव में बीजेपी के उम्मीदवारों को रोकने के लिए कांग्रेस ने साम्प्रदायिक ताकतों को रोकने की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है।

  • बिहार में नीतीश को पटखनी देने के लिए बीजेपी ने बनाई यह चुनावी रणनीति

    बिहार में नीतीश को पटखनी देने के लिए बीजेपी ने बनाई यह चुनावी रणनीति

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की प्रतिष्ठा का प्रश्न बने बिहार चुनाव के लिए बीजेपी प्रचार का दूसरा दौर बुधवार से शुरू करने जा रही है।

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com