NDTV Khabar

BJP vs Congress Rajasthan


'BJP vs Congress Rajasthan' - 13 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • राजस्थान: 'आगे तो अब पाकिस्तान है' पर कांग्रेस का पलटवार, कहा- षड्यंत्र की हार होगी..

    राजस्थान: 'आगे तो अब पाकिस्तान है' पर कांग्रेस का पलटवार, कहा- षड्यंत्र की हार होगी..

    Rajasthan Crisis: राजस्थान के परिवहन मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास (Pratap Singh Khachariyawas) ने 'आगे तो अब पाकिस्तान है' वाली टिप्पणी के लिए शनिवार को बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां (Satish Punia) पर निशाना साधा और कहा कि राजस्थान में "षड्यंत्र की हार होगी". पूनियां ने कांग्रेस विधायकों को जयपुर से जैसलमेर ले जाने पर टिप्पणी करते हुए शुक्रवार को ट्वीट किया था, "कांग्रेस को टूटने से बचाने के लिए विधायकों को जैसलमेर ले गए. कहां तक भागेगी सरकार? आगे तो अब पाकिस्तान ही है."

  • राजस्थान : अशोक गहलोत ने पूछा, अगर राज्यसभा में मर्जर सही, फिर यहां गलत कैसे...?

    राजस्थान : अशोक गहलोत ने पूछा, अगर राज्यसभा में मर्जर सही, फिर यहां गलत कैसे...?

    शुक्रवार को सीएम गहलोत ने एक बार फिर बीजेपी को सवालों के घेरे में खड़ा किया. अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए बीएसपी मसले पर आवाज उठाते हुए उन्होंने कहा कि BJP ने TDP के 4 MPs को राज्यसभा के अंदर रातों रात मर्जर करवा दिया, वो मर्जर तो सही है और राजस्थान में 6 विधायक मर्जर कर गए कांग्रेस में वो मर्जर गलत है. उन्होंने कहा कि तो फिर BJP का चाल-चरित्र-चेहरा कहां गया, मैं पूछना चाहता हूं? राज्यसभा में मर्जर हो वो सही है और यहां मर्जर हो वो गलत है?

  • गहलोत vs पायलट : राजस्थान की सियासी जंग में SC में कौन मारेगा बाजी? 10 प्वाइंट में समझें, क्या हैं संभावनाएं

    गहलोत vs पायलट : राजस्थान की सियासी जंग में SC में कौन मारेगा बाजी? 10 प्वाइंट में समझें, क्या हैं संभावनाएं

    Sachin Pilot vs Ashok Gehlot: राजस्थान की सियासी बिसात पर शह और मात का खेल जारी है. अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच की तकरार कई पड़ावों से होते हुए आज सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच चुकी है. जहां आज स्पीकर सीपी जोशी (Speaker CP Joshi) की याचिका पर सुनवाई होनी है. यह सियासी संग्राम बाहर से सिर्फ अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच नजर आ रहा है लेकिन अलग अलग नजरिए से देखा जाए तो यह कांग्रेस बनाम बीजेपी और गहलोत बनाम गर्वनर भी है. गहलोत ने रविवार को राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) को नया प्रस्ताव भेज कर विधानसभा सत्र बुलाने की मांग की है. उन्होंने अपने इस नए प्रस्ताव में विश्वास मत का जिक्र ही नहीं किया है बल्कि इसका एजेंडा कोरोना वायरस (Coronavirus) और आर्थिक संकट को बताया है. गहलोत हर मोर्चे पर लड़ने की तैयारी के साथ उतरे हैं. दूसरी तरफ वह बीजेपी पर लगातार आक्रामक रवैया भी अख्तियार किए हुए हैं. इन 10 प्वाइंट्स से समझिए अब तक क्या क्या हुआ.

  • Rajasthan Political Crisis Updates: सीएम गहलोत ने पीएम मोदी से की राज्यपाल कलराज मिश्र की शिकायत

    Rajasthan Political Crisis Updates: सीएम गहलोत ने पीएम मोदी से की राज्यपाल कलराज मिश्र की शिकायत

    Rajasthan Political Crisis Updates: राजस्थान (Rajasthan) के राजनीतिक संकट (Ashok Gehlot vs Sachin Pilot) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) आज अहम सुनवाई करेगा. उच्चतम न्यायलय, हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ राजस्थान स्पीकर सीपी जोशी की याचिका पर सुनवाई करेगा. जस्टिस अरुण मिश्रा, जस्टिस बीआर गवई और जस्टिस कृष्ण मुरारी की बेंच यह सुनवाई करेगी. हालांकि स्पीकर की हाईकोर्ट के फैसला सुनाने से रोकने की अर्जी निष्प्रभावी हो चुकी है.

  • राजस्थान का सियासी संग्राम: इन 10 प्वाइंट्स से समझिए HC के फैसले से क्या होगा और क्या नहीं?

    राजस्थान का सियासी संग्राम:  इन 10 प्वाइंट्स से समझिए HC के फैसले से क्या होगा और क्या नहीं?

    Rajasthan Crisis: राजस्थान का सियासी संग्राम (Sachin Pilot vs Ashok Gehlot) कई पड़ावों से होते हुए हाईकोर्ट (Rajasthan HC) की चौखट पर पहुंचा है. बुधवार को हुई पिछली सुनवाई में राजस्थान हाईकोर्ट ने बागियों को फौरी राहत देते हुए पर स्पीकर द्वारा किसी तरह का एक्शन पर रोक लगा दी थी. रोक लगने के स्पीकर ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया लेकिन उच्चतम न्यायलय ने भी हाईकोर्ट के फैसले को टालने से इनकार कर दिया. ऐसे में अब सबकी निगाहें आज के फैसले पर टिकी हुई हैं. आज के फैसला कई मायनों में अहम है. जिसे समझने के लिए इन बातों को समझना जरूरी है.

  • Rajasthan Political Crisis Updates: राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा, 'संवैधानिक मर्यादा से ऊपर कोई नहीं'

    Rajasthan Political Crisis Updates: राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा, 'संवैधानिक मर्यादा से ऊपर कोई नहीं'

    Rajasthan Crisis Update: सचिन पायलट बनाम अशोक गहलोत (Sachin Pilot vs Ashok Gehlot) मामले में राजस्‍थान हाइकोर्ट आज अहम फैसला सुनाया. सचिन पायलट खेमे को राजस्थान हाईकोर्ट की तऱफ से राहत मिली है. कोर्ट ने यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया है. कोर्ट से राहत नहीं मिलने के बाद गहलोत शक्ति प्रदर्शन कर रहे हैं, वह अपने विधायकों संग गवर्नर हाउस पहुंच चुके हैं.

  • पायलट गुट की याचिका पर सुनवाई जारी, जानिए हाईकोर्ट में अभी तक क्या-क्या हुआ

    पायलट गुट की याचिका पर सुनवाई जारी, जानिए हाईकोर्ट में अभी तक क्या-क्या हुआ

    विधानसभा अध्यक्ष सी पी जोशी का पक्ष रखते हुए वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने सोमवार को कहा कि कोर्ट का इस मामले में क्षेत्राधिकार नहीं बनता है. विधायकों की अयोग्यता को लेकर अभी कोर्ट सुनवाई नहीं कर सकता है. ये अधिकार स्पीकर के पास है. सिंघवी ने कहा कि जब तक स्पीकर फैसला नहीं कर लेते कोर्ट इस मामले में दखल नहीं दे सकता है.

  • Rajasthan Congress Government Crisis Updates: NDTV से बोले सचिन पायलट - BJP में कभी नहीं जाऊंगा

    Rajasthan Congress Government Crisis Updates: NDTV से बोले सचिन पायलट - BJP में कभी नहीं जाऊंगा

    कांग्रेस पार्टी ने राजस्थान (Rajasthan Congress) में बागी विधायकों (Rebel MLAs) के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी है. इनमें सचिन पायलट भी शामिल हैं. बागी विधायकों को अयोग्य घोषित करने की कार्रवाई शुरू की जा रही है, जिसके तहत पार्टी ने राजस्थान विधानसभा स्पीकर से उनकी विधानसभा सदस्यता को रद्द करने की कार्रवाई (Disqualification Proceedings) का आग्रह किया है.

  • कांग्रेस ने पायलट से छीना मंत्री पद, CM पहुंचे राज्यपाल के पास, BJP का आखिरी दांव फ्लोर टेस्ट : पढ़ें 10 बड़ी बातें

    कांग्रेस ने पायलट से छीना मंत्री पद, CM पहुंचे राज्यपाल के पास, BJP का आखिरी दांव फ्लोर टेस्ट : पढ़ें 10 बड़ी बातें

    Ashok gehlot vs Sachin Pilot: राजस्थान में पिछले 4 दिनों के अंदर जमकर सियासी घमासान हुआ. रविवार को नाराज सचिन पायलट (Sachin Pilot) के दिल्ली पहुंचने के से शुरू हुआ सिलसिला आज सचिन समेत 3 कांग्रेस विधायकों को मंत्री पद पर हटाने तक आ पहुंचा है. कुल मिलाकर यह मामला एक बार फिर बीजेपी बनाम कांग्रेस (BJP vs Congress) का हो गया है. कांग्रेस ने आरोप लगाए हैं कि बीजेपी, अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) सरकार को गिराने की साजिश रच रही है. दूसरी मीटिंग में कांग्रेस ने सचिन पायटलट (Sachin Pilot) को आमंत्रित किया था लेकिन सचिन पहले ही अपने तेवरों से पार्टी को साफ कर चुके थे कि वह इस बार आर या पार के मूड में है. लिहाजा वह मीटिंग में नहीं पहुंचे. जिसके परिणामस्वरुप उन्हें न सिर्फ मंत्री पद से हटा दिया गया बल्कि पार्टी में दिए गए विभिन्न ओहदों से भी हटा दिया गया. पूरी प्रेस कांफ्रेंस में कांग्रेस के नेता सचिन के बजाय बीजेपी के खिलाफ ज्यादा आक्रामक नजर आए. उन्होंने कहा कि भाजपा ने एक षड्यंत्र के तहत राजस्थान की चुनी हुई सरकार (Ashok Gehlot) को गिराने की साज़िश की गई है. भाजपा ने धनबल, सत्ता बल, ईडी और इनकम टैक्स विभाग का गलत इस्तेमाल किया गया है. पूरे देश ने देखा कि अशोक गहलोत सरकार के विधायकों को खरीदने की कोशिश की गई. सचिन और कुछ विधायक भ्रमित होकर सरकार गिराने की साज़िश में शामिल हो गए. ये राजस्थान के स्वाभिमान को चुनौती देना है.

  • राजस्थान कांग्रेस प्रभारी बोले- पार्टी सचिन पायलट की बात सुनने को तैयार, लेकिन वे नहीं दे रहे कॉल और मैसेज का जवाब

    राजस्थान कांग्रेस प्रभारी  बोले- पार्टी सचिन पायलट की बात सुनने को तैयार, लेकिन वे नहीं दे रहे कॉल और मैसेज का जवाब

    राजस्थान कांग्रेस में गहराते संकट के बीच सोमवार को प्रदेश में पार्टी के विधायक दल की बैठक हो रही है. लेकिन जानकारी है कि बगावत के मूड में आ चुके सचिन पायलट इस मीटिंग में हिस्सा नहीं लेने वाले हैं. वहीं, अब यह भी जानकारी है कि वो पार्टी से बातचीत करने के लिए भी उपलब्ध नहीं हो रहे हैं.

  • राजस्थान में चल रहे राजनीतिक गतिरोध पर बोले शशि थरूर- कांग्रेस को मजबूत करें, उसे नीचा...

    राजस्थान में चल रहे राजनीतिक गतिरोध पर बोले शशि थरूर- कांग्रेस को मजबूत करें, उसे नीचा...

    शशि थरूर ने ट्वीट किया कि मैं पूर्ण विश्वास के साथ मानता हूं कि हमारे देश को एक वास्तविक उदारवादी पार्टी की जरूरत है, जिसका नेतृत्व सभी को साथ लेकर चलने के लिए प्रतिबद्ध हो, और जो भारत के बहुलवाद का सम्मान करे. गणतांत्रिक मूल्यों पर विश्वास रखने वाले सभी लोगों को कांग्रेस को मजबूत करने में मदद करनी चाहिए, उसे नीचा नहीं दिखाना चाहिए. गौर हो कि पिछले कुछ सालों में कांग्रेस के कई बड़े नेता पार्टी छोड़ चुके हैं. हाल ही में ज्योतिरादित्य सिंधिंया ने भी कांग्रेस का दाम छोड़ा था. जिसकी वजह से पार्टी की जमकर किरकिरी हुई थी. 

  • राजस्थान का सियासी घमासान: सचिन पायलट बोले- BJP में नहीं होऊंगा शामिल

    राजस्थान का सियासी घमासान: सचिन पायलट बोले- BJP में नहीं होऊंगा शामिल

    बता दें कि सचिन पायलट कल दिल्ली पहुंचे थे. उसी के बात से कहा जा रहा है कि राजस्थान सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. सूत्रों ने दावा किया था सचिन पायलट के पास कई विधायकों का समर्थन है और वह बीजेपी नेताओं के संपर्क में हैं. इसके बाद से ही कयासों का दौर तेज हो चला था. जिस पर खुद सचिन पायलट ने विरमा लगा दिया है. उन्होंने कहा कि वह बीजेपी में शामिल नहीं होंगे. 

  • राजस्थान के सियासी घमासान पर BJP रख रही है नज़र, वसुंधरा राजे बोलीं - सचिन पायलट के साथ हुआ अन्याय

    राजस्थान के सियासी घमासान पर BJP रख रही है नज़र, वसुंधरा राजे बोलीं - सचिन पायलट के साथ हुआ अन्याय

    बीजेपी अब इस बात पर इंतजार कर रही है कि सचिन पायलट का अगला कदम क्या होगा. हालांकि सूत्रों का कहना है कि सचिन की बगावत में बीजेपी की कोई भूमिका नहीं है, यह कांग्रेस की अंदरुनी लड़ाई है. जानकार बताते हैं कि राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार का गिरना आसान नहीं होगा. क्योंकि बीजेपी और कांग्रेस के बीच संख्या बल का बड़ा अंतर है. 

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com