NDTV Khabar

Bipin Rawat


'Bipin Rawat' - 191 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • CDS जनरल रावत ने अरुणाचल के सीमावर्ती क्षेत्रों में दूसरे दिन भारत की सैन्य तैयारियों की समीक्षा की

    CDS जनरल रावत ने अरुणाचल के सीमावर्ती क्षेत्रों में दूसरे दिन भारत की सैन्य तैयारियों की समीक्षा की

    चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने रविवार को अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) के अपने दौरे के दूसरे दिन वास्तविक नियंत्रण रेखा (Line of Actual Control) के पास कई अग्रिम अड्डों पर भारत की सुरक्षा तैयारियों का जायजा लिया.

  • चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ जनरल बिपिन रावत ने अरुणाचल में सैन्य तैयारियों का लिया जायजा

    चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ जनरल बिपिन रावत ने अरुणाचल में सैन्य तैयारियों का लिया जायजा

    इससे पहले नवंबर में सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे ने सेना की पूर्वी कमान के विभिन्न अड्डों का तीन दिवसीय दौरा किया था. कोलकाता में स्थित पूर्वी कमान के मुख्यालय पर अरुणाचल प्रदेश के साथ-साथ सिक्किम के सेक्टरों की सुरक्षा की भी जिम्मेदारी है.

  • भारतीय फोर्स लद्दाख में किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार : जनरल बिपिन रावत

    भारतीय फोर्स लद्दाख में किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार : जनरल बिपिन रावत

    प्रमुख रक्षा अध्यक्ष (CDS) जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने सोमवार को कहा कि पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) लद्दाख में चीन-भारत गतिरोध के बीच चीन के तिब्बत स्वायत्त क्षेत्र में विकास गतिविधियों को अंजाम दे रही है. उन्होंने कहा कि भारतीय बल किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पूरी तरह तैयार हैं और देश में भी वैसी ही गतिविधियां अंजाम दी जा रही हैं.

  • सेनाओं के एकीकरण में आ रहीं मुश्क‍िलें, हम उस ओर बढ़ रहे हैं : जनरल बिपिन रावत

    सेनाओं के एकीकरण में आ रहीं मुश्क‍िलें, हम उस ओर बढ़ रहे हैं : जनरल बिपिन रावत

    चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने सोमवार को कहा कि थल सेना (Army), नौसेना (Navy) और वायुसेना (Air Force) के एकीकरण (Armed forces integration) में दिक्कतें तो आ रही हैं लेकिन इसमें आ रही दिक्कतों को दूर किया जा रहा है.

  • हमारे पास मजबूत सैन्य बल नहीं हो तो विरोधी इसका फायदा उठा सकते हैं : जनरल रावत

    हमारे पास मजबूत सैन्य बल नहीं हो तो विरोधी इसका फायदा उठा सकते हैं : जनरल रावत

    अलग-अलग देशों के रक्षा अधिकारियों की मौजूदगी में जनरल रावत ने कहा, ‘‘हम उन सबकी मदद करना चाहते हैं जिन्हें हमारे सहयोग की जरूरत है खासकर उन देशों को जो कठिन समय से गुजर रहे हैं और अच्छी हथियार प्रणाली चाहते हैं.’’वायु सेना प्रमुख आर के एस भदौरिया ने कहा कि भारत के विरोधियों से खतरा ‘गहरा और दीर्घकालिक’ है.

  • 'सीमा पर टकराव से बढ़ा संघर्ष, नियंत्रण रेखा पर बदलाव किसी भी हाल में मंजूर नहीं': जनरल रावत

    'सीमा पर टकराव से बढ़ा संघर्ष, नियंत्रण रेखा पर बदलाव किसी भी हाल में मंजूर नहीं': जनरल रावत

    रावत ने कहा, "लद्दाख में भारतीय सैनिकों को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के दुस्साहस की वजह से 'अप्रत्याशित परिणामों' का सामना करना पड़ा. हमारी पोजीशन पर कोई सवाल नहीं है. हम वास्तविक नियंत्रण रेखा में किसी भी बदलाव को स्वीकार नहीं करेंगे.'

  • सरकार ने पूर्वी लद्दाख में संपूर्ण स्थिति, अभियानगत तैयारियों की व्यापक समीक्षा की

    सरकार ने पूर्वी लद्दाख में संपूर्ण स्थिति, अभियानगत तैयारियों की व्यापक समीक्षा की

    थलसेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे ने बैठक में पैंगोंग झील के उत्तर एवं दक्षिण किनारे पर भारतीय एवं चीनी बलों के फिर से आमने-सामने होने के संबंध में जानकारी दी और इस प्रकार की कोशिशों से प्रभावशाली तरीके से निपटने के लिए उठाए गए कदमों के बारे में बताया.

  • भारत-चीन तनाव के बीच जनरल रावत बोले - 'सेनाएं किसी भी स्थिति के लिए तैयार'

    भारत-चीन तनाव के बीच जनरल रावत बोले - 'सेनाएं किसी भी स्थिति के लिए तैयार'

    CDS जनरल बिपिन रावत (General Bipin Rawat) ने कहा है कि देश के सशस्‍त्र बल किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए तैयार हैं. रक्षा मामलों की संसदीय समिति के सामने सीडीएस ने यह बात कही.

  • वायुसेना के बेड़े में औपचारिक तौर पर आज शामिल होंगे 5 राफेल, 10 प्वाइंट्स में जानें इनकी खूबियां

    वायुसेना के बेड़े में औपचारिक तौर पर आज शामिल होंगे 5 राफेल, 10 प्वाइंट्स में जानें इनकी खूबियां

    पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ चल रही तनातनी के बीच 5 राफेल (Rafale) लड़ाकू विमानों की पहली खेप आज अंबाला एयरबेस पर औपचारिक रूप से भारतीय वायुसेना (Indian Air Force) में शामिल किया जाएगा. इस कार्यक्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh), फ्रांस के उनके समकक्ष फ्लोरेंस पार्ली (Florence Parly), CDS जनरल बिपिन रावत (Gen Bipin Rawat) ,वायुसेना प्रमुख आर के एस भदौरिया (RS Bhadauria) और रक्षा सचिव अजय कुमार (Ajay) शिरकत करेंगे. वायुसेना के एक प्रवक्ता ने कार्यक्रम को बल के इतिहास का बेहद महत्वपूर्ण मील का पत्थर करार देते हुए कहा, 'कार्यक्रम के दौरान राफेल विमान का औपचारिक अनावरण किया जाएगा. इसके बाग पारंपरिक 'सर्वधर्म पूजा' की जाएगी और राफेल और तेजस विमान हवाई करतब दिखाएंगे.

  • चीन के साथ जारी तनाव के बीच CDS जनरल रावत की पाकिस्‍तान को दोटूक, 'दुस्‍साहस किया तो भारी पड़ेगा'

    चीन के साथ जारी तनाव के बीच CDS जनरल रावत की पाकिस्‍तान को दोटूक, 'दुस्‍साहस किया तो भारी पड़ेगा'

    जनरल रावत ने कहा कि उत्तरी सीमा पर जारी तनाव का फायदा पाकिस्तान उठाने की कोशिश कर सकता है लेकिन हम इसका जवाब देने के लिये तैयार हैं. यह सुनिश्चित करने के लिये कि पाकिस्तान ऐसी कोई हरकत न कर पाए और अपने मिशन में कामयाब न हो, हमने पर्याप्त कदम उठाए हैं.

  • नए एयर डिफेंस कमान से जुड़ी घोषणा अक्टूबर तक : सूत्र

    नए एयर डिफेंस कमान से जुड़ी घोषणा अक्टूबर तक : सूत्र

    रक्षा मंत्रालय तीनों सेनाओं के बीच सामंजस्य के व्यापक सिद्धांत के तहत नई वायु रक्षा कमान की स्थापना के संदर्भ में अक्टूबर में घोषणा कर सकता है. इस मामले से जुड़े लोगों ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी.  उन्होंने कहा कि नयी वायु रक्षा कमान भारतीय सेना की मिसाइलों जैसी कुछ परिसंपत्तियों को संभालेगी.  तीनों सेनाओं (थल सेना, वायु सेना और नौ सेना) के बीच जुड़ाव पर ध्यान केंद्रित करते हुए नयी वायु रक्षा कमान की रूपरेखा तैयार करने के लिए इस साल एक उच्चस्तरीय समिति का गठन किया गया था. 

  • यदि चीन के साथ बातचीत नाकाम रही तो सैन्‍य विकल्‍प भी रास्‍ता: जनरल रावत

    यदि चीन के साथ बातचीत नाकाम रही तो सैन्‍य विकल्‍प भी रास्‍ता: जनरल रावत

    भारत और चीन के बीच अप्रैल-मई में शुरू हुए सीमा गतिरोध (Stand-off between India and China)की परिणति बाद में हिंसक झड़प के रूप में हुई थी. 15 जून को गलवान घाटी पर दोनों देशों के सैनिकों की हिंसक झड़प में 20 भारतीय सैनिकों को जान गंवानी पड़ी थी. झड़प में चीन को भी काफी नुकसान हुआ था.

  • पीएम मोदी ने लद्दाख यात्रा के दौरान सिंधु नदी के तट पर पूजा-अर्चना की

    पीएम मोदी ने लद्दाख यात्रा के दौरान सिंधु नदी के तट पर पूजा-अर्चना की

    PM Modi Ladakh Visit: पीएम मोदी ने लद्दाख में फॉरवर्ड ब्रिगेड में नीमू पहुंचने पर सिंधु नदी का दर्शन पूजा भी किया. बता दें कि लद्दाख में सिंधु नदी के तट पर हस साल सिंधु दर्शन महोत्सव मनाया जाता है. जून महीने के आखिरी हफ्ते में होने वाले इस महोत्सव में बड़ी संख्या में सैलानी पहुंचते हैं लेकिन इस साल कोरोना की वजह से यह महोत्सव नहीं हो पाया. यह महोत्सव शांति एकता और सांप्रदायिक सौहार्द का प्रतीक माना जाता है. 

  • जिस बात से है चीन को सबसे ज्यादा है चिढ़, उसे PM मोदी आज उसके 'दरवाजे' पर जाकर बोल आए

    जिस बात से है चीन को सबसे ज्यादा है चिढ़, उसे PM मोदी आज उसके 'दरवाजे' पर जाकर बोल आए

    चीनी सेना के साथ झड़प के बाद जारी तनाव के बीच आज पीएम नरेंद्र मोदी अचानक लद्दाख पहुंच गए. भारत के प्रधानमंत्री का इस इलाके में अचानक दौरे को चीन को पसंद नहीं आया है. चीन के विदेश मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि दोनों देशों के बीच कूटनीतिक और सैन्य स्तर पर बातचीत हो रही है ऐसें में किसी पक्ष को तनाव बढ़ाने वाले कदम नहीं उठाने चाहिए. लेकिन लद्दाख पहुंचे पीएम मोदी की बॉडी लैंग्वेज से अंदाजा लग रहा था कि वे चीन की किसी भी प्रोपेगेंडा में फंसने वाले नही हैं

  • PM मोदी लद्दाख में : इंदिरा गांधी के लेह दौरे की तस्वीर शेयर मनीष तिवारी ने कसा तंज- देखते हैं ये क्या करते हैं?

    PM मोदी लद्दाख में : इंदिरा गांधी के लेह दौरे की तस्वीर शेयर मनीष तिवारी ने कसा तंज- देखते हैं ये क्या करते हैं?

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लद्दाख का मुआयना किया है. बीते जून के महीने में चीनी सैनिकों के साथ झड़प में 20 भारतीय सैनिकों ने जान गंवा दी थी. पीएम  मोदी के साथ लद्दाख दौरे में सीडीएस बिपिन रावत भी मौजूद हैं. पीएम मोदी का यह दौरा चीन को एक कड़ा संदेश देने के तौर पर देखा जा रहा है वहीं ये भी साफ तौर पर बता दिया गया है कि भारतीय सेना के पीछे इस बार दृढ़ इच्छा शक्ति है. लेकिन इस बीच कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की एक तस्वीर शेयर कर सरकार पर तंज कसा है. उन्होंने ने इस तस्वीर को ट्वीटर पर शेयर कहा है, उनके (इंदिरा गांधी) लेह दौरे के बाद पाकिस्तान दो भागों में टूट गया था, अब देखते हैं कि यह क्या करते हैं'? 

  • भारत-चीन भिड़ंत के बाद सैनिकों से मुलाकात के लिए लेह पहुंचे PM नरेंद्र मोदी, देखें तस्वीरें

    भारत-चीन भिड़ंत के बाद सैनिकों से मुलाकात के लिए लेह पहुंचे PM नरेंद्र मोदी, देखें तस्वीरें

    भारत और चीन में तनाव के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) शुक्रवार की सुबह लद्दाख के लेह पहुंचे. यहां उन्होंने सीमा पर मौजूद जवानों से मुलाकात की और उनका हौसला अफजाई किया. इस दौरान चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत (Bipin Rawat) भी मौजूद रहे.

  • PM नरेंद्र मोदी पहुंचे लेह, CDS जनरल बिपिन रावत भी मौजूद, चीन से झड़प में यहीं गंवाई थी 20 जवानों ने जान

    PM नरेंद्र मोदी पहुंचे लेह, CDS जनरल बिपिन रावत भी मौजूद, चीन से झड़प में यहीं गंवाई थी 20 जवानों ने जान

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार की सुबह लद्दाख के लेह पहुंचे हैं. उनकी यह यात्रा पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ भारतीय जवानों की हिंसक झड़प के बाद हो रही है. 15 जून की रात हुई इस हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवानों ने अपनी जान गंवा दी थी. प्रधानमंत्री मोदी यहां की स्थिति की समीक्षा करने के लिए इस दौरे पर गए हैं.

  • भारत-चीन में तनाव के बीच CDS जनरल बिपिन रावत लद्दाख रवाना, सेनाधिकारियों के साथ करेंगे मीटिंग

    भारत-चीन में तनाव के बीच CDS जनरल बिपिन रावत लद्दाख रवाना, सेनाधिकारियों के साथ करेंगे मीटिंग

    भारत-चीन के बीच जारी तनाव के दौरान चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (CDS) जनरल बिपिन रावत (Bipin Rawat) शुक्रवार को लद्दाख दौरा करने के लिए रवाना हो गए हैं. लद्दाख में बिपिन रावत कोर हेडक्वार्टर में सेना के अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे. पहले आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) का लद्दाख जाने का कार्यक्रम था, लेकिन अब वो आज ना जाकर आगे किसी और दिन जाएंगे.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com