NDTV Khabar

EPF


'EPF' - 74 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • लॉकडाउन के बाद 38.71 लाख EPF खातों से हुई 44,000 करोड़ रुपये की निकासी: श्रम मंत्री

    लॉकडाउन के बाद 38.71 लाख EPF खातों से हुई 44,000 करोड़ रुपये की निकासी: श्रम मंत्री

    यह राशि उन उद्यमों की जमा कराई गई जहां 100 से कम कर्मचारी काम करते हैं और ऐसे 90 प्रतिशत कर्मचारियों की कमाई 15,000 रुपये मासिक से कम थी. इसके साथ ही सरकार ने ईपीएफ में योगदान को भी 12 से घटाकर 10 प्रतिशत कर दिया था ताकि कर्मचारी के हाथ में ज्यादा नकदी मिल सके. यह प्रावधान मई, जून और जुलाई 2020 के लिये किया गया.

  • कोरोना वायरस संक्रमण ने नौकरियां छीनीं, अब गुजर-बसर के लिए पीएफ का सहारा

    कोरोना वायरस संक्रमण ने नौकरियां छीनीं, अब गुजर-बसर के लिए पीएफ का सहारा

    कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमण और लॉकडाउन (Lockdown) ने लोगों की कमर तोड़कर रख दी है. यही वजह है कि कर्मचारियों को कर्मचारी भविष्य निधि, यानी ईपीएफ (EPF) खातों में जमा पूंजी निकालकर काम चलाना पड़ा. ये वे कर्मचारी हैं जिनकी कोरोना वायरस और लॉकडाउन के कारण नौकरी चली गई है या वेतन में कटौती की गई है.

  • वाराणसी में पीएफ से पैसे निकालने वालों की तादाद 50 फीसदी बढ़ी

    वाराणसी में पीएफ से पैसे निकालने वालों की तादाद 50 फीसदी बढ़ी

    वाराणसी के पीएफ दफ्तर में इन दिनों कोविड काल में नौकरी जाने, वेतन न मिलने, वेतन देरी से मिलने की वजह से लोग अपने पैसे पीएफ से निकालने के लिए आ रहे हैं. इनकी संख्या आम दिनों से लगभग 50 फ़ीसदी ज्यादा हो गई है. वाराणसी के पीएफ दफ्तर के बगल में जन सेवा केंद्र में मेरी मुलाकात चुन्नी देवी से हुई. चुन्नी देवी वाराणसी के चौसठी घाट के पास ठेकेदार के अंडर में सफाई का काम करती हैं. कोविड काल में उन्हें तनख्वाह कम मिली लिहाजा आमदनी कम हुई. अब अपना पीएफ निकालने आई हैं, क्योंकि बेटी की शादी करनी है. आमदनी का दूसरा कोई जरिया नहीं है तो पीएफ के पैसे का ही भरोसा है.

  • कोरोना का असर : PF से रिकॉर्ड निकासी, चार महीनों में 35445 करोड़ रुपये निकाले गए

    कोरोना  का असर : PF से रिकॉर्ड निकासी, चार महीनों में 35445 करोड़ रुपये निकाले गए

    कोरोना वायरस (Coronavirus) महामारी और लॉकडाउन के कारण जहां उद्योग-धंधे चौपट हो गए वहीं नौकरीपेशा लोगों के लिए यह महामारी विकराल संकट बनकर आई. रोजगार छिन गए और बेरोजगारी बढ़ गई. रोजगार छिनने के कारण बड़ी संख्या में लोगों ने पीएफ निकासी का सहारा लिया. यही कारण है कि श्रम मंत्रालय के ताजा आकड़ों के मुताबिक अप्रैल से अगस्त 2020 के दौरान कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने 94.41 लाख पीएफ निकासी के आवेदनों का निपटारा किया. इन चार महीनों में 35445 करोड़ की राशि पीएफ धारकों ने निकाली. यह अप्रैल-अगस्त, 2019 के मुकाबले 32% ज्यादा है.

  • कोरोनावायरस लॉकडाउन में PF का पैसा निकालना चाहते हैं तो जान लें, क्या हैं नए नियम

    कोरोनावायरस लॉकडाउन में PF का पैसा निकालना चाहते हैं तो जान लें, क्या हैं नए नियम

    लॉकडाउन में अगर आप अपने प्रॉविडेंट फंड अकाउंट (Employee Provident Fund Account) से पैसे निकालना चाहते हैं तो यह इस वक्त संभव है. यानी कि इस कैश क्रंच में आपके पास अपने PF का पैसा निकालने का विकल्प है. 28 मार्च, 2020 को केंद सरकार ने इसकी घोषणा की थी.

  • व्‍यवसायों-कर्मचारियों के लिए बड़ा फैसला, तीन माह के लिए EPF योगदान कम करके 10% किया, क्‍या है इसके मायने..

    व्‍यवसायों-कर्मचारियों के लिए बड़ा फैसला, तीन माह के लिए EPF योगदान कम करके 10% किया, क्‍या है इसके मायने..

    नियोक्ताओं द्वारा सांविधिक पीएफ योगदान को मौजूदा 12 प्रतिशत से कम कर 10 प्रतिशत किया गया, इससे उनके पास 6,750 करोड़ रुपये की अतिरिक्त नकदी उपलब्ध होगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा मंगलवार को राष्‍ट्र के नाम संबोधन के दौरान घोषित किए गए आर्थि‍क पैकेज के तहत यह कदम उठाया गया है. इससे कर्मचारी के मासिक वेतन की राशि में कुछ इजाफा होगा.

  • कोरोनावायरस के मद्देनजर इन कंपनियों, कर्मचारियों को बड़ी राहत, 3 महीने तक EPF खाते में पैसे डालेगी सरकार

    कोरोनावायरस के मद्देनजर इन कंपनियों, कर्मचारियों को बड़ी राहत, 3 महीने तक EPF खाते में पैसे डालेगी सरकार

    वित्त मंत्री ने कहा कि भारत सरकार अगले तीन महीने तक कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) में कर्मचारी और नियोक्ता के योगदान (12%+12%= कुल 24%) का भुगतान करेगी. यह लाभ उन संस्थानों को मिलेगा, जिनमें 100 से कम कर्मचारी हैं, उनमें से 90 प्रतिशत का मासिक वेतन 15,000 रुपये से कम है.

  • 6 करोड़ EPFO अंशधारकों को झटका, EPF पर ब्याज दर को 8.65% से घटाकर 8.50% किया गया

    6 करोड़ EPFO अंशधारकों को झटका, EPF पर ब्याज दर को 8.65% से घटाकर 8.50% किया गया

    कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने 2019-20 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) पर ब्याज दर को घटाकर 8.50 प्रतिशत कर दिया है. केंद्रीय श्रम मंत्री संतोष गंगवार ने गुरुवार को यह जानकारी दी. इससे पहले 2018-19 में ईपीएफ पर ब्याज दर 8.65 प्रतिशत थी.

  • श्रम मंत्रालय EPF जमा पर 8.65 प्रतिशत की ब्याज दर कायम रखने का इच्छुक

    श्रम मंत्रालय EPF जमा पर 8.65 प्रतिशत की ब्याज दर कायम रखने का इच्छुक

    श्रम मंत्रालय कर्मचारी भविष्य निधि जमा पर चालू वित्त वर्ष 2019-20 के लिए 8.65 प्रतिशत की ब्याज दर को कायम रखने का इच्छुक है. एक सूत्र ने यह जानकारी दी. कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के करीब छह करोड़ अंशधारक हैं. समझा जाता है कि ईपीएफओ के शीर्ष निर्णय लेने वाला निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड (सीबीटी) की पांच मार्च, 2020 को होने वाली बैठक में कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) जमा पर ब्याज दर तय करेगा.

  • प्रशासनिक काम में लगे MNREGA कर्मियों को मिलेगा EPF का लाभ, UP के सोनभद्र जिले से हुई शुरुआत

    प्रशासनिक काम में लगे MNREGA कर्मियों को मिलेगा EPF का लाभ, UP के सोनभद्र जिले से हुई शुरुआत

    महात्‍मा गांधी राष्‍ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना (MNREGA) के तहत काम पाने वाले लोगों को कर्मचारी भविष्‍य निधि (EPF) की सुविधा मिलनी शुरू हो गई है. यह सुविधा फिलहाल उत्‍तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के मनरेगा कर्मियों को दी जा रही है.

  • वित्त वर्ष 2018-19 में EPF पर मिलेगा 8.65 प्रतिशत, अधिसूचना जारी

    वित्त वर्ष 2018-19 में EPF पर मिलेगा 8.65 प्रतिशत, अधिसूचना जारी

    श्रम मंत्रालय ने कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) पर वित्त वर्ष 2018-19 के लिए 8.65 प्रतिशत की ब्याज दर को अधिसूचित कर दिया है.

  • EPFO अंशधारकों को साल 2018-19 में मिलेगा 8.65 फीसदी की दर से ब्याज, अधिसूचना जारी

    EPFO अंशधारकों को साल 2018-19 में मिलेगा 8.65 फीसदी की दर से ब्याज, अधिसूचना जारी

    एक सूत्र ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी देते हुए कहा कि बढ़ी हुई ब्याज दर कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के छह करोड़ से अधिक अंशधारकों के खातों में डाली जाएगी. ईपीएफओ फिलहाल निकासी दावों का निपटान 2017-18 के लिये निर्धारित 8.55 प्रतिशत ब्याज पर कर रहा था.

  • EPFO सदस्यों को 2018-19 के लिए मिलेगा 8.65 प्रतिशत ब्याज: श्रम मंत्री

    EPFO सदस्यों को 2018-19 के लिए मिलेगा 8.65 प्रतिशत ब्याज: श्रम मंत्री

    ईपीएफओ के लिए निर्णय लेने वाले शीर्ष निकाय केंद्रीय न्यासी बोर्ड ने इस साल फरवरी में बीते वित्त वर्ष के लिए 8.65 प्रतिशत की दर से ब्याज देने की अनुमति दी थी.

  • सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से लाखों निजी कर्मचारियों की तीन सौ प्रतिशत तक बढ़ जाएगी पेंशन!

    सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से लाखों निजी कर्मचारियों की तीन सौ प्रतिशत तक बढ़ जाएगी पेंशन!

    Employee's Pension Scheme (EPS):सुप्रीम कोर्ट(Supreme Court) ने केंद्र सरकार को बड़ा झटका देते हुए निजी सेक्टर( Private Employee's) के लाखों कर्मचारियों को भारी राहत दी है. सुप्रीम कोर्ट के फैसले से कर्मचारी भविष्य निधि(EPF) में अंशदान करने वाले लाखों कर्मचारियों की पेंशन(Pension) एक झटके में कई गुना तक बढ़ सकती है.

  • नौकरी बदलने पर खुद-ब-खद होगा ईपीएफ ट्रांस्फर, ईपीएफओ कर रहा तैयारी

    नौकरी बदलने पर खुद-ब-खद होगा ईपीएफ ट्रांस्फर, ईपीएफओ कर रहा तैयारी

    कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) के सदस्यों को अगले वित्त वर्ष से नौकरी बदलने पर ईपीएफ राशि स्थानांतरण करने का अनुरोध करने की आवश्यकता नहीं होगी. इस प्रक्रिया को स्वचालित बनाने पर काम चल रहा है. श्रम मंत्रालय के एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी. अभी ईपीएफओ के सदस्यों को सार्वभौमिक खाता संख्या (यूएएन) रखने के बाद भी ईपीएफ स्थानांतरण करने के लिये अलग से अनुरोध करना पड़ता है.

  • लोकसभा चुनाव से पहले नौकरीपेशा लोगों के लिए खुशखबरी, PF खाते पर अब मिलेगा इतना ब्‍याज

    लोकसभा चुनाव से पहले नौकरीपेशा लोगों के लिए खुशखबरी, PF खाते पर अब मिलेगा इतना ब्‍याज

    लोकसभा चुनाव से पहले कर्मचारी भविष्‍य निधि संगठन (EPFO) ने कर्मचारी प्रॉविडेंट फंड पर साल 2018-19 के लिए ब्‍याज की दर 8.55% से बढ़ाकर 8.65% की. सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टी ने इसे मंजूरी दे दी है. श्रम मंत्री संतोष कुमार गंगवार ने इसकी जानकारी दी.

  • लोकसभा चुनाव से पहले EPFO आज ब्याज दर पर कर सकता है बड़ा ऐलान

    लोकसभा चुनाव से पहले EPFO आज ब्याज दर पर कर सकता है बड़ा ऐलान

    इसके लिए श्रम मंत्रालय में आज तीन बजे सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज की बैठक होगी. इससे पहले सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज की फाइनेंस एंड इंवेस्टमेंट कमेटी की एक अहम बैठक हो रही है. इसमें ईपीएफओ के वित्तिय हालत की समीक्षा की जा रही है. ईपीएफओ के पास सरप्लस फंड की उपलब्धता के आधार पर कमेटी नए वित्त वर्ष के लिए ब्याज दर पर पनी सिफारिश सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज के सामने रखेगी.

  • UMANG ऐप की मदद से स्मार्टफोन पर ऐसे चेक करें अपना PF बैलेंस

    UMANG ऐप की मदद से स्मार्टफोन पर ऐसे चेक करें अपना PF बैलेंस

    उमंग ऐप (UMANG App) के जरिए PF बैलेंस चेक करने का तरीका क्या है। आइए आपको इस बात की जानकारी देते हैं।

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com