NDTV Khabar

Final


'Final' - 901 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • फाइनल ईयर की परीक्षाओं के मामले में सुनवाई SC में 18 अगस्त तक टली

    फाइनल ईयर की परीक्षाओं के मामले में सुनवाई SC में 18 अगस्त तक टली

    Final Year Exams 2020:  सितंबर के अंत तक देश भर के विश्वविद्यालयों में फाइनल ईयर की परीक्षाएं (Final Year Exams) आयोजित कराने वाले यूजीसी (UGC) के निर्णय को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में आज एक बार फिर से सुनवाई हुई. परीक्षा देने वाले छात्र उम्मीद कर रहे थे कि सुप्रीम कोर्ट की तरफ से परीक्षाओं को लेकर आज कोई अहम घोषणा की जा सकती है. लेकिन यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की फाइनल ईयर की परीक्षाओं (Final Year Exams) को लेकर अभी तक कोई अंतिम फैसला नहीं लिया गया है. अंतिम वर्ष की परीक्षा रद्द करने की मांग वाली याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई 18 अगस्त  तक के लिए टल गई है. सुप्रीम कोर्ट में आज सुनवाई पूरी नहीं हो पाई.

  • UGC ने कोर्ट से कहा, छात्रों के अकेडमिक करियर में अंतिम परीक्षा अहम

    UGC ने कोर्ट से कहा, छात्रों के अकेडमिक करियर में अंतिम परीक्षा अहम

    Final Year Exams 2020: विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने उच्चतम न्यायालय से कहा कि विद्यार्थी के अकादमिक करियर में अंतिम परीक्षा ‘ महत्वपूर्ण' होती है और राज्य सरकार यह नहीं कह सकती कि कोविड-19 महामारी के मद्देनजर 30 सितंबर तक विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों से परीक्षा कराने को कहने वाले उसके छह जुलाई के निर्देश ‘ बाध्यकारी नहीं' है. यूजीसी ने कहा कि छह जुलाई को उसके द्वारा जारी दिशा-निर्देश विशेषज्ञों की सिफारिश पर अधारित हैं और उचित विचार-विमर्श कर यह निर्णय लिया गया. आयोग ने कहा कि यह दावा गलत है कि दिशा-निर्देशों के अनुसार अंतिम परीक्षा कराना संभव नहीं है. 

  • UGC ने SC में दाखिल किया हलफनामा, कहा- परीक्षाएं आयोजित कराने की जिम्मेदारी यूजीसी की है राज्य सरकार की नहीं

    UGC ने SC में दाखिल किया हलफनामा, कहा- परीक्षाएं आयोजित कराने की जिम्मेदारी यूजीसी की है राज्य सरकार की नहीं

    देश भर के विश्वविद्यालयों में अंतिम वर्ष की परीक्षा (Final Year Exams) रद्द करने की मांग वाली याचिकाओं के जवाब में यूजीसी (UGC) ने सुप्रीम कोर्ट (SC) में हलफ़नामा दाखिल कर दिया है. यूजीसी ने दिल्ली सरकार और महाराष्ट्र सरकार द्वारा अपने-अपने राज्य की यूनिवर्सिटी में अंतिम वर्ष की परीक्षाएं रद्द करने के फ़ैसले पर विरोध जाहिर किया है. यूजीसी (UGC) ने कहा है कि यूजीसी एक स्वतंत्र संस्था है, विश्वविद्यालयों में परीक्षाओं के आयोजन का ज़िम्मा यूजीसी का है न कि किसी राज्य सरकार का. यूजीसी ने अपने हलफनामे में फिर दोहराया है कि वह सितंबर तक परीक्षाओं के आयोजन के हक़ में हैं, जो कि छात्रों के भविष्य के हित के मद्देनज़र सही है. बता दें कि सितंबर के अंत तक देश भर के विश्वविद्यालयों में फाइनल ईयर परीक्षा (Final Year Exams) करवाने वाले यूजीसी (UGC) के निर्णय को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में कल एक बार फिर से सुनवाई होने वाली है.

  • फाइनल ईयर एग्जाम पर SC में आज फिर होगी सुनवाई

    फाइनल ईयर एग्जाम पर SC में आज फिर होगी सुनवाई

    Final Year Exams 2020:  यूनिवर्सिटी और कॉलेजों की फाइनल ईयर की परीक्षाओं (Final Year Exams) को लेकर अभी तक कोई अंतिम फैसला नहीं लिया गया है. लाखों छात्रों की नजरें इस बात पर टिकी हैं कि क्या फाइनल ईयर की परीक्षाएं आयोजित कराई जाएंगी या फिर उन्हें कैंसिल किया जाएगा? सभी को सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार है.  सितंबर के अंत तक देश भर के विश्वविद्यालयों में फाइनल ईयर परीक्षा (Final Year Exams) करवाने वाले यूजीसी (UGC) के निर्णय को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में आज एक बार फिर से सुनवाई होने वाली है. उम्मीद की जा रही है कि आज इस मसले पर सुप्रीम कोर्ट अपना कोई अहम निर्णय दे सकता है. 

  • DU की ऑनलाइन परीक्षाएं छात्रों के लिए बनीं चिंता का सबब, कभी वेबसाइट क्रैश तो कभी इंटरनेट स्लो

    DU की ऑनलाइन परीक्षाएं छात्रों के लिए बनीं चिंता का सबब, कभी वेबसाइट क्रैश तो कभी इंटरनेट स्लो

    DU Online Exams 2020: दिल्ली विश्वविद्यालय के अंतिम वर्ष की ऑनलाइन परीक्षा (Final Year Online Exams) हजारों छात्रों के लिए मानसिक चिंता का सबब बनी हुई हैं. तकनीकी खामी और इंटरनेट स्लो होने की शिकायतें बड़े पैमाने पर आ रही हैं. दूर दराज या ग्रामीण परिवेश के छात्रों के लिए ऑनलाइन परीक्षा (DU Online Exams) बड़ा सिरदर्द बन गया है.  दरअसल, खराब इंटरनेट की वजह से सबसे ज्यादा दिक्कतें ग्रामीण इलाकों के छात्रों को हो रही हैं. कई छात्रों ने परीक्षा के दौरान वेबसाइट क्रैश होने या इंटरनेट स्लो होने की शिकायत भी की है. बता दें कि दिल्ली विश्वविद्यालय (Delhi University) में करीब 2 लाख से ज्यादा छात्र ऑनलाइन परीक्षा दे रहे हैं. 

  • UGC ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- राज्य नहीं कर सकते फाइनल ईयर की परीक्षाएं कैंसिल

    UGC ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- राज्य नहीं कर सकते फाइनल ईयर की परीक्षाएं कैंसिल

    विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने कोविड-19 महामारी के दौरान दिल्ली और महाराष्ट्र में राज्य के विश्वविद्यालयों में अंतिम वर्ष की परीक्षायें (Final Year Exams) रद्द करने के निर्णय पर सोमवार को उच्चतम न्यायालय में सवाल उठाये और कहा कि ये नियमों के विरूद्ध है. न्यायमूर्ति अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली पीठ के समक्ष सॉलिसीटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि राज्य विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) के नियम नहीं बदल सकते हैं, क्योंकि सिर्फ यूजीसी को ही डिग्री प्रदान करने के लिये नियम बनाने का अधिकार है. इस मामले की वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सुनवाई के दौरान मेहता ने कहा कि परीक्षायें नहीं कराना छात्रों के हित में नहीं है और अगर राज्य अपने मन से कार्यवाही करेंगे तो संभव है कि उनकी डिग्री मान्य नहीं हो. शीर्ष अदालत कोविड-19 (Covid-19) महामारी के दौरान अंतिम वर्ष की परीक्षायें आयोजित करने के यूजीसी के छह जुलाई के निर्देश के खिलाफ दायर याचिकाओं पर सुनवाई कर रही थी.

  • फाइनल ईयर एग्जाम पर SC में सुनवाई, SG ने कहा- परीक्षा कराई जाएंगी या नहीं यह फैसला UGC करेगा

    फाइनल ईयर एग्जाम पर SC में सुनवाई, SG ने कहा- परीक्षा कराई जाएंगी या नहीं यह फैसला UGC करेगा

    Final Year Exams 2020: कोरोनावायरस महामारी के बीच यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में अंतिम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित करना एक बड़ा मुद्द बना हुआ है. कोरोना काल में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में अंतिम वर्ष की परीक्षाओं को रद्द करने की याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट में एक बार फिर से सुनवाई हुई. सुनवाई के दौरान UGC ने दिल्ली और महाराष्ट्र सरकार के अंतिम वर्ष की परीक्षा रद्द करने के फैसले पर सवाल उठाए हैं. UGC की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कोर्ट में कहा कि परीक्षा आयोजित की जाएंगी या नहीं, यह फैसला UGC ही कर सकता है, क्योंकि सिर्फ UGC ही डिग्री प्रदान कर सकता है. कोर्ट ने UGC से इस मसले पर अपना जवाब दाखिल करने के लिए कहा है. अब इस मामले में अगली सुनवाई 14 अगस्त को की जाएगी.

  • फाइनल ईयर एग्जाम पर SC में आज होगी सुनवाई, क्या कैंसिल होंगी परीक्षाएं?

    फाइनल ईयर एग्जाम पर SC में आज होगी सुनवाई, क्या कैंसिल होंगी परीक्षाएं?

    Final Year Exams 2020: कोरोनावायरस काल में यूनिवर्सिटी और कॉलेजों के अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षाएं आयोजित कराना एक बड़ा मसला बना हुआ है. सितंबर के अंत तक देश भर के विश्वविद्यालयों में फाइनल ईयर परीक्षा (Final Year Exams) करवाने वाले यूजीसी (UGC) के निर्णय को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में आज एक बार फिर से सुनवाई होने वाली है. उम्मीद की जा रही है कि आज इस मसले पर सुप्रीम कोर्ट अपना कोई अहम निर्णय दे सकता है. देशभर के तमाम अंतिम वर्ष के स्टूडेंट्स की निगाहें इसी बात पर टिकी हैं कि आखिरी सुप्रीम कोर्ट परीक्षाओं को लेकर क्या निर्णय लेता है. 

  • DU Open Book Exam 2020: दिल्ली विश्वविद्यालय में कल से शुरू होगी ओपन बुक परीक्षा

    DU Open Book Exam 2020: दिल्ली विश्वविद्यालय में कल से शुरू होगी ओपन बुक परीक्षा

    विश्वविद्यालय ने पहले कहा था कि जो छात्र 10 अगस्त से 31 अगस्त तक ओबीई परीक्षा में छूट जाते हैं, उन्हें 15 सितंबर के बाद होने वाली अतिरिक्त परीक्षाओं में उपस्थित होने का एक और मौका दिया जाएगा.

  • BHU Exams 2020: बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी इस तरह कराएगी अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षा

    BHU Exams 2020: बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी इस तरह कराएगी अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षा

    BHU Exams 2020: देश में कोरोनावायरस संक्रमित लोगों की संख्या लगातार तेजी से बढ़ रही है. कोरोनावायरस से पनपे हालातों के मद्देनजर बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (BHU) ने अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए असाइनमेंट बेस्ड परीक्षा आयोजित करने का फैसला किया है. एग्जीक्यूटिव काउंसिल ने शैक्षणिक सत्र 2019-20 के लिए इंटरमीडिएट और अंतिम सेमेस्टर के छात्रों के लिए असाइनमेंट बेस्ड परीक्षा के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है. इस के लिए छात्रों को उनके संबंधित शिक्षकों द्वारा असाइनमेंट दिया जाएगा, जिसे पूरा करने के लिए स्टूडेंट्स को पंद्रह दिनों की समय सीमा दी जाएगी. असाइनमेंट छात्रों को ईमेल पर भेजा जाएगा, जो बाद में उसी फॉर्मेट में सबमिट किया जा सकता है. मूल्यांकन के बाद 31 अगस्त तक पोर्टल पर संबंधित शिक्षक द्वारा मार्क्स अपलोड कर दिए जाएंगे. 

  • UPSC : सिविल सेवा परीक्षा में दूसरी रैंक लाए जतिन किशोर ने दिया सफलता का मंत्र

    UPSC : सिविल सेवा परीक्षा में दूसरी रैंक लाए जतिन किशोर ने दिया सफलता का मंत्र

    एनडीटीवी से ख़ास बातचीत में रैंक 2  हासिल करने वाले जतिन किशोर ने अपनी परीक्षा की स्ट्रेटजी शेयर की और अपनी सफलता का मंत्र बताया . जतिन ने बताया कि इस वर्ष की परीक्षा में उन्होंने किन बातों का खासतौर पर ध्यान रखा और किस तरह से तैयारी की.

  • Final Year Exams: लखनऊ यूनिवर्सिटी सितंबर में आयोजित करेगी फाइनल ईयर एग्जाम, शेड्यूल जारी

    Final Year Exams: लखनऊ यूनिवर्सिटी सितंबर में आयोजित करेगी फाइनल ईयर एग्जाम, शेड्यूल जारी

    Final Year Exams 2020: लखनऊ विश्वविद्यालय (Lucknow University), उत्तर प्रदेश ने अंतिम वर्ष के पोस्टग्रेजुएट (PG) और अंडरग्रेजुएट (UG) कोर्स के छात्रों के लिए परीक्षा की तारीखों की घोषणा कर दी है. आधिकारिक जानकारी के अनुसार, अंतिम वर्ष की परीक्षाएं (Final Year Exams) 7 सितंबर से 26 सितंबर, 2020 के बीच पूरी की जाएंगी. अंतिम वर्ष की परीक्षाओं का यह शेड्यूल यूजीसी (UGC) की गाइडलाइन्स को ध्यान में रखकर तैयार किया गया है,  जिसमें बताया गया है कि विश्वविद्यालयों को अंतिम वर्ष या सेमेस्टर की परीक्षाएं 30 सितंबर तक पूरी करनी होंगी. 

  • Final Year Exams: फाइनल ईयर की परीक्षाओं पर अंतरिम रोक लगाने से SC ने किया इनकार

    Final Year Exams: फाइनल ईयर की परीक्षाओं पर अंतरिम रोक लगाने से SC ने किया इनकार

    उच्चतम न्यायालय ने कोविड-19 महामारी के बीच अंतिम वर्ष की परीक्षायें (Final Year Exams) सितंबर में कराने सबंधी विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) के दिशानिर्देश रद्द रने के लिये दायर याचिका पर शुक्रवार को कोई भी अंतरिम आदेश देने से इनकार कर दिया. न्यायालय ने केन्द्र से कहा कि गृह मंत्रालय को इस विषय पर अपना रूख साफ करना चाहिए. यूजीसी ने शीर्ष अदालत से कहा कि किसी को भी इस गफलत में नहीं रहना चाहिए कि चूंकि उच्चतम न्यायालय इस मसले पर विचार कर रहा है तो अंतिम साल और सेमेस्टर की परीक्षा पर रोक लग जायेगी. न्यायमूर्ति अशोक भूषण, न्यायमूर्ति आर सुभाष रेड्डी और न्यायमूर्ति एम आर शाह की पीठ ने वीडियो कान्फ्रेंस के जरिये सुनवाई के दौरान कहा कि वह इस विषय पर कोई अंतरिम आदेश पारित नहीं कर रहा है.

  • तीन दिवसीय स्‍मार्ट इंडिया हैकाथॉन के Grand Finale की शुरुआत कल, PM करेंगे संबोधित

    तीन दिवसीय स्‍मार्ट इंडिया हैकाथॉन के Grand Finale की शुरुआत कल, PM करेंगे संबोधित

    स्‍मार्ट इंडिया हैकाथॉन हमारे देश के सामने आने वाली चुनौतियों के समाधान और नई डिजिटल प्रौद्योगिकी नवाचारों की पहचान करने के लिए एक अनूठी पहल है. यह एक नॉन स्‍टॉप डिजिटल प्रोडक्‍ट डेवलपमेंट कांपिटीशन है जहां छात्रों की टेक्‍नॉलाजी समस्‍याओं के नवीन समाधान सुझाए जाते हैं.

  • Final Year Exams: सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई, SC ने कहा-UGC को गाइडलाइन्स बदलने का अधिकार

    Final Year Exams: सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई, SC ने कहा-UGC को गाइडलाइन्स बदलने का अधिकार

    Final Year Exams 2020: कोरोनावायरस महामारी के बीच यूनिवर्सिटी और कॉलेजों में अंतिम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित करना एक बड़ा मुद्द बना हुआ है. सितंबर के अंत तक देश भर के विश्वविद्यालयों में फाइनल ईयर परीक्षा (Final Year Exams) करवाने के यूजीसी (UGC) के निर्णय को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में आज फिर से सुनवाई हुई. याचिकर्ता की ओर से अभिषेक मनु सिंघवी ने कोर्ट से कहा कि अप्रैल के महीने में जारी हुई गाइडलाइन्स को यूजीसी (UGC) ने जुलाई के महीने में बदल दिया है. इस पर कोर्ट ने कहा कि यूजीसी को ऐसा करने का अधिकार है और वो ऐसा कर सकते हैं. 

  • फाइनल ईयर एग्जाम: UGC ने SC में दाखिल किया जवाब, कहा- परीक्षा का मकसद छात्रों का भविष्य संभालना है

    फाइनल ईयर एग्जाम: UGC ने SC में दाखिल किया जवाब, कहा- परीक्षा का मकसद छात्रों का भविष्य संभालना है

    Final Year Exams 2020: विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) ने सुप्रीम कोर्ट (SC) में अपना जवाब दाखिल किया है, जिसमें कहा गया है कि फ़ाइनल ईयर की परिक्षाएं (Final Year Exams) 30 सितंबर तक आयोजित करवाने का मक़सद छात्रों का भविष्य संभालना है, ताकि छात्रों के अगले साल की पढ़ाई में कोई रुकावट न आए. आगे कहा गया है कि टर्मिनल वर्ष के दौरान अंतिम वर्ष के छात्रों के लिए परीक्षाएं आयोजित कर के उनके द्वारा अध्ययन किए गए" विशेष इलेक्टिव पाठ्यक्रमों” का परीक्षण करना आवश्यक है. यूजीसी ने अपने जवाब में याचिकर्ताओं और विभिन्न राज्य सरकार की चिंताओं को पर्याप्त रूप से संबोधित किया है. UGC ने कोर्ट से सभी याचिकाओं को खारिज करने की मांग हलफनामा में की है. UGC ने कहा है कि टर्मिनल परीक्षा का आयोजन एक "समय-संवेदनशील" मुद्दा है और HRD के दिशा- निर्देशों का पालन करके विशेषज्ञों के साथ विचार-विमर्श के बाद ये परीक्षाएं कराने निर्णय लिया गया था.

  • Final Year Exams 2020: इस राज्य में सितंबर में होंगे UG और PG कोर्स के फाइनल ईयर एग्जाम, छात्र घर से दे सकेंगे परीक्षा

    Final Year Exams 2020: इस राज्य में सितंबर में होंगे UG और PG कोर्स के फाइनल ईयर एग्जाम, छात्र घर से दे सकेंगे परीक्षा

    Final Year Exams 2020: मध्य प्रदेश में ग्रेजुएशन (UG) और पोस्ट-ग्रेजुएशन (PG) फाइनल ईयर एग्जाम यूजीसी की गाइडलाइन्स (UGC Exams Guidelines) के मुताबिक सितंबर के महीने में आयोजित किए जाएंगे. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Madhya Pradesh Chief Minister Shivraj Singh Chouhan) ने ऐलान किया कि परीक्षाएं आयोजित होने के बाद रिजल्ट अक्टूबर के महीने में जारी किया जाएगा. लेकिन खास बात है कि यूनिवर्सिटी की फाइनल ईयर (University Final Year Exams 2020) की परीक्षा देने के लिए स्टूडेंट्स को परीक्षा केंद्रों या यूनिवर्सिटी में नहीं जाना होगा, बल्कि छात्र घरों में रहकर ही परीक्षाएं दे सकेंगे.

  • Final Year Exams 2020: फाइनल ईयर एग्जाम पर SC ने UGC से मांगा जवाब, 31 जुलाई को अगली सुनवाई

    Final Year Exams 2020: फाइनल ईयर एग्जाम पर SC ने UGC से मांगा जवाब,  31 जुलाई को अगली सुनवाई

    Final Year Exams 2020: फाइनल ईयर एग्जाम को लेकर अंतिम फैसला नहीं हो पा रहा है. फाइनल ईयर एग्जाम के खिलाफ दायर याचिका पर आज सोमवार को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई है. सुप्रीम कोर्ट ने यूनिवर्सिटी ग्रांट कमिशन (UGC) से परीक्षा रद्द करने या स्थगित करने पर दो दिनों में जवाब मांगा है. वहीं, सुनवाई के दौरान UGC ने कोर्ट में कहा कि अधिकांश जगह परीक्षाएं हो चुकी हैं या होने वाली हैं. इस मसले पर अब सुप्रीम कोर्ट शुक्रवार यानी 31 जुलाई को सुनवाई करेगा. 

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com