NDTV Khabar

GI Tag


'GI tag' - 5 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • बासमती चावल GI टैग मामला: शिवराज सिंह चौहान ने सोनिया गांधी को लिखा पत्र

    बासमती चावल GI टैग मामला: शिवराज सिंह चौहान ने सोनिया गांधी को लिखा पत्र

    मध्यप्रदेश को बासमती चावल की जीआई टैग मिलने के नाम पर बीजेपी और कांग्रेस के बीच राजनीति तेज हो गयी है. पहले पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पत्र लिखकर पंजाब तथा अन्य राज्यों के हित में मध्यप्रदेश को बासमती चावल की जीआई टैग की अनुमति नहीं देने का अनुरोध किया था.

  • बासमती चावल की वजह से मध्यप्रदेश और पंजाब के मुख्यमंत्रियों में ठनी

    बासमती चावल की वजह से मध्यप्रदेश और पंजाब के मुख्यमंत्रियों में ठनी

    बासमती चावल की वजह से मध्यप्रदेश और पंजाब के मुख्यमंत्रियों में ठन गई है. मामला प्रधानमंत्री दफ्तर तक पहुंच गया है. 'कड़कनाथ' मुर्गे के बाद मध्यप्रदेश ने बासमती चावल के जीआई टैग के लिए फिर अपना दावा ठोका है. जवाब में पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने प्रधानमंत्री को पत्र‍ लिखकर कहा है कि मध्यप्रदेश बासमती उगाने वाले विशेष क्षेत्र में नहीं आता. ऐसे में उसे बासमती का जीआई टैग देना जीआई टैगिंग के उद्देश्य को ही बर्बाद कर देगा. मध्यप्रदेश में तो 27 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हैं, किसानों की कर्जमाफी, बिजली बिल, यूरिया जैसे मुद्दे तो हैं ही, अब दो राज्यों के बीच चावल युद्ध से भी कांग्रेस-बीजेपी के बीच नई लड़ाई शुरू हो गई है.

  • बिहार के मुजफ्फरपुर की 'शाही लीची' पर लगा GI टैग, मिली राष्ट्रीय पहचान

    बिहार के मुजफ्फरपुर की 'शाही लीची' पर लगा GI टैग, मिली राष्ट्रीय पहचान

    बिहार के मुजफ्फरपुर की पहचान शाही लीची को अब राष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिल गई है. बौद्धिक संपदा कानून के तहत शाही लीची को अब जीआई टैग (जियोग्राफिकल आइडेंटिफि केशन) दे दिया गया है. बिहार लीची उत्पादक संघ ने जून 2016 को जीआई रजिस्ट्री कार्यालय में शाही लीची के जीआई टैग के लिए आवेदन किया था.

  • 150 साल का हुआ रसगुल्‍ला, डाक विभाग जल्द ही आविष्कार करने वाले पर जारी करेगा विशेष कवर

    150 साल का हुआ रसगुल्‍ला, डाक विभाग जल्द ही आविष्कार करने वाले पर जारी करेगा विशेष कवर

    क्‍या आप जानते हैं कि ज्‍यादातर लोगों को पसंद आने वाली मिठाई, यानी रसगुल्‍ला कितने साल का हो गया है? अगर नहीं तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि रसगुल्‍ले का आविष्‍कार हुए 150 साल हो गए हैं.

  • वाराणसी के हस्त शिल्प और मिर्जापुर की दरी को मिला बौद्धिक सम्पदा अधिकार का दर्जा

    वाराणसी के हस्त शिल्प और मिर्जापुर की दरी को मिला बौद्धिक सम्पदा अधिकार का दर्जा

    बनारस की मशहूर हस्त शिल्प गुलाबी मीनाकारी, लकड़ी के खिलौने और मिर्जापुर की दरी को देश के बौद्धिक सम्पदा अधिकार का दर्जा हासिल हो गया है। इस आशय का प्रमाण पत्र जीआई पंजीकरण कार्यालय चेन्नई द्वारा जारी कर दिया गया है।

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com