NDTV Khabar

GST Rates


'GST Rates' - 65 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • Coronavirus संकट का असर : छोटी बचत पर ब्याज दर घटी, बुजुर्गों को ज्यादा नुकसान

    Coronavirus संकट का असर : छोटी बचत पर ब्याज दर घटी, बुजुर्गों को ज्यादा नुकसान

    कोरोना वायरस (Coronavirus) संकट के बीच एक और बुरी खबर...सरकार की घटती कमाई की गाज लोगों की बचत पर गिरी है. छोटी बचत और टर्म डिपॉज़िट पर ब्याज दर घटा दी गई है. बुज़ुर्गों को इसका सबसे ज़्यादा नुक़सान होगा. मज़दूर संगठनों ने इस फैसले के रोलबैक की मांग की है.

  • Xiaomi, Redmi और Poco स्मार्टफोन हुए महंगे, जानें कारण

    Xiaomi, Redmi और Poco स्मार्टफोन हुए महंगे, जानें कारण

    Poco X2, जिसका 6 जीबी + 128 जीबी मॉडल पहले 16,999 रुपये कीमत का था, अब 17,999 रुपये में बेचा जाएगा। बढ़ी हुई कीमतों की जानकारी खुद पोको इंडिया के महाप्रबंधक सी मनमोहन ने एक ट्वीट के जरिए दी।

  • मोबाइल फोन अगले माह से हो जाएंगे महंगे, छोटे कारोबारियों के लिए राहत का ऐलान

    मोबाइल फोन अगले माह से हो जाएंगे महंगे, छोटे कारोबारियों के लिए राहत का ऐलान

    देश में अगले माह से मोबाइल फोन (Mobile Phone) अब महंगे हो जाएंगे. मोबाइल फोन पर सरकार ने जीएसटी (GST) बढ़ा दिया है. दूसरी तरफ विमानों के रखरखाव संबधी सेवाओं पर जीएसटी घटा दिया गया है. इसके अलावा जीएसटी काउंसिल (GST Conucil) ने दो करोड़ तक का कारोबार करने वाली यूनिटों को पिछले दो वर्षों के रिटर्न भरने में विलंब होने पर राहत दे दी है. जीएसटी परिषद ने मोबाइल फोन पर जीएसटी की दर 12 से बढ़ाकर 18 प्रतिशत कर दी है. यह वृद्धि एक अप्रैल से लागू होगी. इससे मोबाइल हैंडसेट के दाम बढ़ेंगे. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में शनिवार को दिल्ली में हुई जीएसटी परिषद की बैठक में यह फैसला लिया गया.

  • GST Council meeting: लॉटरी पर 28 प्रतिशत की एकसमान दर से GST, परिषद में पहली बार हुआ मतदान

    GST Council meeting: लॉटरी पर 28 प्रतिशत की एकसमान दर से GST, परिषद में पहली बार हुआ मतदान

    माल एवं सेवा कर (GST) परिषद ने राज्यों तथा निजी क्षेत्र की लॉटरी के लिए 28 प्रतिशत की दर से जीएसटी लगाने का बुधवार को निर्णय लिया.

  • वाहन उद्योग को मांग बढ़ाने के लिए अपने स्तर पर करने होंगे प्रयास: SIAM

    वाहन उद्योग को मांग बढ़ाने के लिए अपने स्तर पर करने होंगे प्रयास: SIAM

    सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चर्स (SIAM)के अध्यक्ष राजन वढेरा ने बयान में कहा , 'वाहन उद्योग GST में कटौती को लेकर काफी आशान्वित था. हालांकि, वाहनों पर जीएसटी को 28 से घटाकर 18 प्रतिशत नहीं किया गया है.' उन्होंने कहा कि उद्योग को मांग बढ़ाने के लिए अपने स्तर पर विकल्प ढूंढने होंगे.  जीएसटी परिषद ने शुक्रवार को गोवा में हुई बैठक में वाहनों पर जीएसटी दर में कटौती नहीं की है. 

  • कॉरपोरेट टैक्स में कटौती के बाद अब सरकार ने होटल टैरिफ पर GST घटाई 

    कॉरपोरेट टैक्स में कटौती के बाद अब सरकार ने होटल टैरिफ पर GST घटाई 

    कॉरपोरेट टैक्स (Corporate tax) में कटौती के बाद सरकार ने अब कई उत्पादों पर GST भी घटा दी है. शुक्रवार को वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) काउंसिल की शुक्रवार की बैठक में कई अहम फैसले लिए गए, जिसकी जानकारी देते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने कहा कि अब एरिएटेड (गैस वाले) पेय पदार्थों पर 18 फीसदी की जगह पर 28 फीसदी कर लगेगा.

  • कंपनियों के लिए Corporate Tax में कटौती की घोषणा के बाद Sensex में भारी उछाल

    कंपनियों के लिए Corporate Tax में कटौती की घोषणा के बाद Sensex में भारी उछाल

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने एक अध्यादेश लाकर घरेलू कंपनियों, नयी स्थानीय विनिर्माण कंपनियों के लिये Corporate Tax कम करने का प्रस्ताव दिया है. इस ऐलान के साथ ही बाजार में काफी तेजी देखी गई. सेसेंक्स में 1900 अंकों का उछाल देखा गया. वित्त मंत्री ने कहा कि यदि कोई घरेलू कंपनी किसी प्रोत्साहन का लाभ नहीं ले तो उसके पास 22 प्रतिशत की दर से आयकर भुगतान करने का विकल्प है. जो कंपनियां 22 प्रतिशत की दर से आयकर भुगतान करने का विकल्प चुन रही हैं, उन्हें न्यूनतम वैकल्पिक कर का भुगतान करने की जरूरत नहीं होगी.

  • जीएसटी परिषद ने इलेक्ट्रिक वाहनों व चार्जर पर टैक्स घटाया, बढ़ेगा ऐसे वाहनों का बाजार

    जीएसटी परिषद ने इलेक्ट्रिक वाहनों व चार्जर पर टैक्स घटाया, बढ़ेगा ऐसे वाहनों का बाजार

    इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने एक बड़ा कदम उठाते हुए इनकी खरीद पर लगने वाले कर (टैक्स) को 12 से घटाकर पांच फीसदी कर दिया है. यह फैसला शनिवार को जीएसटी परिषद की 36वीं बैठक में लिया गया. नई कर प्रणाली एक अगस्त से लागू हो जाएगी.

  • घर खरीदने का सपना होगा साकार, जीएसटी की दरों में गिरावट

    घर खरीदने का सपना होगा साकार, जीएसटी की दरों में गिरावट

    आवासीय परियोजनाओं के लिए जीएसटी की ये दरें एक अप्रैल, 2019 से लागू होंगी. इस समय निर्माणाधीन या ऐसे तैयार मकान जिनके लिए काम पूरा होने का प्रमाणपत्र (कंप्लीशन सर्टिफिकेट) नहीं मिला हो, उन पर खरीदारों को 12 प्रतिशत की दर से जीएसटी देना पड़ता है. लेकिन वर्तमान व्यवस्था में मकान निर्माताओं को इनपुट (निर्माण सामग्री) पर चुकाये गए कर पर छूट का लाभ भी मिलता है.

  • नए साल का तोहफा: आज से सस्ती हो जाएंगी सिनेमा टिकट, टेलीविजन और डिब्बा बंद खाने जैसी 23 चीजें

    नए साल का तोहफा: आज से सस्ती हो जाएंगी सिनेमा टिकट, टेलीविजन और डिब्बा बंद खाने जैसी 23 चीजें

    माल एवं सेवाकर (जीएसटी) परिषद ने 22 दिसंबर को हुई बैठक में 23 वस्तुओं और सेवाओं पर कर दर कम करने का फैसला किया था. इनमें सिनेमा टिकट, टेलीविजन और मानिटर स्क्रीन, पावर बैंक आदि शामिल हैं. इसके अलावा शीतित एवं डिब्बा बंद खास तरह की प्रसंस्कृत सब्जियों को शुल्कमुक्त कर दिया गया. उपभोक्ताओं को मंगलवार से इन वस्तुओं के लिये कम दाम देने होंगे. एक जनवरी से इन वस्तुओं पर जीएसटी दर कम हो जायेगी. जिसके परिणामस्वरूप इनके दाम घट सकते हैं.

  • वित्त मंत्री अरुण जेटली का एलान: GST का 12-18% स्लैब खत्म कर लाई जाएगी नई मानक दर

    वित्त मंत्री अरुण जेटली का एलान: GST का 12-18% स्लैब खत्म कर लाई जाएगी नई मानक दर

    अभी सिर्फ लग्जरी एवं अहितकारी उत्पादों के अलावा वाहनों के कलपुर्जे, एसी और सीमेंट समेत केवल 28 वस्तुएं ही बची हैं. वित्त मंत्री ने कहा, 'अप्रत्यक्ष कर प्रणाली में जीएसटी के रूप में परिवर्तन पूरा होने के साथ अब हम इसकी दरों को तर्कसंगत बनाने के पहले चरण को पूरा करने के करीब हैं. उदाहरण के लिए विलासिता और अहितकारी वस्तुओं को छोड़कर बाकी वस्तुएं को चरणबद्ध तरीके से 28 प्रतिशत के उच्चतम कर के दायरे से बाहर की जा रही है.'

  • TV, सिनेमा टिकट, कैमरे, मॉनिटर और पावर बैंक हुए सस्ते, कई सामनों पर घटी GST तो कई दायरे से बाहर, देखें पूरी लिस्ट

    TV, सिनेमा टिकट, कैमरे, मॉनिटर और पावर बैंक हुए सस्ते, कई सामनों पर घटी GST तो कई दायरे से बाहर, देखें पूरी लिस्ट

    परिषद ने जीएसटी की 28 फीसदी की सबसे ज्यादा दर के दायरे में आने वाली वस्तुओं में से सात को कम दर वाले स्लैब में डाल दिया है. इसके साथ ही 28 फीसदी के स्लैब में अब केवल 28 वस्तुएं बची हैं. वित्त मंत्री ने कहा कि सीमेंट पर जीएसटी को कम किए जाने से राजकोष पर सालाना 13,000 करोड़ रुपए का प्रभाव पड़ता.

  • GST काउंसिल की 31वीं बैठक पूूरी हुई, कई सामान हुए सस्ते, 28 आयटम्स पर ही लागू होगा 28 प्रतिशत स्लैब

    GST काउंसिल की 31वीं बैठक पूूरी हुई, कई सामान हुए सस्ते, 28 आयटम्स  पर ही लागू होगा 28 प्रतिशत स्लैब

    जीएसटी परिषद ने शनिवार को आम लोगों को राहत देते हुए टीवी स्क्रीन, सिनेमा के टिकट और पावर बैंक सहित विभिन्न प्रकार की 23 वस्तुओं पर वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) की दरों में कमी की घोषणा की.

  • छोटी कारें, एसी और डिश वॉशर जैसी कई चीजें हो जाएंगी सस्ती; जीएसटी में कटौती का ऐलान

    छोटी कारें, एसी और डिश वॉशर जैसी कई चीजें हो जाएंगी सस्ती; जीएसटी में कटौती का ऐलान

    प्रधानमंत्री ने ज्यादातर सामान पर जीएसटी घटाकर 18 फीसदी से नीचे रखने की घोषणा की है. इस घोषणा से छोटे कारोबारियों में एक नई उम्मीद पैदा हुई है. हालांकि विपक्ष इस राजनीति पर सवाल उठा रहा है.

  • वित्त मंत्रालय ने बताया, किन सामानों पर कम हुई GST की दरें

    वित्त मंत्रालय ने बताया, किन सामानों पर कम हुई GST की दरें

    जीएसटी की दरों को और तार्किक बनाने के बारे में हफ्ते के आखिर में जीएसटी काउंसिल की होने वाली बैठक में विचार किये जाने का अनुमान है। ऐसा माना जा रहा है कि कुछ अन्य सामानों को भी 28 फीसदी के दायरे में लाया जाएगा। 

  • रघुराम राजन बोले- नोटबंदी और GST से भारत की आर्थिक वृद्धि को लगे झटके, मौजूदा ग्रोथ रेट पर्याप्त नहीं

    रघुराम राजन बोले- नोटबंदी और GST से भारत की आर्थिक वृद्धि को लगे झटके, मौजूदा ग्रोथ रेट पर्याप्त नहीं

    उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि सात प्रतिशत की मौजूदा वृद्धि दर देश की जरूरतों के हिसाब से पर्याप्त नहीं है.

  • अब सबसे ऊंचे जीएसटी स्लैब में सिर्फ 35 उत्पाद

    अब सबसे ऊंचे जीएसटी स्लैब में सिर्फ 35 उत्पाद

    माल एवं सेवा कर (जीएसटीGST) परिषद ने सबसे ऊंचे 28 प्रतिशत के कर स्लैब में उत्पादों की सूची को घटाकर 35 कर दिया है. अब इस सूची में एसी, डिजिटल कैमरा, वीडियो रिकॉर्डर, डिशवॉशिंग मशीन और वाहन जैसे 35 उत्पाद रह गए हैं. पिछले एक साल के दौरान जीएसटी परिषद ने सबसे ऊंचे कर स्लैब वाले 191 उत्पादों पर कर घटाया है. 

  • कई और सामानों पर जीएसटी (GST) में की गई है कटौती, जानें कौन-कौन सा सामान हुआ सस्ता

    कई और सामानों पर जीएसटी (GST) में की गई है कटौती, जानें कौन-कौन सा सामान हुआ सस्ता

    जीएसटी परिषद ने सैनिटरी नैपकिन को माल एवं सेवा कर (जीएसटी) से छूट देने की एक साल से चल रही मांग को शनिवार को पूरा किया. जीएसटी के बारे में निर्णय करने वाले इस सर्वोच्च निकाय ने इसके अलावा टीवी , फ्रिज वॉशिंग मशीन तथा बिजली से चलने वाले कुछ घरेलू उपकरणों और अन्य उत्पादों पर भी कर की दरें कम की हैं. 

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com