NDTV Khabar

Ghulam Nabi Azad


'Ghulam Nabi Azad' - 129 न्यूज़ रिजल्ट्स

  • वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद हुए कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी

    वरिष्ठ कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद हुए कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी

    पिछले दिनों दिनों कांग्रेस के एक और नेता के कोविड पॉजिटिव होने की खबर सामने आई थी. पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू को 6 अक्टूबर को जांच में कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया, जिन्होंने हाल में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ मंच साझा किया था. 

  • राष्ट्रपति को अवगत कराया कि किस तरह से कृषि बिल को पास किया गया: गुलाम नबी आजाद

    राष्ट्रपति को अवगत कराया कि किस तरह से कृषि बिल को पास किया गया: गुलाम नबी आजाद

    राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने राष्ट्रपति भवन के बाहर मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि 18 राजनीतिक दलों के नेताओं ने ये निर्णय लिया गया था कि राष्ट्रपति को यह अवगत कराया जाए, उनके सामने ये बात लाई जाए कि किस तरह से राज्यसभा में किसानों से संबंधित बिल को पास किया गया. 

  • राष्ट्रपति से मिले विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद, कहा- कृषि विधेयक वापस लिए जाएं

    राष्ट्रपति से मिले विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद, कहा- कृषि विधेयक वापस लिए जाएं

    कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद (Ghulam Nabi Azad) ने आज राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind) से मुलाकात की. विपक्षी दल विवादास्पद कृषि विधेयकों (Farm bills) के खिलाफ विरोध जारी रखे हैं. इन विधेयकों को संसद में मंजूरी दे दी गई है. राज्यसभा में विपक्ष के नेता आज़ाद और राष्ट्रपति के बीच बैठक विपक्षी दलों द्वारा संसद की र्कायवाही  का बहिष्कार शुरू करने के एक दिन बाद हुई है. कांग्रेस (Congress) नेता गुलाम नबी आजाद ने राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद कहा कि सरकार को कृषि संबंधी विधेयक लाने से पहले सभी दलों, किसान नेताओं के साथ विचार-विमर्श करना चाहिए था. 

  • विपक्ष का राज्यसभा की कार्यवाही के बहिष्कार का फैसला, निलंबित सांसदों का धरना खत्म

    विपक्ष का राज्यसभा की कार्यवाही के बहिष्कार का फैसला, निलंबित सांसदों का धरना खत्म

    रात भर विरोध प्रदर्शन के तौर पर संसद परिसर में धरने पर बैठे निलंबित सांसदों ने अपना धरना खत्म कर दिया. नाराज सांसदों ने निलंबन के विरोध में सोमवार को संसद परिसर में गांधी प्रतिमा के पास धरना प्रदर्शन शुरू किया था. प्राप्त जानकारी के मुताबिक गुलाम नबी आजाद के अनुरोध के बाद निलंबित सांसदों ने अपना धरना खत्म किया. नेता प्रतिपक्ष आजाद ने मंगलवार को इन निलंबित सांसदों से मुलाकात की और इसके बाद अपनी मांगें सामने रखीं. उन्होंने कहा कि 'हमने राज्यसभा में कांग्रेस पार्टी की तरफ से तीन महत्वपूर्ण मांगें रखी हैं.  

  • 'जब तक तीन मांगें नहीं होंगी पूरी, करेंगे राज्यसभा का बहिष्कार' : सरकार को घेरने की तैयारी में विपक्ष

    'जब तक तीन मांगें नहीं होंगी पूरी, करेंगे राज्यसभा का बहिष्कार' : सरकार को घेरने की तैयारी में विपक्ष

    राज्यसभा से सोमवार को निलंबित किए गए सांसदों के निलंबन को वापस लेने की गुज़ारिश के साथ विपक्ष ने मंगलवार को राज्यसभा का बहिष्कार करने को लेकर ऐलान कर दिया है. कांग्रेस नेता गुलाम नबी आज़ाद ने कहा कि जब तक इन सांसदों का निलंबन वापस नहीं लिया जाता है, विपक्ष राज्यसभा की कार्यवाही में हिस्सा नहीं लेगा. बता दें कि रविवार के हंगामे के बाद से आठ सासंदों को निलंबित कर दिया गया था, जो कल दिन से ही संसद परिसर में धरने पर बैठे हुए हैं.

  • 'लेटर बम' के बाद कांग्रेस में उथल-पुथल, गुलाम नबी आजाद को महासचिव पद से हटाया गया

    'लेटर बम' के बाद कांग्रेस में उथल-पुथल, गुलाम नबी आजाद को महासचिव पद से हटाया गया

    गुलाम नबी आज़ाद कांग्रेस कार्य समिति के सदस्य बने रहेंगे. जो कि पार्टी के शीर्ष निर्णय लेने वाला पैनल है. असंतुष्ट नेताओं के समूह के एक अन्य सदस्य जितिन प्रसाद को परमानेंट इनवाइटी बनाया गया है.

  • कांग्रेस में 'लेटर बम' फोड़ने वाले असंतुष्ट नेताओं से सोनिया गांधी का आज होगा सामना

    कांग्रेस में 'लेटर बम' फोड़ने वाले असंतुष्ट नेताओं से सोनिया गांधी का आज होगा सामना

    कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) कल संसदीय रणनीति समूह (Parliamentary Strategy Group) की वर्चुअल मीटिंग की अध्यक्षता करेंगी. 24 अगस्त को हुई कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) की बैठक के बाद यह पहली बैठक है. इस बैठक में वे उन प्रमुख नेताओं से बातचीत करेंगी जिन्होंने पिछले महीने 'लेटर बम' से पार्टी में उथल-पुथल मचा दी थी. कांग्रेस (Congress) के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आज़ाद और आनंद शर्मा पार्टी के संसदीय रणनीति समूह का हिस्सा हैं. यह नेता उन 23 नेताओं में शामिल थे जिन्होंने सोनिया गांधी को भेजे गए पत्र पर हस्ताक्षर किए. इस पत्र में कांग्रेस नेतृत्व, पार्टी संगठन और आंतरिक चुनावों में बड़े बदलाव का आह्वान किया गया था.

  • चिट्ठी विवाद को लेकर कांग्रेस नेता की मांग- गुलाम नबी को पार्टी से 'आजाद' कर दो

    चिट्ठी विवाद को लेकर कांग्रेस नेता की मांग- गुलाम नबी को पार्टी से 'आजाद' कर दो

    कांग्रेस (Congress) के 23 नेताओं की ओर से पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को लिखे गए पत्र को लेकर खड़े हुए विवाद के बीच उत्तर प्रदेश (UP Congress) के कांग्रेस नेता और पूर्व विधान परिषद सदस्य नसीब पठान (Naseeb Pathan) ने शुक्रवार को वरिष्ठ पार्टी नेता गुलाम नबी आजाद (Ghulam Nabi Azad) को पार्टी से बाहर निकाल देने की मांग की. उन्होंने कहा कि पार्टी ने आजाद को बहुत कुछ दिया किंतु उन्होंने वफादारी नहीं की.

  • सोनिया गांधी ने लिया बड़ा फैसला, नियुक्तियों में 'असंतुष्‍टों' को किया दरकिनार

    सोनिया गांधी ने लिया बड़ा फैसला, नियुक्तियों में 'असंतुष्‍टों' को किया दरकिनार

    लेटर लिखने वाले नेताओं को 'किनारे करने' के तहत पहला कदम उठाते हुए कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी ने जयराम रमेश को चीफ व्हिप नियुक्‍त किया है. कांग्रेस की कार्यकारी अध्‍यक्ष ने राज्‍यसभा (Rajya Sabha)के लिए एक समिति गठित की है. सोनिया ने पार्टी के कोषाध्‍यक्ष और अपने राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल वेणुगोपाल को इस समिति का सदस्‍य नियुक्‍त किया है.

  • गुलाम नबी आज़ाद ने कहा, आज कांग्रेस अध्यक्ष नियुक्त हो, तो उनके पास शायद '1% समर्थन' भी नहीं

    गुलाम नबी आज़ाद ने कहा, आज कांग्रेस अध्यक्ष नियुक्त हो, तो उनके पास शायद '1% समर्थन' भी नहीं

    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आज़ाद (Ghulam Nabi Azad) जिन्होंने सोनिया गांधी को लिखे गए "असहमति" पत्र पर भी हस्ताक्षर किए थे, ने पार्टी में अलग-थलग किए जाने के चार दिन बाद पार्टी नेतृत्व को एक और कड़ा संदेश दिया है.समाचार एजेंसी एएनआई से 71 वर्षीय गुलाम नबी आजाद ने कहा, "जो अधिकारी या राज्य इकाई के अध्यक्ष,जिला अध्यक्ष हमारे प्रस्ताव का विरोध कर रहे हैं उन्हें मालूम है कि चुनाव होने पर वे कहीं नहीं होंगे." राज्यसभा सदस्य आजाद ने कहा, "जो कोई भी वास्तव में कांग्रेस का हित चाहता है , वह पत्र का स्वागत करेगा."

  • कांग्रेस नेतृत्व के खिलाफ ऐसे तैयार हुई चिट्ठी, महीनों तक रडार से ऐसे बचे रहे 'असंतुष्ट नेता' : सूत्र

    कांग्रेस नेतृत्व के खिलाफ ऐसे तैयार हुई चिट्ठी, महीनों तक रडार से ऐसे बचे रहे 'असंतुष्ट नेता' : सूत्र

    स्थिति को लेकर चिंतित समूह सोनिया गांधी के साथ बैठक करने के लिए कहता रहा. जब कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अप्वाइंटमेंट नहीं दी. यह वह समय है जब पत्र तैयार करने की योजना बनी. 

  • चिट्ठी लिखने वाले कांग्रेसी नेताओं की दूसरी बैठक, CWC मीटिंग के नतीजों, प्लान पर करेंगे बातचीत 

    चिट्ठी लिखने वाले कांग्रेसी नेताओं की दूसरी बैठक, CWC मीटिंग के नतीजों, प्लान पर करेंगे बातचीत 

    सूत्रों ने बताया, "इन नेताओं को उम्मीद है कि समिति का जल्द ही गठन किया जाएगा और वे हिस्सा होंगे ताकि आंतरिक चुनाव और पूर्णकालिक सक्रिय कांग्रेस अध्यक्ष और कांग्रेस कार्यसमिति की नियुक्ति के लिए पार्टी को तैयार कर सकें और दिशा दिखा सकें." 

  • लेटर विवाद के बाद 'डैमेज कंट्रोल' के प्रयास, सोनिया और राहुल ने किया गुलाम नबी को फोन: सूत्र

    लेटर विवाद के बाद 'डैमेज कंट्रोल' के प्रयास, सोनिया और राहुल ने किया गुलाम नबी को फोन: सूत्र

    खबरों के अनुसार, मल्लिकार्जुन खड़गे और अंबिका सोनी ने इस मामले में अनुशासनात्‍मक कार्रवाई की मांग की ज‍बकि अधीर रंजन चौधरी चाहते थे कि आजाद को बैठक में बोलने से रोका जाए. उन्‍होंने कहा कि 'दूषिेत इरादे' वाले लोगों को बोलने नहीं दिया जाए हालांकि सोनिया गांधी ने इस पर ध्‍यान नहीं दिया.  

  • गुलाम नबी आजाद बोले- चिट्ठी भेजने से पहले सोनिया गांधी के स्वास्थ्य की जानकारी ली गई थी

    गुलाम नबी आजाद बोले- चिट्ठी भेजने से पहले सोनिया गांधी के स्वास्थ्य की जानकारी ली गई थी

    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सदस्य आजाद ने एनडीटीवी से बातचीत में सफाई देते हुए कहा कि पत्र भेजने से पहले उन्होंने सोनिया गांधी के निजी सचिव से दो बार बात की थी. उन्होंने कहा, "मुझे बताया गया कि वह नियमित जांच के लिए अस्पताल में हैं. फिर भीह हमने पत्र भेजने से पहले उनके (सोनिया गांधी) घर लौटने तक का इंतजार किया." 

  • ओवैसी ने गुलाम नबी आजाद पर कसा तंज- जो आरोप मुझ पर लगाते थे, वही आज खुद पर लगे हैं

    ओवैसी ने गुलाम नबी आजाद पर कसा तंज- जो आरोप मुझ पर लगाते थे, वही आज खुद पर लगे हैं

    कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में राहुल गांधी ने इस चिट्ठी के इरादों के पीछे संदेह जताते हुए कहा था कि यह चिट्ठी बीजेपी के साथ सांठगांठ में लिखी गई है. सूत्रों ने कहा था कि गुलाम नबी आज़ाद ने इस बयान पर नाराजगी जताते हुए कहा था कि 'अगर बीजेपी से सांठगांठ की बात साबित हो जता है तो वो पार्टी से इस्तीफा दे देंगे.' 

  • ''असंतुष्टों के ख‍िलाफ कोई दुर्भावना नहीं'': सोनिया गांधी बनी रहेंगी कांग्रेस प्रमुख; जानिए 10 बड़ी बातें  

    ''असंतुष्टों के ख‍िलाफ कोई दुर्भावना नहीं'': सोनिया गांधी बनी रहेंगी कांग्रेस प्रमुख; जानिए 10 बड़ी बातें  

    नेतृत्व संकट के बीच सोमवार को कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) की बैठक में फैसला लिया गया है कि फिलहाल सोनिया गांधी कांग्रेस की अध्यक्ष बनी रहेंगी. सात घंटे तक चली बैठक के शुरुआत में सोनिया गांधी ने कहा था कि वह कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष का पद छोड़ना चाहती हैं और नए अध्यक्ष की तलाश शुरू करने का आग्रह किया था. कांग्रेस के शीर्ष 23 नेताओं की ओर से पूर्णकालिक नेतृत्व की मांग करते हुए लिखे गए पत्र के एक दिन बाद कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक हुई. कहा जा रहा है कि सोनिया गांधी ने बैठक में समापन संबोधन में कहा कि पार्टी के अंदर किसी को लेकर भी उनके अंदर कोई दुर्भावना नहीं है. इसे पत्र लिखने वाले नेताओं के लिए एक संकेत माना जा रहा है. कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक के समापन में उन्होंने कहा, "मझे तकलीफ हुई लेकिन सभी सहयोगी हैं. जो हुआ सो हुआ, हमें साथ मिलकर काम करना चाहिए."

  • सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखने वाले 23 कांग्रेस नेताओं की पूरी लिस्ट

    सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखने वाले 23 कांग्रेस नेताओं की पूरी लिस्ट

    कांग्रेस कार्यसमिति (CWC) की बैठक में राहुल गांधी का पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखने वाले 23 नेताओं पर बीजेपी से सांठगांठ का  कथित आरोप लगाने वाली बात को कांग्रेस की ओर से खारिज किया गया है. इसे पहले खबर आई थी कि राहुल गांधी ने कहा 'इन नेताओं ने ऐसे समय में चिट्ठी भेजी है जब पार्टी संकट में है और उनकी मां यानी सोनिया गांधी बीमार हैं.  राहुल गांधी ने कहा कि इस चिट्ठी को बीजेपी की मिलीभगत से लिखा गया है

  • गुलाम नबी आज़ाद ने दी सफाई - सोनिया-राहुल से दिक्कत नहीं, उनकी वजह से नहीं की इस्तीफे की पेशकश

    गुलाम नबी आज़ाद ने दी सफाई - सोनिया-राहुल से दिक्कत नहीं, उनकी वजह से नहीं की इस्तीफे की पेशकश

    कांग्रेस में पार्टी नेतृत्व की मांग को लेकर घमासान मचा हुआ है. सोमवार को कांग्रेस कार्यसमिति की वर्चुअल बैठक के बीच खबर आई थी कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आज़ाद की ओर से इस्तीफे की पेशकश की खबर आई थी, जिसपर अब उनकी ओर से सफाई आई है.

Advertisement

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com